ads

Fame India Yojana 2023 | जाने Fame India Scheme Second Phase के फायदे | 827 करोड़ रुपये की लागत से देश के इन शहरों में बनेंगे चार्जिंग स्टेशन

By | मई 3, 2023
Follow Us: Google News

भारत में बढ़ती हुई पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर सभी भारतीय चिंतित हैं। भारत सरकार द्वारा भी चिंता व्यक्त की जा रही है, कि इसी तरह से अगर डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ते चले गए तो आम जनता के लिए वाहन चलाना मुश्किल हो जाएगा। जैसे-जैसे वक्त बदल रहा है। वैसे ही भारत सदियों से आविष्कार को जन्म देता हुआ आ रहा है। भारत में इलेक्ट्रिकल विकल को अब अत्यधिक महत्व दिया जा रहा है। इसी महत्व को आगे विकसित करने के लिए भारत सरकार द्वारा “फेम इंडिया योजना” (Fame India Yojana 2023) की शुरुआत की गई है। इस योजना का पूरा नाम Faster adoption and manufacturing of hybrid &) electric vehicles in India) है।

फेम इंडिया योजना दूसरा चरण के द्वारा संपूर्ण भारत में  इलेक्ट्रिकल ऑटोमोबाइल्स को संचालित किया जाएगा। इलेक्ट्रिकल मोबिलिटी को नियंत्रण किया जाएगा। भारत सरकार द्वारा चिन्हित किए गए राज्यों में हैवी ट्रांसपोर्टेशन (Heavy Transportation) के लिए इलेक्ट्रिकल चार्जिंग प्वाइंट बनाने हेतु मंजूरी दे दी गई है।फेम इंडिया योजना दो चरणों में शुरू की गई है। प्रथम चरण  पूर्ण हो चुका है। अब द्वितीय चरण की शुरुआत भारत सरकार द्वारा 1 फरवरी 2022 को कर दी गई है। फेम इंडिया मिशन (FAME India Mission) के दूसरे चरण में सरकार द्वारा 2,31,257 इलेक्ट्रिकल विकल को मंजूरी दे दी गई है।

आइए जानते हैं, फेम इंडिया योजना क्या है? फेम इंडिया योजना कब शुरू की गई है? फेम इंडिया योजना से इलेक्ट्रिकल मोबिलिटी को कैसे विकसित किया जाएगा? हाईवे ट्रांसपोर्टेशन को चार्ज करने हेतु स्टेशन कैसे खोले जाएंगे? फेम इंडिया के अंतर्गत चार्जिंग पॉइंट खोलने हेतु कैसे आवेदन कर सकते हैं? इस संबंध में आवश्यक पात्रता, आवश्यक दस्तावेज तथा आवेदन प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी लेख में दी जा रही है। अतः आप अंत तक लेख में बने रहे।

फेम इंडिया योजना 2023 द्वितीय चरण | Fame India Scheme 2023 Phase

भारत सरकार द्वारा शुरू की गई फेम इंडिया योजना (Fame India Yojana ) का द्वितीय चरण 1 फरवरी 2022 को शुरू कर दिया गया। द्वितीय चरण के अंतर्गत सरकार द्वारा तकरीबन 2,31,257 इलेक्ट्रिकल विकास को मंजूरी दी गई है। दूसरे चरण के तहत 25 राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों के 68 शहरों में 2877 चार्जिंग स्टेशनों की मंजूरी दी। साथ ही सरकार ने दूसरे चरण के तहत लगभग 827 करोड़ रुपये की राशि के बराबर मांग प्रोत्साहन के माध्यम से 1 फरवरी, 2022 तक 2,31,257 इलेक्ट्रिक वाहनों की सहायता की है। इसके अतिरिक्त, भारी उद्योग मंत्रालय ने स्कीम को 26 राज्यों में इंट्रासिटी एवं इंटरसिटी प्रचालनों के लिए 65 शहरों/एसटीयू/सीटीयू/राज्य सरकार निकायों को 6315 ई-बसों की भी मंजूरी दी है।

READ  Form 26AS क्या है? Form 26AS Download Kaise Karen | Form 26AS in Hindi | फॉर्म 26 एएस की पूरी जानकारी

फेम इंडिया 2023 का लघु विवरण | Fame India Yojana 2023

योजना का नामफेम इंडिया योजना 2023
योजना लॉन्च कि गईभारत सरकार द्वारा (भारी उद्योग मंत्रालय)
इलेक्ट्रिक बस फेस 2670
चार्जिंग स्टेशन फेस 2241
योजना का उद्देश्यविद्युत वाहन उपलब्ध कराना
योजना का लाभपर्यावरण प्रदूषण में नियंत्रण
आधिकारिक वेबसाइटfame2.heavyindustry.gov.in

राष्ट्रीय इलेक्ट्रिक मोबिलिटी मिशन | National Electric Mobility Mission (FAME INDIA YOJANA)

राष्ट्रीय इलेक्ट्रिक मोबिलिटी मिशन प्लान (National Electric Mobility Mission Plan (NEMMP) 2020 एक राष्ट्रीय मिशन है। जो देश में बिजली से चलने वाले वाहनों के विनिर्माण के लिए विजन तथा रोडमैप उपलब्ध कराता है। स्कीम का पहला चरण 895 करोड़ रुपये के बजट खर्च के साथ 31 मार्च, 2019 तक उपलब्ध था। फेम इंडिया स्कीम (FAME India Scheme) के इस चरण के चार महत्वपूर्ण कार्य थे:-

  • प्रौद्योगिकीय विकास। technological development
  • मांग सृजन | demand generation
  • प्रायोगिक परियोजना | pilot project
  • चार्जिंग अवसंरचना | Charging infrastructure

योजना के पहले चरण में, लगभग 359 करोड़ रुपये के कुल मांग प्रोत्साहन के साथ लगभग 2.8 लाख एक्स-ईवी की सहायता की गई। इसके अतिरिक्त, जैसाकि योजना के पहले चरण के तहत अनुमोदित है। 425 इलेक्ट्रिक एवं हाइब्रिड बसों को लगभग 280 करोड़ रुपये सरकारी प्रोत्साहन के साथ देश के विभिन्न शहरों में उपयोग में लाया गया है। भारी उद्योग मंत्रालय (Ministry of Heavy Industries) ने फेम इंडिया स्कीम (FAME India scheme) के प्रथम चरण के तहत लगभग 43 करोड़ रुपये के बराबर के लगभग 520 चार्जिंग स्टेशनों/ बुनियादी ढांचों की भी मंजूरी दी थी।

READ  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2023 | PMGKY | Pradhan mantri Garib Kalyan Yojana List

इसका लक्ष्य 7090 ई-बसों, 5 लाख ई-तिपहियों, 55,000 ई-चार पहिया यात्री कारों तथा 10 लाख ई-दुपहियों के मांग प्रोत्साहन के जरिये सहायता उपलब्ध कराना है। इसके अतिरिक्त, चार्जिंग बुनियादी ढांचों के सृजन को भी इस स्कीम के तहत सहायता प्रदान की जाती है।

जानिए Grahak Seva Kendra खोलने को पात्रता, दस्तावेज, लोन एवं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की पूरी जानकारी

फेम इंडिया स्कीम के दूसरे चरण के तीन घटक

1) मांग प्रोत्साहन | Demand incentives

2) चार्जिंग केंद्रों के नेटवर्क की स्थापना | Establishment of a network of charging centres

3) प्रचार, आईसी (सूचना, शिक्षा एवं संचार) गतिविधियों सहितत स्कीम का प्रशासन। | Education and Communication

यह जानकारी आज राज्य सभा में भारी उद्योग राज्य मंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर द्वारा एक लिखित उत्तर में दी गई।

फेम इंडिया योजना के लाभ विशेषताएं | Benefits Features of FAME India Scheme

 भारी उद्योग मंत्रालय (Ministry of Heavy Industries) द्वारा शुरू की गई प्रेम इंडिया योजना भारत में  इन ऑटोमोबाइल्स को बढ़ाने हेतु शुरू की गई है। इस योजना से भारत में बढ़ रही पेट्रोल एवं डीजल की दरों से परेशान लोगों को राहत मिलेगी। बैटरी से चलने वाले स्कूटी, बस, हैवी ट्रांसपोर्टेशन का प्रयोग कर सकेंगे फेम इंडिया योजना की अनेक विशेषताएं एवं लाभ है जैसे:-

  • योजना के प्रथम चरण को 31 मार्च 2019 को शुरू किया गया था। प्रथम चरण में 2,80,987 हाइब्रिड और इलेक्ट्रिकल वाहनों को खरीदने हेतु 359 करोड रुपए की आर्थिक सहायता दी थी।
  • योजना के अंतर्गत 280 करोड रुपए की लागत वाली 425 इलेक्ट्रिकल एवं हाइब्रिड बसों को THI द्वारा विभिन्न शहरों में शुरू करने के दिशा निर्देश जारी किए गए।
  • बाहरी वाहनों को  फेम इंडिया के प्रथम चरण में देश के कुछ शहरों में जैसे बेंगलुरु ,चंडीगढ़, जयपुर, दिल्ली एनसीआर जैसे शहरों में 420 चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए मंजूरी दी गई। जिसमें लगभग ₹460 करोड़ का निवेश किया गया।
  • इंडिया के दूसरे चरण को 1 फरवरी 2022 को शुरू किया गया। इस मिशन को 3 साल की अवधि तक शुरू रखने का एलान किया गया।
  • योजना के अंतर्गत लगभग 7000 इलेक्ट्रॉनिक बसों 500000 से अधिक इलेक्ट्रॉनिक सिपाहियों वाहनों 55000 से अधिक यात्री कारों और 10 लाख से अधिक दुपहिया वाहनों को सब्सिडी के माध्यम से समर्थन करने का प्रावधान रखा गया है।
  • इलेक्ट्रॉनिक वाहन का प्रयोग करने वाले वाहन मालिक को एक  वैलिड परमिट की आवश्यकता होगी। जो किसी सरकारी एजेंसी द्वारा जारी किया गया हो।
READ  ई-श्रमिक कार्ड का पैसा कैसे चेक करें? Step by Step पूरी जानकारी | e-Shram Card Ka Paisa Kaise Check Kare @pfms.nic.in

प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना का मास्टर प्लान | जाने 107 लाख करोड़ कहाँ होंगे खर्च

फेम इंडिया योजना  से लाभ के तौर पर भारतीयों को अत्यधिक फायदे होने वाले हैं जैसे:-

  • फेम इंडिया योजना 2023 के दूसरे चरण में भारत में इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा  मिलेगा यह प्रणाली पर्यावरण के अनुकूल एवं सार्वजनिक परिवहन प्रणाली को भी बढ़ावा देगा।
  • देश में हो रहे प्रदूषण की मात्रा को कम किया जा सकेगा।
  • इलेक्ट्रॉनिक वाहन चलाने पर कम खर्च आएगा और प्रत्येक 1 किलोमीटर के लिए मात्र ₹1 का खर्चा आएगा।
  • फेम इंडिया के दूसरे चरण में योजना के नवीनीकरण स्रोतों के परस्पर जुड़ाव को प्रोत्साहित करने में मदद मिलेगी। साथ ही चार्जिंग सिस्टम के माध्यम से गति मिलेगी
  • भारत में बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दामों को नियंत्रण किया जा सकेगा।
  • इलेक्ट्रॉनिक वाहनों की खरीद पर तेजी से प्रोत्साहन और इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए आवश्यक चार्जिंग बुनियादी ढांचे की स्थापना के माध्यम से इलेक्ट्रिक और हाइब्रिड वाहनों को खरीदने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। जिससे डीजल और पेट्रोल की  बढ़ती महंगाई की मार नहीं सहनी पड़ेगी।

स्वदेश स्किल कार्ड रजिस्ट्रेशन 2022

Fame India Official Website:- https://fame2.heavyindustries.gov.in/

FAQ’s Fame India Yojana 2023

Q.  फेम इंडिया योजना क्या है?

Ans.  फेम इंडिया योजना भारत में इलेक्ट्रॉनिक ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को विकसित करने हेतु शुरू की गई है। जो इलेक्ट्रॉनिक वाहनों एवं इन्हें निर्मित करने वाली सभी कंपनियों को नियंत्रण करेगी तथा आवश्यक दिशा निर्देश करेगी। इलेक्ट्रिकल सुविधाओं को बढ़ाने हेतु सरकार द्वारा प्रोत्साहित किया जा रहा है।  इलेक्ट्रिकल इंडस्ट्री में हेवी ड्यूटी वाहनों को भी शामिल किया जा रहा है। जिसमें बस ट्रक यात्री कार कृपया वाहन दुपहिया वाहन आदि शामिल है।

Q. फेम इंडिया योजना का दूसरा चरण क्या है?

Ans . फेम इंडिया योजना के अंतर्गत दूसरे चरण में सरकार द्वारा दूसरे चरण के तहत 25 राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों के 68 शहरों में 2877 चार्जिंग स्टेशनों की मंजूरी दी।

Q. फेम इंडिया योजना से क्या लाभ होगा?

Ans .  फेम इंडिया योजना से भारत में  इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा दिया जाएगा।  भारत में बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दामों पर लगाम लगाई जा सकेगी। साथ ही जनता को किफायती दरों पर वाहन उपलब्ध करवाए जाएंगे। इसके अतिरिक्त इलेक्ट्रिकल वाहन चलाने पर मात्र 1 किलोमीटर पर एक रुपए का ही खर्चा होगा। 

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *