भारत की (ISRO महिला वैज्ञानिक) मौमिता दत्ता का जीवन परिचय | Moumita Dutta Biography in Hindi (वेतन, परिवार, उम्र, कुल संपत्ति, शिक्षा)- चंद्रयान-3

ISRO Scientist Moumita Dutta Biography in Hindi

Moumita Dutta Biography in Hindi: जैसा कि आप लोगों को मालूम है कि हाल के दिनों में (ISRO) इसरो के द्वारा आदित्य -1 मिशन लॉन्च कर दिया गया है जिसका उद्देश्य सूर्य के बारे में गहन जानकारी हासिल करना है ताकि सूर्य के बारे में और भी ज्यादा जानकारी इकट्ठा की जा सके हम आपको बता देंगे हाल के दिनों में भारत ने चंद्रयान-3 मिशन में एस सोमनाथ की अध्यक्षता में इसरो ने विभिन्न अंतरिक्ष अभियानों का सफलतापूर्वक नेतृत्व किया है। जिनमें से एक थी चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर चंद्रयान-3 की सॉफ्ट लैंडिंग और अब सूर्य की ओर भारत की पहली यात्रा भी की है। अभूतपुर सफलता प्राप्त की है इसके पीछे (ISRO Team) नारी शक्ति की बहुत अहम भूमिका रही है उन्हें नारी शक्ति में से एक मौमिता दत्ता भी है जो चंद्रयान-3 मिशन सफल करने में उनकी भूमिका अहम रही थी यही वजह है कि आज के समय मीडिया में Moumita Dutta चर्चा का विषय बनी हुई है और सभी लोग इनके बारे में जानना चाहते हैं कि Moumita Dutta Koun Hai मौमिता दत्ता का प्रारंभिक जीवन परिवार शिक्षा करियर कुल संपत्ति सैलरी पुरस्कार और सम्मान सोशल मीडिया लिंक इत्यादि के बारे में अगर आप कुछ भी नहीं जानते हैं तो आज के आर्टिकल में हम आपको Chandrayaan-3 Mission) ISRO Scientist Moumita Dutta Biography in Hindi, Indian Physicist Moumita Dutta Jivani in Hindi संबंधित पूरी जानकारी आपके साथ साझा करेंगे इसलिए अनुरोध है कि आर्टिकल पर बने रहे हैं आईए जानते हैं-

इसरो वैज्ञानिक मौमिता दत्ता | Moumita Dutta Biography in Hindi- Overview

आर्टिकल का प्रकारजीवन परिचय (Biography)
आर्टिकल का नामMoumita Dutta Biography in Hindi
कौन है(ISRO) इसरो की भौतिक शास्त्री वैज्ञानिक (Physicist Scientist)
चर्चा में क्यों हैचंद्रयान-3 मिशन के सफलता होने के पश्चात
उम्र क्या है?जानकारी उपलब्ध नहीं है

मौमिता दत्ता का प्रारंभिक जीवन | Moumita Dutta Early Life

इसरो वैज्ञानिक मौमिता दत्ता का जन्म बंगाल में हुआ है और हम आपको बता दें कि इनका लालन पोषण पश्चिम बंगाल के एक संपन्न बंगाली परिवार में हुआ है बचपन से ही उनकी रुचि विज्ञान में अधिक थी यही वजह है कि उन्होंने बाल्यावस्था से ही वैज्ञानिक बने का लक्ष्य निर्धारित कर लिया था हम आपको बता दे कि उनके माता-पिता के बारे में इंटरनेट पर कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है हालांकि हम आपको बता दें कि मौमिता दत्ता को वैज्ञानिक बनने में उनके माता-पिता का काफी विशेष योगदान रहा है क्योंकि उन्होंने अपनी बेटी को हर कदम पर प्रोत्साहन और सहयोग दिया है |

See also  कौन हैं संकेत महादेव सागर? रिकार्ड्स, मेंडल्स, शिक्षा, परिवार कॉमनवेल्थ गेम्स 2022| Sanket Mahadev Sagar Biography Hindi

ये भी पढ़ें:- गूगल चांद पर सबसे पहले कौन गया था | चाँद पर जाने वाले लोगों के नाम

मौमिता दत्ता का शिक्षा | Moumita Dutta Education

मौमिता दत्ता ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा  बंगाली मीडियम स्कूल से पूरा किया इसके बाद इन्होंने साइंस से बीटेक की डिग्री प्राप्त की और फिर अप्लाइड फिजिक्स में M-TECH की डिग्री पूरी की जिसके बाद इन्होंने ISRO ज्वाइन करने का फैसला किया |

भारतीय भौतिकशास्त्री मौमिता दत्ता का परिवार | Moumita Dutta Family

भारतीय भौतिक शास्त्री मौमिता दत्ता के परिवार के बारे में अगर हम बात करें तो उनके परिवार के बारे में कोई भी जानकारी इंटरनेट पर उपलब्ध नहीं है जैसे ही कोई जानकारी आएगी हम आपको तुरंत अपडेट करेंगे तब तक आप हमारे साथ आर्टिकल पर बने

इसरो वैज्ञानिक मौमिता दत्ता का करियर | ISRO Scientist Moumita Dutta Career

ISRO Scientist Moumita Dutta: करियर के बारे में बात करें तो काम करते हैं। दत्ता ने राजाबाजार साइंस कॉलेज , कलकत्ता विश्वविद्यालय से एप्लाइड फिजिक्स में एमटेक की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद 2006 में इसरो उन्होंने ज्वाइन किया अहमदाबाद शाखा से हम आपको बता दे  तब से वह ओशनसैट, रिसोर्ससैट, हाईसैट, चंद्रयान I और मार्स ऑर्बिटर मिशन जैसी कई प्रतिष्ठित परियोजनाओं को सफल करने में उनकी भूमिका काफी महत्वपूर्ण रही थी हम आपको बता दे की मौमिता दत्ता ( Moumita Dutta) को मंगल ग्रह के लिए मीथेन सेंसर के लिए प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में काम करने के लिए चुना गया था इसके बाद उन्होंने उन्हें सेंसर के संपूर्ण ऑप्टिकल सिस्टम, अनुकूलन और लक्षण वर्णन और अंशांकन के विकास जिम्मेदारी बखूबी निभाई जिसके कारण यह मंगल ग्रह भारत का सफल साबित हुआ था  इसके अलावा हम आपको बता दें कि हाल के दिनों में चंद्रयान 3 मिशन में भी उनकी भूमिका अहम रही थी  इसके बाद यह उनकी चर्चा मीडिया में तेजी के साथ हो रही है और इस विषय में देश के प्रधानमंत्री ने भी इसरो में काम करने वाली वैज्ञानिक महिलाओं के प्रति अपना आभार व्यक्त किया था और उन्होंने कहा था कि भारत चंद्रयान-3 के मिशन में अगर सफल हो पाया है तो उसके पीछे नारी शक्ति की सबसे अहम भूमिका है इसलिए हम सभी लोगों को नारी शक्ति के शक्ति को और भी ज्यादा मजबूती के साथ दुनिया के पटल पर रखना चाहिए और उन्हें हर संभव सहयोग और प्रोत्साहन देना चाहिए | आज की तारीख में मौमिता दत्त इसरो में ऑप्टिकल उपकरणों (यानी इमेजिंग स्पेक्ट्रोमीटर) के स्वदेशी विकास में एक टीम का नेतृत्व भी कर रही है ताकि भारत सरकार के द्वारा जारी किया गया “मेक इन इंडिया” अवधारणा को साकार करने के लक्ष्य को पूरा किया जा सके मौमिता दत्त के अनुसंधान क्षेत्र में गैस सेंसर का लघुकरण शामिल है जिसमें प्रकाशिकी के क्षेत्र में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियां शामिल हैं।

See also  खान सर (फैजल खान) का सम्पूर्ण जीवन परिचय | यूट्यूब चैनल, शिक्षा, परिवार, निकाह, सम्पति Khan Sir Biography in Hindi & Social Media Links

Chandrayaan-3 LIVE Updates

मौमिता दत्ता की कुल संपत्ति और सैलरी | (Chandrayaan-3) ISRO Scientist Moumita Dutta Salary

Chandrayaan-3 मिशन में एम भूमिका निभाने वाली ममता दत्ता की कुल संपत्ति और सैलरी के बारे में अगर हम बात करें तो इंटरनेट पर इसके बारे में कोई जानकारी हालांकि उपलब्ध नहीं है फिर भी हम आपको बता दें कि इसरो में काम करने वाले सीनियर वैज्ञानिकों को सरकार के द्वारा 70000 से लेकर 80000 के बीच दिया जाता है और जो लोग प्रोजेक्ट मैनेजर के पद पर नियुक्त होते हैं उनकी सैलरी 2.6 lack रुपए होती है ऐसे में हम आपको बता दे की मौमिता दत्ता की कुल सैलरी कितनी है इसके बारे में कोई जानकारी अभी तक इंटरनेट पर उपलब्ध नहीं है और ना ही उनकी संपत्ति के बारे में जैसे ही कोई जानकारी आएगी हम आपको तुरंत अपडेट कर देंगे

भारत ने रच दिया इतिहास, चांद पर चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग

मौमिता दत्ता के पुरस्कार और सम्मान | Moumita Dutta Awards & Achievements

Moumita Dutta को मिलने वाले पुरस्कार और सम्मान की सूची का विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं-

पुरस्कार (Awards)

●  मंगलयान के लिए इसरो टीम ऑफ एक्सीलेंस अवार्ड उनको दिया गया था |

Also Read: कल्पना चावला का जीवन परिचय

मौमिता दत्ता के बारे में रोचक जानकारी | Interesting Facts about Indian Physicist Moumita Dutta Summary

Indian Physicist Moumita Dutta के बारे में अगर आप रोचक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो उसका विवरण हम नीचे दे रहे हैं आईए जानते हैं-

●  मौमिता दत्ता एक बंगाली परिवार से संबंध रखते हैं |

See also  Savitribai Phule Speech in Hindi | सावित्रीबाई फुले भाषण हिंदी में 

●  इनका जन्म बंगाल में हुआ है

●  2006 में इन्होंने इसरो ज्वाइन किया था

●  मंगल मिशन के लिए मौमिता दत्ता को को प्रोजेक्ट मैनेजर नियुक्त किया गया था |

●  मंगल आर्बिटर मिशन को सफल करने में मौमिता दत्ता  भूमिका अहम थी |

ये भी पढ़ें:- भारत की महिला (इसरो वैज्ञानिक) नंदिनी हरिनाथ का जीवन परिचय 

FAQ’s Indian Physicist Moumita Dutta Biography

मौमिता दत्ता कौन है?

Ans. मौमिता दत्त एक भौतिक शास्त्री इसरो विज्ञानी के जिन्होंने चंद्रयान-3 मिशन को सफल करने में अहम भूमिका निभाया था |

Q. मौमिता दत्ता का जन्म कहां हुआ था?

Ans  मौमिता दत्ता का जन्म बंगाल के बंगाली परिवार में हुआ था |

Q. मौमिता दत्ता उम्र कितनी है?

Ans. मौमिता दत्ता उम्र कितनी है उसके बारे में कोई जानकारी अभी तक इंटरनेट पर उपलब्ध नहीं है जैसे ही जानकारी आएगी हम आपको तुरंत अपडेट कर देंगे |

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja