Essay On Dussehra in Hindi | दशहरा/विजयादशमी पर निबंध (Nibandh) (कक्षा-3 से 10 के लिए)

essay on dussehra in hindi

Dussehra Essay in Hindi:- दशहरा दस दिन और नौ रातों तक चलने वाला हिंदू त्योहार है। यह बुरी शक्ति पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है जैसे राम की रावण पर विजय और दुर्गा की महिषासुर पर विजय। दशहरा हिंदू समुदाय द्वारा मनाया जाने वाला एक प्रमुख भारतीय त्योहार है। हिंदू कैलेंडर के आश्विन महीने के दसवें दिन मनाया जाने वाला यह त्योहार नवरात्रि उत्सव के अंत का भी प्रतीक है। यह त्यौहार रावण पर भगवान राम की जीत का जश्न मनाता है; इसलिए यह बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक है।यह संदेश देता है कि सही और गलत की लड़ाई में हमेशा धर्म की ही जीत होती है। दशहरा का त्यौहार अधिकतर घरों के बाहर, सामुदायिक स्थानों पर, छोटे से लेकर बड़े मेलों के रूप में मनाया जाता है। मेले का मुख्य आकर्षण रावण का एक बड़ा पुतला है, जिसे भगवान राम का चित्रण करने वाले जनता के एक सदस्य द्वारा नाटकीय रूप से जलाकर राख कर दिया जाता है। भीड़ “जय श्री राम” के नारे लगाते हुए जोर-जोर से चिल्लाने लगी।

24 अक्टूबर को दशहरा का त्यौहार मनाया जाएगा जिस दिन भगवान राम रावण का वध करेंगे। स्कूल कॉलेज में दशहरा पर निबंध लिखने को कहा जाता है अगर आप भी ऐसी ही किसी असमंजस में फंसकर Dussehra Par Nibandh तलाश कर रहे हैं तो यह लेख आपके लिए महत्वपूर्ण होने वाला है।आज इस लेख में हम आपको दशहरा पर निबंध (Essay on Dussehra in Hindi) बताने जा रहे है। नीचे दी गई सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़कर आप दशहरा पर एक खूबसूरत निबंध लिख पाएंगे और दशहरा त्योहार के बारे में विस्तारपूर्वक समझ पाएंगे इसलिए हमारे इस लेख के साथ अंत तक बने रहे।

Dussehra Essay in Hindi – Overview

त्यौहार का नामDussehra 2023
कैसे मनाया जाता हैविभिन्न स्थानों पर रावण दहन आयोजित करके
कब मनाया जाता हैइस साल 24 अक्टूबर को
क्यों मनाया जाता हैभगवान राम के रावण का वध करने की वजह से

दशहरा पर निबंध हिंदी में | Essay on Dussehra in Hindi

हर साल नवरात्रि के त्यौहार के दसवें दिन को दशहरा त्योहार के रूप में मनाया जाता है। हिंदू धर्म की पौराणिक मान्यता के अनुसार दशहरा के दिन ही भगवान राम ने रावण का वध किया था और दुनिया को पाप मुक्त किया था। इस दिन को बड़े ही हर्षोल्लास के साथ हम विभिन्न समारोहों और पूजा पंडालों के साथ मनाते है। हिंदू पंचांग के अनुसार दशहरा का त्योहार हर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि में 9 दिनों तक मनाया जाता है।

हिंदू धर्म की पौराणिक मान्यताओं के अनुसार आज से कई साल पहले भगवान राम धरती पर निवास करते थे तब रावण नाम का राक्षस का अत्याचार पूरे पृथ्वी पर चलता था और दशहरा के दिन ही उन्होंने इस रावण का वध करके धरती को पाप मुक्त किया था। इसके अलावा इस दिन मां दुर्गा ने महिषासुर नाम के राक्षस का वध किया था। हिंदू धर्म के पौराणिक मान्यता के अनुसार इस दिन विश्व से पाप का अंत हुआ था अच्छाई की बुराई पर जीत हुई थी जिसे हर साल बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाने के लिए दशहरा का त्यौहार आयोजित किया जाता है।

See also  गांधी जी के अनमोल वचन | महात्मा गांधी के शैक्षिक विचार

Dashara Par Nibandh | दशहरा पर निबंध हिंदी में

दशहरा के त्यौहार के दिन मां दुर्गा की पूजा होती है और भारत के विभिन्न स्थानों पर बड़े-बड़े मैदान में रावण के बड़े-बड़े पुतले बनाए जाते हैं जैसे भगवान राम की वेशभूषा में लोग तीर धनुष के सहारे आग लगाते हैं और उसके बाद रावण के अंदर रखा हुआ पटाखा फूटता है और बड़े ही हर्षोल्लास के साथ लोग नाचते हुए इस त्यौहार का आनंद उठाते है। हर साल दशहरा का त्यौहार मां दुर्गा की पूजा और रावण की प्रतिमा के अंत से मनाया जाता है।

इस साल भी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ दशहरा का त्यौहार मनाया जाएगा और बड़े हर्षोल्लास के साथ लोग हंसते खेलते इस त्यौहार का अंत करेंगे इसी तरह हर साल विशेष मुहूर्त पर मां दुर्गा की पूजा और रावण दहन का कार्य करके दशहरा का त्यौहार मनाया जाता है और सभी लोगों में खुशियां बांटी जाती है।

Dussehra Festival 2024Similar Content
दशहरा कब हैं, पूजा, महत्व, रावण दहन मुहूर्तClick Here
विजय दशमी 2023Click Here
दशहरा पर निबंधClick Here
Happy Vijayadashami QuotesClick Here

Essay on Dussehra in Hindi

हर साल दशहरा का त्यौहार बड़े हर्षोल्लास के साथ हिंदू धर्म का पालन करने वाले लोगों के द्वारा विश्व भर में मनाया जाता है। दशहरा का त्यौहार इस साल 5 अक्टूबर को मनाया जा रहा है। नवरात्रि के दसवें दिन और दशहरा का त्यौहार मनाते है। नवरात्रि का त्यौहार इस साल 26 सितंबर से 5 अक्टूबर तक रहने वाला है। लगातार नौ दिनों तक मां दुर्गा के अलग अलग स्वरूप की पूजा करने के बाद 24 अक्टूबर को रावण दहन के साथ इस त्यौहार का अंत किया जाता है।

हिंदू धर्म की पौराणिक मान्यता के अनुसार दशहरा के दिन ही भगवान राम ने रावण का वध किया था और मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था। इस धरती से पाप का अंत हुआ था अच्छाई की बुराई पर जीत हुई थी और इस शुभ अवसर को बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस दिन भारत के विभिन्न जगहों पर रावण की बड़ी बड़ी प्रतिमा बनाई जाती है और उसे राम की फीस भूषा में जलाया जाता है। रावण की बड़ी बड़ी प्रतिमा में बहुत सारे पटाखे रखे जाते हैं और जब रावण जलता है तो खूब सारे पटाखे फूटते हैं लोग नाचते हैं यह एक बहुत ही बेहतरीन में त्यौहार है जिस दिन हर कोई अपने सगे संबंधियों को शुभकामनाएं देता है।

Happy Vijay Dashami

Dussehra ka Nibandh | दशहरा का निबंध

Essay On Dussehra in Hindi: दशहरा का त्यौहार हर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि में मनाया जाता है इस साल 26 सितंबर से शुरू हो रही है इसी अवधि में चलते हुए दसवें दिन रावण दहन का त्यौहार मनाया जाता है जिसे दशहरा का त्यौहार कहते है। कई सालों से यह परंपराव्त त्योहार मनते आ रहा है। इस साल भी यह त्यौहार बड़े ही हर्षोल्लास के साथ पूरे भारतवर्ष में मनाया जाएगा औरतें इस दिन उपवास का परण करती है और भारत के अलग-अलग क्षेत्र में रामलीला का आयोजन भी किया जाता है। मुख्य रूप से उत्तर भारत के कुछ क्षेत्र में आपको रामलीला का एक विशेष रूप देखने को मिलेगा जहां मुखौटा पहनकर रामकथा के अलग-अलग पात्र बनकर लोक नृत्य करते हैं और रामायण की कथा सुनाते है। इस दिन मां दुर्गा के सभी स्वरूपों की पूजा का अंत होता है और आखिरी दिन भगवान राम के रावण वध और उनके जीवन की कहानी सुनाई जाती है साथ ही उनके जीवन से लोगों को प्रेरणा लेने को कहा जाता है। इसी तरह आने वाले समय में भी भगवान राम के लिए दशहरा का त्यौहार विशेष रूप से मनाया जाएगा। 

See also  भारत में समान नागरिक संहिता क्या है? What is Uniform Civil Code यहां देखें (परिभाषा, महत्व, उद्देश्य, चुनौतियाँ, लाभ और हानि)

10 Quotes On Dussehra | दशहरा पर 10 वाक्य

1) दशहरा, जिसे विजयादशमी के नाम से भी जाना जाता है, भारत और हिंदू समुदायों वाले अन्य देशों में मनाया जाने वाला एक प्रमुख हिंदू त्योहार है।

2) यह हिंदू माह आश्विन के दसवें दिन पड़ता है, जो आमतौर पर सितंबर या अक्टूबर में होता है, जो कि नवरात्रि उत्सव के अंत का प्रतीक है।

3) दशहरा बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है, क्योंकि यह प्राचीन भारतीय महाकाव्य रामायण में राक्षस राजा रावण पर भगवान राम की विजय की याद दिलाता है।

4) यह त्यौहार बड़े उत्साह और उत्साह के साथ मनाया जाता है, जिसमें विस्तृत जुलूस, सांस्कृतिक कार्यक्रम और भगवान राम के जीवन को प्रदर्शित करने वाले जीवंत रामलीला प्रदर्शन होते हैं।

5) दशहरे के दौरान सबसे महत्वपूर्ण रीति-रिवाजों में से एक है रावण, उसके भाई कुंभकर्ण और उसके बेटे मेघनाद के पुतले जलाना, जो बुरी ताकतों की हार का प्रतीक है।

6) लोग हार्दिक शुभकामनाएँ और शुभकामनाएँ देते हैं, नए कपड़े पहनते हैं और दोस्तों और परिवार के साथ स्वादिष्ट पारंपरिक मिठाइयाँ और व्यंजन साझा करते हैं।

7) कुछ क्षेत्रों में, दशहरा देवी दुर्गा की पूजा और नवरात्रि के दौरान भैंस राक्षस महिषासुर पर देवी की जीत से भी जुड़ा हुआ है।

8) यह त्योहार एकता और खुशी का अवसर है, जो विभिन्न पृष्ठभूमि के लोगों को अपनी सांस्कृतिक विरासत का जश्न मनाने के लिए एक साथ लाता है।

9) अपने धार्मिक महत्व के अलावा, दशहरा ऐतिहासिक महत्व भी रखता है, भारत के विभिन्न हिस्सों में इसके साथ कई ऐतिहासिक घटनाएं जुड़ी हुई हैं।

See also  Varuthini Ekadashi 2023 Date: वरूथिनी एकादशी कब? जानें कथा, मुहूर्त, पूजा विधि और व्रत का महत्व

10) दशहरा नवीनीकरण और आशा का समय है, जो हमें धार्मिकता की जीत और हमारे जीवन में अन्याय और बुराई के खिलाफ खड़े होने के महत्व की याद दिलाता है।

दशहरा पर निबंध कैसे लिखें? Dussehra Par Nibandh Kaise Likhen

अगर आप अपने स्कूल या विद्यालय में दशहरा पर विशेष निबंध लिखना चाहते हैं तो इसके लिए नीचे दी गई सूचीबद्ध जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ें:– 

  • सबसे पहले दशहरा का त्यौहार कब मनाया जाता है, इसके बारे में जानकारी देते हुए दशहरा के त्यौहार को समझाने का प्रयास करें।
  • उसके बाद हर साल दशहरा का त्यौहार कैसे मनाया जाता है कब मनाया जाता है इसे विशेष रूप से समझाया।
  • दशहरा का त्यौहार क्यों मनाया जाता है इस दिन किस भगवान की पूजा करते हैं और इस दिन से जुड़ी कथा का भी वर्णन करें। 
  • दशहरा का त्यौहार कैसे मनाया जाता है इसके बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दें।
  • भारत के अलग-अलग क्षेत्र में दशहरा का त्यौहार कैसे मनाया जाता है, और इस दिन क्या-क्या विशेष होता है इसके साथ साथ आने वाले समय में यह त्यौहार कैसे मनाया जाने की उम्मीद है इसके बारे में कुछ प्रकाश डालते हुए अपने निबंध को खत्म करें। 

FAQ’s on Dussehra Essay in Hindi

Q. दशहरा का त्यौहार कैसे मनाया जाता है?

दशहरा के त्यौहार के दिन लोग रावण दहन करते हैं और मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूप की पूजा करते है। 

Q. दशहरा का त्यौहार कब है?

दशहरा का त्यौहार इस साल 24 अक्टूबर को मनाया जाएगा। हर साल दशहरा का त्यौहार है भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा आंधी में मनाया जाता है।

Q. दशहरा का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?

हिंदू पौराणिक मान्यता के अनुसार दशहरा के दिन ही भगवान राम ने रावण का वध किया था और मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था इसलिए इस दिन को दशहरा के त्यौहार के रूप में मनाया जाता है। 

निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने दशहरा पर निबंध (Essay on Dussehra in Hindi) आपके समक्ष प्रस्तुत किया है। हमने आपको दशहरा पर विभिन्न निबंध बताया है इसके अलावा दशहरा का त्योहार कैसे और कब मनाया जाता है इसके बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी है। इस लेख में बताई गई सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ने के बाद आप अगर सरल शब्दों में यह समझ पाए हैं कि दशहरा का त्योहार क्या है और कैसे मनाया जाता है तो इसे अपने सभी मित्रों के साथ साझा करें साथ ही दशहरा पर निबंध आपको कैसा लगा इसके बारे में भी कमेंट करके अवश्य बताएं।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja