Vijayadashami 2022 | विजयादशमी कब है, पूजा व रावण दहन मुहूर्त

By | अक्टूबर 4, 2022
Vijayadashami

Vijayadashami 2022:- हिंदू धर्म का पालन करने वाले लोगों के लिए विजयदशमी का त्यौहार बहुत बड़ा त्योहार माना जाता है। मुख्य रूप से विजयादशमी भारत के पश्चिम बंगाल का त्यौहार है, मगर इस त्यौहार की रौनक आपको पूरे भारतवर्ष में देखने को मिलेगी। विजयदशमी हर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि में मनाया जाता है। हर साल नवरात्रि के बाद के दिन को दशमी या विजयदशमी/दशहरा के नाम से जाना जाता है। इस साल विजयदशमी का त्यौहार 5 अक्टूबर 2022 को पड़ रहा है। नवरात्रि की प्रतिपदा अवधि 26 सितंबर से शुरू हो रही है जो 4 अक्टूबर तक चलेगी। इसके बाद 5 अक्टूबर को विजयदशमी का त्यौहार पूरे भारतवर्ष में रावण दहन के साथ बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा।

अगर आप भारत के निवासी हैं और विजयदशमी के त्यौहार के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आज के लेख में Vijayadashami 2022, विजयादशमी मुहूर्त, निबंध, status और इस तरह के अन्य आवश्यक जानकारियों को सरल शब्दों में नीचे प्रस्तुत किया गया है। 

Vijayadashami 2022

त्यौहार का नामVijayadashami 2022
कब मनाया जाता हैहर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि के दसवें दिन
इस साल कब हैइस साल 4 अक्टूबर दोपहर 2:20 से 5 अक्टूबर दोपहर 12:00 बजे तक 
क्यों मनाया जाता हैइस दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था
Dussehra Festival 2022Similar Content
दशहरा कब हैं, पूजा, महत्व, रावण दहन मुहूर्तClick Here
विजय दशमी 2022Click Here
दशहरा पर निबंधClick Here
Happy Vijayadashami QuotesClick Here

विजयादशमी कब है? 

विजयदशमी का त्यौहार हर साल नवरात्रि के दसवें दिन मनाया जाता है। हर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि में नवरात्रि का त्यौहार शुरू होता है। नवरात्रि के त्यौहार में 9 दिनों तक मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूप की पूजा होती है और उसके बाद दसवें दिन को दशमी या विजयदशमी के नाम से जाना जाता है।

READ  एकनाथ शिंदे के मोबाइल नंबर | Eknath Sindhe's contact, WhatsApp No. Address

 इस साल विजयदशमी का त्यौहार 5 अक्टूबर 2022 को मनाया जा रहा है। हिंदू धर्म की पौराणिक मान्यता के अनुसार विजयदशमी के दिन ही भगवान राम ने रावण का वध किया था इस वजह से विजयदशमी का त्यौहार हर साल बड़े ही हर्षोल्लास के साथ नवरात्रि के बाद वाले दिन मनाया जाता है।

विजय दशमी/दशहरा | Vijayadashami 2022

विजयदशमी और नवरात्रि का त्यौहार मुख्य रूप से पश्चिम बंगाल में मनाया जाता है मगर यह एक बहुत ही भव्य त्यौहार है जिस दिन मां दुर्गा का पंडाल बनाया जाता है और उनकी मूर्ति की पूजा-अर्चना बड़े पैमाने पर की जाती है। विजयदशमी को भारत के अलग-अलग क्षेत्र में दशहरा के नाम से भी जाना जाता है।

नवरात्रि के दिन मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूप की पूजा होती है और नवरात्रि के दसवें दिन मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था जिस वजह से इसे विजयदशमी का नाम दिया गया मगर इसी दिन पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान राम ने रावण का वध भी किया था जिस वजह से इसे दशहरा का त्यौहार भी कहा जाता है। दशहरा का त्यौहार बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है इस दिन लोग बड़े पैमाने पर रावण दहन के उत्सव को देखने के लिए जुटते हैं और आनंद उठाते हैं। 

विजयादशमी क्यों मनाया जाता है?

हिंदू धर्म की पौराणिक कथाओं के अनुसार महिषासुर नाम के राक्षस ने भगवान शिव से वरदान पाया था कि उसे कोई भी पुरुष देवता, मानव, या दैत्य नहीं मार पाएगा। इसके बाद महिषासुर को अपनी ताकत पर घमंड हो गया और उसने हर जगह आतंक मचाना शुरू किया महिषासुर के आतंक से इस धरती को बचाने के लिए सभी देवताओं ने अपनी शक्ति को एक यज्ञ में आहुति के रूप में दिया और मां दुर्गा का रूप प्रकट हुआ। मुख्य रूप से मां दुर्गा सभी देवी देवताओं की शक्ति का एकजुट है इस वजह से उन्हें मां शक्ति के नाम से भी जाना जाता है।

READ  50 + Happy Holi Quotes in Hindi | Holi Quotes in Hindi | पढ़िए होली पर शायरी, शुभकामना सन्देश, कोट्स, कविता हिंदी में

विजयदशमी के दिन जा भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अभी चल रही थी तब दशमी तारीख को उन्होंने महिषासुर का वध किया था। इसके अलावा रामायण की पौराणिक कथा के बारे में तो हर कोई जानता है जब भगवान राम और रावण के बीच युद्ध हुआ था तब नवरात्रि के दसवें दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था और मां सीता को लंका से आजाद किया था। इस वजह से ऐसा माना जाता है कि दशमी के दिन अच्छाई की बुराई पर जीत होती है और इसे बड़े हर्षोल्लास के साथ विजयदशमी के रूप में मनाया जाता है। 

Happy Vijay Dashami

विजयादशमी पूजा मुहूर्त

इस साल विजयदशमी 4 अक्टूबर 2022 से 5 अक्टूबर 2022 तक चलने वाला है। Vijayadashami की शुरुआत इस साल 4 अक्टूबर 2022 को दोपहर 2:20 से हो रही है इसके बाद यह लगातार 5 अक्टूबर 2022 के दोपहर 12:00 बजे तक चलने वाला है।

इस साल विजयदशमी का मुहूर्त 4 अक्टूबर से 5 अक्टूबर तक चल रहा है इस वजह से 4 अक्टूबर के शाम को विजयदशमी और नवमी दोनों की आरती एक साथ होने वाली है। विजयदशमी 4 अक्टूबर 2022 को दोपहर 2:20 से शुरू हो जाएगी और 5 अक्टूबर के दोपहर तक यह त्यौहार चलता रहेगा उसके बाद नवरात्रि के त्यौहार का समापन हो जाएगा। 

विजयदशमी रावण दहन मुहूर्त 2022

जैसा कि हमने आपको बताया हर साल विजयदशमी के दिन भगवान राम की पोशाक में रावण दहन उत्सव बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। आपको बता दें कि हर साल रावण दहन प्रदोष काल में श्रवण नक्षत्र के अंतर्गत किया जाता है।

इस साल श्रवण नक्षत्र के प्रदोष काल का आगमन रात्रि 8:30 तक रहने वाला है। इस वजह से रावण दहन का कार्यक्रम सूर्य अस्त के बाद रात 8:30 तक किया जा सकता है। हर साल की तरह इस मुहूर्त के वक्त आपको भारत के विभिन्न क्षेत्र में रावण दहन का त्यौहार हर्षोल्लास से मनता हुआ नजर आने वाला है। 

READ  जन्माष्टमी पर कविता | श्री कृष्ण जन्म पर कविता | Janmashtami Poem | Krishna Janmashtami Kavita

विजयदशमी पर रावण दहन कब होगा

जैसा कि हम जानते हैं इस साल 4 अक्टूबर 2022 को नवमी और दशमी दोनों अवधी एक साथ पड़ रही है। मगर रावण दहन दशमी के दिन प्रदोष काल के श्रवण नक्षत्र के अंतर्गत किया जाता है और यह उत्तम घड़ी 4 अक्टूबर 2022 के सूर्य अस्त के बाद रात्रि 8:30 तक रहने वाली है। इस वजह से विजयदशमी पर रावण दहन 4 अक्टूबर 2022 को सूर्यास्त के बाद रात्रि 8:30 तक हो सकता है।

विजयदशमी पर रावण दहन के दिन लगने वाला मेला 4 अक्टूबर को बड़े पैमाने पर लगने वाला है और लोग इसे देखकर हर्षोल्लास के साथ रावण दहन का त्यौहार मनाने वाले है। यह त्यौहार रात्रि 8:30 तक मनाया जाएगा उसके बाद रावण दहन का मुहूर्त समाप्त हो जाएगा तो सूर्यास्त के बाद भारत के विभिन्न क्षेत्र में आपको रावण दहन हर्षोल्लास के साथ मानता हुआ नजर आएगा।

Happy Dussehra

विजय दशमी 2022 से जुड़े कुछ आवश्यक प्रश्न (FAQ’s)

Q. इस साल विजयदशमी का त्यौहार कब है?

इस दिन नवमी और दशमी का त्यौहार एक साथ पड़ रहा है इस वजह से विजयदशमी का त्यौहार 4 अक्टूबर 2022 को मनाया जाएगा।

Q. विजयदशमी का रावण दहन कब होगा? 

इस साल विजयदशमी का रावण दहन या दशहरा का त्योहार 4 अक्टूबर 2022 को सूर्यास्त के बाद रात्रि 8:30 तक मनाया जाएगा इस अवधि के अंदर रावण दहन हो जाएगा।

Q. विजयदशमी का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?

हर साल विजयदशमी का त्यौहार बड़े ही हर्षोल्लास के साथ भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि के दसवें दिन मनाया जाता है। ऐसा वजह से है क्योंकि विजयदशमी के दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था और मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था। 

निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने आपको Vijayadashami 2022 से जुड़ी कुछ आवश्यक जानकारियों को सरल शब्दों में समझाने का प्रयास किया है। हमने आपको यह बताया कि विजयदशमी का त्यौहार कब और क्यों मनाया जाता है इस साल रावण दहन का मुहूर्त कब है और इस तरह की अन्य आवश्यक जानकारियों को इस लेख में सरल शब्दों में प्रस्तुत किया गया। अगर हमारे द्वारा साझा की गई जानकारियों को पढ़ने के बाद आपको विजयदशमी के बारे में अच्छे से समझ पाए हैं तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें और अपने सुझाव व विचार को कमेंट में बताना ना भूले। 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *