ads

उष्ट्र विकास योजना राजस्थान 2023 | ऊँट पालक को मिलेंगे 10 हजार | Camel Yojana Rajasthan

राजस्थान उष्ट्र विकास योजना के अंतर्गत ऊँट पालक को 10 हजार रू. सहायता के रूप में दिए जायेंगे। यह राशि 3 किस्तों में दी जाएगी। जिसमें 60% केंद्र सरकार और 40% राज्य सरकार का वित्त पोषित हिस्सा होता हैं।
By | October 26, 2023
Follow Us: Google News

Camel Yojana Rajasthan 2023:- राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा उष्ट्र विकास योजना का शुभारंभ किया गया है I इसके अंतर्गत राज्य में camel पशुपालकों को सरकार की तरफ से ₹10000 की राशि आर्थिक सहायता के तौर पर दी जाएगी I ताकि राज्य में ऊँट पालन को प्रोत्साहित किया जा सके I इसलिए हम आपको इस आर्टिकल में Ustra Vikas yojana 2023 से संबंधित चीजों के बारे में आपको विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे जैसे – ऊँट सहायता योजना क्या हैं? उष्ट्र विकास योजना कब शुरू हुई? राजस्थान उष्ट्र विकास योजना के उद्देश्य, उष्ट्र विकास योजना के लाभ,  ऊँट सहायता राशि पात्रता ,दस्तावेज,  उष्ट्र विकास योजना के लिए कैसे आवेदन करें? अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं तो आर्टिकल को आगे तक पढ़ेंगे आइए जाने-

Camel Yojana Rajasthan 2023

आर्टिकल का प्रकारसरकारी योजना
आर्टिकल का नामउष्ट्र विकास योजना राजस्थान 2023
साल2023
किसके द्वारा शुरू किया गयाराजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा
प्रक्रियाऑफलाइन
लाभार्थियोंमादा ऊंटों के साथ किसान। जिनके पास मादा ऊंट नहीं है, वे पात्र नहीं होंगे।

 ऊँट सहायता योजना क्या हैं? Camel Sahayata Yojana

राजस्थान सरकार के द्वारा ऊँट सहायता योजना की शुरुआत की गई है I जिसके अंतर्गत राज्य में ऊँट पालन करने वाले पशुपालकों को ₹10,000 की राशि सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता के तौर पर दी जाएगी I ताकि राज्य में ऊँट पालन को प्रोत्साहित किया जा सके I योजना के तहत ₹3000 की राशि ऊँट जन्म के समय, ऊँट का बच्चा 9 महीने होने पर ₹3000 की राशि और 18 महीने हो जाने 4000रुपए की राशि दी जाएगी I

See also  कन्यादान योजना राजस्थान 2023 | Rajasthan Kanyadan Yojana

उष्ट्र विकास योजना कब शुरू हुई? | Ustra Vikas Yojana Start Date

उष्ट्र विकास योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा 2 अक्टूबर 2016 को किया गया था I योजना के माध्यम से राज्य में ऊंट पालन को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य ₹10000 की राशि प्रदान की जाएगी I

राजस्थान उष्ट्र विकास योजना के उद्देश्य

राजस्थान उष्ट्र विकास योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में ऊंट पालन को प्रोत्साहन देना है जैसा कि आप लोग जानते हैं कि राजस्थान में ऊंट का इस्तेमाल आवागमन के तौर पर किया जाता है I  ऐसे में जो लोग इसका पालन करते हैं उन्हें आर्थिक तंगी का सामना ना करना पड़े I उसके लिए राजस्थान उष्ट्र विकास योजना शुरू की गई है I

उष्ट्र विकास योजना के लाभ | Ustra Vikas Yojana Benefits

  • योजना में लाभार्थियों 10000 रु का लाभ दिया जाएगा I
  • योजना में तिन किस्तों में पैसे मिलेगे पहली क़िस्त ऊंटनी के बच्चे के जन्म पर लाभ दिया जायगा दूसरी क़िस्त ऊंट का बच्चा 9 महीने का होने पर 3000 रु मिलते है और तीसरी क़िस्त 4000 रु मिलेगी जो 18 महीने का बच्चा होने के बाद पैसे मिलते है
  •  आज के युग में नई तकनीक की मशीनें आने तथा आवागमन के कई साधन होने के कारण ऊंटों का महत्व कम हो गया है.

 ऊँट सहायता राशि

ऊँट सहायता योजना के तहत आपको सहायता राशि कितनी दी जाएगी तो उसका पूरा विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं आइए जानते हैं-

0 से 1 माह की आयु पर₹3000
9 माह की आयु पर₹3000
18 महीने उम्र होने पर₹4000

पात्रता | Camel Vikas Yojana Eligibility

  1. राजस्थान राज्य मूल निवासी होना आवश्यक है I
  2. ऊँट पालक को योजना का लाभ उसके मूल निवास स्थान वाले जिले में ही मिलेगा।
  3. योजना का लाभ किसान ऊंट पालको को भी दिया जायगा |
See also  खसरा नंबर/ नाम से जमीन का नक्शा कैसे निकाले ऑनलाइन | राजस्थान भू नक्शा ऑनलाइन चेक एंड डाउनलोड करें @bhunaksha.raj.nic.in

दस्तावेज | Requires Document Ustra Vikas yojana

  • ऊंटनी के ब्याने पर ऊंट पालक द्वारा नजदीकी पशु चिकित्सालय को  दी जाने वाले सूचना का प्रपत्र
  •  टोडिया के बेचान की सूचना का प्रपत्र
  • बैंक खाते  का विवरण
  •  ऊंटनी एवं बच्चे दोनों की टैगिग सहित फोटोग्राफ।
  • जनआधार कार्ड
  •  आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र

 उष्ट्र विकास योजना के लिए कैसे आवेदन करें | Apply Process Ustra Vikas Yojana

  • सबसे पहले आप नजदीकी पशुपालन केंद्र में जाएंगे और वहां पर आपको योजना में आवेदन करने का आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा I
  •  इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी को सही से भरना है.
  • इसके बाद सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट आवेदन पत्र के साथ अटैच करेंगे I
  • फॉर्म मे जानकारी को भरने के बाद आवश्यक दस्तावेज आवेदन पत्र के साथ अटैच करेंगे
  • लेकिन आपको फॉर्म भरने के बाद एक बार पुन जाँच कर लेनी है.
  • इसके बाद आप अपना आवेदन पत्र अपने जिले में स्थित नजदीकी पशु धन केंद्र में जाकर जमा कर देंगे I
  • इसके बाद अगर आप उष्ट्र विकास योजना हेतु पात्र होते है तो आपको ऊंट योजना के अंतर्गत 10,000 हजार आपके बैंक अकाउंट में तीन किस्तों के तौर पर ट्रांसफर कर दी जाएगी I
  • इस प्रकार आप  ऊंट योजना राजस्थान के अपना पंजीकरण पूरा कर पाएंगे I

FAQ’s Camel Yojana Rajasthan 2023

Q. ऊंट पालकों के लिए सरकारी योजना क्या है?

Ans:- राजस्थान के ऊंट पालकों के लिए उष्ट्र विकास योजना कि शुरुआत कि गई है जिसमे ऊंट पालकों 10,000 मिलते है. लेकिन यह 10,000 रुपए कि धनराशी लाभार्थी को तीन अलग अलग किस्तों में मिलती है.

See also  राजस्थान नि:शुल्क औषधि योजना 2022 | राजस्थान फ्री दवा योजना प्राप्ति की प्रक्रिया जाने

Q. ऊंट योजना में कितना पैसा मिलता है?

Ans:- राजस्थान सरकार द्वारा ऊंट योजना (राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत उष्ट्र विकास योजना) को वर्ष 2016 में लागू की गई थी जिसके अंतर्गत किसान और ऊंट पालक को ₹10000 की राशि दी जाएगी ताकि योजना के माध्यम से राज्य में ऊंट की संख्या बढ़ाई जा सके योजना के तहत पैसे तीन किस्त में दिए जाएंगे I

Q. ऊंट ऊंटनी के लिए सरकार द्वारा कितना पैसा मिलता है

Ans. राजस्थान सरकार द्वारा ऊंटनी के प्रसव पर 10000रु सहायता राशी दी जाती है पैसे आपको यहां पर तीन किस्तों में दिए जाएंगे पहली किस्त में बच्चा जन्म होने पर ₹3000 की राशि दूसरी किस्त बच्चे की उम्र 9 महीने होने पर ₹3000 की राशि और तीसरी किस्त जब बच्चा 18 महीने का हो जाएगा तो ₹4000 की राशि दी जाएगी I

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *