विश्व मानवाधिकार दिवस पर निबंध हिंदी में | Human Rights Day essay

By | नवम्बर 29, 2022
Human Rights Day essay

विश्व मानवाधिकार दिवस पर निबंध:- विश्व भर में मानवाधिकार की रक्षा को और भी ज्यादा मजबूत करने के उद्देश्य से 10 दिसंबर को विश्व मानवाधिकार दिवस मनाया जाता है . इस दिन विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जिसमें लोगों को मानवाधिकार के प्रति जागरूक किया जाता है . ताकि लोगों को समझ में आ सके कि मानवाधिकार दिवस क्या होता है? ताकि हर एक व्यक्ति अपने अधिकारों को जान सके ऐसे में अगर आप विश्व मानव अधिकार दिवस पर निबंध लिखना चाहते हैं लेकिन आपको समझ में नहीं आ रहा है कि Human Rights Day essay कैसे लिख सकते हैं तो हम आपसे निवेदन करेंगे कि हमारे आर्टिकल पर आखिर तक बने रहे हैं चलिए शुरू करते हैं

अखिल भारतीय हस्तशिल्प सप्ताह 2022

यूनिसेफ दिवस कब, क्यों, कैसे मनाया जाता है।

Human Rights Day essay 2022

आर्टिकल का प्रकारनिबंध
आर्टिकल का नामविश्व मानवाधिकार दिवस
मानवाधिकार दिवस कब मनाया जाता है10 दिसंबर को
कहां मनाया जाता हैपूरे विश्व भर में
क्यों मनाया जाता हैमानव के अधिकार की रक्षा के लिए
भारत में कब मनाया जाता है10 दिसंबर को

Human Rights Day Essay in Hindi

परिचय : मानवाधिकार दिवस 10 दिसंबर को पूरे विश्व भर में हर्षोल्लास और उत्साह के साथ मनाया जाता है इस दिन हर एक देश के प्रतिनिधि और मानवाधिकार के क्षेत्र में काम करने वाले जितने भी संगठन है I उन्हें आमंत्रित किया जाता है I ताकि लोगों के द्वारा जानकारी हासिल की जा सके कि मानवाधिकार के क्षेत्र में और क्या नया हमें करना चाहिए ताकि मानव के अधिकार को और भी मजबूत और सशक्त किया जा सके इस दिन विभिन्न प्रकार के लोग एक जगह सम्मिलित होकर इस महा उत्सव को काफी उत्साह के साथ मनाते हैं I

मानवाधिकार दिवस क्यों मनाया जाता है?

मानव अधिकार दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य किसी व्यक्ति के मानवाधिकारों की रक्षा करना और साथ में बढ़ावा देना इसके अलावा मानव के जितने भी बुनियादी अधिकार है उनकी रक्षा करना मानव अधिकार के अंतर्गत आता है यही वजह है कि 10 दिसंबर को पूरे विश्व में मानवाधिकार दिवस मनाया जाता है I इस दिन प्रत्येक मानव को जागरूक करने का भी काम किया जाता है ताकि हर एक इंसान जान सके कि उसके अधिकार क्या-क्या हैं ताकि कोई भी व्यक्ति उनके अधिकारों का हनन ना कर सके I

READ  Happy New Year Wishes in Hindi | नव वर्ष हार्दिक शुभकामनाएं सन्देश

विश्व मानवाधिकार दिवस पर निबंध हिंदी में

पूरी दुनिया में मानव के अधिकारों का संरक्षण और उनकी रक्षा अच्छी तरह से हो सके इस बात को ध्यान रखते हुए संयुक्त राष्ट्र संघ ने 1948 में विश्व मानव अधिकार आयोग का गठन किया जिसके बाद से ही 10 दिसंबर को पूरे विश्व भर में विश्व मानव अधिकार दिवस मनाने की आधिकारिक घोषणा की गई तब से लेकर अब तक यह परंपरा कायम है और आगे भी कायम रहेगीI

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (भारत)

भारत का राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का गठन भारत में 12 अक्टूबर 1993 में किया गया था इसका प्रमुख काम भारत में मानव अधिकारों की रक्षा करना है और अगर कोई व्यक्ति मानव अधिकारों का उल्लंघन करने का प्रयास करता है तो उसके खिलाफ में रिपोर्ट लिखने का काम भी करता है ताकि उसके ऊपर कार्रवाई की जा सके भारत का मानव अधिकार आयोग भी मानव अधिकार दिवस के दिन मानव अधिकार संगठन में सम्मिलित होता है ताकि भारत वहां पर अपने देश में मानवाधिकार के क्षेत्र में काम कैसा हो रहा है उसकी पूरी रिपोर्ट और रूपरेखा वहां पर प्रस्तुत कर सके  I भारत का मानव अधिकार आयोग का हेड क्वार्टर नई दिल्ली में है और राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस के दिन विभिन्न प्रकार के नौकरशाह और बड़े-बड़े मंत्री गणित में सम्मिलित होकर अपनी विचारधारा रखते हैं ताकि भारत में किसी भी व्यक्ति का मानवाधिकार का हनन ना हो सके

मानवाधिकार क्या हैं?

मानव अधिकार वे मूल अधिकार हैं, जो इस धरती पर प्रत्येक व्यक्ति के पास हैं। मानवाधिकार मौलिक अधिकार और स्वतंत्रता हैं। इसके अंतर्गत व्यक्ति को अपने मुताबिक जीने का हक है इसके अलावा व्यक्ति का धर्म भाषा और उसकी जाति का हनन कोई भी दूसरा व्यक्ति नहीं कर सकता है क्योंकि उसे इस प्रकार के अधिकार जन्म से ही मिले हैं इन सभी चीजों को मानवाधिकार के अंतर्गत सम्मिलित किया गया है I आसान शब्दों में समझें तो मानवाधिकार मनुष्य को जोड़ने वाला वह अधिकार है जिसके अंतर्गत प्रत्येक मनुष्य को सामान्य जीवन जीने का हक है बिना किसी भेदभाव के I

READ  100 + वैलेंटाइन डे शायरी हिंदी में | Valentine's Day Shayari in Hindi, Romantic Shayari 2023

मानवाधिकार दिवस पर निबंध 500 शब्दों में

मानवाधिकार दिवस 10 दिसंबर को संयुक्त राष्ट्र संघ के द्वारा घोषित किया गया तब से अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस पूरे विश्व में मनाया जाता है I मानवाधिकार अंतर्गत पुरुष महिला सभी को एक समान अधिकार है ना कोई छोटा ना कोई बड़ा I मानवाधिकार का प्रमुख उद्देश्य विश्व में व्याप्त यौन उत्पीड़न बलात्कार महिलाओं जातिभेद, बाल शोषण, बाल मजदूरी, भेदभाव, लूटपाट जैसी समस्याओं को समाप्त करना है I

मानवाधिकार के प्रकार

मानवाधिकार प्रत्येक देश अपने नागरिक को संविधान के मुताबिक देता है मानवाधिकार निम्नलिखित प्रकार के होते हैं जिसका विवरण हम आपको नीचे बिंदु अनुसार देंगे आइए जानते हैं –

  • विश्वास एवं धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार
  • भेदभाव से आजादी का अधिकार
  • सामाजिक सुरक्षा का अधिकार
  • अभिव्यक्ति की आजादी
  • कानूनी सहायता लेने का अधिकार
  • जीवन और आजाद रहने का अधिकार
  • संस्कृतिक गतिविधियों में भाग लेने का अधिकार
  • शिक्षा का अधिकार
  • भोजन का अधिकार
  • काम करने का अधिकार
  • बराबरी एवं सम्मान का अधिकार
  • स्त्री-पुरुष को समान अधिकार है
  • शोषण से रक्षा का अधिकार
  • समानता का अधिकार

मानवाधिकार दिवस का महत्त्व

मानव अधिकार को सम्मान देने के उद्देश्य मानव अधिकार दिवस मनाया जाता है जैसा कि आप जानते हैं कि ईश्वर ने कभी भी छोटे बड़े का भेदभाव नहीं किया लेकिन हम मनुष्य छोटे बड़े का भेदभाव करते हैं और साथ में दूसरे मनुष्य से नफरत करते हैं इन सब कुरीतियों को दूर करने के लिए मानव अधिकार दिवस मनाया जाता है ताकि प्रत्येक मनुष्य को जागरुक किया जा सके इस पृथ्वी पर व्याप्त सभी मनुष्य एक समान है ना कोई छोटा ना कोई बड़ा और एक मनुष्य को दूसरे मनुष्य का सम्मान करना चाहिए ना कि उनके अधिकारों का हनन यही वजह है कि मानव अधिकार दिवस के द्वारा प्रत्येक नागरिक को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जा रहा है ताकि कोई भी व्यक्ति उनके अधिकारों हनन ना कर सके इसके अलावा प्रत्येक मनुष्य अपनी इच्छानुसार किसी भी धर्म का पालन करने की अनुमति देती है। इसके अलावा इसका मतलब यह भी है कि कोई भी स्वतंत्र रूप से सोच सकता है।

READ  Parakram Diwas Essay in Hindi 2023 | पराक्रम दिवस पर निबंध हिंदी में

लेकिन दिन प्रतिदिन दुनिया भर से मानव अधिकारों के उल्लंघन की कई घटनाएं हमारे सामने आती है जहां पर गरीब लोगों के अधिकारों का हनन अमीर लोगों के द्वारा काफी अधिक मात्रा में किया जाता है यही वजह है कि गरीब लोगों के अधिकारों की रक्षा करने के उद्देश्य मानव अधिकार दिवस मनाया जाता है ताकि गरीबों को उनके अधिकार क्या है उसके बारे में जागरूक किया जा सके

मानवाधिकार दिवस का उत्सव

मानवाधिकार दिवस पुरे विश्व में जोरों शोरों से मनाया जाता है।  करोड़ों की संख्या में ऐसे लोग हैं जिनके अधिकारों का हनन रोज होता है यही वजह है कि प्रत्येक साल मानवाधिकार दिवस मनाकर उन लोगों को जागरुक करने का काम किया जाता है मानव अधिकार दिवस के दिन सरकारी संस्थानों स्कूल और कॉलेजों में विभिन्न प्रकार के प्रतियोगिता जैसे चित्र  निबंध नाटक लेखन भाषण आयोजित किए जाते हैं ताकि छात्र उसमें सम्मिलित होकर मानवाधिकार दिवस के ऊपर अपनी विचारधारा को रख सके और साथ में दूसरे लोगों को भी जागरूक करने का काम करते हैं I जो छात्र मानवाधिकार दिवस के दिन आयोजित प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन करते हैं उन्हें पुरस्कृत भी किया जाता है I

FAQ’s Human Rights Day essay

Q. मानवाधिकार दिवस कब मनाया जाता है?

Ans. 10 दिसंबर को पूरे विश्व में मानवाधिकार दिवस मनाया जाता है I

Q.10 दिसंबर को क्या मनाया जाता है?

Ans विश्व मानवाधिकार दिवस 10 दिसंबर को मनाया जाता है I

Q. भारत में मानवाधिकार आयोग का गठन कब हुआ?

Ans. भारत में मानवाधिकार आयोग का गठन 12 अक्टूबर 1993 में हुआ था I

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *