Vijayadashami 2023 | विजयादशमी कब है, पूजा व रावण दहन मुहूर्त

Vijayadashami

Vijayadashami 2023:- हिंदू धर्म का पालन करने वाले लोगों के लिए विजयदशमी का त्यौहार बहुत बड़ा त्योहार माना जाता है। मुख्य रूप से विजयादशमी भारत के पश्चिम बंगाल का त्यौहार है, मगर इस त्यौहार की रौनक आपको पूरे भारतवर्ष में देखने को मिलेगी। विजयदशमी हर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि में मनाया जाता है। हर साल नवरात्रि के बाद के दिन को दशमी या विजयदशमी/दशहरा के नाम से जाना जाता है। इस साल विजयदशमी का त्यौहार 24 अक्टूबर 2023 को पड़ रहा है। नवरात्रि की प्रतिपदा अवधि 15 सितंबर से शुरू हो रही है जो 24 अक्टूबर तक चलेगी। इसके बाद 24 अक्टूबर को विजयदशमी का त्यौहार पूरे भारतवर्ष में रावण दहन के साथ बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा।

अगर आप भारत के निवासी हैं और विजयदशमी के त्यौहार के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आज के लेख में Vijayadashami 2023, विजयादशमी मुहूर्त, निबंध, Status और इस तरह के अन्य आवश्यक जानकारियों को सरल शब्दों में नीचे प्रस्तुत किया गया है। 

Vijayadashami 2023-Overview

त्यौहार का नामVijayadashami 2023
कब मनाया जाता हैहर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि के दसवें दिन
इस साल कब है?इस वर्ष 2023 में दशहरा का त्योहार मंगलवार, 24 अक्टूबर, 2023 को मनाया जाएगा।
क्यों मनाया जाता हैइस दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था |

विजयादशमी कब है? Dussera Kab Hai

Vijyadashmi Kab Hai: विजयदशमी का त्यौहार हर साल नवरात्रि के दसवें दिन मनाया जाता है। हर साल भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि में नवरात्रि का त्यौहार शुरू होता है। नवरात्रि के त्यौहार में 9 दिनों तक मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूप की पूजा होती है और उसके बाद दसवें दिन को दशमी या विजयदशमी के नाम से जाना जाता है।

 इस साल विजयदशमी का त्यौहार 24 अक्टूबर 2023 को मनाया जा रहा है। हिंदू धर्म की पौराणिक मान्यता के अनुसार विजयदशमी के दिन ही भगवान राम ने रावण का वध किया था इस वजह से विजयदशमी का त्यौहार हर साल बड़े ही हर्षोल्लास के साथ नवरात्रि के बाद वाले दिन मनाया जाता है।

See also  भगवान श्रीगणेश जी के सरल और चमत्कारी अद्भुत 5 मंत्र (अर्थ सहित), जिन्हें नियमित जाप करने से हर मनोकामना जरूर होगी पूरी

विजय दशमी/दशहरा | Vijayadashami 2023

Dussera 2023 : विजयदशमी और नवरात्रि का त्यौहार मुख्य रूप से पश्चिम बंगाल में मनाया जाता है मगर यह एक बहुत ही भव्य त्यौहार है जिस दिन मां दुर्गा का पंडाल बनाया जाता है और उनकी मूर्ति की पूजा-अर्चना बड़े पैमाने पर की जाती है। विजयदशमी को भारत के अलग-अलग क्षेत्र में दशहरा के नाम से भी जाना जाता है।

नवरात्रि के दिन मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूप की पूजा होती है और नवरात्रि के दसवें दिन मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था जिस वजह से इसे विजयदशमी का नाम दिया गया मगर इसी दिन पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान राम ने रावण का वध भी किया था जिस वजह से इसे दशहरा का त्यौहार भी कहा जाता है। दशहरा का त्यौहार बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है इस दिन लोग बड़े पैमाने पर रावण दहन के उत्सव को देखने के लिए जुटते हैं और आनंद उठाते हैं। 

Dussehra Festival 2023Similar Content
दशहरा कब हैं, पूजा, महत्व, रावण दहन मुहूर्तClick Here
विजय दशमी 2023Click Here
दशहरा पर निबंधClick Here
Happy Vijayadashami QuotesClick Here

विजयादशमी क्यों मनाया जाता है? Vijayadashmi Celebrated

Vijayadashmi Celebrated

Dussera Kyu Manaya Jata Hai: हिंदू धर्म की पौराणिक कथाओं के अनुसार महिषासुर नाम के राक्षस ने भगवान शिव से वरदान पाया था कि उसे कोई भी पुरुष देवता, मानव, या दैत्य नहीं मार पाएगा। इसके बाद महिषासुर को अपनी ताकत पर घमंड हो गया और उसने हर जगह आतंक मचाना शुरू किया महिषासुर के आतंक से इस धरती को बचाने के लिए सभी देवताओं ने अपनी शक्ति को एक यज्ञ में आहुति के रूप में दिया और मां दुर्गा का रूप प्रकट हुआ। मुख्य रूप से मां दुर्गा सभी देवी देवताओं की शक्ति का एकजुट है इस वजह से उन्हें मां शक्ति के नाम से भी जाना जाता है।

See also  भारत में समान नागरिक संहिता क्या है? What is Uniform Civil Code यहां देखें (परिभाषा, महत्व, उद्देश्य, चुनौतियाँ, लाभ और हानि)

विजयदशमी के दिन जा भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अभी चल रही थी तब दशमी तारीख को उन्होंने महिषासुर का वध किया था। इसके अलावा रामायण की पौराणिक कथा के बारे में तो हर कोई जानता है जब भगवान राम और रावण के बीच युद्ध हुआ था तब नवरात्रि के दसवें दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था और मां सीता को लंका से आजाद किया था। इस वजह से ऐसा माना जाता है कि दशमी के दिन अच्छाई की बुराई पर जीत होती है और इसे बड़े हर्षोल्लास के साथ विजयदशमी के रूप में मनाया जाता है। 

Happy Vijay Dashami

विजयादशमी पूजा मुहूर्त | Vijyadasmi Muhurat 2023

Dussera Muhurat 2023 : इस साल 24 अक्टूबर 2023 को विजयादशमी का पर्व मनाया जाएगा। विजयदशमी के दिन रावण दहन का विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 05 मिनट से 02 बजकर 51 मिनट तक है। पूजन की अवधि 46 मिनट है। रावण दहन का अपराह्न मुहूर्त का समय 24 अक्टूबर 2023 दोपहर 01 बजकर 20 मिनट से 03 बजकर 37 मिनट तक है।

विजयदशमी रावण दहन मुहूर्त 2023

जैसा कि हमने आपको बताया हर साल विजयदशमी के दिन भगवान राम की पोशाक में रावण दहन उत्सव बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। आपको बता दें कि हर साल रावण दहन प्रदोष काल में श्रवण नक्षत्र के अंतर्गत किया जाता है।

इस साल श्रवण नक्षत्र के प्रदोष काल का आगमन रात्रि 8:30 तक रहने वाला है। इस वजह से रावण दहन का कार्यक्रम सूर्य अस्त के बाद रात 8:30 तक किया जा सकता है। हर साल की तरह इस मुहूर्त के वक्त आपको भारत के विभिन्न क्षेत्र में रावण दहन का त्यौहार हर्षोल्लास से मनता हुआ नजर आने वाला है। 

विजयदशमी पर रावण दहन कब होगा | Vijyadasmi Par Ravna Dahan Kab Hoga

Dussera Par Ravna Dahan Kab Hai : जैसा कि हम जानते हैं इस साल 4 अक्टूबर 2023 को नवमी और दशमी दोनों अवधी एक साथ पड़ रही है। मगर रावण दहन दशमी के दिन प्रदोष काल के श्रवण नक्षत्र के अंतर्गत किया जाता है और यह उत्तम घड़ी 24 अक्टूबर 2023 के सूर्य अस्त के बाद रात्रि 8:30 तक रहने वाली है। इस वजह से विजयदशमी पर रावण दहन 24 अक्टूबर 2023 को सूर्यास्त के बाद रात्रि 8:30 तक हो सकता है।

See also  चैत्र नवरात्रि 2023 घटस्थापना मुहूर्त | नवरात्रि मुहूर्त | Chaitra Navratri 2023 Ghatasthapana Muhurat

विजयदशमी पर रावण दहन के दिन लगने वाला मेला 24 अक्टूबर को बड़े पैमाने पर लगने वाला है और लोग इसे देखकर हर्षोल्लास के साथ रावण दहन का त्यौहार मनाने वाले है। यह त्यौहार रात्रि 8:30 तक मनाया जाएगा उसके बाद रावण दहन का मुहूर्त समाप्त हो जाएगा तो सूर्यास्त के बाद भारत के विभिन्न क्षेत्र में आपको रावण दहन हर्षोल्लास के साथ मानता हुआ नजर आएगा।

Happy Dussehra

विजय दशमी 2023 से जुड़े कुछ आवश्यक प्रश्न (FAQ’s)

Q. इस साल विजयदशमी का त्यौहार कब है?

इस दिन नवमी और दशमी का त्यौहार एक साथ पड़ रहा है इस वजह से विजयदशमी का त्यौहार 4 अक्टूबर 2023 को मनाया जाएगा।

Q. विजयदशमी का रावण दहन कब होगा? 

इस साल विजयदशमी का रावण दहन या दशहरा का त्योहार 24 अक्टूबर 2023 को सूर्यास्त के बाद रात्रि 8:30 तक मनाया जाएगा इस अवधि के अंदर रावण दहन हो जाएगा।

Q. विजयदशमी का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?

हर साल विजयदशमी का त्यौहार बड़े ही हर्षोल्लास के साथ भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा अवधि के दसवें दिन मनाया जाता है। ऐसा वजह से है क्योंकि विजयदशमी के दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था और मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था। 

निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने आपको Vijayadashami 2023 से जुड़ी कुछ आवश्यक जानकारियों को सरल शब्दों में समझाने का प्रयास किया है। हमने आपको यह बताया कि विजयदशमी का त्यौहार कब और क्यों मनाया जाता है इस साल रावण दहन का मुहूर्त कब है और इस तरह की अन्य आवश्यक जानकारियों को इस लेख में सरल शब्दों में प्रस्तुत किया गया। अगर हमारे द्वारा साझा की गई जानकारियों को पढ़ने के बाद आपको विजयदशमी के बारे में अच्छे से समझ पाए हैं तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें और अपने सुझाव व विचार को कमेंट में बताना ना भूले। 

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja