प्रधानमंत्री मित्र योजना 2023 | Pradhan Mantri Mitra Yojana Mega Textile Park

Pradhan Mantri Mitra Yojana 2021

भारत सरकार द्वारा हाल ही में कपड़ा उद्योग को बढ़ाने हेतु 7 मेगा टैक्सटाइल पार्क को मंजूरी दे दी है। प्रधानमंत्री द्वारा “मेघा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल एंड अप्रेरल मित्र योजना की शुरुआत की है।” (“Megha Textile Integrated Textile and Apparel Mitra Yojana”) योजना के अंतर्गत देश के टैक्सटाइल इंडस्ट्री से जुड़े हुए लोगों को खासा फायदा होगा। योजना के अंतर्गत देश में 7 मेगा टेक्सटाइल इन्वेस्टमेंट पार्क (7 Mega Textile Investment Parks) बनाए जाएंगे। सरकार द्वारा पाक बनाने हेतु 1700 करोड रुपए का बजट तैयार किया गया है। केंद्रीय कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल के अनुसार यह प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री के पांच एफ विजन (F vision) से प्रेरित है। जिसमें फॉर्म टू फाइबर टू फैक्ट्री टू फैशन टू फॉरेन शामिल है। PM Mitra Yojana 2023

आइए जानते हैं सरकार द्वारा शुरू किए गए मेगा टेक्सटाइल प्रोजेक्ट अर्थात मित्र योजना से कैसे लाभान्वित हो सकते हैं? टेक्सटाइल मेगा प्रोजेक्ट से क्या फायदे होने वाले हैं। योजना हेतु आवेदन प्रक्रिया, आवेदन की पात्रता, सरकार द्वारा निर्धारित मापदंड को विधिवत जानने के लिए लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

PM Mitra Yojana 2023 Highlights

Textile Mitra Yojana 2023, PM Mitra Yojana, 7 Mega Textile Investment Parks in India | मेगा टैक्सटाइल पार्क

योजना का नामप्रधानमंत्री मित्र योजना ( PM Mitra Yojana 2023)
योजना शुरू की गईभारत सरकार द्वारा
योजना का उदेश्ये7 मेगा टेक्सटाइल पार्क विकसित करना
योजना का लाभ14 लाख लोग जो कपड़ा उद्योग से जुड़े हैं उन्हें फायदा होगा। तथा 7 लाख लोगों मेगा टैक्सटाइल पार्क में सीधे नौकरी दी जाएगी।
योजना बजट1700 करोड रुपए
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://texmin.nic.in/ 

मेघा टैक्सटाइल पार्क (मित्र योजना) के उद्देश्य तथा लाभ | Benefits of Megha Textile Park (Mitra Yojana)

एक व्यक्ति की 3 मूलभूत आवश्यकताओं में प्रथम आवश्यकता कपड़ा ही होती है। कपड़ा उद्योग तथा इससे जुड़ी हुई सभी टेक्नोलॉजी को सरकार द्वारा बढ़ाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। कपड़ा उद्योग क्षेत्र को बढ़ाने के लिए सरकार ने देश में 7 नए मेगा टैक्सटाइल पार्क बनाने की घोषणा की है। जिससे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से देश के 21 लाख लोगों को रोजगार से जोड़ा जा सकेगा। टेक्सटाइल इंडस्ट्री में अनेक प्रकार के कार्य किए जाते हैं जैसे धागे से कपड़ा तैयार करना, कपड़े की रंगाई, सिलाई से लेकर पैकिंग ट्रांसपोर्ट इन सब में अधिक मेन पावर की आवश्यकता होगी। भारत सरकार की मित्र योजना (PM Mitra Yojana) को लेकर यह अहम भूमिका रहेगी कि लोगों को अधिक से अधिक रोजगार से जोड़ा जाए। ये पार्क 1000 एकड़ में बनेगा। सरकार द्वारा मित्र योजना के अंतर्गत अगले पांच वर्ष में 4,445 करोड़ रूपये खर्च करेगी।  इसी के साथ कपड़ा उद्योग क्षेत्र से मेघा टैक्सटाइल पार्क से अनेक फायदे होंगे जैसे:-

  • PM Mitra Yojana 2023 से 21 लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध होगा।
  • एक ही छत के नीचे कपड़े की स्पेलिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाइंग और प्रिंटिंग की जा सकेगी।
  • कपड़े की संपूर्ण मैन्युफैक्चरिंग का काम मेगा टेक्सटाइल प्रोजेक्ट पार्क में किया जाएगा।
  • सभी काम एक ही पार्क में होने से लॉजिस्टिकस को लेकर होने वाले खर्चों में कमी आएगी।
  • कपड़ा उद्योग क्षेत्र से जुड़े छोटे व्यापारियों को अधिक फायदा होगा।
  • मेगा टैक्सटाइल पार्क में सभी बुनियादी सुविधाएं आधुनिक टेक्नोलॉजी के अनुसार विकसित की जाएगी।
  • टैक्सटाइल पार्क में सभी सुविधाएं जैसे मार्केटिंग, लीकेज इन ट्रांसपोर्टेशन संबंधी सभी सुविधाएं उपलब्ध होगी।
  • मेघा टेक्सटाइल को इंटरनेशनल लेवल पर निर्धारित मानकों के आधार पर  डिवेलप किया जाएगा।
  • मेगा टेक्सटाइल प्रोजेक्ट शुरू होने पर महिलाओं को अधिक रोजगार के अवसर मिलेंगे।
  • धानमंत्री मित्र योजना के अंतर्गत 7 लाख लोगों मेगा टैक्सटाइल पार्क में सीधे नौकरी दी जाएगी।
  • 14 लाख लोग जो कपड़ा उद्योग से जुड़े हैं उन्हें फायदा होगा।
See also  ऐसे देखें किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट 2023 | PM Kisan Yojana List Dekhen

पीएम मेगा टैक्सटाइल पार्क विकसित हेतु इंसेंटिव विवरण | Incentive details for the development of PM Mega Textile Park

 भारत सरकार द्वारा कपड़ा उद्योग क्षेत्र में क्रांतिकारी कदम उठाए जा रहे हैं भारत वर्तमान में विश्व भर में कपड़ा बनाने तथा निर्यात करने में छठवां स्थान रखता है। सरकार चाहती है कि भारत कपड़ा क्षेत्र में अधिक आधुनिकता को अपनाते हुए अपने स्थान से ऊपर उठे। सरकार द्वारा Mega Textile Park को लेकर बहुत बड़ी घोषणा की गई है। इसी के साथ टैक्सटाइल पार्क को विकसित करने पर सरकार द्वारा कुछ इंसेंटिव निर्धारित किए गए हैं जैसे:-

  • टेक्सटाइल मित्र पार्क को भारत के अलग-अलग राज्यों  में स्थित ग्रीनफील्ड या ब्राउनफील्ड जगहों पर बनाया जाएगा।
  • भारत सरकार द्वारा घोषणा की गई है ग्रीन फील्ड मित्र पार्क को विकसित करने पर 500 करोड़ रुपए का अनुदान दिया जाएगा।
  • इसी कड़ी में ब्राउनफील्ड मित्र पार्क को विकसित करने के लिए 200 करोड़ रुपए आवंटित किए जाएंगे।
  • कपड़ा क्षेत्र से जुड़ी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स को मित्र पार्क के अंतर्गत डिवेलप करने पर ₹300 का सहयोग दिया जाएगा।
  • सरकार द्वारा मेघा टेक्सटाइल प्रोजेक्ट को आधुनिक तरीके से तथा अंतरराष्ट्रीय मानकों में उत्कृष्ट बनाने हेतु यथासंभव संपूर्ण प्रयास किए जाएंगे।

पीएम मित्र योजना हेतु आवेदन प्रक्रिया | application process for PM Mitra Scheme

भारत सरकार द्वारा हाल ही में पीएम मित्र योजना अर्थात मेगा टैक्सटाइल पार्क बनाने की घोषणा की गई है। योजना में आवेदन प्रक्रिया को लेकर किसी प्रकार का विवरण प्रस्तुत नहीं किया गया है.अतः आवेदक सरकार द्वारा जारी योजना संबंधी ऑफिशल नोटिफिकेशन को जरूर पढ़ें।

Important link :  ऑफिसियल वेबसाइट : https://texmin.nic.in/ 

FAQ”s PM Mitra Scheme (7 mega textile parks)

Q. पीएम मित्र योजना क्या है?

Ans.  कपड़ा उद्योग क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार द्वारा भारत के अनेक राज्यों में 7 मेगा टैक्सटाइल पार्क बनाए जाएंगे। जिसे मित्र योजना के अंतर्गत मॉनिटर किए जाएंगे। 

See also  यूपी भूलेख खतौनी 2023 | यू पी भू नक्शा खतौनी कैसे निकाले ऑनलाइन | यूपी भूलेख खतौनी चेक एंड डाउनलोड ऑनलाइन @upbhulekh.gov.in

Q. भारत में किन राज्यों में मेघा टैक्सटाइल पार्क बनाए जाएंगे?

Ans.  मेघा टेक्सटाइल प्रोजेक्ट के अंतर्गत राजस्थान, मध्य प्रदेश सहित 10 राज्यों ने रुचि दिखाई है। सरकार द्वारा अभी तक राज्यों का चयन नहीं किया गया है।

Q. पीएम मित्र योजना के लिए कैसे आवेदन करें ?

Ans.  भारत सरकार द्वारा पीएम मित्र योजना की हाल ही में घोषणा की गई है। अभी तक सरकार द्वारा योजना हेतु आवेदन प्रक्रिया संबंधी विवरण प्रस्तुत नहीं किया गया है। सरकार द्वारा जारी न्यू नोटिफिकेशन के बाद ही आवेदन प्रक्रिया स्पष्ट हो पाएगी। अतः आवेदक योजना से जुड़ी नोटिफिकेशन जरूर पढ़ें।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja