Amitabh Bachchan Quotes : सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के कोट्स पढ़े और बनाएं अपने जीवन को पॉजिटिव

Amitabh Bachchan Quotes

Amitabh Bachchan Quotes:-भारतीय सिनेमा जगत के शहंशाह अमिताभ बच्चन वर्तमान समय में किसी परिचय का मोहताज नहीं है। भारतीय सिनेमा जगत में वह अपना प्रमुख स्थान बनाए हैं। कला एक ऐसा माध्यम है जो समाज को जोड़ने का कार्य करता है। कलाकार स्वयं कई प्रकार के संघर्षों का सामना करके संसार में प्रकाश फैलाता है। ठीक इसी प्रकार इलाहाबाद से लेकर मुंबई तक का सफर अमिताभ बच्चन के लिए आसान नहीं था। इस बीच में वह कई बार ठोकर खाई और कई बार गिरकर खड़े हुए लेकिन हार नहीं माने इसलिए वह आज भारतीय सिनेमा जगत के प्रसिद्ध महानायक है। ऐसे में हम में से कई लोग अमिताभ बच्चन जीवन से संबंधित जानकारी एवं उनके विचार क्या-क्या है प्राप्त करना चाहते है।

तो आईए हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से कौन हैं अमिताभ बच्चन | Amitabh bachchan autobiography,अमिताभ बच्चन की जीवनी संबंधित जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान कर रहे हैं इसलिए आप लोग इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

कौन हैं अमिताभ बच्चन | Who is Amitabh Bachchan

अमिताभ बच्चन को वर्तमान समय में कौन नहीं जानता होगा कि एक फिल्म जगत के महान एक्टर्स है। जिनका जन्म 11 अक्टूबर 1942 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद (प्रयागराज) में हिंदू  कायस्थ परिवार में हुआ था । इनका बचपन का असली नाम अमिताभ बच्चन श्रीवास्तव था। जो आगे चलकर अमिताभ बच्चन रखा गया।बॉलीवुड के दुनिया में कई ऐसे एक्टर्स है जिन्होंने कड़ी मेहनत की है लेकिन अमिताभ बच्चन जिस मुकाम पर पहुंचे हैं उस मुकाम पर पहुंचना है सभी के बस में नहीं होता है। यूं ही नहीं अमिताभ बच्चन को बॉलीवुड का महानायक कहा जाता है। उनके अभिनय का अंदाज, बात करने का अंदाज लोगों से मिलने का अंदाज दूसरो के मुताबिक बिल्कुल अलग है। अपने अपनी कड़ी मेहनत और अपने बल पर इस मुकाम तक पहुंचे हैं। इनका शुरुआती पढ़ाई इलाहाबाद से शुरू हुआ था लेकिन आगे की पढ़ाई उन्होंने शेरवुड कॉलेज नैनीताल से की। इसके बाद इन्होंने बैचलर डिग्री को दिल्ली यूनिवर्सिटी से प्राप्त की है। यह फिल्म के दुनिया में काम करना चाहते थे इसलिए इन्होंने अपने पिता से छिपकर अपना एक फोटो मुंबई भेजे लेकिन रिजेक्ट हो गए। इसके बाद इन्होंने नौकरी को छोड़कर मुंबई चले आए और काफी संघर्ष एवं परिश्रम करना पड़ा। लंबी तंग होने के कारण बार-बार इन्हें रिजेक्ट कर दिया जाता था लेकिन काफी प्रयास करने के बाद पहला ब्रेक फिल्म सात हिंदुस्तानी 1969 में मिला।

अमिताभ बच्चन के बारे में हिंदी में | About amitabh bachchan in hindi

  1. अमिताभ बच्चन, भारतीय सिनेमा के एक बहुत प्रमुख और प्रभावशाली अभिनेता हैं।
  2. उनका जन्म 11 अक्टूबर 1942 को उत्तर प्रदेश इलाहाबाद में हुआ था। हुआ था।
  3. अमिताभ बच्चन को “बिग बी” और “शहंशाह” के नाम  से भी जाना जाता है।
  4. उनका भारतीय सिनेमा में अभिनय 1969 में फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ से शुरू हुआ था।
  5. वे हिंदी सिनेमा के सबसे बड़े और सबसे प्रभावशाली सितारों में से एक हैं।
  6. अमिताभ बच्चन को कई बार फिल्मफेयर, राष्ट्रीय फिल्म और पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
  7. उनकी फिल्म ‘शोले’ में जय के किरदार के लिए उन्हें अपने करियर की सबसे बड़ी सफलता मिली।
  8. अमिताभ के परिवार में उनकी पत्नी, जया बच्चन, और बेटे, अभिषेक बच्चन भी भारतीय सिनेमा के अभिनेता हैं।
  9. अमिताभ बच्चन को  सिनेमा क्षेत्र में उनके योगदान के लिए भारत सरकार ने ‘पद्म भूषण’ से सम्मानित किया है।
  10. अमिताभ ने अपनी उदारता, कर्तव्यनिष्ठा और अद्वितीय अभिनय के लिए फिल्मी दुनिया में एक प्रमुख स्थान बनाया है।

अमिताभ बच्चन की आत्मकथा | Amitabh bachchan autobiography

अमिताभ बच्चन भारतीय हिंदी फिल्म जगत के महान अभिनेता है। इन्होंने भारतीय फ़िल्म जगत में चार दशक से अधिक समय व्यतीत कर चुके हैं। इसलिए इन्हें भारतीय फ़िल्म जगत में सबसे बड़े एवं प्रभावशाली अभिनेता माना जाता है। इन्हें लोग से प्यार से बिग बी एवं शहंशाह भी कहते हैं।

जन्म

अमिताभ बच्चन का जन्म 11 अक्टूबर 1942 को इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश में हुआ था। उनके पिता का नाम हरिवंश राय बच्चन था जो हिंदी जगत के मशहूर कवि रहे हैं। एवं उनके माता जी का नाम तेजी बच्चन था। उनके एक छोटे भाई भी हैं जिनका नाम अजिताभ है। अमिताभ बच्चन का पहला का नाम इंकलाब रखा गया था लेकिन उनके पिताजी का साथी रहे कवि सुमित्रानंदन पंत के कहने पर उनका नाम अमिताभ रखा गया।

पढ़ाई

अमिताभ बच्चन का पढ़ाई शुरुआत में इलाहाबाद से हुआ है। लेकिन आगे चलकर वह शेरवुड कॉलेज, नैनीताल के छात्र रहे हैं। इसके बाद उन्होंने अपना पढ़ाई दिल्ली विश्वविद्यालय के किरोरीमल कॉलेज से किए थे। पढ़ाई के क्षेत्र में वह काफी अव्‍वल थे और कक्षा के अच्‍छे छात्रों में उनकी गिनती होती थी। कहीं ना कहीं ये गुण उनके पिताजी से ही आए थे क्‍योंकि वे भी प्रसिद्ध कवि रहे थे। 

शादी

अमिताभ बच्चन की शादी जया बच्चन से हुई जिनसे उन्हें दो बच्चे हैं। अभिषेक बच्चन जो उनके पुत्र हैं और श्वेता नंदा उनकी पुत्री हैं।  

See also  राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय | जन्म, शिक्षा, उपलब्धियां, राष्ट्रपति बनने तक का सफर | Draupadi Murmu Full Biography in Hindi

करियर

अमिताभ बच्चन का फिल्मी दुनिया में शुरूआत वॉयस नैरेटर के तौर पर फिल्म ‘भुवन शोम’ से हुआ था लेकिन एक अभिनेता के तौर पर उनके फिल्म करियर की शुरूआत फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ से हुई। इसके बाद उन्होंने लगातार कई फिल्में कीं लेकिन अधिकतर फिल्म सफल नहीं हो पाईं।उनके फिल्म करियर का टर्निंग प्वाइंट फिल्म जंजीर से साबित हुई। इसके बाद उन्होंने लगातार हिट फिल्मों की लाइन लगा दिए। इसके साथ ही साथ वे हर दर्शक वर्ग में लोकप्रिय हो गए और फिल्म इंडस्ट्री में अपने अभिनय का लोहा भी मनवाया।

प्रसिद्ध फिल्में

सात हिंदुस्तानी, आनंद, जंजीर, अभिमान, सौदागर, चुपके चुपके, दीवार, शोले, कभी कभी, अमर अकबर एंथनी, त्रिशूल, डॉन, मुकद्दर का सिकंदर, मि. नटवरलाल, लावारिस, सिलसिला, कालिया, सत्ते पे सत्ता, नमक हलाल, शक्ति, कुली, शराबी, मर्द, शहंशाह, अग्निपथ, खुदा गवाह, मोहब्बतें, बागबान, ब्लैक, वक्त, सरकार, चीनी कम, भूतनाथ, पा, सत्याग्रह, शमिताभ जैसी शानदार फिल्मों ने ही उन्हें सदी का महानायक बना दिया। 

अमिताभ बच्चन की जीवनी | Amitabh bachchan biography

नामअमिताभ बच्चन
असली नामअमिताभ हरिवंशराय बच्चन
पुकार का नामबिग बी, एंग्री यंग मेन, बॉलीवुड के शहनशाह
जन्म तारीख11 अक्टूबर 1942
जन्म स्थानइलाहाबाद (उत्तर प्रदेश)
उम्र82 साल
राशि तुला (LIBRA)
जातिकायस्थ
स्कूलज्ञान प्रमोधिनी, बॉयज हाई स्कूल, इलाहाबाद, भारत
कॉलेजशेरवुड कॉलेज, नैनीताल, भारतकिरोरी मल कॉलेज, नई दिल्ली, भारत
पेशा एक्टर,प्रोडूयूसर,सिंगर,रायटर
राष्ट्रीयताभारतीय
प्रमुख दोस्तराजेश खन्ना, धर्मेन्द्र
गृहनगरइलाहाबाद, उत्तर प्रदेश (वर्तमान में मुंबई में रहते हैं)
पताजलसा, बी / 2, कपोल हाउसिंग सोसाइटी, वीएल मेहता रोड, जुहू, मुंबई – 400094, महाराष्ट्र, भारत
वैवाहिक स्थितिवैवाहिक
डेब्यूसात हिंदुस्तानी (1969
कुल सम्पति(Total Assets)एक हजार करोड़ लगभग

अमिताभ बच्चन के हिंदी  कोट्स | Amitabh bachchan quotes in hindi

1.अच्छे बनने के लिए कोई वजह मत ढूंढो, आप बेवजह भी अच्छे बन सकते है।

2.मुझे कभी-कभी इस तथ्य से दुख होता है कि मेरे पास एक पूर्ण और निरोग शरीर नहीं है।

3.अगर मोहब्बत नहीं होगी तो नफरत का आना स्वाभाविक है।

4.हर चीज वहीं मिल जाती है, जहां वह खोई हो लेकिन विश्वास वहां कभी नहीं मिलता, जहां एक बार खो जाता है।

5.अगर हम अपनी दृष्टि सिर्फ उसी पर रखेंगे जो पीछे छूट गया है, तो हमें आगे की दिशा कभी नहीं दिखेगी।

6.हारने का भी अपना मजा है, हारने पर ही अपनी वास्तविकता का ज्ञान होता है।

7.वक्त का पता नहीं चलता अपनों के साथ, पर अपनों का पता चलता है वक्त के साथ।

8.कोई भी लक्ष्य मनुष्य के साहस से बड़ा नहीं, हारा वही जो कभी लड़ा नहीं।

9.आप जीवित रहने के लिए क्या करते है और आपके जीने का उद्देश्य क्या है इन दोनों में बहुत फर्क है

10.मै इस बात में कभी यकीन नही करता हु की मै कभी भी सुपरस्टार रहा हु

अमिताभ बच्चन  कोट्स हिंदी | Amitabh bachchan quotes hindi

1.मेरे विचार अप्प्रीहेंशन से नहीं बल्कि ऑब्जरवेशन से बनते हैं।

2.मै जिन परिस्थितियों से होकर गुजरा हु उस परिस्थिति में मेरा शरीर जिस प्रकार प्रतिक्रिया की है वह किसी रणक्षेत्र से कम नही है

3.नफरत का खुदका कोई वजूद नही होता है वह तो सिर्फ मोहब्बत की गैर मौजूदगी का नतीजा है

4.तकनीक के साथ हिंदी कदम मिला कर चल रही है।

5.हमारी हर साँस हमे प्रतिक्षण शिक्षित करती है

6.बेवजह अच्छे बनो, वजह से बहुत बने फिरते रहते है

7.ये कभी मत सोचना की जो तेज बोलते है वे शक्तिशाली ही हो, और जो धीमे बोलते हो वे कमजोर हो

8.मैं हमेशा दर्शकों का मेरे प्रति आकर्षण को देखकर चकित होता हूँ। 

अमिताभ बच्चन  कोट्स | Amitabh bachchan quotation

1.जो कुछ भी मैं करता हूँ वह विवादस्पद हो जाता है।

2.काश ऐसी भी हवा चले कि कौन किसका है यह भी पता चले।

3.मैं कभी भी अपने करिअर को लेकर आश्वस्त नहीं रहा।

4.मैंने पैसो को लेकर कभी किसी से बहस नही की क्योकि मै जानता हु की ये कोई मायने नही रखते।

5.हर किसी को स्वीकार करना चाहिए कि हमारी उम्र बढ़ेगी और उम्र का बढ़ना हमेशा प्रशंसापूर्ण नहीं होता।

6.जीवन के लिए एक शानदार नजरिया — लोग हमारे बारे में क्या सोचेंगे यदि यही सोचेंगे तो फिर लोग क्या सोचेंगे।

7.पैसा तो आप सभी कमाते रहे हैं।आप भी कमा रहे हैं… हम भी कमा रहे हैं।

8.आलोचनाएं उन्हीं की होती है, जिनमें कुछ बात होती है।

अमिताभ बच्चन प्रेरक  कोट्स | Amitabh bachchan motivational quotes

1.शास्त्र का ज्ञान, शस्त्र के ज्ञान से ज्यादा शक्तिशाली, प्रभावशाली होता है

2.कोई भी व्यक्ति पूरी तरह से पूर्ण नहीं हो सकता, और आलोचना हमेशा स्वागत और अपेक्षित है।

3.लोगों और समुदायों के लिए एक साथ आना कुछ सकारात्मक माना जाना चाहिए। जब विचार एक साथ आते हैं, तो एक व्यक्ति  की तुलना में यह विचार अधिक सकारात्मक हो सकते हैं।

See also  गौतम अडानी की कुल संपत्ति, कंपनी, परिवार, शिक्षा, विवाद | Gautam Adani Biography in Hindi, Net Worth, Business, Age, Wife

4.सभी को यह स्वीकार करना चाहिए कि हम उम्र भर हमेशा चापलूसी नहीं करेंगे।

5.हम सभी के अंदर एक ऐसी अलौकिक शक्ति का भंडार जो तभी बाहर आता है जब वक्त हमारा इम्तिहान लेता है।

6.किसी को भी अपनी उम्र का बढना अच्छा नही लगता, लेकिन हमे स्वीकार करना होगा की हमारी उम्र भी समय के साथ बढ़ेगी।

7.हम सभी में  कोई एक साधारण प्रतिभा होती है बस जरूरत है उस प्रतिभा को निखारने की।

8.यदि आप अपनी नजरें सूर्य पर रखेंगे तो आपको परछाइयां कभी भी नही दिखेगी।

अमिताभ बच्चन प्रेरक कविता | Amitabh bachchan motivational poem

1.ये वक्त गुजर जाएगा (Ye Waqt Guzar Jayega)

गुजर जाएगा, गुजर जाएगा
मुश्किल बहुत है, मगर वक्त ही तो है
गुजर जाएगा, गुजर जाएगा।।

जिंदा रहने का ये जो जज्बा है
फिर उभर आएगा
गुजर जाएगा, गुजर जाएगा।।

माना मौत चेहरा बदलकर आई है,
माना मौत चेहरा बदलकर आई है,
माना रात काली है, भयावह है, गहराई है
लोग दरवाजों पे रास्तों पे रूके बैठे हैं,
लोग दरवाजों पे रास्तों रूके बैठे हैं,
कई घबराये हैं सहमें हैं, छिपे बैठे हैं।

मगर यकीन रख, मगर यकीन रख
ये बस लम्हा है दो पल में बिखर जाएगा
जिंदा रहने का ये जो जज्बा है, फिर असर लाएगा
मुश्किल बहुत है, मगर वक्त ही तो है
गुजर जाएगा, गुजर जाएगा।।

2.लहरो से डरक़र नौका पार नही होती

लहरो से डरक़र नौका पार नही होती
कोशिश करनें वालो की कभीं हार नही होती

नन्ही चीटीं जब दाना लेक़र चलती हैं
चढती दीवारो पर सौं बार फ़िसलती हैं
मन का विश्वास रगो मे साहस भरता हैं
चढकर ग़िरना, गिरक़र चढना न अख़रता हैं
आख़िर उसकी मेहनत बेक़ार नही होती
कोशिश करनें वालो की कभीं हार नही होती

डूबकिया सिन्धु में गोताख़ोर लगाता हैं
जा जाक़र ख़ाली हाथ लौंटकर आता हैं
मिलतें नही सहज़ ही मोती गहरें पानी मे
बढता दुगुना उत्साह इसीं हैंरानी मे
मुट्ठीं उसकी ख़ाली हर बार नही होती
कोशिश करनें वालो की कभीं हार नही होती

असफ़लता एक चुनौंती हैं स्वीकार करों
क्या कमीं रह गयी देख़ो और सुधार करों
ज़ब तक न सफ़ल हो नीद चैंन को त्यागों तुम
संघर्ष का मैंदान छोड मत भागों तुम
कुछ किये बिना ही ज़य-ज़यकार नही होती
कोशिश करनें वालो की कभीं हार नही होती

3.यें गर्व हैं

यें गर्व हैं मेरा, बेटी, बेटियां जब उभ़र कर आती है,
अपनें दम पर कुछ करकें हमे दिख़ाती है
मोतियो से पिरोई हुई यें माला, ऐसे क़रना
गहना अनमोल हैं, इसें सुरक्षित रख़ना

जी हां हुजुर मै काम क़रता हूं

जी हां हुजुर मै काम करता हूं
मै सुबह शाम क़ाम करता हूं
मै रात बा रात क़ाम करता हूं
मै रातो रात क़ाम करता हूं

4.हम विक़ट गरीब-प्रेमी है

हम विक़ट गरीब-प्रेमी है
चाहें कोई सरकार बनें
हम उसे गरीबों की सरक़ार मानक़र
उसकें सामने अपना प्रलाप शुरू क़र देते है

गरीबो के बारें मे
हम दृष्टि-दोष से पीडित है
उनक़ा जिक्र आया नही
कि हम रोंना शुरू क़र देते है

ऐसी क्या ब़ात हैं
कि सारें गरीब हमे मरीज ही दिख़ते है
लाचार, कर्ज में डूबें, कुपोषित, दर्दं से चीखते,
चुपचाप मरतें हुए

उछलतें-कूदतें, नांचते, शराब पीक़र डोलते गरीब
हमे पसन्द क्यो नही है
बम फोडते, डाक़ा डालते, आतंक मचातें गरीबो को
हम गरीब क्यो नही मानते

गरीब घेरतें हुए
गरीब घिरतें हुए
गरीब मुठभेड करतें हुए
मरतें-मारतें हुए गरीब हमे सपनो मे भी नही दिख़ते

गरीबो को
राज़ बनातें
मन्त्रालय चलातें देख़ना
हमारें वश मे क्यो नही
हम बींमार गरीबो को
अस्पताल, ब़िस्तर और मुफ़्त दवा से ज़्यादा
कुछ औंर क्यो नही देना चाहतें
हम उन्हे साक्षर हट्टें-कट्टें मजदूरों से ज़्यादा
किसीं और रूप मे क्यो नही देख़ पाते

5.घर तो ब़हुत सारे खाली है

घर तो ब़हुत सारे खाली है
पर वें हिन्दुओ के घर है
वे मुसलमानो को नही मिलेगे
कुछ घर चमारो को
कुछ दुसाधो को नही मिलेगे
कुछ घरो को
शुद्ध शाकाहारियो का
करना पडेगा इन्तजार
कुछ घर
एडवान्स के चक्क़र मे छूट जाएगे
कुछ घरो को पंण्डित
प्रेतात्माओ से छुड़ाएगे

6.हमारें पास घर था

हमारें पास घर था
मग़र वह अपना नही था
घर हमारें लिए सपना भीं नही था
हमारें पास घर खरीदने के पैंसे थे
हमारें लिये घर कही भाग नही रहे थें
घरो के बाजार मे हम शान से घूम सक़ते थे
हमनें ब़हुत सारें घर देख़े
घर देख़ने का हमे नशा हो ग़या
घर के उपर हम आजाद परिन्दो की तरह उडते
हमनें देख़ा लाखो घर खाली थे
और उन्हे हमारा इन्तजार था
खाली घरो ने हमारा दिमाग खराब क़र दिया
ये संमन्दर वाला ले
या वो ज़ंगल वाला
या पहाड से नीचें उतरतें हुए
वह जो तुमनें देख़ा था
अरें वह घर तुम इतनी ज़ल्दी भूल गयी
घर जहां तीन तरफ से हवा आतीं थी
घर जहां छह घण्टे सूरज़ मिलता था
घर ज़िसे कोईं दूसरा घर छुपा नही सक़ता था
वह घर ज़ो दूर से ही दिख़ता था
तुम उसें भूल गयी
वह सस्ता मग़र बहुत बडा घर

See also  फाल्गुनी नायर कौन है? | जीवन परिचय | Falguni Nayar Biography in Hindi, NYKAA Founder, Husband, Son, Daughter, Net Worth

7.ज़िसका कोईं न हो

ज़िसका कोईं न हो
उसका जरूर एक़ घर हों
घर हीं उसक़ा खुदा हो
न आये कोईं उसके घर
न जाये वह कही घर छोडकर
गर हो जरूर उसक़ा एक घर

8.वें बेसहारा

वें बेसहारा बेघरो के लिये क़ाम क़रते है
इसकें उन्हे क़ुछ वाजिब पैंसे मिलते है
कुछ वे बेघरोंं के पैंसे चुराते है
इस तरह चोरीं से
अपना घर ब़नाते है

अमिताभ बच्चन की शायरी | Ahayari by amitabh bachchan

1.तू खुद की खोज में निकल किस लिए हताश  है,
तू चल तेरी वजूद की समय को भी तलाश है।

2.छैनी और हथौड़ी की मार जो पत्थर सह सकता है,
वही पत्थर ईश्वर बनकर मन्दिर में रह सकता है…

3.गिरना भी अच्छा है औकात का पता चलता है,
बढ़ते है जब हाथ उठाने को अपनों का पता चलता है…

4.“जो तुझसे लिपटी बेड़ियाँ इनको समझना वस्त्र तू,
ये बेड़ियाँ पिघला और बना ले इनको अस्त्र तू…”

5.“सुधार और स्वीकार्य के
तालमेल का नाम ही जीवन है…”

6.“जब तक ना सफल हो, नींद चैन को त्यागो तुम
संघर्ष का मैदान छोड़कर, मत भागो तुम…”

7.“इस जग में जितने जुल्म नहीं
उतने सहने की ताकत है,
तानो के शोर में भी रहकर
सच कहने की आदत है…”

8.“जब किसी के बड़े होने के साथ
उसकी विनम्रता भी बड़ी होती है,
तो समृद्धि और सम्मान हमेशा
उसके साथ खड़ी होती है…”

शायरी अमिताभ बच्चन के  कोट्स हिंदी में | Shayari amitabh bachchan quotes in hindi

1.मर्द के सीने में दर्द नहीं होता है,
जिस सीने में दर्द होता है वो मर्द नहीं होता है।

2.आज भी फेक हुए पैसे हम नहीं उठाते हैं,
क्योंकि हम मेहनत करके ही खाते हैं।

3.नजदीकी फ़ायदा देखने से पहले,
दूर का नुक्सान सोचना चाहिए।

4.रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं नाम सहनशाह,
मैं सिर्फ उसको रोकता हूं जो चलता है जुर्म की राह।

5.हम वो हैं जो कभी किसी के पीछे खड़े नहीं होते,
जहां खड़े होते हैं वहीं से लाइन शुरू होती है।

6.जो संघर्ष की राह पर चलता है,
एक दिन वो महान जरूर बनता है।

7.लगातार मेहनत करते रहना,
सबसे आसान नहीं है

8.भाग्य भरोसे न रहकर जो कर्म करता है,
मन का विश्वास रगो में साहस भरता है।

अमिताभ बच्चन स्टेटस | Amitabh bachchan status

1.हम आपकी तारीफ क्या करें,
आप तो सिर से पांव तक तारीफ ही तारीफ है।

2.वादे अक्सर टूट जाते हैं,
पर कोशिशें कामयाब होती हैं।

3.मैं पीछे मुड़कर देखने में कभी विश्वास नहीं करता, मैं हमेशा आगे की सोच रखता हूँ।

4.कुछ चीजें हमारी तरह नहीं होती लेकिन हम फिर भी उन्हें अपनी तरफ कर लेते हैं, ये हमारे लिए बहुत बड़ी होती हैं।

5.सफलता और असफलता के लिए हमेशा अलग-अलग कंधे होते हैं।

6.मेरे लिए सबसे बड़े गुरु मेरे पिता जी हैं। हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है।

अमिताभ बच्चन शायरी हिंदी में | Amitabh bachchan shayari in hindi

1.जो अपनी राह खुद बनाता है,
वो राह के कई पत्थरों को भी हटाता है।

2.जिसने अपनी सफलता की ज़िम्मेदारी नहीं ली,
उसे ही लगता है कि उसकी सफलता का ज़िम्मेदार कोई और है।

3.शब्दों से ही तुम अँधेरे की दुनिया से बाहर निकल सकते हो।

4.मैं शराब नहीं पीता, लेकिन मुझे ऐसा करना पड़ा। अक्सर जो लोग फिल्मो में देखते हैं हम वैसे नहीं होते।

5.हमारे माता-पिता के आने से ही हम लोग इस दुनिया में आये।

6.कुछ चीजें हमारी तरह नहीं होती लेकिन हम फिर भी उन्हें अपनी तरफ कर लेते हैं, ये हमारे लिए बहुत बड़ी होती हैं।

7.मैं पीछे मुड़कर देखने में कभी विश्वास नहीं करता, मैं हमेशा आगे की सोच रखता हूँ।

8.अगर खेल में देखा जाए तो क्रिकेट के बाद बाकी देश का सबसे मशहूर खेल है।

अमिताभ बच्चन शायरी | Amitabh bachchan shayari

1.मैं अपने खाली समय में खेल-कूद और समाचार देखना पसंद करता हूँ।

2.मैं कभी-कभी कैमरे से बातें नहीं करता, बल्कि मैं तो एक चेहरे से बातें करता हूं।

3.जिन्हें गुस्सा आता हैं वो लोग सच्चे होते हैं
मैंने झूठो को अक्सर मुस्कुराते हुए देखा हैं!!!

4.सीख रहा हूँ अब मैं भी इंसानों को पढने का हुनर
सुना हैं चहरे पे किताबो से ज्यादा लिखा होता हैं!!!

5.मैं पत्थर पर लिखी इबारत हूँ शीशे से कब तक तोड़ोगे
मिटने वाला मैं नाम नहीं तुम मुझको कब तक रोकोगे!!!

6.इस जग में जितने जुल्म नहीं उतने सहने की ताकत हैं
तानों के शोर में भी रहकर सच कहने की आदत हैं!!!

7.मैं उस माटी का वृक्ष नहीं जिसको नदियों ने सीचा हैं
बंजर माटी में पलकर मैंने मृत्यु से जीवन खींचा हैं!!!

8.दुनिया में दो ही सच्चे ज्योतिषी हैं मन की बात
समझने वाली माँ भविष्य को पहचानने वाले पिता!!!

Summary

उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल आप लोगों को काफी पसंद आया होगा ऐसे में आप हमारे आर्टिकल संबंधित कोई प्रश्न एवं सुझाव है तो आप लोग हमारे कमेंट्स बॉक्स में आकर अपने प्रश्नों को पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरूर देंगे।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja