यूपी श्रमिक कार्ड रजिस्ट्रेशन, लाभ, पात्रता 2023 | UP Labour Card Status @upbocw.in

UP Shramik Card registration

UP Labour Card:- उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के असंगठित क्षेत्रों में काम कर रहे श्रमिकों को श्रमिक कार्ड बनवाने हेतु ऑनलाइन पोर्टल (UPBOCW) की शुरूआत की गई है। इस पोर्टल को उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड और आधिकारिक वेबसाइट www.upbocw.in के नाम से जाना जाता है। उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी इस पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं (UP Shramik Card Application Form) जो श्रमिक राज्य के असंगठित क्षेत्रों में तथा दिनदहाड़े मजदूरी कर रहे हैं। उन सभी को सरकार की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित करने हेतु पंजीकरण करवाना होता है जैसे ही श्रमिक श्रम कल्याण विभाग (UP Shram Kalyan Vibhag) के ऑफिशल पोर्टल पर आवेदन कर अपना श्रमिक कार्ड (UP Shramik Card 2023) बनवा लेते हैं। तो उन्हें सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न प्रकार की लाभकारी योजनाओं से लाभान्वित किया जा सकता है।

आप कैसे यूपी श्रमिक पोर्टल (UP Shramik Portal ) पर श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं? श्रमिक कार्ड बनवाने हेतु आवश्यक पात्रता दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी के लिए इस लेख को ध्यान पूर्वक पढ़ते रहिए। आप निश्चित तौर पर बिना रुकावट के श्रमिक विभाग द्वारा अपना श्रमिक कार्ड बनवा पाएंगे।

UP BOCW पोर्टल क्या है?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों के कल्याण हेतु The Building and Other Construction Workers Welfare Board (उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड) की स्थापना की गई है बोर्ड श्रमिकों के हितों की रक्षा करता है तथा उन्हें सरकारी योजनाओं से लाभान्वित करने हेतु कटिबद्ध है।

लेबर कार्ड के प्रकार | Type Of Labour Card

भारत में श्रमिक कार्ड दो प्रकार के जारी किये जाते हैं – बिल्डिंग कार्ड और सोशल कार्ड।

  • बिल्डिंग कार्ड उन लोगों को जारी किए जाते हैं जो लाइसेंस प्राप्त ठेकेदार के अधीन काम कर रहे हैं। यह एक लोकप्रिय कार्ड है और धारक को लगभग सभी लाभ प्राप्त करने की अनुमति देता है।
  • सोशल कार्ड उन लोगों को जारी किए जाते हैं जो खेती, खेती आदि जैसी गैर-निर्माण गतिविधियों में शामिल होते हैं। यह कार्ड धारक को स्वास्थ्य बीमा लाभ प्राप्त करने की अनुमति देता है

UP Shramik Card 2023-Highlight

योजनाUPBOCW 2023 श्रमिक पंजीयन कार्ड योजना
योजना विभागश्रम विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार
पोर्टल का नामउत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्डThe Building and Other Construction Workers Welfare Board (UPBOCW.IN)
राज्य में लागूकेवल उत्तर प्रदेश
लाभार्थी होंगेराज्य के सभी श्रमिक
पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन
पोर्टल का उद्देश्यपंजीकृत सभी श्रमिक नागरिकों को लाभार्थी
योजना लाभश्रमिक कार्ड के तहत सभी श्रमिक योजना के लाभ
योजना वर्ष2023
आधिकारिक वेबसाइट लिंकwww.upbocw.in

UP Labour Card 2023

जैसा कि आप सभी जानते हैं उत्तर प्रदेश में काफी मजदूर वर्ग दिन दिहाड़ी पर काम कर रहे हैं और असंगठित क्षेत्रों में, कंस्ट्रक्शन क्षेत्रों, में मजदूर दिन रात मेहनत कर रहे हैं। अगर उन्हें सरकार द्वारा लांच की गई योजनाओं का लाभ नहीं मिले तो उनके साथ कितनी नाइंसाफी होगी। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रतिवर्ष श्रमिकों के रजिस्ट्रेशन हेतु आवेदन स्वीकार किए जाते हैं। इसके लिए सरकार द्वारा श्रम कल्याण विभाग बोर्ड (UP Labor Welfare Department Board) का गठन किया गया है।

See also  उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई नि:शुल्क शिक्षा योजना 2023 | UP की छात्राओं को मिलेगी स्नातक मुफ्त शिक्षा | ऐसे करें UP Ahilyabai Free Shiksha Yojana के लिए आवेदन

उत्तर प्रदेश का श्रम कल्याण विभाग को श्रमिकों के हितों की रक्षा करने हेतु दायित्व रखता है। परंतु श्रमिकों को बोर्ड को बताना होगा कि आप श्रमिक हैं तथा आपके द्वारा किए गए आवेदन के माध्यम से ही श्रमिक कल्याण बोर्ड में आपका पंजीकरण रजिस्ट्रेशन हो सकेगा। इसके तहत आप सरकारी योजनाओं से लाभान्वित होते हैं। इसीलिए सभी श्रमिक अपनी दिनचर्या की जिंदगी में हो रही समस्याओं से लड़ने हेतु सरकारी योजनाओं से जरूर लाभ प्राप्त करें और अपने आपको श्रम विभाग पर अभी पंजीकृत (Registration) करें।

उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड के लाभ (UP Labour Card Benefits)

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी नागरिकों को लाभान्वित योजनाओं से जोड़ने का अथक प्रयास किया जाता है श्रमिक विभाग UPBOCW के माध्यम से श्रमिक वर्ग को योजनाओं से लाभान्वित करने हेतु श्रमिक पोर्टल (Uttar Pradesh Shramik Portal) पर पंजीकृत करते हैं। तथा उन्हें योजनाओं से लाभान्वित करने हेतु जोड़ने का प्रयास किया जाता है। श्रमिक कार्ड धारकों को विभिन्न प्रकार के फायदे होते हैं जैसे:-

  • श्रमिक कार्ड से सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओं से लाभान्वित हो सकते हैं।
  • श्रमिक कार्ड श्रमिकों की पहचान होती है के तहत योजनाओं से उचित पात्र श्रमिक वंचित नहीं रह सकते।
  • सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाएं जैसे:-
  • पीएम गरीब कल्याण योजना,मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना,कन्या विवाह सहायता योजना,बीमा कवर एवं आकस्मिक मृत्यु,श्रमिकों के लिए कोविड किट,उत्तर प्रदेश श्रम आयोग संबंधी योजनाओं से लाभान्वित होने की श्रमिकों को जोड़ा जाता है।
  • श्रमिक कार्ड श्रमिकों के बीमा करवाने में अहम दस्तावेज होता है।
  • श्रमिक कार्ड के माध्यम से श्रमिकों के बच्चे निशुल्क पढ़ाई कर सकते हैं तथा छात्रवृत्ति के  हकदार होते हैं।

यूपी श्रमिक कार्ड से जुडी योजनाएं | UP labor card Yojana

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों के कल्याण हेतु अनेक प्रकार की लाभकारी योजनाओं की श्रंखला बनाई गई है। प्रत्येक श्रमिक आवश्यकतानुसार योजनाओं से लाभान्वित हो सकते हैं तथा अपने जीवन को सुखमय जीवन बना सकते हैं। श्रमिक विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाएं इस प्रकार:-

शिशु हित लाभ योजना:- योजना के अंतर्गत बेटी के जन्म होने पर ₹12000 तथा बेटे के जन्मदिन पर ₹10000 का अनुदान मिलेगा।

मातृत्व हितलाभ योजना:- मातृत्व योजना के अंतर्गत जो महिलाएं कामकाज से जुड़ी है उन्हें 3 महीने का वेतन प्रसव के दौरान दिया जाता है तथा 2 प्रसव तक महिलाएं इस योजना का लाभ दे सकती है।

अक्षमता पेंशन योजना:- योजना के दौरान गंभीर बीमारियों से पीड़ित फौजियों को लाभान्वित करने से सम्मानित किया जाता है।

बालिका मदद योजना:- कर्मिक विभाग द्वारा संचालित  बालिका मदद योजना के अंतर्गत बालिका के 18 वर्ष पूर्ण होने पर ₹20000 की सहायता राशि दी जाती हैं।

मृत्यु एवं विकलांगता सहायता योजना:- योजना के अंतर्गत श्रमिक की दुर्घटना से मृत्यु होने पर ₹100000 की सहायता राशि मिलेगी।

अंत्योष्टि सहायता योजना:- योजना के अंतर्गत अंतिम संस्कार के लिए ₹25000 की सहायता राशि दी जाती है।

पुत्री विवाह अनुदान योजना:- योजना के अंतर्गत श्रमिकों की बेटी की शादी होने पर ₹51000 की धनराशि दी जाती।

See also  आयु प्रमाण पत्र कैसे बनवाएं | UP age certificate Online Apply

कौशल विकास तकनीकी उन्नयन एवं प्रमाणन योजना:- योजना के अंतर्गत   अनस्किल्ड श्रमिकों को प्रशिक्षण दिया जाता है।

आवास सहायता योजना:- आवास बनाने हेतु श्रमिकों को ₹100000 की धनराशि दी जाती है।

सौर ऊर्जा सहायता योजना:- श्रमिक को 2 LED बल्ब, 1 DC टेबल फैन, 1 सोजर पैनल, चार्जिंग कंट्रोलर, 1 मोबाइल चार्जर दिया जाता है।

श्रमिक पेंशन योजना:- श्रमिक पोर्टल पर पंजीकृत श्रमिकों को 1000 रुपए आजीवन पेंशन दी जाती है।

साइकिल सहायता योजना:- योजना के अंतर्गत श्रमिकों को शांति देने पर ₹3000 तक की सब्सिडी दी जाती है।

मेधावी छात्र पुरूस्कार योजना:- सभी बच्चों को शिक्षा में अच्छा प्रदर्शन करने पर ₹4000 से लेकर ₹22000 तक  पुरस्कार दिया जाता है।

यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना:- योजनान्तर्गत श्रमिकों को 1000 रूपये प्रति माह सहायता राशि सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है।

Shramik Panjikaran के लिए पात्रता व दस्तावेज़ (Eligiblity, Documents)

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी हो।
  • आवेदक की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच हो।
  • जिन श्रमिकों ने पिछले 12 महीने में कम से कम 90 दिन निर्माण श्रमिक के रूप में कार्य किया हो |
  • श्रमिक पंजीकरण में केवल परिवार के मुखिया के नाम पर ही श्रमिक कार्ड बनता है 
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • मतदाता पहचान पत्र
  • भामाशाह कार्ड
  • बैंक का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • परिवार के सभी सदस्यों का पहचान पत्र

यूपी लेबर कार्ड के उद्देश्य (Objectives of UP Labor Card)

  • यूपी लेबर कार्ड का मुख्य उद्देश्य मजदूरों को आर्थिक और सामाजिक रूप से मदद करना है
  • इस योजना की मदद से श्रमिकों का एक डेटाबेस तैयार किया जाएगा जिससे सरकार को विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ लक्षित लाभार्थियों तक पहुंचाने में मदद मिलेगी।
  • इस कार्ड के जरिए मजदूरों को एक यूनिक नंबर मुहैया कराया जाएगा
  • इस नंबर के जरिए सरकार मजदूरों को आसानी से ट्रैक कर सकती है और उन्हें सरकारी योजनाओं का विभिन्न लाभ प्रदान कर सकती है
  • इस श्रमिक कार्ड को बनवाने के लिए लाभार्थियों को किसी भी सरकारी कार्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं है
  • यह आधिकारिक वेबसाइट की मदद से किया जा सकता है
  • यह योजना मजदूरों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने वाली है
  • इसके अलावा इस योजना के लागू होने से मजदूर आत्मनिर्भर बनेंगे
  • मजदूरों के जीवन स्तर में भी सुधार होगा

How to register for labor card? श्रमिक कार्ड लिए पंजीकरण कैसे करे?

जो भी श्रमिक अभी तक उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड नहीं बनवा पाए हैं वह जल्द ही ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करके कार्ड बनवाने हेतु आवेदन करें आवेदन की प्रक्रिया इस प्रकार है।

  • प्रथम चरण में:- सर्वप्रथम श्रमिक श्रम विभाग के ऑफिशल पोर्टल http://www.uplabour.gov.in/  पर विजिट करें।
  • होम पेज पर अधिनियम प्रबंधन प्रणाली लिंक पर क्लिक करें।
  • Labour Act Management System वेबसाइट ओपन होगी अपनी भाषा का चयन करें।
  • आवश्यक दिशा निर्देश को ध्यानपूर्वक पढ़ें तथा वेबसाइट सदस्यता प्राप्त करें।
  • यदि आपने यूजर हैं तो पहले वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करें।
  • रजिस्ट्रेशन हेतु पूछी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ें।
  • दिए गए फॉर्म में अपना विवरण भरे और फिर यूज़र आईडी और पासवर्ड बनाये |
  • ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करें और यूजर नेम पासवर्ड से लॉगिन करें।
  • अगले पेज पर दिए गए निर्देश पढ़े और ‘I Have Read All Instruction Carefully ‘पर टिक करके I Agree के विकल्प पर क्लिक करे |
  • द्वितीय चरण में:- आवेदन फॉर्म में पूछे गए संपूर्ण जानकारी को ध्यानपूर्वक भरें तथा किसी प्रकार की गलती होने पर संपादित करें और ज़रूरी संलंगक लगा सकते है भुकतान कर सकते है।
  • अपलोड अटैचमेंट सेक्शन में आवेदन फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेज संलग्न कर सकते हैं। तथा पेमेंट मॉड चुन सकते हैं आवेदक चालान एवं ऑनलाइन पेमेंट भुगतान विकल्प चुन सकते हैं।
  • ऑनलाइन पेमेंट सेलेक्ट करने पर आवेदक बैंक संबंधित संपूर्ण विवरण दर्ज कर  भुगतान कर सकते हैं।
  • भुकतान के पश्चात् चालान नंबर ,दिनाक ,बैंक का नाम आदि भरकर सब्मिट करे।
See also  यूपी गौशाला योजना 2023 | UP Gaushala ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लॉगिन व एप्लीकेशन स्टेटस जाने

UP Labour Card Status ऑनलाइन कैसे चेक करें।

श्रमिक पंजीयन (Labour Registration) स्थति ऑनलाइन चेक करने के लिए निचे दी गई प्रक्रिय फॉलो करें।
दिए गए लिंक पर क्लिक करें
ऑफिसियल वेबसाइट पर आ जाए
होम पेज पर दिखाई दे रहे श्रमिक पंजीयन की स्थिति जानने के लिए यहाँ क्लिक करें।


यहां आधार, आवेदन संख्या, पंजीयन संख्या में से किसी एक विकल्प का चुनाव करें।
कैप्चा कॉर्ड दर्ज करें।


सर्च पर क्लिक करें। UP Labour Card Status स्क्रीन पर दिखाई देगा।

यूपी श्रमिक कार्ड ऑफलाइन बनवाने की प्रक्रिया

जो आवेदक श्रमिक ऑनलाइन माध्यम से श्रमिक कार्ड हेतु पंजीकरण करने में असमर्थ हैं वह ऑफलाइन माध्यम से भी श्रमिक कार्ड हेतु पंजीकरण कर सकते हैं। इसके लिए नीचे दी गई प्रक्रिया फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम आवेदक श्रमिक नजदीकी श्रम विभाग से संपर्क करें।
  • श्रम विभाग अधिकारी से श्रम पंजीकरण हेतु आवेदन फॉर्म ले।
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ें।
  • आवश्यक दस्तावेज आवेदन फॉर्म  के साथ संलग्न करें।
  • आवेदन फॉर्म को श्रम विभाग अधिकारी को जमा करवा दें आप का पंजीकरण कर लिया जाएगा।

UP Labour Helpline Number

यदि किसी भी श्रमिकों आवेदन करने संबंधी या अन्य कार्ड असुविधा के लिए श्रम विभाग से सीधे संपर्क कर सकते हैं इसके लिए आप वेबसाइट के होम पेज पर Contact US पर क्लिक करें तथा दिए गए नंबर पर कॉल करें।

FAQ’s UP Shramik Card registration 2023

Q. यूपी श्रमिक कार्ड के क्या फायदे हैं?

Ans.  उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों को विभिन्न प्रकार की लाभकारी योजनाएं दी जा रही है इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए श्रमिकों के पास श्रमिक कार्ड होना जरूरी है अन्यथा उन्हें आवश्यक  योजनाओं से वंचित रहना पड़ सकता है।

Q.  यूपी श्रमिक कार्ड हेतु कैसे पंजीकरण करें?

Ans.  उत्तर प्रदेश श्रम विभाग की ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करके आवेदन फॉर्म को भरें तथा आवेदन फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेज संग करें आप आसानी से ऑनलाइन  पोर्टल  के माध्यम से  श्रमिक कार्ड हेतु आवेदन कर सकते हैं।

Q. UPBOCW  क्या है?

Ans.  उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा  श्रमिकों के हितों की रक्षा करने हेतु एवं श्रमिकों को योजनाओं से जोड़ने हेतु The Building and Other Construction Workers Welfare Board (उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड) की स्थापना की गई है बोर्ड श्रमिकों के हितों की रक्षा करता है तथा उन्हें सरकारी योजनाओं से लाभान्वित करने हेतु कटिबद्ध है।

 उत्तर प्रदेश सरकार योगी आदित्यनाथ की लाभकारी योजनाओं की जानकारी के लिए क्लिक करें

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja