Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2023? जानिए कैसे होगा हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन? पात्रता, दस्तावेज़ आवेदन की सम्पूर्ण प्रक्रिया

UP State health card

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2023:- पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस उपचार योजना (SECTS) सभी राज्य सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के परिवारों को कैशलेस उपचार की सुविधा प्रदान करती है। योजना के तहत, प्रत्येक लाभार्थी परिवार निजी अस्पतालों में इलाज के लिए प्रति वर्ष अधिकतम 5 लाख रुपये और सरकारी अस्पतालों में बिना किसी ऊपरी सीमा के असीमित इलाज का हकदार होगा।योजना के तहत कैशलेस उपचार की सुविधा केवल इनडोर रोगियों के लिए उपलब्ध है। ओपीडी सेवाएं, जांच आदि मौजूदा व्यवस्था के तहत ही प्रदान की जाती रहेंगी। आइए जानते हैं, पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना क्या है? उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा हेल्थ कार्ड कौन से कर्मचारियों को दिया जाएगा? उत्तर प्रदेश के पेंशनर एवं कर्मचारी कैसे हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं? राज्य के कौन से निजी एवं सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य हेल्थ कार्ड का उपयोग किया जा सकता है? कैशलेस हेल्थ कार्ड से जुड़ी सभी सुविधाएं एवं आवश्यक जानकारी, जैसे:- पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन की प्रक्रिया कि संपूर्ण विवरण इस लेख में दी जा रही है। अतःआप लेख में अंत तक बने रहे:-

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana के तहत वॉर्ड डिटेल

पं. दीन दयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभार्थी के लिए दिशानिर्देशों में दिए गए, जिसके अनुसार उनके वेतनमान/वेतन स्तर के आधार पर सामान्य वार्ड, अर्ध निजी वार्ड या निजी वार्ड के हकदार हैं। सूचीबद्ध अस्पतालों के लिए सीजीएचएस दिशानिर्देशों में परिभाषित निजी वार्ड, अर्ध निजी वार्ड और सामान्य वार्ड की परिभाषा नीचे दी गई है।

  • प्राइवेट वार्ड को एक अस्पताल के कमरे के रूप में परिभाषित किया गया है जहां एकल रोगी को रखा जाता है और जिसमें एक संलग्न शौचालय (शौचालय और स्नानघर) होता है। कमरे में अलमारी, ड्रेसिंग टेबल, बेड-साइड टेबल, सोफा सेट, कालीन आदि जैसी साज-सज्जा के साथ-साथ परिचारक के लिए बिस्तर भी होना चाहिए। कमरा वातानुकूलित होना चाहिए.
  • सेमी प्राइवेट वार्ड को एक अस्पताल के कमरे के रूप में परिभाषित किया गया है जहां दो से तीन मरीजों को रखा जाता है और जिसमें संलग्न शौचालय की सुविधा और आवश्यक सामान होता है।
  • सामान्य वार्ड को ऐसे हॉल के रूप में परिभाषित किया गया है जिसमें चार से दस मरीजों को रखा जाता है।

सभी सूचीबद्ध अस्पतालों को यह सुनिश्चित करना होगा कि ऊपर परिभाषित निजी वार्ड, अर्ध निजी वार्ड और सामान्य वार्ड में सुविधाएं लाभार्थियों को उनकी पात्रता के अनुसार उपलब्ध हैं। जिन ईएचसीपी में ऊपर परिभाषित सुविधाओं के साथ निजी वार्ड या अर्ध निजी वार्ड नहीं है, वे योजना के तहत निजी/अर्ध निजी वार्ड के लिए दावे शुरू नहीं कर सकते हैं।

See also  Akhilesh Yadav Free Laptop Yojana | अखिलेश यादव फ्री लैपटॉप योजना 2023 | जानें कैसे मिलेगा फ्री में लैपटॉप, पूरी जानकारी

नि:शुल्क चिकित्सा स्वास्थ्य कार्ड की विशेषताएं | Features of Free UP State Health Card | Cashless Medical Health Card

उत्तर प्रदेश के कर्मचारियों को सरकार द्वारा बड़ी सौगात दी गई है। वैसे तो सरकार द्वारा सभी सरकारी कर्मचारियों को सुविधाएं दी जाती है। इसके अतिरिक्त अब कैशलेस सुविधा दी जाएगी। जिसका उपयोग चिकित्सा सुविधाओं के लिए किया जा सकेगा। यह सुविधाएं ₹500000 तक नि:शुल्क रहेगी। इस योजना की कुछ खास विशेषताएं हैं जैसे:-

  • कैशलेस चिकित्सा हेल्थ कार्ड प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड (Online state health card) बनवाया जाएगा।
  • कैशलेस चिकित्सा हेल्थ कार्ड the State Agency for Health Integrated Services द्वारा बनाया जाएगा।
  • कैशलेस चिकित्सा स्वास्थ्य कार्ड (cashless medical health card) बनाने की जिम्मेदारी प्रदेश के सभी विभागों द्वारा चुने गए अध्यक्ष की होगी।
  • इसके अतिरिक्त जहां पर निजी अस्पतालों में “आयुष्मान भारत योजना” के अंतर्गत नि:शुल्क उपचार किया जा रहा था। उन सभी अस्पतालों में चिकित्सा कार्ड का उपयोग किया जा सकेगा।
  • चिकित्सा स्वास्थ्य कार्ड के लिए सरकारी चिकित्सा संस्था निजी अस्पताल मेडिकल कॉलेज सभी अधिकृत किए जाएंगे।
  • चिकित्सा विभाग द्वारा चिकित्सा संस्थानों एवं मेडिकल कॉलेज के लिए 200 करोड़ रुपए का बजट तैयार किया गया है।
  • इसके अतिरिक्त जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ रुपए का एजेंडा तैयार किया गया है।
  • कॉपर फंड के माध्यम से सरकारी चिकित्सालय को इलाज पर होने वाले खर्च का 50% धनराशि देनी होगी।
  • बाकी की 50% धनराशि उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने पर  वित्तीय विभाग द्वारा मोहिया करवाई जाएगी।
  • उत्तर प्रदेश के तकरीबन 30 लाख से अधिक कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को इस योजना का लाभ मिलने वाला है।
  • हेल्थ कार्ड लाभार्थी को उपचार में प्रोसीजर जांच एवं आवश्यक दवाइयां निशुल्क प्रधान की जाएगी।

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana Highlights

योजना का नामपंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
योजना शुरू की गईउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थी होंगेउत्तर प्रदेश के कर्मचारी एवं पेंशनर्स
योजना का उद्देश्यकैशलेस उपचार की सुविधा उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
योजना वर्ष2023
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन

यूपी स्टेट हेल्थ कार्ड 2023 | UP State Health Card 2023

  • योजना के अंतर्गत आने वाले सभी लाभार्थियों के लिए State Health Card बनाया जाएगा।
  • Health Card के माध्यम से लाभार्थी की पहचान की जाएगी। जिससे कैशलेस चिकित्सा उपलब्ध करवाई जा सके।
  • UP State Health Card 2023 में लाभार्थियों के विवरण के साथ उनके परिवार के आश्रित सदस्यों का भी विवरण उपस्थित होगा।
  • UP State Card बनवाने का दायित्व विभाग अध्यक्षों को सौंपा गया है।
  • ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड बनाने की जिम्मेदारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधीन कार्यरत सचिव की होगी। जो “आयुष्मान भारत / प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना” किस स्टेट नोडल ऑफिसर हैं।
  • इस योजना के कार्यान्वयन के लिए एक संयुक्त निर्देशक के अधीन एक पृथक सेल की स्थापना की जाएगी। जिसमें 2 चिकित्सक, 2 डाटा एनालिस्ट, 1 सॉफ्टवेयर डेवलपर, 2 कंप्यूटर ऑपरेटर, 2 लेखाकार एवं 1 सहायक स्टाफ सम्मिलित होगा।
See also  मातृत्व शिशु और बालिका मदद योजना 2023 | ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करें | Matritva Shishu Balika Yojana

उत्तर प्रदेश के प्रमुख डॉक्यूमेंट लिस्ट UP Document List 2023

UP सरकार द्वारा जारी किये गए महत्वपूर्ण दस्तावेज़ लिस्ट इस प्रकार है:-

1.आय प्रमाण पत्र
2.विकलांगता प्रमाण पत्र
3.पुलिस चरित्र प्रमाण पत्र
4.मूल निवास प्रमाण पत्र
5.OBC जाति प्रमाण पत्र
6.जाति प्रमाण पत्र
7.मृत्यु प्रमाण पत्र
8.EWS Certificate
9.विवाह प्रमाण-पत्र

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

  • राज्य के जो भी लाभार्थी योजना के अंतर्गत उचित पात्र हैं। उन सभी लाभार्थियों का डाटा संरक्षित करने के लिए एक पोर्टल डिवेलप किया गया है। पोर्टल को शुरू करने हेतु डाटा सेंटर में सरवर की स्थापना की गई है।
  • ऑनलाइन पोर्टल की संपूर्ण जिम्मेदारी एवं रखरखाव सचिव द्वारा किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत ओपीडी उपचार के उपरांत भी चिकित्सा प्रतिपूर्ति की व्यवस्था यथावत रहेगी।
  • योजना के अंतर्गत जिन अस्पतालों में राज्य सरकार की सभी योजनाएं कार्य कर रही हैं। उन सभी अस्पतालों में कैशलेस चिकित्सा योजना से बनाए जा रहे कार्ड भी मान्य होंगे।
  • चिकित्सा हेल्थ कार्ड से दिए जाने वाले लाभ को प्राप्त करने के लिए लाभार्थी परिवार को 1102 रुपए का शुल्क सचिव को दिया जाएगा।

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2023 | UP Health Card Registration

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर, BPL परिवार तथा अन्य पिछड़े वर्ग के सभी लोगों के लिए हेल्प सुविधाएं शुरू की है। इसी बीच राज्य के कर्मचारियों एवं राज्य की सेवा कर चुके पेंशनर्स के लिए सरकार ने “कैशलेस चिकित्सा स्वास्थ्य कार्ड” की शुरुआत की है। यह कार्ड पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत दिया जाएगा। राज्य के कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को ₹5 लाख तक का नि:शुल्क कैशलेस चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 7 जनवरी 2022 को इस योजना को शुरू किया गया। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री मोहन प्रसाद जी द्वारा स्वास्थ्य कार्ड (Health Card) को कर्मचारियों एवं पेंशनर्स की सेवा में सुपुर्द  जल्द कर दिया जायेगा।

See also  यूपी गौशाला योजना 2023 | UP Gaushala ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लॉगिन व एप्लीकेशन स्टेटस जाने

पंडित दीनदयाल कैशलेस चिकित्सा योजना हेतु आवश्यकता पात्रता | Requirement eligibility for Pandit Deendayal Cashless Medical Card Yojana

जो कर्मचारी योजना के अंतर्गत लाभान्वित होना चाहते हैं। उन्हें नीचे दी गई पात्रता ओं को पूर्ण करना होगा जैसे:-

  • आवेदक स्थाई रूप से उत्तर प्रदेश का निवासी हो।
  • केवल उत्तर प्रदेश सरकार के कर्मचारी योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • राज्य के पेंशनर्स कर्मचारी द्वारा भी इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।  पेंशनर्स भी योजना में शामिल हो सकते हैं।
  • कैशलेस चिकित्सा योजना में सम्मिलित होने के लिए प्रत्येक लाभार्थी परिवार को 1102 का शुल्क भुगतान करना होगा।

यूपी कर्मचारी चिकित्सा योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज | Documents Required for UP Employees Medical Yojana

जो लाभार्थी परिवार योजना में शामिल होना चाहते हैं। उन्हें नीचे दिए गए दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगे जैसे:-

  • आधार कार्ड | Aadhar Card
  • निवास प्रमाण पत्र | Residence Certificate
  • आय प्रमाण पत्र | Income Certificate
  • आयु का प्रमाण | Age proof
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ | Passport Size Photograph
  • मोबाइल नंबर | Mobile Number
  • ईमेल आईडी | Email ID
  • राशन कार्ड आदि | Ration Card

पंडित दीनदयाल कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लिए कैसे आवेदन करें | How to apply For Pandit Deendayal Employee Cashless Medical Scheme

पंडित दीनदयाल कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत मिलने वाले हेल्थ कार्ड के लिए सरकार द्वारा पोर्टल अभी तक लंच नहीं किया गया है। जल्द ही सरकार द्वारा पोर्टल को जनता के लिए लाइव किया जाएगा। अभी तक सरकार द्वारा योजना की घोषणा की गई है। योजनाओं को पूर्ण करने हेतु पोर्टल की लॉन्चिंग की जानी बाकी है। अतः जैसे ही सरकार की तरफ से योजना को लेकर कोई नोटिफिकेशन मिलता है। आपको तुरंत सूचित किया जाएगा या फिर आप उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग की ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करके भी इस योजना संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

FAQ’s UP State health card

Q.  यूपी दीनदयाल कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना क्या है?

Ans. उत्तर प्रदेश के  राज्य कर्मचारियों को सरकार ₹5 लाख तक का नि:शुल्क चिकित्सा स्वास्थ्य हेल्थ कार्ड देने जा रही है। जिसमें राज्य के सभी निजी/प्राइवेट  सरकारी तथा केंद्र सरकार द्वारा संचालित अस्पताल सम्मिलित होंगे। जहां पर कर्मचारी और पेंशनर ₹5 लाख तक का नि:शुल्क इलाज करवा सकते हैं।

Q.  यूपी हेल्थ कार्ड के लिए कैसे आवेदन करें?

Ans.  उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा हेल्थ कार्ड बनाने की घोषणा 7 जनवरी 2022 को की गई। फिलहाल सरकार द्वारा योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया को जनहित में जारी नहीं किया गया है। जैसे ही पोर्टल पर किसी प्रकार का अपडेट मिलता है। आप तक पहुंचा दिया जाएगा।

Q. पंडित दीनदयाल कैशलेस चिकित्सा योजना से कितना बीमा होगा?

Ans.  उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई दीनदयाल कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत, राज्य कर्मचारियों को ₹500000 तक का निशुल्क इलाज उपलब्ध करवाया जाएगा।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

One thought on “Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2023? जानिए कैसे होगा हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन? पात्रता, दस्तावेज़ आवेदन की सम्पूर्ण प्रक्रिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja