मकर संक्रांति पर दान क्यों करते हैं? | मकर संक्रांति पर दान करने का महत्व व लाभ जाने

By | जनवरी 12, 2023
Makar Sankranti Par Daan

Makar Sankranti Par Daan:- सूर्य का मकर राशि (Capricorn) में प्रवेश मकर संक्रांति (Makar sankranti) कहलाता है। इसी दिन सूर्य उत्तरायण होते हैं। शास्त्रों में यह समय देवताओं का दिन और दक्षिणायन को देवताओं की रात्रि कहा जाता है। शास्त्रों में मकर संक्रांति (Makar sankranti) पर स्नान, दान, ध्यान, जप, तप और अनुष्ठान का महत्व दर्शाया गया है। मकर संक्रांति सूर्य के उत्तरायण होने से गरम मौसम की शुरुआत होती है। इस दिन दान करने का काफी महत्व बताया गया है। मान्यता है कि इस दिन किया गया दान (Dan) सौ गुना होकर लौटता है।

इसलिए भगवान भास्कर को अर्घ देने के बाद पूजन करके घी, तिल, कंबल और खिचड़ी का दान किया जाता है। इस दिन गंगा का स्नान (Ganga River) और गंगा तट पर दान की विशेष महिमा बताई गई है। मान्यता के अनुसार संक्रांति को खिचड़ी के रूप में भी जाना जाता है। इसलिए कई जगहों पर खिचड़ी खाने का रिवाज है। मकर संक्रांति के दिन खिचड़ी का भोग लगाया जाता है। 

Makar Sankranti Par Daan

Happy Makar Sankranti 2023Similar Content
मकर संक्रांति कब व क्यों मनाई जाती हैयहाँ क्लिक करें
मकर संक्रांति शुभ मुहूर्त 2023यहाँ क्लिक करें
मकर संक्रांति पर निबंधयहाँ क्लिक करें
Kite festival 2023यहाँ क्लिक करें
मकर संक्रांति शायरीयहाँ क्लिक करें
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँयहाँ क्लिक करें
मकर संक्रांति वाहन क्या हैयहाँ क्लिक करें
मकर संक्रांति पर दान क्यों करते हैंयहाँ क्लिक करें
मकर संक्रांति के गीतयहाँ क्लिक करें

मकर संक्रांति पर दान का महत्व

इस दिन सूर्य पूजन के साथ-साथ दान का भी काफी महत्व है। इस दिन किया गया दान अन्य दिनों की तुलना में किए दान से काफी ज्यादा महत्व है । ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि मकर संक्रांति के दिन इन चीजों का दान करने से ना सिर्फ देवता प्रसन्न होते हैं, बल्कि घर में भी सुख शांति बनी रहती है। इसके अलावा इस दिन गुण और तिल, रेवड़ी, गजक का प्रसाद भी बांटा जाता है। सूर्य उत्तरी गोलार्ध (northern hemisphere) की ओर जाना शुरू कर देते हैं, इसलिए दिन बड़े और रातें छोटी होती है। इस दिन से गर्मी का अहसास होने लगता है। 

READ  गुरु नानक जयंती पर निबंध हिंदी में | Guru Nanak Jayanti Essay in Hindi
टॉपिकमकर संक्रांति पर दान क्यों करते है
लेख प्रकारआर्टिकल
साल2023
कब है मकर संक्रांति15 जनवरी 2023
मकर संक्रांति के दिन किस भी पूजा होती हैसूर्य देवता
मकर संक्रांति के दिन क्या करना चाहिएघी, तिल, कंबल और खिचड़ी का दान किया जाता है
मकर संक्रांति पर दान करने से क्या होता हैइस दिन किया गया दान सौ गुना होकर लौटता है
मकर संक्रांति पर सबसे ज्यादा भीड़ कहां देखने मिलती हैगंगासागर

मकर संक्रांति पर क्या दान करना चाहिए? | Makar Sankranti Par Daan

  • तिल का करें दान – मकर संक्रांति को तिल संक्रांति के नाम से भी जाना जाता है। इसी वजह से इस दिन तिल का दान का बहुत महत्व बताया गया है। मान्यता है कि तिल का दान करने से शनिदेव (Shani Dev) भगवान की कृपा होती है और शनि के दोष (Shani Dosh) से भी शांति मिलती है।    
  • खिचड़ी का करें दान – संक्रांति के शुभ अवसर पर उड़द की दाल का विशेष प्रचलन भी है और महत्व भी है। ऐसे में अगर चावल और उड़द की दाल की खिचड़ी बनाकर उसे दान किया जाए तो अक्षय फल की प्राप्ति होती है। 
  • गुड़ का दान – ज्योतिष में गुड़ (Jaggery)का संबंध गुरू ग्रह से बताया गया है। ऐसे में मकर संक्रांति के दिन गुड़ का दान करने से गुरू की स्थिति मजबूत होती है और गुरू के शुभ प्रभाव के कारण शिक्षा में उन्नति मिलती है। 
  • नमक का दान – नमक का दान करने से व्यक्ति के अंदर नेगेटिव ऊर्जा नष्ट और सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। नजर दोष से भी छुटकारा मिल जाता है। 
  • ऊनी कपड़ों का दान – ऊनी कपड़ों (woolen clothing) का दान करने से राहु की दशा और दिशा सुधरती है। इसलिए ऊनी कपड़ों का दान जरूर करना चाहिए। 
  • दान में दें देसी घी – संक्रांति के दिन देसी घी (Desi Ghee)और घी से बनी मिठाइयां दान करने से सूर्य और गुरू ग्रह मजबूत होते हैं। सूर्य कृपा से व्यक्ति का व्यक्तित्व तेजस्वी बनता है और भाग्योदय होता है। 
  • दान मे दें रेवड़ी – इस दिन गंगा नदी (Ganga river )में स्नान करने के बाद रेवड़ी दान करने से घर में धन-धान्य की कभी कमी नहीं रहती है और मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। 
  • दान मे दें तेल – इस दिन सूर्य देव के साथ-साथ शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए सबसे सरल और उत्तम उपाय है तेल का दान । तेल के दान से शारीरिक कष्ट से भी मुक्ति मिल जाती है।

मकर संक्रांति पर क्या दान नहीं करना चाहिए

मकर संक्रांति का त्योहार भारत देश में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन दान का काफी महत्व है। हम यह तो जानते हैं कि हमें क्या दान करना है, लेकिन यह नहीं जानते कि क्या दान नहीं करना है। आइए आपको बताते हैं कि किन चीजों का दान करना आपके लिए अशुभ फल दे सकता है।

  • इस दिन आप प्लास्टिक का दान नहीं करें। इससे घर में वास्तु दोष होता है। 
  • अगर आप तेल दान कर रहे हैं, तो वह तेल इस्तेमाल किया हुआ नहीं होना चाहिए। 
  • इस दिन स्टील की चीजें दान नहीं करनी चाहिए। इससे सुख-शांति चली जाती है और आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ता है। 
  • मकर संक्रांति के दिन झाड़ू दान नहीं करना चाहिए। 
  • किसी और की दी हुई चीज आपको नहीं देनी चाहिए। इससे दान का फल आपको नहीं मिलेगा। 
  • जूते-चप्पल का दान नहीं करना चाहिए।
  • जूठी वस्तुओं का दान नहीं करना चाहिए।
READ  Makar Sankranti Songs | मकर संक्रांति के गीत | मकर संक्रांति गाने के बोल

राशि के अनुसार क्या दान करें?

  • मेष राशि – मेष राशि के लोगों को गुड़, मूंगफली एवं तिल का दान करना चाहिए। आप वस्त्र का भी दान कर सकते हैं। 
  • वृषभ राशि – इस राशि के जातकों को सफेद कपड़ा, दही एवं तिल का दान करना चाहिए। 
  • मिथुन राशि – इन राशि वालों को मूंग दाल, चावल एवं कंबल का दान करना शुभ माना जाता है। शारीरिक कष्ट दूर करने के लिए काला तिल, चादर और छाते का भी दान कर सकते हैं। 
  • कर्क राशि – कर्क राशि वालों को इस बार चावल, सफेद तिल, चांदी का दान करना चाहिए। यह लोग पीले रंग का वस्त्र, दूध या घी भी दान कर सकते हैं। 
  • सिंह राशि – इस दिन आप कंबल किसी गरीब को दें। इसके अलावा लाल कपड़ा, तांबा और गेहूं भी दान कर सकते हैं। 
  • कन्या राशि – इन लोगों को इस बार खिचड़ी, कंबल एवं हरे रंग के कपड़े दान करना चाहिए। 
  • तुला राशि – तुला राशि के जातक सफेद कपड़ा, चीनी एवं कंबल का दान कर सकते हैं।
  • वृश्चिक राशि – इस राशि के जातक गुड़, लाल कपड़ा एवं तिल का दान करें। 
  • धनु राशि – इस राशि के लोगों को पीला कपड़ा, पीली दाल, खड़ी हल्दी आदि का दान करना चाहिए।
  • मकर राशि – इस राशि के जातकों को कंबल, काले तिल और तेल का दान शुभ है। 
  • कुंभ राशि – कुंभ राशि के जातकों को काली उड़द, काला कपड़ा एवं काले तिल का दान करना अच्छा है।

मकर संक्रांति पर दान करने के लाभ

  • अगर कोई व्यक्ति इस दिन पवित्र नदी में स्नान करके काली तिल का दान करता है, तो उसकी कुंडली (Horoscope) में चल रहे शनि का दोष दूर होता है। 
  • शनि दोष दूर करने के लिए उड़द की दाल या उसकी बनी खिचड़ी दान देने से भी शनि ग्रह शांत होता है। 
  • ऊनी वस्त्र या कंबल का गरीब व जरूरतमंद को दान करने से राहु दोष से छुटकारा मिलता है। 
  • गुड़ का दान करने से सूर्य और शनिदेव प्रसन्न होते हैं। भगवान सूर्य की कृपा बरसती है।
  • देसी घी दान करने से मान-सम्मान बढता है। इसके अलावा बर्तन और गाय को हरा चारा देने से भी लाभ मिलता है। 
READ  मकर संक्रांति शायरी हिंदी में | Makar Sankranti Shayari

FAQ’s Makar Sankranti Par Daan

Q. मकर संक्रांति पर दान क्यों करते हैं ?

Ans. ग्रह शांति के लिए मकर संक्रांति पर दान किया जाता है। 

Q. मकर संक्रांति कब है ?

Ans. 15 जनवरी को साल 2023 की मकर संक्रांति मनाई जाएगी । 

Q. मकर संक्रांति पर तिल का दान से क्या होता है?

Ans. कुंडली में शनि ग्रह की शांति के लिए मकर संक्रांति के दिन तिल का दान किया जाता है ।

Q. मकर संक्रांति पर क्या दान करने से घर में वास्तु दोष उत्पन्न होता है?

Ans. मकर संक्रांति के दिन प्लास्टिक का दान करने से घर में वास्तु दोष उत्पन्न होता है।

Q. मकर संक्रांति पर स्टील का दान करने से क्या होता है?

Ans. मकर संक्रांति के दिन स्टील का दान करने से सुख-शांति चली जाती है और आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ता है ।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *