Bihar Diwas Essay in Hindi | बिहार दिवस पर निबंध PDF | बिहार का इतिहास

Bihar Diwas Essay in Hindi

Bihar Diwas Essay in Hindi:- इस लेख के जरिए आपको बिहार दिवस पर निबंध पेश करने जा रहे है। Bihar Diwas par Nibandh को आप किसी भी तरह कि निबंध प्रतियोगिता में उपयोग कर सकते है। बिहार नॉर्थ इंडिया का बहुत ही प्रसिद्ध राज्यों में गिना जाता है, वहीं इसका इतिहास गौरवशाली है. बिहार भारत का एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक और पौराणिक राज्य है। इस राज्य को प्राचीन काल में पाटलिपुत्र के नाम से जाना जाता था। इसकी राजधानी पटना है। छठ पूजा बिहार का प्रमुख पर्व है। इस राज्य में कुल 36 राज्य हैं। 22 मार्च को बिहार में बिहार दिवस मनाया जाएगा। इस दिन को अलग अलग कार्यक्रमों और आयोजनों के साथ मनाया जाएगा।

आपको इस लेख में Bihar Diwas Essay in Hindi में मिलेगा जो हिंदी भाषा निबंध प्रतियोगिता में आप यूज कर सकते है। वहीं सवाल अब यह आता है कि बिहार दिवस पर निबंध कैसे लिखे, दिक्कत निबंध नहीं होता है बल्कि यह होता है कि इसे कैसे लिखा जाएं। ऐसे कौन कौन से पॉइन्ट है जो यूज किए जाए और कौन से जिन्हें लेना जरूरी नहीं है वह हम आपको इस लेख में बताएंगे। बिहार दिवस पर निबंध PDF भी आपको इस लेख में मिल जाएगी, जो आप डाउनलोड कर के कभी भी पढ़ने का लुफ्त उठा सकते है।

Bihar Diwas Essay in Hindi 

टॉपिकबिहार दिवस पर निबंध
बिहार दिवस 202322 मार्च
बिहार की राजधानीपटना
पटना का पूराना नामपाटलिपुत्र
बिहार भारत में कहा स्थित हैपूर्वोत्तर
बिहार कलामधुबनी कला
बिहार कि बोलीमैथिली भोजपुरी, मगही, अंगिका और बजिका 

Bihar Diwas Essay in Hindi for Class 4,5,6,7,8,9,10

बिहार दिवस पर निबंध Class 4,5,6,7,8,9,10th के विधार्थियों को लिखने का टास्क दिया जाता हैं। इस लेख में दिया गया Bihar Diwas Essay For Class 4th से 10 th Class के स्टूडेंट्स उपयोग कर सकते है। इस निबंध में बिहार के सम्पूर्ण इतिहास, भौगिलिक एवं संस्कृति परिवेश को उजागर करता है। इस Nibandh को आप PDF फॉर्मेंट में भी डाउनलोड कर सकते है। सन 1905 में बंगाल विभाजन के कारण बिहार राज्य की स्थापना हुई थी। बिहार की राजधानी पटना है और इस राज्य का क्षेत्रफल लगभग 94,163 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है और यहाँ की जनसंख्या 10,40,99,452 है। इस राज्य की अधिकृत भाषा हिन्दी है।

बिहार दिवस पर निबंध 250 शब्द | Essay on Bihar Day 250 words

यहां ज्यादातर लोग हिंदी के साथ-साथ भोजपुरी भी बोलते हैं। बिहार की एक तिहाई आबादी मैथिली बोलती है। इस राज्य की जलवायु उष्णकटिबंधीय तापमान से भिन्न है, इसलिए यह गर्मियों में अधिक गर्मी और सर्दियों में ठंड का अनुभव करता है। इस राज्य में 38 जिले हैं। बिहार की प्रमुख नदियों में गंगा, कोसी, कमला, बागमती, गंडक, घाघरा शामिल हैं। बिहार में अनेक पर्यटन स्थल हैं। बिहार भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में राज्य आंदोलनों का एक महत्वपूर्ण केंद्र बना रहा। 1905 में बंगाल विभाजन के कारण बिहार राज्य की स्थापना हुई। बिहार की राजधानी पटना है। इस राज्य का क्षेत्रफल लगभग 94,163 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है और यहाँ की जनसंख्या 10,40,99,452 है।

See also  Martyrs Day 2024 | 30 जनवरी शहीद दिवस क्यों मनाया जाता है? महात्मा गांधी पुण्यतिथि 2024 (History & Significance)

इस राज्य की अधिकृत भाषा हिन्दी है। यहां ज्यादातर लोग हिंदी के साथ-साथ भोजपुरी भी बोलते हैं। बिहार की एक तिहाई आबादी मैथिली बोल रही है। इस राज्य की जलवायु उष्णकटिबंधीय तापमान से भिन्न है, इसलिए यह गर्मियों में अधिक गर्मी और सर्दियों में ठंड का अनुभव करता है। इस राज्य में 38 जिले हैं। बिहार की प्रमुख नदियों में गंगा, कोसी, कमला, बागमती, गंडक, घाघरा, सोन, पुनपुन, फल्गु, किऊल आदि शामिल है। बिहार में अनेक पर्यटन स्थल हैं जो पर्यटकों का आकर्षण का केंद्र होती है।

बिहार दिवस पर निबंध हिंदी में | Bihar Diwas Essay in Hindi

इस पॉइन्ट में हम आपको Bihar Diwas Par Nibandh Kaise Likhe वह बताएंगे। इस निबंध में कई पॉइन्ट को जोड़ कर तैयार किया गया है, जिससे Class 3rd से लेकर 10 वीं तक के छात्र इस्तमाल कर सकते है किसी भी तरह प्रोजेक्ट के लिए या फिर प्रतियोगिता के लिए। इस निबंध को सरल भाषा में तैयार किया गया है जिससे आपको बिहार दिवस के बारे में समझने में ज्यादा समस्या नहीं होगी।

प्रस्तावना

बिहार भारत के पूर्वी भाग में स्थित राज्य है। यह नेपाल, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और झारखंड के आसपास बसा हुआ है। इसमें गर्म ग्रीष्मकाल और ठंडी सर्दियों का अनुभव करने वाली उपोष्णकटिबंधीय जलवायु है। बिहार में कृषि मुख्य व्यवसाय है। अनुकूल जलवायु और अच्छी गुणवत्ता वाली मिट्टी के कारण, यह फलों और सब्जियों का प्रमुख उत्पादक है। बिहार का प्रसिद्ध त्योहार छठ पूजा है जो नदी के किनारे अनुष्ठान करके मनाया जाता है। लिट्टी चोखा, सत्तू पराठा और खाजा जैसे लोकप्रिय व्यंजनों का लोगों द्वारा लुत्फ उठाया जाता है।

हिंदी और उर्दू भाषाएं राज्य की आबादी द्वारा बोली जाती हैं। बोधि-वृक्ष राज्य का प्रतीक है। बोधगया, दरभंगा और नालंदा जैसे प्रमुख स्थान प्रसिद्ध पर्यटक आकर्षण हैं। बिहार नाम विहार शब्द से आया है, जिसका अर्थ है निवास। यह अड़तीस जिलों की रचना है और भारत के क्षेत्र में ग्यारहवें स्थान पर है। हिंदी आधिकारिक भाषा है, और उर्दू दूसरी आधिकारिक भाषा है। इसके अलावा, बिहार का राज्य चिन्ह बोधि वृक्ष है। यहां का राज्य पशु भालू है और राज्य पक्षी उल्लू है।

बिहार की कला

वहीं बिहार की कला के बारे में बात कि जाएं तो चित्रों में मिथिला पेंटिंग बिहार में इस्तेमाल की जाने वाली पेंटिंग की प्रसिद्ध शैली है। पेंटिंग को मधुबनी कला के रूप में भी जाना जाता है जो प्रकृति के साथ मनुष्य के जुड़ाव को दर्शाती है। यह आमतौर पर त्योहारों, शादियों और कार्यक्रमों के दौरान दीवारों पर किया जाता है। स्वर्गीय गंगा देवी, सीता देवी और महासुंदरी देवी जैसे उल्लेखनीय मिथिला चित्रकारों का जन्म बिहार में हुआ था।

पेंटिंग पारंपरिक रूप से महिलाओं द्वारा प्रचलित थी और पीढ़ी दर पीढ़ी चली आ रही थी। बिहार संस्कृति में समृद्ध है और बुद्ध की भूमि के रूप में जाना जाता है क्योंकि गौतम बुद्ध ने बोधगया में ज्ञान प्राप्त किया था। व्यंजनों को शामिल करने वाले प्रसिद्ध व्यंजन लिट्टी चोखा, सत्तू पराठा, बिहारी बोटी और बिहारी कबाब हैं। मिठाई में वे खाजा एक पारंपरिक मिठाई खाना पसंद करते हैं। सबसे ज्यादा मनाया जाने वाला त्योहार छठ पूजा है।

See also  बेरोजगारी पर निबंध हिंदी में | Essay On Unemployment in Hindi,10 Lines (कक्षा-3 से 10 के लिए)

बिहार की भाषा 

बिहार अपनी मीठी बोली भाषा के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है। यहां की राजभाषा हिंदी है। वैसे तो यहां हिंदी और उर्दू दो राज्य भाषाएं हैं, पहली हिंदी और दूसरी उर्दू। इसके बाद भारत के मिथिलांचल में बोली जाने वाली मैथिली भाषा भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल है।इसके अलावा बिहार की अन्य प्रमुख भाषाओं में भोजपुरी, मगही, अंगिका और बजिका शामिल हैं। यह भाषा बिहार के साथ-साथ नेपाल में भी बोली जाती है। इसलिए बिहार की प्रचलित भाषा को बिहारी भाषा भी कहा जाता है। 

बिहार का खाना 

अगर हम बिहार के खाने की बात करें तो यहां का मशहूर खाना है “लिट्टी चोखा”। बिहार का यह लिट्टी चोखा भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर में मशहूर है। इसे आटे को भुने हुए बेसन यानी सत्तू में नमक, तेल, नींबू का रस, अजवायन और पिसा हुआ जीरा पाउडर भरकर गोल लोई बना कर तैयार किया जाता है फिर इसे आग पर पकाया जाता है। इसके अलावा इसे तेल में भी छानते हैं। आग में पकी हुई लिट्टी जैसी कई मशहूर चीज़ें बैंगन, टमाटर, आलू के चोखे या भर्ता के साथ खाई जा सकती हैं। पकी हुई लिट्टी को आग में पकाने के बाद देशी घी में डुबाकर चटनी के साथ खाया जाता है।

लिट्टी चोखा के बाद दही चूड़ा उत्तर बिहार में खाया जाने वाला प्रसिद्ध भोजन है, विशेषकर विवाह, मृत्युभोज या अन्य संस्कारों के दौरान हैं। घर में बनी दही के साथ पोहा और खोया भी साथ में खाते हैं। रसगुल्ले के साथ परोसी गई मसालेदार सब्जियां,यहां के लोग खाने के मामले में काफी तैयार रहते हैं और देसी खाना बड़े चाव से खाते हैं। यहां के लोग खिचड़ी चोखा खाना बहुत पसंद करते हैं। खास बात यह है कि शनिवार को लगभग हर घर में खिचड़ी चोखा बनाया जाता है।

बिहार का इतिहास

सन 1764 में बक्सर की लड़ाई मुगल राजा शाह आलम द्वितीय, बंगाल के नवाब और अवध के नवाब की संयुक्त सेना के बीच हेक्टर मुनरो के नेतृत्व वाली ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ लड़ी गई थी।लड़ाई बक्सर में लड़ी गई थी, इसलिए यह नाम पड़ा।इस लड़ाई को ईस्ट इंडिया कंपनी ने मुगलों और नवाबों को हराकर जीता था, जिसके परिणामस्वरूप उनके अपने क्षेत्रों पर अपना अधिकार खो दिया था।ईस्ट इंडिया कंपनी को  अधिकार प्राप्त हुए जो राजस्व के प्रबंधन और संग्रह को प्रशासित करने के अधिकार हैं। वे क्षेत्र जिन्हें तब बंगाल प्रेसीडेंसी कहा जाता था, वर्तमान में पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार, उड़ीसा और बांग्लादेश के राज्य हैं।

22 मार्च 1912 को बंगाल प्रेसीडेंसी के नए गवर्नर, थॉमस गिब्सन कारमाइकल ने बंगाल प्रेसीडेंसी को चार भागों- बंगाल, असम, उड़ीसा और बिहार में विभाजित करने की घोषणा की। इस प्रकार 22 मार्च 1912 को बिहार राज्य का गठन हुआ। इसलिए हर वर्ष 22 मार्च को बिहार दिवस (Bihar Diwas) के रूप में मनाया जाता है।

See also  फ्रेंडशिप डे पर स्लोगन, नारे, पोस्टर, संदेश | Friendship Day Slogan, Poster Message, Quotes in Hindi

उपसंहार

बिहार एक ऐसा राज्य है जो विभिन्न शासकों के माध्यम से भारतीय विविधता को दर्शाता है। जो राज्य के गौरवशाली इतिहास की जानकारी प्रदान करता है। इसने सड़कों, रेलवे और बेहतर हवाई संपर्क को चौड़ा किया है। इसके अलावा, यह महत्वपूर्ण कृषि उपज के साथ भारत का सबसे उपजाऊ राज्य है। सरकार यहां तक कि महिला साक्षरता बढ़ाने और बिहार में शिक्षा की गुणवत्ता विकसित करने का प्रयास कर रही है। इसके प्रसिद्ध पर्यटक आकर्षण और संस्कृति ने इसे हर किसी की सूची में अवश्य जाना चाहिए।

बिहार दिवस पर निबंध PDF | Bihar Diwas Essay PDF

कई बार ऐसा होता है कि हम कुछ अच्छी चीज पढ़ते है पर सेव नहीं करने के कारण हम उसे दोबारा नहीं पढ़ पाते है।हम आपको लिए Bihar Diwas Par Nibandh PDF लेकर आए है जो आप डाउनलोड कर सकते है और जब मन चाहे पढ़ सकते है और अपने ज्ञान को बढ़ा सकते हैं।

बिहार दिवस पर 10 लाइन निबंध | Bihar Diwas Essay 10 lines

  • हर साल बिहार दिवस 22 मार्च को जोरो शोरो के साथ मनाया जाता है। बिहार भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र में स्थित एक राज्य है। यह राज्य अपनी संस्कृति के चलते पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है।
  • आगर क्षेत्रफल की दृष्टि से बात की जाएं तो यह भारत का दूसरा सबसे बड़ा राज्य है।
  • वहीं यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा राज्य है अगर जनसंख्या की दृष्टि से देखा जाएं तो।
  • बिहार के उत्तर में नेपाल, दक्षिण में झारखंड, पूर्व में पश्चिम बंगाल और पश्चिम में उत्तर प्रदेश है।
  • बिहार की राजधानी पटना है, इसको पहले पाटलिपुत्र नाम से जाना जाता था।
  • बिहार में कुल 38 जिले हैं।
  • गंगा नदी बिहार की सबसे बड़ी नदी है, जो बिहार को दो भागों में विभाजित करती है: उत्तर बिहार और दक्षिण बिहार।
  • हिंदी बिहार की राज्य भाषा है, और यहाँ कुछ अन्य भाषाएँ बोली जाती हैं, जैसे मैथिली, भोजपुरी और मगही।
  • बिहार के निवासी बिहारी कहलाते हैं।
  • लिट्टी चोखा बिहार राज्य की एक प्रसिद्ध डिश है, जो पूरे भारत में पसंद की जाती है।

FAQ’s Bihar Diwas Essay in Hindi

Q. बिहार का ऐतिहासिक महत्व क्या है ?

Ans.स्वतंत्रता के लिए भारत के युद्ध में बिहार एक महत्वपूर्ण राज्य था। चंपारण आंदोलन और नमक सत्याग्रह दो सबसे उल्लेखनीय थे।

Q. बिहार की राजभाषा क्या है?

Ans.हिंदी बिहार की राजभाषा है,अन्य भाषाओं में मैथिली और भोजपुरी शामिल हैं।

Q. बिहार दिवस हर साल कब मनाया जाता है ?

Ans.बिहार दिवस हर साल 22 मार्च को मनाया जाता है।

Q. पटना को पहले किस नाम से बुलाया जाता था?

Ans. पटना को पहले पाटलिपुत्र के नाम से बुलाया जाता था।

Q. बिहार के रहने वाले लोगों को क्या कहा जाता है?

Ans. बिहार के रहने वाले लोगों को बिहारी कहा जाता है।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja