Atiq Ahmed Biography in Hindi | अतीक अहमद का जीवन परिचय ,अतीक अहमद कौन है

अतीक अहमद कौन है? Atiq Ahmed biography in Hindi

Atiq Ahmed biography:आज कल मीडिया में अतीक अहमद को लेकर काफी न्यूज चल रही हैं। अतीक अहमद डोन और राजनेता दोनों है, जिसके खिलाफ लगभग 100 से ज्यादा केस दर्ज है। वहीं अगर इनके परिवार की बात कि जाए तो 150 से ज्यादा केस दर्ज है, जिसमें अतीक अहमद के बेटे, भाई और उनकी पत्नी तक पर केस  हैं।

इस लेख में हम आपके सामने अतीक अहमद का जीवन परिचय दे रहे है, जो आपको बताएगा कि कौन है अतीक अहमद।Atiq Ahmed  Biography in Hindi भी इस लेख में हम आपको प्रोवाइड करेंगे।अतीक अहमद कौन है ? अतीक अहमद का जीवन परिचय के बारें में भी यह लेख हैं। जीवनी हो औऱ जन्म एवं शुरुआती जीवन के बारे में बात ना हो ऐसा हो ही नहीं सकता , इसलिए इस लेख में अतीक अहमद का जन्म एवं शुरुआती जीवन के बारें में भी हम आपको बताएंगे।अतीक अहमद की शिक्षा,अतीक अहमद की पत्नी ,बच्चे , अतीक अहमद का परिवार  Atiq Ahmad Family बताएंगे, इसके साथ ही अतीक अहमद का राजनीतिक सफर (Atiq Ahmed Political Career) की जानकारी भी इस लेख के जरिए आपको मिलेगी। विवाद जो अतीक अहमद से जुड़े हुए है वह आपको अतीक अहमद के विवाद पॉइन्ट में मिलेगी। अतीक अहमद की संपत्ति (चल-अचल संपत्ति) के सवाल का भी जवाब इस लेख में आपको मिलेगा। देर किस बात कि इस लेख को पूरा पढ़े और अतीक अहमद के बारे में सब कुछ जानें।

Atiq Ahmed  Biography in Hindi

टॉपिक अतीक अहमद का जीवन परिचय ,कौन है
लेख प्रकार जीवनी
साल 2023
अतीक अहमद जन्म 10 अगस्त 1962
अतीक अहमद जन्म स्थान इलाहाबाद
अतीक अहमद शादी 1996
अतीक अहमद बच्चें 5
अतीक अहमद परिवार मुस्लिम परिवार
अतीक अहमद कुल केस 100 से ज्यादा
अतीक अहमद सजा उम्र कैद

 

अतीक अहमद कौन है ? अतीक अहमद का जीवन परिचय

अतीक अहमद उत्तर प्रदेश का खूंखार गैंगस्टर है और उनके खिलाफ 100 से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं। उमका ‘आतंक का राज’ तब शुरू हुआ जब वह 1970 के दशक के अंत में अंडरवर्ल्ड में शामिल हो गए थे।गैंगस्टर से पहले उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में विधानसभा चुनाव लड़ा और फिर समाजवादी पार्टी (सपा) में शामिल हो गए, इस तरह उन्होंने अपराध से राजनीति में कदम रखा। वह पांच बार के विधायक हैं और वह संसद सदस्य भी बने। उन्होंने हाल ही में मीडिया का ध्यान आकर्षित किया क्योंकि उन पर बसपा विधायक राजू पाल की हत्या के मामले में 2005 के प्रमुख गवाह उमेश पाल की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया गया था। इसी साल 24 फरवरी को प्रयागराज शूटआउट में उमेश और उसके 2 साथी मारे गए थे।

अतीक अहमद के खिलाफ 100 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। 100 मामलों में से 50 अंडर ट्रायल बताए जा रहे हैं।वह 2019 से SC के आदेश के बाद साबरमती सेंट्रल जेल की सलाखों के पीछे है। उस पर जेल से रियल एस्टेट डेवलपर मोहित जायसवाल पर हमला करने की साजिश रचने का आरोप भी लगा था।

राजनीति पर हाथ अतीक ने सन 1989 में मारा, जब उन्होंने इलाहाबाद पश्चिम विधानसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा और उसे जीता भी और निर्दलीय के रूप में 2 बार और निर्वाचित हुए।अतीक समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए और फूलपुर से लोकसभा में सपा विधायक भी बने। उन्होंने सपा के टिकट पर 2014 का लोकसभा चुनाव भी लड़ा था लेकिन चुनाव हार गए थे।गैंगस्टर अतीक की पत्नी शाइस्ता इस साल मायावती की बसपा में शामिल हुईं और उन्होंने शहरी निकाय चुनाव लड़ने की भी घोषणा की।

Atiq Ahmed biography highlights

नाम अतीक अहमद
असली नाम  अतीक अहमद
उपनाम  अतीक
पेशा  राजनेता
जन्म तिथि 10 अगस्त 1962
उम्र (2023 तक)  61
राशि सिंह
पिता का नाम हाजी फिरोज अहमद
मां नाम N/A
भाई  अशरफ अजीम
अफेयर्स/गर्लफ्रेंड्स एन.ए N/A
वैवाहिक स्थिति  विवाहित (1996)
पत्नी  शाइस्ता परवीन
बच्चे  ऐज़ान अहमद, अबान अहमद, अली आमद, उमर अहमद, असद अहमद
धर्म  इस्लाम
शैक्षिक योग्यता 

जन्म स्थान 

हाई स्कूल स्नातक

इलाहाबाद (अब प्रयागराज), उत्तर प्रदेश

स्कूल मजीदिया इस्लामिया इंटरमीडिएट कॉलेज  (MIC) इलाहाबाद (प्रयागराज), उत्तर प्रदेश में
शौक  संगीत सुनना, गाना, पढ़ना, शॉपिंग करना
होम टाउन इलाहाबाद (अब प्रयागराज), उत्तर प्रदेश, भारत
वर्तमान शहर  दिल्ली, भारत
राष्ट्रीयता  भारतीय

Read More: भोजपुरी अभिनेत्री आकांक्षा दुबे का जीवन परिचय

अतीक अहमद का जन्म एवं शुरुआती जीवन 

सन 1962 में एक मुस्लिम परिवार में सबसे बड़े बेटे रूप में एक लड़के का जन्म हुआ जिसका नाम अतीक अहमद रखा गया। अतीक के पति टांगा चलाने का काम करते थे। उनके पीछे उनके भाई-बहन थे। परिवार बढ़ने लगा और साथ ही साथ गरीबी भी बढ़ने लगी। अतीक जैसे-जैसे बड़ा होने लगा घर की गरीबी का उनके मन पर असर होने लगा। वह अमीर बनने के सपने देखने लगा। पिता ने बच्चों को पढ़ाई के लिए स्कूल भेजा। लेकिन अतीक का मन पढ़ाई में ज्यादा नहीं लगा और उसने पढ़ाई से मन चुराना शुरु कर दिया और वह ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने के सपने देखने लगा। अतीक को जल्द से जल्द अमीर बनना था। दसवीं में फेल होने के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी और गुंडागर्दी में लग गया।

महज 17 साल की उम्र में अतीक अहमद पर भी हत्या का आरोप लगा था, लेकिन ये सभी उसे हौसले से हरा नहीं रहे थे बल्कि इसे और बढ़ा रहे थे।अतीक अहमद गैंग और चांद बाबा गैंग के बीच अक्सर झगड़े की खबरें आती रहती थीं। धीरे-धीरे चांद बाबा का रुतबा घटता जा रहा था और अतीक अहमद का कद बढ़ता जा रहा था।इलाहाबाद का यह नया गैंगस्टर सिर्फ इलाहाबाद तक ही सीमित नहीं था, बल्कि ये पूरे राज्य में अपने आतंक का राज कायम करना चाहता था। अपराध की दुनिया में अतीक ने करीब 10 साल तक बड़ा काम किया और नाम कमाया। एक गरीब तांगा चलाने वाले के बेटे को अब पैसों की कोई कमी नहीं थी। छोटी सी उम्र में ही अतीक पर हत्या, हत्या की साजिश रचने की, रंगदारी, फ्रॉर्ड और आर्म्स एक्ट जैसे कई मामले दर्ज हो चुके थे। अतीक की उस जमाने के तमाम गैंगस्टरों के बीच तूती बोलती थी, लेकिन एक चीज जो अब भी अतीक की पहुंच से दूर थी और वह थी सत्ता की ताकत।

अतीक अहमद की शिक्षा 

अतीक अहमद की शिक्षा की बात कि जाए तो वह 8 वीं पास है, उन्होंने 10 वीं की परिक्षा दी थी पर वह उसे उत्तीर्ण नहीं कर पाएं थे। 

अतीक अहमद की पत्नी ,बच्चे 

सन 1996 में अतीक ने शाइस्ता परवीन से शादी की और पांच बच्चें हैं। उनके अली, अहमद, असद, अहज़ान, उमर और अबान नाम के 5 बच्चे हैं। अतीक अहमद के परिवार पर उनके खिलाफ करीब 160 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। 52 मामलों की तुलना में अहमद को 100 मामलों में नामजद किया गया है। उनके भाई अशरफ के खिलाफ, उनकी पत्नी शाइस्ता प्रवीण के खिलाफ तीन मामले और उनके बेटों अली और उमर अहमद के खिलाफ चार और एक मामले दर्ज हैं।

अतीक अहमद का परिवार| Atiq Ahmad Family

अतीक का जन्म 10 अगस्त 1962 में उत्तर प्रदेश इलाहाबाद जो कि अब प्रयागराज के नाम से जाना जाता है वहां  हुआ था। उनके पिता जीविका के लिए शहर में घोड़ा-गाड़ी चलाते थे। हाई स्कूल की परीक्षा में फेल होने के बाद अतीक ने पढ़ाई छोड़ दी। उन्होंने यह पता लगाने में ज्यादा समय नहीं गंवाया कि गरीबी से कैसे निपटा जाए। उन्होंने ट्रेनों से कोयला चुराकर पैसे कमाने के लिए उसे बेचना शुरू किया। जल्द ही वह रेलवे स्क्रैप धातु के लिए सरकारी निविदा हासिल करने के लिए ठेकेदारों को धमकाने लगा। अतीक ने सन 1979 की शुरुआत में इलाहाबाद में अपनी 10 वीं कक्षा पूरी की। अतीक अहमद के पिता का नाम हाजी फिरोज था जबकि उनके भाई का नाम खालिद अज़ीम अशरफ है और वह पूर्व विधायक हैं। सन 1996 में अतीक ने शाइस्ता परवीन से शादी की और उनके अली, अहमद, असद, अहज़ान, उमर और अबान नाम के 5 बच्चे हैं।

हम आपको बता दें कि अतीक अहमद के नाम पर 100 मामले दर्ज हैं। एक रिकॉर्ड जो सपा नेता मोहम्मद आज़म खान से मेल खाता है। इनमें से 50 मामले विचाराधीन हैं, 12 अन्य में, उन्हें बरी किया जा चुका हैं,जबकि सन 2004 में तत्कालीन समाजवादी पार्टी सरकार ने दो मामले वापस ले लिए थे। मिली जानकारी के अनुसार एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा था कि अन्य मामलों में गवाहों से जिरह का इंतजार है। अतीक के भाई अशरफ के नाम पर 53 मामले दर्ज हैं। उन्हें एक में बरी कर दिया गया है जबकि अन्य विचाराधीन हैं। कुल आठ मामले अतीक के बेटों के खिलाफ दर्ज हैं,जिसमें से फिलहाल सात पर मुकदमा चल रहा है, जबकि एक की पुलिस अभी भी जांच कर रही है। वहीं अतीक की पत्नी शाइस्ता के खिलाफ चार मामले हैं।

अतीक अहमद का राजनीतिक सफर (Ateeq Ahmed Political Career)

सन 2016 में प्रयागराज में एक कृषि अनुसंधान संस्थान के संकाय सदस्यों पर हमले के मामले में वर्तमान में गुजरात जेल में बंद अहमद पूर्व सांसद और पांच बार के विधायक रह चुके हैं। उनकी राजनीतिक यात्रा सव 1989 में शुरू हुई जब उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में इलाहाबाद पश्चिम से विधायक सीट जीती। अगले दो विधान सभा चुनावों में अपनी सीट बरकरार रखने के बाद, अहमद सपा में शामिल हो गए और 1996 में अपना लगातार चौथा कार्यकाल जीता। तीन साल बाद, वह अपना दल का हिस्सा बने और 2002 में एक बार फिर से सीट जीती। अगले साल, वह वापस सपा में आ गए और 2004 में फूलपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद बने।

राजनेता अतीक अहमद को पहला बड़ा झटका तब लगा जब उनका नाम राजू पाल की हत्या के मामले में सामने आया। खबरों के मुताबिक, इलाहाबाद पश्चिम सीट के लिए 2005 में हुए एक विधानसभा उपचुनाव में राजू द्वारा अहमद के भाई अशरफ को हराने के बाद यह घटना हुई थी। एक मीडिया रिपोर्टस में पब्लिश हुआ था कि “यह अहमद परिवार के लिए एक बड़ा नुकसान था क्योंकि 2004 के आम चुनावों में अतीक के इलाहाबाद से लोकसभा सीट जीतने के बाद यह सीट खाली हो गई थी।”

25 जनवरी 2005 को राजू की उसके घर के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जब वह अपने सहयोगियों संदीप यादव और देवी लाल के साथ अस्पताल से लौट रहा था। इसके बाद, राजू की पत्नी ने अतीक, अशरफ और सात अज्ञात लोगों के खिलाफ दंगा, हत्या के प्रयास, हत्या और आपराधिक साजिश के आरोप में प्राथमिकी दर्ज कराई।राजनीतिक और पुलिस के दबाव के कारण, अतीक अहमद ने आखिरकार 2008 में आत्मसमर्पण कर दिया और 2012 में रिहा हो गए। उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव में सपा के टिकट पर चुनाव लड़ा, लेकिन हार गए। इस दौरान उनके लिए हालात और खराब हो गए क्योंकि सपा के साथ उनके रिश्ते में खटास आ गई क्योंकि अखिलेश यादव ने आपराधिक रिकॉर्ड के कारण अहमद से दूरी बना ली।

अतीक अहमद के विवाद 

उमेश पाल हत्याकांड

अतीक अहमद पर उमेश पाल की हत्या का आरोप लगाया गया है। 24 फरवरी 2023 को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक राजू पाल की 2005 की हत्या के एक महत्वपूर्ण गवाह उमेश पाल की हत्या कर दी गई थी। राजू पाल और उमेश पाल की हत्या का मुख्य संदिग्ध अतीक अहमद है।

देवरिया जेल में व्यवसायी मोहित जायसवाल से मारपीट

देवरिया जेल में अतीक अहमद पर व्यवसायी मोहित जायसवाल के अपहरण और मारपीट का भी आरोप है। मोहित ने मीडिया को बताया कि अतीक अहमद के गैंग ने उससे रंगदारी मांगी थी. रंगदारी नहीं देने पर बाद में उसे देवरिया जेल ले जाया गया।मोहित को जेल के पुलिस अधिकारियों और अन्य ठगों ने पीटा था। खबर फैलने के बाद, उत्तर प्रदेश सरकार ने अतीक को बरेली जेल में स्थानांतरित कर दिया और आरोपी जेल प्रहरियों को निलंबित कर दिया। जायसवाल को जबरन वसूली की धमकी देने वाले अतीक अहमद की बातचीत की कॉल रिकॉर्डिंग भी वायरल हुई थी।देवरिया जेल में दो अन्य व्यवसायियों ने अहमद पर अपहरण और मारपीट करने का आरोप लगाया था। जून 2019 में अहमद को प्रयागराज सेंट्रल जेल से अहमदाबाद की साबरमती जेल में स्थानांतरित कर दिया गया था।

SHUATS हमले का मामला

14 दिसंबर 2016 को अतीक और उनके समर्थकों ने दो छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सैम हिगिनबॉटम कृषि, प्रौद्योगिकी और विज्ञान विश्वविद्यालय के कर्मचारियों पर हमला किया, जिन्हें नकल करते पकड़े जाने के बाद परीक्षा देने से रोक दिया गया था। अतीक अहमद द्वारा SHUATS शिक्षकों और कार्यकर्ताओं की पिटाई का फुटेज तेजी से वायरल हुआ था। 10 फरवरी 2017 को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने अतीक के आपराधिक रिकॉर्ड को तलब किया और इलाहाबाद के पुलिस अधीक्षक को मामले में सभी प्रतिवादियों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया। 11 फरवरी को अतीक को गिरफ्तार कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

अतीक अहमद की संपत्ति (चल – अचल संपत्ति)

अतीक अहमद और उनके परिवार की 11,684 करोड़ रुपये की संपत्ति कथित तौर पर अधिकारियों द्वारा जब्त की गई है और 751 करोड़ रुपये की संपत्ति जो कथित रूप से अतीक अहमद और सहयोगियों के पास थी, प्रयागराज जिला प्रशासन द्वारा जारी की गई है।2019 के लोकसभा चुनाव लड़ते समय अतीक अहमद के सबसे हालिया आपराधिक और संपत्ति घोषणा के अनुसार, उनके पास 25,50,20,529 रुपये की संपत्ति और शून्य देनदारियां थीं और उन्होंने 8,42,840 रुपये और 1,26,58,115 रुपये की नकदी घोषित की थी। उनके पास पाँच गाडिया थी, मारुति जिप्सी, महिंद्रा जीप, एक और जीप, मित्सुबिशी पजेरो और टोयोटा लैंड क्रूजर जिसकी कीमत 32,76,000 रुपये थी।

Read More: अनिल अग्रवाल कौन हैं? | Anil Agarwal Biography

FAQs: of Atiq Ahmed  Biography in Hindi

Q. अतीक अहमद का जन्म कब और कहां हुआ था ?

Ans. अतीक अहमद का जन्म 10 अगस्त 1960 को उत्तरप्रदेश के प्रयागराज(इलहाबाद) में हुआ था।

Q.अतीक अहमद के पिता का क्या नाम है और वह क्या काम करते थे ?

Ans.अतीक अहमद के पिता का नाम हाजी फिरोज अहमद है और वह टांगा चलाने का काम करते थे

Q. अतीक अहमद की शादी कब हुई और उनके कितने बच्चें है?

Ans. अतीक अहमद की शादी 1996  में शाइस्ता परवीन से हुई और उनके पांच बच्चें हैं।

Q. अतीक अहमद पर कितने मामले दर्ज हैं ?
Ans. अतीक अहमद पर 100 से ज्यादा मामले दर्ज हैं।

Q. हालही में अतीक अहमद को किस मामले के लिए आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई हैं?

Ans. अतीक अहमद को उमेश मामले के लिए उम्र कैद की सजा सुनाई गई हैं।

Q. अतीक अहमद और उनके परिवार के उपर कितने केस दर्ज है?

Ans. अतीक अहमद और उनके परिवार पर 160 से ज्यादा केस दर्ज है, जिसमें 100 से ज्यादा अतीक अहमद पर केस दर्ज है, वहीं उनके भाई , बेटे और उनकी पत्नी पर भी केस दर्ज हैं।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

See also  महेंद्र सिंह धोनी का जीवन परिचय | MS Dhoni Biography in Hindi (रिकार्ड्स, शिक्षा,परिवार, करियर,पसंदीदा चीजे)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja