(Minority Rights Day 2022) अल्पसंख्यक अधिकार दिवस कब, क्यों, कैसे मनाता जाता हैं।

By | नवम्बर 29, 2022
Minority Rights Day

Minority Rights Day 2022:- 18 दिसंबर को पूरे विश्व में अल्पसंख्यक अधिकार दिवस मनाया जाता है . इस दिन अल्पसंख्यक समुदाय के अधिकारों को और ज्यादा कैसे मजबूत और सशक्त किया जाए उसके बारे में लोगों को जागरूक किया जाता है . जैसा कि आप जानते हैं कि दुनिया के प्रत्येक देश में अल्पसंख्यक लोग निवास करते हैं और ऐसे में अल्पसंख्यक लोगों के अधिकार का हनन ना हो उसकी देखरेख करने की जिम्मेदारी अल्पसंख्यक अंतरराष्ट्रीय समुदाय संस्था की होती है जो अल्पसंख्यक के अधिकारों के क्षेत्र में काम करता है भारत में भी अल्पसंख्यक समुदाय के लोग रहते हैं और उनके अधिकारों की रक्षा करने के लिए भारत में अल्पसंख्यक मंत्रालय बनाया गया है ऐसे में आप लोगों के मन में सवाल आएगा कि अल्पसंख्यक अधिकार दिवस कब है? अल्पसंख्यक अधिकार दिवस कब मनाया जाएगा, अल्पसंख्यक अधिकार क्या क्या है? राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग क्या है विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस की विशेषता क्या है अगर आप इसके बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं तो हमारे साथ आर्टिकल पर बने रहे चलिए शुरू करते हैं-

Minority Rights Day 2022

आर्टिकल का प्रकारमहत्वपूर्ण दिवस
आर्टिकल काअल्पसंख्यक अधिकार दिवस
कब मनाया जाएगा  18 दिसंबर को
कहां मनाया जाएगा  पूरे विश्व भर में
क्यों मनाया जाता है  अल्पसंख्यक अधिकारों की रक्षा करने के लिए
भारत में अल्पसंख्यक दिवस कब मनाया जाता है  18 दिसंबर को

अल्पसंख्यक अधिकार दिवस कब हैं?

अल्पसंख्यक अधिकार दिवस 18 दिसंबर को पूरे विश्व भर में हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ मनाया जाएगा इस दिन विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे और उन कार्यक्रम में अल्पसंख्यक के अधिकार के क्षेत्र में काम करने वाले जितने भी संगठन और प्रतिनिधि उन्हें आमंत्रित किया जाएगा ताकि इस महा उत्सव में अपने विचार रख सके और किस प्रकार अल्पसंख्यक लोगों के अधिकार को और भी ज्यादा मजबूत और सशक्त करना है उसकी रूपरेखा अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के दिन ही तैयार की जाती है

READ  100+ हैप्पी वैलेंटाइन डे स्टेटस | Happy Valentines Day Status in Hindi, Valentine's Day WhatsApp SMS, Status

अल्पसंख्यक अधिकार दिवस कब मनाया जाता हैं?

18 दिसंबर को पूरे विश्व भर में अल्पसंख्यक अधिकार दिवस मनाया जाएगा I

अल्पसंख्यक अधिकार क्या-क्या है? minority rights kya hai

  • अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को वैसे ही अधिकार प्राप्त होने चाहिए जैसे अधिकार बहुसंख्यक लोगों को मिलता है
  • अपनी मर्जी के मुताबिक जीने का अधिकार है
  • अपनी इच्छा के अनुसार धर्म को त्यागने और स्वीकार करने का भी अधिकार है
  • अल्पसंख्यक वर्ग के बच्चों को भी पढ़ाई करने और आगे बढ़ने का अधिकार है
  • उनको आगे बढ़ने का समान अवसर देना अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों का अधिकार है
  •  सभी अल्पसंख्यकों को उनकी भाषा, लिपि तथा संस्कृति के संरक्षण का अधिकार उनको प्राप्त है
  • सभी अल्पसंख्यकों को अपनी मर्जी के अनुसार शैक्षणिक संस्थान खोलने का अधिकार है और साथ में अपनी संस्कृति और परंपरा को भी अपने मुताबिक संचालन करने का अधिकार उन्हें प्राप्त है
  • इसके अलावा अल्पसंख्यक लोगों को और भी अधिक अधिकार प्राप्त किए गए हैं ताकि उनका शोषण ना किया जा सके

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग क्या है? National Minority Ayog

जैसा कि आप जानते हैं कि भारत दुनिया का एक ऐसा देश है जहां पर विभिन्न धर्म के मानने वाले लोग रहते हैं ऐसे में भारत में भी अल्पसंख्यक वर्ग के लोग निवास करते हैं उनके अधिकारों का हनन ना हो सके उसके लिए भारत सरकार ने देश में राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग का गठन किया है सर्वप्रथम 1978 में राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग गैर  वैधानिक निकाय के रूप में स्थापित किया गया था जिसे बाद में 1993 मेंसंसद के द्वारा बिल लाकर संविधानिक निकाय बनाया गया इसका प्रमुख कारण भारत में रहने वाले अल्पसंख्यक लोगों के अधिकारों की रक्षा करना है और उनका उत्थान और विकास कैसे हो सके उसकी योजना का निर्माण भी इनके द्वारा किया जाता है

READ  100+New Year Thoughts in Hindi | नव वर्ष सुविचार हिंदी में

विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस की विशेषताएं

विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के अगर हम विशेषताओं के बारे में बात करें तो इसकी प्रमुख विशेषताएं या है इस दिवस के माध्यम से दुनिया के जितने भी देश है जहां पर अल्पसंख्यक वर्ग के लोग निवास करते हैं उनके अधिकारों के बारे में यहां पर चर्चा करना और साथ में अल्पसंख्यक समुदाय को कैसे मजबूत और सशक्त किया जा सके ताकि उनको भी वह अधिकार मिल सके जो बहुसंख्यक लोगों को अपने देश में प्राप्त है

इसके अलावा उनके विकास और उत्थान के लिए योजना का निर्माण करना और किस प्रकार उन्हें बहुसंख्यक वर्ग के लोगों की तरह एक कतार में लाया जाए उसके लिए निरंतर प्रयास करना इसलिए हम कह सकते हैं कि विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस मना कर पूरे दुनिया में लोगों को जागरूक किया जाता है कि अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को भी हुआ अधिकार मिलने चाहिए जो अधिकार प्रत्येक बहुसंख्यक लोगों को प्राप्त है

दुनिया के कई ऐसे देश हैं जहां पर अल्पसंख्यक की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है उदाहरण के तौर पर हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान वहां पर आए दिन कोई ना कोई हिंदुओं के साथ घटना घटित होती जाती है क्योंकि पाकिस्तान एक इस्लामिक देश है और यहां पर अधिकांश जनसंख्या मुसलमानों की यही वजह है कि हिंदुओं के साथ वहां पर भेदभाव जैसी घटनाएं घटित होती रहती हैं I

FAQ’s Minority Rights Day

Q. राष्ट्रीय अल्पसंख्यक अधिकार दिवस कब मनाया जाता है?

Ans. राष्ट्रीय अल्पसंख्यक अधिकार दिवस 18 दिसंबर को भारत में हर्षोल्लास और धूमधाम के साथ मनाया जाता है

READ  गणतंत्र दिवस पर देशभक्ति गीत | Desh bhakti Geet Hindi writing

Q. राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग का गठन आधिकारिक तौर पर कब हुआ था?

Ans. 1993 में संसद में अधिनियम लाकर राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग को वैधानिक मान्यता दी गई थी

Q. भारत में अल्पसंख्यक वर्ग के लोग कौन-कौन हैं?

Ans. भारत में मुसलमान बौद्ध पारसी जैन सिख इन सभी को अल्पसंख्यक मान जाता है I

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *