नारायण मूर्ति बायोग्राफी | Narayan Murthy Biography in Hindi, Net Worth, Daughter, Son, Wife, Son in Law, Infosys Founder

नारायण मूर्ति आज से समय में एक ब्रांड बन चुके है। Narayan Murthy ने 1981 में भारत की सबसे बड़ी IT Company, Infosys की स्थापना की। नारायण मूर्ति के जीवन से जुड़े महत्वपूर्ण पहलुओं को समझते हैं।
By | November 3, 2023
Follow Us: Google News

Narayan Murthy Biography in Hindi:- नागवार रामाराव नारायणमूर्ति भारत की प्रसिद्ध सॉफ़्टवेयर कंपनी इन्फोसिस टेक्नोलॉजीज के संस्थापक और जानेमाने उद्योगपति है I सॉफ्टवेयर के दुनिया में रामाराव नारायण मूर्ति की कंपनी इन्फोसिस का एक अपना अलग ही मुकाम है I बचपन काल से ही उनकी रूचि कंप्यूटर में थी और उनका सपना था कि वह कंप्यूटर संबंधित सी कंपनी बनाए जिससे वह भारत के टैलेंटेड युवाओं को नौकरी का अवसर उपलब्ध करवा सके ऐसे में लोगों के मन में उनके निजी जीवन के सभी पहलुओं के बारे में जानने की उत्सुकता काफी बढ़ गई होगी इसलिए हम आपको इस आर्टिकल में नारायण मूर्ति के जीवन से जुड़े हुए सभी चीजों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे जैसे- Narayana Murthy Wikipidia नारायण मूर्ति का प्रारम्भिक जीवन परिचय 

बिल गेट्स का जीवन परिचय Narayana Murthy Founder infosys नारायण मूर्ति की शिक्षा नारायण मूर्ति का परिवार नारायण मूर्ति की पत्नी का नाम  नारायण मूर्ति के दामाद नारायण मूर्ति की बेटी Microsoft बिज़नेस की शुरुआत Narayana Murthy House Narayana Murthy Net Worth Narayana Murthy Social Media अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं तो हम आपसे निवेदन करेंगे कि आर्टिकल को आखिर तक पड़े आइए जानते हैं- 

गौतम अडानी की कुल संपत्ति, कंपनी, परिवार, शिक्षा, विवाद 

Narayan Murthy Biography in Hindi

पूरा नामनागवारा रामाराव नारायण मूर्ति
जन्म स्थानशिदलाघट्टा, चिक्कबल्लापुरा, जिला कर्नाटक
जन्मतिथि20 अगस्त 1946
शैक्षणिक योग्यताइलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में स्नातक, M.Tech
उम्र 76 साल
जातिब्राह्मण
राष्ट्रीयताभारतीय
विवाह की स्थितिशादीशुदा
पेशाबिजनेसमैन
कुल संपत्ति$2.47 बिलियन

नारायण मूर्ति का प्रारम्भिक जीवन परिचय | Narayana Murthy Biography 

20 अगस्त 1946 को उनका जन्म कर्नाटक के शिदलाघट्टा में हुआ था।उनके पिता का नाम एन राम राव था जो की पेशे से एक शिक्षक थे। उनकी माँ नाम पदवथम्मा मूर्ति था। इनके पिता का सपना था कि नारायण मूर्ति सिविल परीक्षा की तैयारी करें लेकिन उनका सपना  इंजीनियर बनना था I 

नारायण मूर्ति की शिक्षा | Narayana Murthy Education 

नारायण मूर्ति ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने गांव से प्राप्त की थी इसके बाद उन्होंने मैसूर विश्वविद्यालय के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री पूरी की। फिर उन्होंने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कानपुर से मास्टर्स किया। 

नारायण मूर्ति का परिवार | Narayana Murthy Family 

पिता का नामएन राम राव (शिक्षक)
माता का नामपदवथम्मा मूर्ति
भाई / बहन का नामकुल मिलाकर 7 भाई-बहन है
पत्नी का नामसुधा मूर्ति
बेटे का नामरोहण मूर्ति
बेटी का नामअक्षय मूर्ति
दामाद का नामऋषि सुनक इंग्लैंड के प्रधानमंत्री

नारायण मूर्ति की पत्नी का नाम | Narayana Murthy Wife Name

नारायणमूर्ति के पत्नी का नाम सुधा मूर्ति है I 10 फरवरी 1978 को सुधा मूर्ति के साथ शादी की थी उनकी पत्नी मशहूर लेखिका और शिक्षिका भी है I  शादी के बाद उनके जीवन में एक विशेष बदलाव आया उन्होंने अपनी खुद की कंपनी शुरू करने का फैसला किया उन्हें अपनी पहली कंपनी कंपनी सॉफ्टरोनिक्स (Softronix) शुरुआत की  लेकिन वो असफल साबित हुई. पर नारायण मूर्ति अपनी जिद पर अड़े रहे. इसके बाद उन्होंने अपनी पत्नी से ₹100000 का कर्ज लिया और फिर इंफोसिस कंपनी की स्थापना की और आज की तारीख में भारत में दूसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी है I 

See also  योगी आदित्यनाथ का सम्पूर्ण जीवन परिचय | Yogi Adityanath Biography in Hindi

नारायण मूर्ति के दामाद | Narayana Murthy Son Of Law 

नारायणमूर्ति  के दामाद बारे में कौन नहीं जानता है न्यायमूर्ति के दामाद का नाम ऋषि सुनक है जो आज की तारीख में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के पद पर कार्यरत है I ऋषि सुनक इंग्लैंड के वित्त मंत्री भी रह चुके हैं उनके पास अच्छा खासा राजनीतिक अनुभव है  I  उन्होंने नारायण मूर्ति के बेटी अक्षय मूर्ति के साथ विवाह किया है I 

नारायण मूर्ति की बेटी | Narayana Murthy Daughter 

नारायणमूर्ति की बेटी का नाम अक्षय मूर्ति है I आज की तारीख में वह कैटामारन वेंचर्स यूके नाम की कंपनी की निदेशक है I इसके अलावा वह फैशन डिजाइनिंग का काम भी करती हैं I उनकी मुलाकात ऋषि सुनक अमेरिका के स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में के दौरान हुआ था और उसके बाद दोनों काफी करीब आ गए  दोनों ने वर्ष 2006 में बेंगलुरु में शादी की थी. जैसा कि आपको मालूम है कि ऋषि सुनक आज की तारीख में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री हैं I 

इन्फोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति | Infosys Founder Narayana Murthy

इंफोसिस कंपनी की स्थापना कैसे हुई इसके पीछे काफी रोचक कहानी है कहा जाता है कि उनके पास कंपनी शुरू करने के पैसे नहीं थे I ऐसे में उन अपनी पत्नी से ₹100000 का कर्ज लिया और फिर उन्होंने इंफोसिस कंपनी की नींव रखी  I अपने मेहनत और परिश्रम के बल पर इंफोसिस को भारत का दूसरा सबसे बड़ा सॉफ्टवेयर कंपनी बनाया I आज के तारीख में इंफोसिस का कारोबार दुनिया के कई देशों में फैला हुआ है I इंफोसिस ने 1983 में अपना पहला कार्यालय बेंगलुरु में खुला था I  आज के वक्त में इंफोसिस कंपनी का मार्केट वैल्यू 8 लाख करोड़ रुपए की है I

See also  कौन हैं जगदीप धनखड़? (Jagdeep Dhankhar) सम्पूर्ण जीवन परिचय | जन्म, शिक्षा, राजनितिक सफर

इस प्रकार हम कह सकते हैं कि 1981 में ₹100000 से शुरू की गई इंफोसिस कंपनी आज की तारीख में 8 लाख करोड़ की कंपनी बन गई है 21 वर्षों तक नारायण मूर्ति इंफोसिस कंपनी के सीईओ बने रहें इसके बाद 2002 में उन्होंने नंदन नीलेकणी को अपना पद देकर पद छोड़ दिया । मूर्ति बोर्ड के अध्यक्ष बने, 2006 में उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया 2011 में उन्होंने कंपनी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया I 

Narayana Murthy Wikipedia  

नारायणमूर्ति किसी पहचान के मोहताज नहीं है सॉफ्टवेयर की दुनिया में उनकी कंपनी इन्फोसिस का डंका बजता है I नारायणमूर्ति ने अपने संघर्ष और परिश्रम के बल पर अपनी कंपनी इंफोसिस का निर्माण किया जो आज दुनिया के मशहूर सॉफ्टवेयर कंपनियों में से एक है I उनका सपना था कि वह एक सफल बिजनेसमैन बने इसके लिए उन्होंने कंप्यूटर के क्षेत्र का चयन किया जिसके लिए उन्होंने पुणे में पटनी कंप्यूटर सिस्टम के साथ काम किया था I जिसके बाद उन्होंने इंफोसिस कंपनी की शुरुआत की

Infosys बिज़नेस की शुरुआत | Infosys Business Start 

इंफोसिस बिजनेस की शुरुआत कैसे हुई तो इसके विषय में काफी रोचक कहानी है ऐसा कहा जाता है कि उन्होंने अपनी इस कंपनी को शुरू करने के लिए अपनी पत्नी से ₹100000 का कर्ज लिया था तब जाकर इस कंपनी की उन्होंने 1981 में स्थापना की थी I सबसे महत्वपूर्ण बात की उन्होंने अपनी कंपनी इंफोसिस की स्थापना आप लोगों के साथ मिलकर की थी I जिनमें एनआर नारायण मूर्ति, नंदन नीलेकणी , एस गोपालकृष्णन, एसडी शिबूलाल, के दिनेश, एनएस राघवन और अशोक अरोड़ा शामिल हैं। वह सभी नारायणमूर्ति के दोस्त हैI

1983 में, इंफोसिस ने अपना कार्यालय बेंगलुरु, कर्नाटक में स्थानांतरित कर दिया। 1984 में उन्हें अपना पहला कंप्यूटर और एक टेलीफोन लाइन मिली। 21 वर्षों तक नारायण मूर्ति इंफोसिस कंपनी के सीईओ बने रहें इसके बाद 2002 में उन्होंने नंदन नीलेकणी को अपना पद देकर पद छोड़ दिया । मूर्ति बोर्ड के अध्यक्ष बने, 2006 में उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया I 2006 में टाइम मैगजीन है उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और महात्मा गांधी के साथ एशियाई नायकों में नामित किया जो उनके जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि है I अगस्त 2011 में, मूर्ति ने एमेरिटस चेयरमैन की उपाधि लेते हुए इंफोसिस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया।

See also  डॉ. विकास दिव्यकीर्ति का जीवन परिचय | Dr. Vikas Divyakirti Biography Hindi | जीवन परिचय, शिक्षा, संघर्ष, नौकरी, दृष्टि कोचिंग, सोशल मीडिया लिंक

Narayana Murthy House | नारायण मूर्ति हाउस

नारायणमूर्ति आज के तारीख में बेंगलुरु में रहते हैं जहां पर वह अपनी पत्नी और बेटे के साथ निवास करते हैं क्योंकि उनकी बेटी की शादी हो चुकी है और अपने पति ऋषि सुनक के साथ इंग्लैंड में जाती है जैसा कि आप लोग जानते हैं कि ऋषि सुनो आज की तारीख में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री हैंl नारायणमूर्ति के घर का पता का विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं जो इस प्रकार- 

Amoghavarsha No 575 21st Main, 35th Cross 4th T Block Jayanagar, Bangalore, Karnataka, India, 560 041

नारायण मूर्ति की कुल संपत्ति | Narayana Murthy Net Worth

इंफोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति की कुल संपत्ति के बारे में बात करें तो  फोर्ब्स के अनुसार 1.55 बिलियन डॉलर थी जो बाद में बढ़कर $2.47 बिलियन डॉलर हो गई । वह भारत की सबसे अमीर सूची में 42वें और विश्व अरबपतियों की सूची में 965वें स्थान पर हैं।

Narayana Murthy Social Media 

Twitter click here 
Facebook click here 
Instagram click here 

FAQ’s Narayan Murthy Biography in Hindi

Q. नारायण मूर्ति सुधा मूर्ति कौन है?

Ans. सुधा मूर्ति एक भारतीय शिक्षिका और लेखिका हैं। इसके अलावा यह इंफोसिस फाउंडेशन की अध्यक्ष भी हैं। इन्होंने इंफोसिस के -संस्थापक एन आर नारायण मूर्ति से शादी किया हैl

Q. नारायण मूर्ति ने इंफोसिस क्यों छोड़ा?

Ans. चार पैराग्राफ के एक संक्षिप्त बयान में मूर्ति ने कहा, ‘मैंने स्वेच्छा से 2014 में बोर्ड छोड़ दिया था और मैं बच्चों या सत्ता के लिए कोई पैसा, पद नहीं मांग रहा हूं। मेरी चिंता मुख्य रूप से कॉरपोरेट गवर्नेंस के गिरते स्तर को लेकर थी, जिसे मैंने बार-बार बोर्ड के ध्यान में लाया हैl

Q. नारायण मूर्ति ने किस उम्र में इंफोसिस शुरू किया?

Ans. 35 साल की उम्र से पहले अपनी उद्यमशीलता की यात्रा शुरू करने की तत्काल आवश्यकता I यानी उन्होंने 35 साल की उम्र में इंफोसिस कंपनी की शुरुआत की

Q. नारायण मूर्ति का विवाह कितने रुपये में सम्पन्न हुआ?

Ans. नारायण मूर्ति का विवाह 800 रुपये में सम्पन्न हुआ था जिसको दोनों परिवारों ने आधा आधा बांटा थाl

Q. नारायण मूर्ति की बेटी का नाम क्या था?

Ans. मूर्ति की बेटी अक्षता की इन्फोसिस में 0.91% हिस्सेदारी है। इनका मूल्य 4,300 करोड़ रुपए (430 मिलियन पौंड) है। पारिवारिक कंपनियों में हिस्सेदारी के चलते अक्षता ब्रिटेन की अमीर महिलाओं में शुमार हैं।

Q. नारायण मूर्ति की उम्र कितनी है?

Ans. वर्तमान में नारायणमूर्ति की उम्र 76 साल हैl

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *