National Mathematics Day 2022 | गणित दिवस कब है, कैसे और क्यों मनाया जाता है?

National Mathematics Day

National Mathematics Day 2022:- राष्ट्रीय गणित दिवस 22 दिसंबर को भारत में हर्षोल्लास और धूमधाम के साथ मनाया जाएगा इस दिन विभिन्न प्रकार सांस्कृतिक और एजुकेशन से जुड़े हुए कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे , जिसमें महान गणितज्ञ श्रीनिवास अयंगर रामानुजन को श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है I उनके जन्मदिन के उपलब्ध में ही राष्ट्रीय गणित दिवस भारत में 22 दिसंबर को मनाया जाता है I ऐसे में आप लोगों के मन में सवाल आता होगा कि राष्ट्रीय गणित दिवस क्या है? राष्ट्रीय गणित दिवस कब मनाया जाता है? राष्ट्रीय गणित दिवस के उद्देश? राष्ट्रीय गणित दिवस पर भाषण कैसे प्रस्तुत करेंगे ऐसे तमाम चीजों के बारे में अगर आप कुछ भी नहीं जानते हैं तो हम आपसे निवेदन करेंगे कि हमारे साथ आर्टिकल पर बने रहे हैं चलिए शुरू करते हैं-

National Mathematics Day 2022

आर्टिकल का प्रकारमहत्वपूर्ण दिवस
आर्टिकल का नामराष्ट्रीय गणित दिवस
साल2022
कब मनाया जाएगा22 दिसंबर को
कहां मनाया जाएगापूरे भारत में
क्यों मनाया जाएगागणित के क्षेत्र में युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए

राष्ट्रीय गणित दिवस क्या है? National maths Day

राष्ट्रीय गणित दिवस भारत के द्वारा मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण दिवस है इस दिन हम सभी लोग महान गणितज्ञ श्रीनिवास अयंगर रामानुजन को श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है  I उन्होंने गणित के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिया था I उनके द्वारा गणित के क्षेत्र में बनाए गए अनंत श्रृंखला, संख्या सिद्धांत, गणितीय विश्लेषण इत्यादि का अध्ययन आज साइंस और मैथ के की पढ़ाई करने वाले प्रत्येक छात्र को करनी पड़ती है I यही वजह है कि 2012 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उनकी 125 की वर्षगांठ के उपलक्ष में इस बात की घोषणा की कि भारत में अब से 22 दिसंबर राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाया जाएगा I तभी से यह परंपरा शुरू हुई और आज तक कायम है I

See also  राजीव गांधी जयंती 2023 | राजीव गांधी जयंती के बधाई संदेश | Rajiv Gandhi Jayanti Wishes Message Quotes, Wallpapers &HD Photos, Poster

राष्ट्रीय गणित दिवस कब मनाया जाता हैं? National Mathematics Day

राष्ट्रीय गणित दिवस 22 दिसंबर 2022 को भारत में उत्साह पूर्वक और धूमधाम के साथ मनाया जाएगा इस दिन विभिन्न प्रकार के स्कूल और कॉलेजों में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे I जिसमें छात्रों को महान गणितज्ञ श्रीनिवास अयंगर रामानुजन के जीवन के बारे में जानकारी दी जाएगी I ताकि छात्रों के जीवन से प्रेरणा ले सकें I इसके द्वारा उनके द्वारा बनाए गए मैथमेटिक्स के विशेष नियम और सिद्धांत छात्रों को बताया जाएगा I ताकि हम सभी लोग जान सके कि मैथमेटिक्स में उनका क्या योगदान है I

राष्ट्रीय गणित दिवस के उद्देश्य | Mathematics Day

राष्ट्रीय गणित दिवस का प्रमुख उद्देश्य लोगों के मन में मैथमेटिक्स के प्रति जागरूकता पैदा करना है I जैसा कि आप जानते हैं कि कई लोग mathematics से बहुत डरते हैं क्योंकि ने मैथमेटिक्स समझ में नहीं आता है I इस दिवस के माध्यम से लोगों के दिलों से मैथमेटिक्स के डर को दूर किया जाता है I इसके अलावा मैथमेटिक्स का हमारे जीवन में क्या महत्व है I  उसके बारे में भी लोगों को जागरूक करना राष्ट्रीय गणित दिवस का प्रमुख उद्देश है I

राष्ट्रीय गणित दिवस पर भाषण National Mathematics Day Speech in Hindi

मेरे प्यारे सहपाठियों और माननीय शिक्षक और प्रधानाचार्य,

आप सभी को राष्ट्रीय गणित दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं आज मैं इस मंच पर राष्ट्रीय गणित दिवस पर अपना भाषण आप लोगों के समक्ष प्रस्तुत करूंगा यह मेरा सौभाग्य है कि आपने मुझे ऐसे महान व्यक्तित्व के जीवन के ऊपर भाषण देने का अवसर प्रदान किया जैसा कि आप लोग जानते हैं I  भारत में राष्ट्रीय गणित दिवस महान गणितिज्ञ श्रीनिवास रामानुजन की याद में मनाया जाता है। इनकी गणना आधुनिक भारत के उन व्यक्तित्व में की जाती है जिन्होंने मैथमेटिक्स को पूरी दुनिया में प्रचार और प्रसार करने का काम किया गणना । श्रीनिवासन रामानुजन का जन्म 22 दिसम्बर 1887 को मद्रास से 400 किलोमीटर दूर ईरोड नगर में मे हुआ था I

See also  Road safety week 2023 | सड़क सुरक्षा सप्ताह क्या है?

श्रीनिवासन रामायण ब्राह्मण परिवार से आते हैं इनके पिता कुम्भकोणम मे स्थित कपड़ा व्यापारी के यहां मुनीम का काम किया करते थे I इनकी प्रारंभिक शिक्षा  कुम्भकोणम के प्राइमरी स्कूल में हुई। इसके बाद श्रीनिवासन रामानुजन 1898 में आपने टाउन हाई स्कूल में प्रवेश लिया और वहां पर उन्होंने सभी सब्जेक्ट में अच्छे नंबर प्राप्त की है उसी समय उन्हें रामानुजन को जी. एस. कार की गणित पर लिखी पुस्तक पढ़ने का अवसर मिला। इसी पुस्तक से प्रभावित अगर उन्होंने मैथमेटिक्स में अपना करियर बनाने के बारे में सोचा उनका बचपन काफी गरीबी और कठिनाइयों से गुजरा है जब वह बचपन में स्कूल में जाते थे तो उनके पास किताब खरीदने के पैसे नहीं होते थे इसलिए वह दूसरे लोगों से किताब उधार लेकर पढ़ा करते थे I

Maths Day Speech in Hindi

उनके बारे में कहा जाता है कि उनका रुचि केवल मैथमेटिक्स में था और दूसरे विषय में उन्हें का कोई भी रुचि नहीं था I यही वजह उन्हें एग्जाम पास करने में कठिनाई का सामना करना पड़ा था I सबसे महत्वपूर्ण बात है कि मैथ मैटिक्स में उनके नंबर 100 % आते थे I  युवावस्था में आने वाले घर की आर्थिक स्थिति को ठीक करने के लिए उन्होंने क्लर्क की नौकरी कर लिया था और अक्सर खाली पन्नों पर गणित के प्रश्न हल किया करते थे I  एक दिन एक अँग्रेज़ की नजर इन पन्नों पड़ गया और उन्होंने श्रीनिवासा रामानुजन को ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के प्रो. हार्डी के पास भेजने का प्रबंध कर दिया जहां पर उनके अंदर छिपी प्रतिभा को पहचाना गया और उसके बाद उनकी ख्याति और प्रसिद्धि पूरे विश्व भर में फैल गई जिसके बाद पूरी दुनिया ने उन्हें एक महान गणितज्ञ माना I

See also  International Education Day 2023 | अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा दिवस कब और कैसे बनाया जाता है?

FAQ’s National Mathematics Day 2022

Q. राष्ट्रीय गणित दिवस कब से मनाया जा रहा है ?

Ans. 2012 में मनमोहन सिंह जो भारत के पूर्व प्रधानमंत्री थे उन्होंने श्रीनिवास रामानुजन के 125 की वर्षगांठ पर इस बात की घोषणा की कि 22 दिसंबर को भारत में राष्ट्रीय गणित दिवस मनाया जाएगा I

Q. राष्ट्रीय गणित दिवस किसकी याद में मनाया जाता है?

And. श्रीनिवासा रामानुजन के याद में राष्ट्रीय गणित दिवस 22 दिसंबर को मनाया जाता है I

Q. प्रथम राष्ट्रीय गणित दिवस कब मनाया गया?

Ans. 2012 में पहली बार राष्ट्रीय गणित दिवस मनाया गया I

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja