डॉ. विकास दिव्यकीर्ति का जीवन परिचय | Dr. Vikas Divyakirti Biography Hindi | जीवन परिचय, शिक्षा, संघर्ष, नौकरी, दृष्टि कोचिंग, सोशल मीडिया लिंक

Dr. Vikas Divyakirti Biography Hindi

Dr. Vikas Divyakirti Biography Hindi:- अगर आप भारतीय सिविल सेवा के साथ जोड़कर नौकरी करना चाहते है तो अवश्य ही आप डॉ. विकास दिव्यकीर्ति को जानते होंगे। वर्तमान समय में वे यूट्यूब के एक बहुत ही प्रचलित शिक्षक है। आज इस लेख डॉ विकास दिव्यकीर्ति जीवन परिचय में हम जानेंगे कि कैसे वे IAS ऑफिसर की नौकरी छोड़कर शिक्षा और लेखन को अपना वेवशाय बनाया। विकास दिव्यकीर्ति का जन्म 26 dec. 1973 में हरियाणा के एक छोटे से गांव में हुआ था। वहां से अपनी पढ़ाई को खत्म करने के बाद वे 1996 में UPSC परीक्षा को पास करके IAS के पद पर नियुक्त हुए। इस लेख में आगे हम आपको विकास सर के जीवन से जुड़ी कुछ बेहतरीन जानकारियों को आपके समक्ष सरल शब्दों में प्रस्तुत करने का प्रयास करेंगे।

आज सिविल सेवा की तैयारी के लिए डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति को सबसे बेहतरीन शिक्षक माना जाता है। ऐसा लोगों का कहना है कि अगर कोई बच्चा विकास सर की बताई हुई बातों का निर्देशानुसार पालन करता है तो 2 महीने के अंदर वह UPSC की परीक्षा पास कर सकता है। आज इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आखिर यूपीएससी की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए डॉ विकास दिव्यकीर्ति गुरु द्रोण की तरह क्यों माने जाते हैं।

Dr. Vikas Divyakirti Bio Profile [wiki]

नामडॉ विकास दिव्याकृति 
जन्मस्थानहरियाणा
जन्मतिथि26 दिसंबर 1973
उम्र46 वर्ष
कार्यशिक्षक और लेखक
प्रचलित होने का कारणदृष्टि कोचिंग संस्था के शिक्षक
शिक्षाBA, MA, Mphill, PhD, LLB
पत्नीतरुण दिव्यकृति वर्मा
बच्चेशाश्वत दिव्यकीर्ति
कोचिंग संस्थान का नामदृष्टि कोचिंग सेंटर

कौन है विकास दिव्यकीर्ति? | Dr. Vikas Divyakirti Biography in Hindi

डॉ विकास दिव्यकीर्ति शिक्षक और लेखक है। वर्तमान समय में वे दृष्टि नाम की शिक्षण संस्था चलाते है जहां छात्र और छात्राओं को भारतीय लोक सेवा आयोग के परीक्षा की तैयारी करवाई जाती है। अपनी शिक्षण संस्था शुरू करने से पहले डॉ विकास दिव्यकीर्ति भारत के एक मशहूर आईएएस ऑफिसर थे।

उन्होंने यूट्यूब के माध्यम से भी बहुत सारे लोगों को अलग-अलग विषयों की शिक्षा दी है। आज भारत में अगर किसी भी छात्र को लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास करनी है तो डॉ विकास दिव्यकीर्ति का यूट्यूब चैनल और उनका शिक्षण संस्था उनकी पहली पसंद होती है। इसके अलावा दृष्टि संस्था भारत की एक प्रचलित संस्था है जो आईएएस इंटरव्यू का एक मॉक टेस्ट बहुत ही बेहतरीन तरीके से आयोजित करवाता है और इसके वजह से विकास दिव्यकीर्ति सर की संस्था हमेशा सुर्खियों में बनी रहती है।

विकास दिव्यकीर्ति का प्रारंभिक जीवन | Dr. Vikas Divyakirti Early Life

विकास दिव्यकीर्ति का जन्म 26 दिसंबर 1973 को भारत के हरियाणा राज्य के एक छोटे से जिले में हुआ। इनके माता पिता अध्यापन का कार्य करते थे जिस वजह से घर में पढ़ने पढ़ाने का माहोल हमेशा बना रहा और विकास सर को पढ़ाना अच्छा लगने लगा। विकास सर को हिंदी कहानियां और हिंदी साहित्य बहुत रोचक लगता था इस वजह से उन्होंने साहित्य में पीएचडी की डिग्री हासिल की। इसके अलावा उन्होंने विभिन्न प्रकार की डिग्रियों को हासिल किया और भारत के सबसे प्रचलित यूपीएससी परीक्षा के लिए आवेदन किया।

See also  (Car Dekho) अमित जैन का जीवन परिचय | Amit Jain Biography in Hindi, Age, Net Worth, Shark Tank

हालाकि विकास सर ने इस परीक्षा के लिए अपने रिश्तेदारों के दबाव में आकर आवेदन किया था। जिस वजह से उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा में आईएएस का पद हासिल करने के बाद भी कुछ दिनों में नौकरी को छोड़ दिया। नौकरी छोड़ने से पहले कुछ महीनों तक उन्होंने अपनी एक कोचिंग संस्था चलाई जिसमें बच्चों ने उन्हें खूब प्यार दिया। जिसके बाद नौकरी छोड़कर कोचिंग संस्था चलाने का दृढ़ संकल्प उनके मन में बैठ गया। यही वह समय था जब डॉ विकास दिव्यकीर्ति ने दृष्टि कोचिंग संस्था की शुरुआत की और आज यह यूपीएससी की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए एक प्रतिष्ठित कोचिंग संस्था बन चुका है। 

प्रसिद्ध जीवनियाँ पढ़ें
कौन है द्रौपदी मुर्मू? जन्म, शिक्षा, उपलब्धियां, राष्ट्रपति बनने तक का सफर
कौन हैं पी टी उषा? (PT Usha) सम्पूर्ण जीवन परिचय
कौन है ऋषि सुनक? (Rishi Sunak) जन्म, शिक्षा, राजनीति कॅरियर, ब्रिटिश में मंत्री बनने तक का सफर
कौन हैं सिनी शेट्टी? (Sini Shetty) सिनी शेट्टी की मिस इंडिया 
Eknath Shinde Biography in Hindi | एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय

दृष्टि कोचिंग संस्था के शुरू होने के बाद भी इस संस्था को सही तरीके से चलाना और बाजार में मौजूद बाकी कोचिंग संस्थानों से ज्यादा बेहतर सुविधा देना एक बहुत बड़ा संघर्ष था। दिव्याकृति सर के पढ़ाने के तरीके ने लोगों को बहुत आकर्षित किया यूपीएससी परीक्षा को बेहतरीन अंकों से पास करने वाले शिक्षक के नेतृत्व में हर कोई पढ़ना चाहता था जिस वजह से धीरे-धीरे दृष्टि एक प्रचलित कोचिंग संस्था के रूप में उभरने लगा। इसके अलावा भारत के इंटरनेट बूम में दिव्याकृति सर ने दृष्टि के नाम से अपना एक यूट्यूब चैनल शुरू किया इस चैनल पर उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए विभिन्न प्रकार के कंटेंट अपलोड किए जो बहुत बड़ी मात्रा में लोगों को अपनी तरफ आकर्षित किया।

इस यूट्यूब चैनल ने उनके संघर्ष के दिनों को खत्म कर दिया और उनका कोचिंग दिल्ली के सर्वश्रेष्ठ आईएस बनाने वाली संस्था में से एक माना जाने लगा।

Dr. Vikas Divyakirti Full Interview Video

डॉ विकास दिव्यकीर्ति शिक्षा |Dr. Vikas Divyakirti Education

डॉ विकास दिव्यकीर्ति सर बचपन से ही पढ़ने में बहुत ही अच्छे थे। विकास सर के घर में उनके माता-पिता शिक्षक के रूप में कार्य करते थे जिस वजह से घर में पढ़ने पढ़ाने का माहौल बचपन से बना हुआ था। विकास सर को हिंदी साहित्य में काफी रूचि थी जिस वजह से सबसे पहले उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद हिंदी साहित्य से स्नातक और पोस्ट ग्रेजुएशन किस शिक्षा प्राप्त की। इसके बाद विकास सर ने दिल्ली विश्वविद्यालय से इतिहास विषय में बीए की डिग्री हासिल की। इसके बाद फिलोसोफी में एमफिल की पढ़ाई पूरी की। अंततः उन्हें हिंदी साहित्य दोबारा अपनी तरफ आकर्षित करने लगा और उन्होंने हिंदी साहित्य में पीएचडी के साथ अपने शिक्षा को पूरा किया। इसके बाद एलएलबी की डिग्री और फिर UGC JRF और समाज शास्त्र से NET की परीक्षा पास की।

See also  भारत की (ISRO महिला वैज्ञानिक) मीनल रोहित का जीवन परिचय | Minal Rohit Biography in Hindi (वेतन, परिवार, उम्र, कुल संपत्ति, शिक्षा)

इसी के साथ डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति सर के पास इतिहास में BA, फिलोसोफी में MPhil, और हिंदी साहित्य में PhD की डिग्री है। इसके अलावा उन्होंने LLB की डिग्री भी हंसिल की है। अपने पढ़ाई के क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा को पास करते हुए IAS की नौकरी हासिल की।

डॉ विकास दिव्यकीर्ति का परिवार | Dr. Vikas Divyakirti Family

डॉ विकास दिव्यकीर्ति बहुत ही सरल व्यक्तित्व के व्यक्ति है। वे अपने परिवार के साथ अधिकतर समय बिताना पसंद करते है। डॉक्टर विकास सर एक विवाहित व्यक्ति है जिनका विवाह एक अध्यापिका तरुण वर्मा के साथ 1998 में हुआ। इनका एक पुत्र भी है जिसका नाम सात्विक दिव्यकृति है।

इनकी पत्नी तरुणा दिव्याकृति विकास सर के साथ दृष्टि कोचिंग संस्था की सह संस्थापक के रूप में कार्य करती है। विकास सर का परिवार एक हंसी खुशी से खेलता हुआ परिवार है परिवारिक जीवन में कभी भी ज्यादा उतार-चढ़ाव देखने को नहीं मिले हैं।

डॉ विकास दिव्यकीर्ति सर की उपलब्धियां | Achievements of Dr. Vikas Divyakirti Sir

डॉ विकास दिव्यकीर्ति एक बहुत ही प्रचलित शिक्षक है। इन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत नाम कमाया है, आज हर छात्र और छात्रा इन्हें आईएएस बनने के क्षेत्र में परम गुरु की नजर से देखता है। इनकी कुछ महत्वपूर्ण उपलब्धियों को नीचे सूचीबद्ध किया गया है – 

  • डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति सर ने हिंदी साहित्य में पीएचडी की डिग्री हासिल की है।
  • इसके अलावा उन्होंने BA, MA, MPhil, LLB, PhD जैसी विभिन्न प्रकार की डिग्रियों को हासिल किया है।
  • दृष्टि कोचिंग को शुरू करने से पहले उन्होंने समाजशास्त्र में NET की परीक्षा उत्तीर्ण की है। 
  • प्रोफेसर के रूप में नौकरी करने के लिए उन्होंने यूजीसी जेआरएफ की परीक्षा पास की है।
  • 1996 में इन्होंने भारत की सर्वश्रेष्ठ लोक सेवा आयोग की परीक्षा को पास करते हुए IAS की नौकरी भी प्राप्त की थी।

दृष्टि कोचिंग संस्था की स्थापना | Establishment of Vision Coaching Institute

डॉ विकास दिव्यकीर्ति अपनी पढ़ाई को पूरा करने के बाद 1996 में आईएएस के रूप में नियुक्त हुए कुछ महीनों में ही उन्हें यह पता चल गया कि इस नौकरी में उनका सुख नहीं है। इस वजह से उन्होंने आईएएस की नौकरी छोड़ दी। विकास दिव्यकीर्ति सर बताते हैं कि वह 20 महीनों तक बेरोजगार रहे और उस वक्त उन्होंने उस नौकरी के लिए लोगों को तैयारी करते हुए देखा नौकरी को इन्होंने त्यागा था।

See also  सचिन पायलट का जीवन परिचय | Sachin Pilot Biography in Hindi

इसके बाद जब लोगों ने इनके अजीब से फैसले पर इन से विभिन्न प्रकार के प्रश्न पूछने शुरू किए तो इन्होंने उन्हें आईएएस परीक्षा के लिए मार्गदर्शन देना शुरू किया। इनके बताए गए तरीके और पढ़ाने की शैली ने लोगों को इस कदर अपनी तरफ आकर्षित किया कि छात्र-छात्राओं की मात्रा बहुत ही कम समय में तेजी से बढ़ने लगी। इसी को संभालने के लिए उन्होंने दृष्टि कोचिंग संस्था की शुरुआत की। शुरुआत में इस संस्था को दिल्ली जैसे जगह पर चलाना बहुत संघर्षपूर्ण था। मगर 2017 में डॉ विकास दिव्यकीर्ति ने अपना यूट्यूब चैनल शुरू किया और बच्चों को यूपीएससी परीक्षा की तैयारी से जुड़ी कुछ आवश्यक जानकारी पीना शुरू किया जिसने इन्हें भारत भर में तेजी से प्रचलित कर दिया।

डॉ विकास दिव्यकीर्ति की कोचिंग संस्था दृष्टि भारत की सबसे बड़ी यूपीएससी की तैयारी करवाने वाली संस्था में से एक मानी जाती है।

डॉ विकास दिव्यकीर्ति के बारे में रोचक तथ्य

  • भारत की सबसे कठिन माने जाने वाली यूपीएससी की सीएसई परीक्षा को विकास सर ने दो बार पास किया है। दोनों बार उन्हें आईएस पद के लिए नियुक्त किया गया है।
  • डॉ विकास दिव्यकीर्ति ने 1996 में दृष्टि कोचिंग सेंटर की स्थापना की थी जो वर्तमान समय में भारत की टॉप 5 यूपीएससी की तैयारी करवाने वाली संस्था में से एक है।
  • डॉ विकास दिव्यकीर्ति सर ने 2017 में दृष्टि यूट्यूब चैनल की शुरुआत की जहां यूपीएससी के लिए दी जाती है और वर्तमान समय में 7 मिलियन से ज्यादा सब्सक्राइब हैं।
  • डॉ विकास दिव्यकीर्ति सर के पास 5 से अधिक डिग्री मौजूद है।

डॉ विकास दिव्यकीर्ति सोशल मीडिया लिंक | Social Media Links

FacebookClick Here
InstagramClick Here
TwitterClick Here
YouTubeClick Here

डॉ विकास दिव्यकीर्ति के जीवन से जुड़े कुछ आवश्यक प्रश्न (FAQ)

Q. डॉ विकास दिव्यकीर्ति आईएएस की नौकरी क्यों छोड़ी?

Ans. विकास सर को आईएएस की नौकरी करने से ज्यादा रोचक लोगों को पढ़ाने का कार्य लगा जिस वजह से उन्होंने नौकरी छोड़ कर शिक्षण को अपना व्यवसाय बनाया।

Q. डॉ विकास दिव्यकीर्ति की पत्नी का नाम क्या है?

Ans. डॉ विकास दिव्यकीर्ति की पत्नी का नाम तरुणा दिव्यकृति वर्मा है जिनसे उनकी शादी 1998 में हुई थी।

Q. दृष्टि आईएएस कोचिंग सेंटर में कितने बच्चे पढ़ते हैं?

Ans. दृष्टि आईएएस कोचिंग सेंटर दिल्ली में स्थित है जिसमें वर्तमान समय में रोजाना 2000 से ज्यादा बच्चे पढ़ते हैं।

निष्कर्ष

आज इस लेख के माध्यम से हमने आपको डॉ विकास दिव्यकीर्ति के जीवन से जुड़े कुछ आवश्यक प्रश्नों का उत्तर दिया। अगर आप डॉ विकास दिव्यकीर्ति जीवन परिचय के इस लेख से डॉक्टर विकास सर कौन है, दृष्टि कोचिंग सेंटर कैसे शुरू हुआ, और किस प्रकार उन्होंने आईएएस की नौकरी छोड़कर आज देश में बहुत सारे आईएस को खड़ा करने का मिशन शुरू किया, जैसे सभी प्रकार के प्रश्नों का सरल शब्दों में उत्तर पाया है।

तो अंत में हम आपसे अनुरोध करना चाहेंगे कि इस लेख को आप अपने मित्रों के साथ भी साझा करें और डॉक्टर विकास दिव्यकीर्ति सर के बारे में हर किसी को बताए अगर आपके किसी प्रश्न का उत्तर रह गया है तो कमेंट करके हमें अवश्य बताएं।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja