बैक टू वर्क योजना क्या हैं? back to work Yojana के लाभ कौनसी महिलाओं को मिलने वाले हैं? Jagrti Back to Work Yojana in Hindi

Jagriti Back to Work Yojana

महिलाओं को जीवन यापन करने हेतु किसी ना किसी क्षेत्र में नौकरी करनी पड़ती है।  इसी के साथ घर की जिम्मेदारियां उन्हें बखूबी संभालना होता है। जिम्मेदारियों  को निभाने के सिलसिले में महिलाओं को कई बार नौकरियां छोड़नी पड़ती है। इसी समस्या को लेकर राजस्थान सरकार द्वारा नौकरी छोड़ चुकी महिलाओं के लिए निजी क्षेत्र के सहयोग से “बैक टू वर्क योजना” (Jagrti Back to Work Yojana ) शुरू की गई। राजस्थान की महिलाओं को फिर से नौकरी प्रदान की जा सके किसी संबंध में राज्य सरकार द्वारा 2020-2021 तथा 2022 में 15000 महिलाओं को नौकरी प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है। 

आइए जानते हैं, कौन सी महिलाओं को राजस्थान सरकार द्वारा बैक टू वर्क योजना का लाभ मिलेगा? कौन सी महिलाओं को रोजगार हेतु जोड़ा जाएगा?  योजना में शामिल होने की पात्रता, आवेदन प्रक्रिया तथा महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश की जानकारी हेतु लेख में अंत तक बने रहे।

राजस्थान बैक टू वर्क योजना क्या है? What is Rajasthan Jagrti Back to Work Yojana

राजस्थान की महिलाओं को नौकरी छोड़ने के दौरान कुछ समय बाद पुनः नौकरी  दिलाने हेतु, Rajasthan government बैक टू वर्क योजना की शुरुआत की। योजना के अंतर्गत तलाकशुदा महिलाएं, विधवा महिलाएं, किसी कारणवश परित्याग की गई महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। यदि महिलाएं किसी office work को करने में असक्षम है, तो उन्हें work from home की सुविधा दी जाएगी। जो महिलाएं Back2work योजना में शामिल होना चाहती हैं। उन्हें CSR (Corporate Social Responsibility) के अंतर्गत रोजगार से जोड़ा जाएगा, तथा RKCL (Rajasthan knowledge Corporation Ltd) ट्रेनिंग सेंटर के माध्यम से स्किल अनुसार ट्रेनिंग दी जाएगी तथा उन्हें रोजगार से जोड़ने हेतु job placement दी जाएगी।

Highlights Of Rajasthan Jagrti Back to Work Scheme 2023

योजना का नाम बैक टू वर्क योजना
योजना आरंभ कीराजस्थान राज्य सरकार द्वारा
योजना लाभार्थी राज्य की महिलाएं
योजना उद्देश्यनौकरी छोड़ने वाली‌ महिलाओं को फिर से रोजगार के अवसर प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
योजना साल2023

बैक टू वर्क योजना के उद्देश्य एवं विशेषताएं | Objectives and Features of Back to Work Plan

जैसा कि आप सभी जानते हैं, राजस्थान सरकार द्वारा उन सभी महिलाओं के लिए रोजगार मुहैया करवाने की यथासंभव कोशिश की जा रही है, जिन्होंने अपने घर की जिम्मेदारियां संभालने में नौकरी छोड़ दी है। उन सभी महिलाओं को राजस्थान सरकार द्वारा चलाए जा रहे skill development program (RKCL) के माध्यम से स्किल अनुसार ट्रेनिंग दी जाएगी। इसी के साथ CSR संस्थाओं द्वारा महिलाओं को रोजगार से जोड़ा जाएगा। इसके अतिरिक्त योजना में वह सभी महिलाएं शामिल हो सकेगी, जिन्होंने पहले नौकरी कर रही थी। परंतु कुछ कारणवश बीच में नौकरी छोड़नी पड़ी और अब उन्हें नौकरी की तलाश करनी पड़ रही है। इसी के साथ  राजस्थान की उन सभी महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। जो विधवा, परित्याग की हुई, तलाकशुदा, आर्थिक वर्ग से कमजोर महिलाएं उन सभी को प्राथमिकता दी जाएगी।

See also  राजस्थान ई-सखी योजना 2023 | Rajasthan E-Sakhi Scheme 2023

बैक टू वर्क योजना की अनेक विशेषताएं हैं जैसे:-

  • राजस्थान बैक टू वर्क योजना (Rajasthan Back to Work Scheme) के अंतर्गत 3 वर्षों के भीतर 15,000 से अधिक महिलाओं को रोजगार से जोड़ा जाएगा।
  • ऐसी महिलाएं जिन्होंने पारिवारिक जिम्मेदारियों को संभालने की वजह से नौकरी बीच में छोड़ दी है। अब उन्हें ट्रेनिंग के साथ-साथ job placement भी नि:शुल्क दी जाएगी।
  • योजना में राजस्थान की वह सभी महिलाएं भाग ले सकती है, जो विधवा, परित्याग की हुई, तथा तलाकशुदा है उन सभी महिलाओं को योजना में प्राथमिकता दी जाएगी।
  • यदि उक्त नहीं बताई गई श्रेणी में महिलाएं नहीं आती है और अभी नौकरी नहीं होने की वजह से जॉब की तलाश कर रही है, तो वह महिलाएं भी योजना लाभान्वित होने हेतु आवेदन कर सकते हैं।
  • राजस्थान सरकार की स्किल ट्रेनिंग संस्थान RKCL द्वारा महिलाओं को ट्रेनिंग दी जाएगी। CSR संस्थाओं द्वारा महिला को जॉब प्लेसमेंट दी जाएगी।

जागृति बैक टू वर्क योजना का हुआ लोकार्पण | Jagriti Back to Work Scheme launched

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार के 3 वर्ष सफलतापूर्वक संपूर्ण हो चुके हैं। 3 वर्षों के दौरान सरकार ने किन उपलब्धियों को हासिल किया है। अब आने वाले 2 साल में कार्यों को गति देने हेतु राजस्थान सरकार ने 12 विभागों के लिए करीब 1122 करोड़ रुपए की लगत के 1194 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। राजस्थान सरकार द्वारा किए गए लोकार्पण कार्यों में 454 करोड़ रुपए की लागत के 90 विकास कार्यों का शिलान्यास और 668 करोड़ रुपए की लागत के 1104 कार्यों का लोकार्पण शामिल हैं। जिसमें राजस्थान सरकार के वर्तमान मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा जागृति बैक टू वर्क योजना, आईएम शक्ति उड़ान योजना, मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना और डीबीटी वाउचर योजना की शुरुआत की।

See also  Rajasthan Bus Sarthi Yojana 2023: राजस्थान रोडवेज में परिचालक सीधी भर्ती आवेदन, चयन करने की प्रक्रिया (बिना परीक्षा सीधी भर्ती)

बैक टू वर्क योजना की पात्रता | Eligibility for Back to Work Scheme

राजस्थान कि जो महिलाएं हैं उक्त में बताई गई श्रेणी के अंतर्गत आती है। कृपया सभी योजना में शामिल हो सकते हैं। इसी के साथ जो महिलाएं आर्थिक वर्ग से कमजोर हैं। पारिवारिक जिम्मेदारियों के चलते नौकरी छोड़नी पड़ रही है। इसी के साथ जो महिलाएं विधवा, परित्याग, तलाकशुदा, दिव्यांग श्रेणी में आती है। तो वह सभी महिलाएं योजना के लिए आवेदन कर सकती हैं।

  • बैक टू वर्क योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज
  • आवेदन करने के लिए महिलाओं को पहचान पत्र के साथ साथ बैंक विवरण भी प्रस्तुत करना होगा जैसे:-
  • आवेदक महिला का आधार कार्ड।
  • आवेदक महिला का पहचान पत्र।
  • बैंक विवरण।
  • तलाकशुदा,विधवा, दिव्यांग होने की स्थिति में सर्टिफिकेट की आवश्यकता होगी।
  • यदि पहले ही कहीं काम किया हुआ है तो उसका अनुभव प्रमाण पत्र लिया जा सकता है।
  •  

राजस्थान बैक टू वर्क योजना के लिए कैसे आवेदन करें? | How to apply for Rajasthan Back to Work Scheme?

जैसा कि आप जानते हैं, राजस्थान सरकार द्वारा बैक टू वर्क योजना को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया था। अब इसे जागृति Back2Work योजना के नाम से ही पूरे राज्य शुरू किया जा चुका है। हो सकता है, जागृति योजना के अंतर्गत भी महिलाओं को पुन: नौकरी दिलाने के लिए CSR संस्थाओं द्वारा जॉब प्लेसमेंट दी जाए। इसी के साथ RKCL द्वारा ट्रेनिंग कार्यक्रम यथावत रहेगा। अतः जो महिलाएं योजना हेतु आवेदन करना चाहती, वह योजना से जुड़ी ऑफिशियल वेबसाइट तथा CSR संस्थाओं की ऑफिशियल साइट पर आवेदन कर सकती है।  आवेदक महिलाओं को CSR संस्थाएं रोजगार से जोड़ने हेतु ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए फंड अरेंज करेगी तथा उन्हें जॉब प्लेसमेंट दी जाएगी।

See also  जन्म प्रमाण पत्र डाउनलोड राजस्थान | Birth Certificate कैसे बनवाये | Download Birth Certificate Rajasthan

FAQ’s Jagrti Back to Work Yojana 2023

Q.  जागृति बैक टू वर्क योजना क्या है?

Ans,  जागृति बैक टू वर्क योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार द्वारा उन सभी महिलाओं को रोजगार से जोड़ा जाएगा, जो महिलाएं पहले नौकरी कर रही थी और परिवारिक जिम्मेदारियों के चलते नौकरी छोड़ चुकी है, या कोविड-19 में महिलाओं की नौकरी जा चुकी थी। अब उन्हें राजस्थान सरकार द्वारा Jagriti Bank Work Scheme के अंतर्गत जॉब प्लेसमेंट दी जाएगी।

Q.  बैक टू वर्क योजना का लाभ कौन सी महिलाओं को मिलेगा?

Ans.  जागृति बैक वर्क योजना के अंतर्गत जो महिलाएं विधवा, तलाकशुदा, परित्याग, दिव्यांग, आर्थिक रूप से कमजोर हैं। उन सभी महिलाओं को रोजगार से जोड़ने हेतु योजना में सम्मिलित किया जाएगा।

Q.  बैक टू योजना के लिए कैसे आवेदन करें?

Ans.  योजना के लिए आवेदन योजना से जुड़ी संस्था WCD की ऑफिशल वेबसाइट तथा CSR  कंपनी इस की ऑफिशियल वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं।

  जानिए चिरंजीवी योजना में कौन कौन से बीमारियों का इलाज होता है।

 चिरंजीवी योजना से जुड़े सभी अस्पतालों की लिस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

One thought on “बैक टू वर्क योजना क्या हैं? back to work Yojana के लाभ कौनसी महिलाओं को मिलने वाले हैं? Jagrti Back to Work Yojana in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja