आईपीएस मनोज कुमार शर्मा का जीवन परिचय | 12th Fail IPS Manoj Kumar Sharma Biography in Hindi (सफलता की कहानी, लव स्टोरी)

IPS Manoj Kumar Sharma Biography in Hindi

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा का जीवन परिचय | IPS Manoj Kumar Sharma Biography in Hindi :जो लोग छोटी-छोटी असफलताओं से घबरा जाते हैं, उनके लिए आईपीएस मनोज कुमार शर्मा का जीवन (Manoj Kumar Sharma Life) प्रेरणादायक है, जो भी उनके बारे में जानेगा वह कड़ी मेहनत करने से कभी नहीं कतराएगा। मनोज एक ऐसे शख्स हैं जो 12वीं बोर्ड परीक्षा में फेल हो गए, लेकिन फिर भी उन्होंने हार नहीं मानी और अपनी कड़ी मेहनत और संघर्ष से भारत की शीर्ष परीक्षा यूपीएससी क्रैक कर ली। आपको बता दें कि उनके जीवन पर एक किताब भी लिखी गई है, 12वीं फेल, यह किताब अनुराग पाठक ने लिखी है और इस पर एक फिल्म भी बनी है और फिल्म का नाम भी 12वीं फेल है। इस फिल्म मेंउनके जीवन के हर एक पहलू के बारे में दिखाया गया है, जिसे देखने के बाद आपको भरपूर मोटिवेशन का डोज़ मिलेगा। उनके इस सफर में उनकी गर्लफ्रेंड जो अब उनकी पत्नी है श्रद्धा का बड़ा योगदान रहा |

तो आइए जानते हैं IPS Manoj Kumar Sharma Biography Overview, IPS Manoj Kumar Sharma  Wikipedia,12th Fail Movie, 12वीं फेल मनोज कुमार शर्मा | 12th Fail Manoj Kumar Sharma, Real Story 12वीं फेल आईपीएस | 12th fail ips, आईपीएस मनोज कुमार शर्मा प्रारंभिक जीवन, आईपीएस मनोज कुमार शर्मा का परिवार, आईपीएस मनोज कुमार शर्मा की संघर्ष कहानी, आईपीएस मनोज कुमार शर्मा की सफलता की कहानी, आईपीएस मनोज कुमार शर्मा लव स्टोरी, आईपीएस मनोज कुमार शर्मा की पत्नी, आईपीएस मनोज कुमार शर्मा विवाद। जैसे सवालों के जवाब आज के आर्टिकल IPS Manoj Kumar Sharma Jivan Parichay के माध्यम से आपको प्रदान करेंगे आर्टिकल पर बने रहिएगा चलिए जानते हैं- 

IPS Manoj Kumar Sharma Biography- Overview

आर्टिकल का प्रकारजीवन परिचय
आर्टिकल का नामआईपीएस मनोज कुमार शर्मा
साल कौन सा है2024
वर्तमान में क्या हैमुंबई के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त हैं
उम्र कितनी है2023 के मुताबिक 48 साल
कहां के रहने वाले हैंमध्य प्रदेश के
सिविल सेवा एग्जाम में कितनी रैंकिंग आई थी121

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा विकिपीडिया (IPS Manoj Kumar Sharma Wikipedia

पूरा नाममनोज कुमार शर्मा
उपनामसिंघम
जन्म3जुलाई 1975
उम्र48
जन्म स्थानबिलग्राम, जिला. मुरैना, मध्य प्रदेश, भारत
पेशाआईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा)
सिविल सेवा पदमुंबई पुलिस में अतिरिक्त आयुक्त (आईपीएस)
गृहनगरबिलग्राम, जिला. मुरैना, म.प्र
राष्ट्रीयताभारतीय
विद्यालयमुरैना में स्थानीय स्कूली शिक्षा
कॉलेजमहारानी लक्ष्मीबाई शासकीय उत्कृष्टता महाविद्यालय, ग्वालियर, मध्य प्रदेश
योग्यताइतिहास में एम.ए
वैवाहिक स्थितिविवाहित
धर्महिंदू
पिता का नामरामवीर शर्मा (सेवानिवृत्त मध्य प्रदेश सरकार कृषि विभाग कर्मचारी)
माता का नामज्ञात नहीं है
पत्नी का नामश्रद्धा जोशी शर्मा (आईआरएस अधिकारी)
बच्चेपुत्र: मानस शर्माबेटी: चिया
निवल मूल्यINR 25 लाख-2.5 करोड़। (लगभग)
फिल्म प्रतिनिधित्वफ़िल्म: “ट्वेल्थ फ़ेल” (अक्टूबर 2023), जिसमें विक्रांत मैसी मनोज कुमार शर्मा की भूमिका में हैं

मनोज कुमार शर्मा आईपीएस कौन है? (Who is IPS Manoj Sharma)

Who is Manoj Sharma

2021 में अनुराग पाठक नाम के एक शख्स ने मनोज कुमार शर्मा के बारे में एक किताब लिखी जिसका नाम है “बारहवीं फेल: हारा वही जो लड़ा नहीं।” यह आईपीएस अधिकारी बनने से पहले उनके द्वारा झेले गए कठिन समय के बारे में बताता है। बाद में, अक्टूबर 2023 में इसी नाम से एक फिल्म आई, 12th Fail इसका निर्देशन विधु विनोद चोपड़ा ने किया था और विक्रांत मैसी ने मनोज कुमार शर्मा की भूमिका निभाई थी। फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे उन्होंने चुनौतियों का सामना किया और दूसरों को प्रेरित किया। लोगों द्वारा इस फिल्म को भरपूर प्यार मिला और हर कोई इस फिल्म की और मनोज कुमार शर्मा के तारीफ करते नहीं थक रहा, जिस तरह से उन्होंने संघर्ष कर आईपीएस के पद का हासिल किया है उसने हर्षवर्धन जी कि कविता कि इन लाइनों को सच कर दिखा कि ‘लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।

See also  Sonu Sharma Biography In Hindi : मोटिवेशनल स्पीकर सोनू शर्मा बायोग्राफी जान चौंक जाएंगे आप, पढ़ें पूरी खबर

12वीं फेल मनोज कुमार शर्मा (12th Fail Manoj Kumar Sharma)

मनोज कुमार शर्मा भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारी हैं। मनोज शर्मा आईपीएस का जन्म भारत के मध्य प्रदेश के एक साधारण गांव में हुआ था, उन्हें अपने पूरे जीवन में कई बड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ा, लेकिन फिर भी वह अपने सपनों को हासिल करने से नहीं डिरे। उनकी उल्लेखनीय यात्रा कई लोगों के लिए प्रेरणा का काम करती है। उनके जीवन पर हाल के दिनों में 12वीं फेल फिल्म बनाई है फिल्म का निर्माण विधुविनोद चोपड़ा ने किया हैं। इस फिल्म में आईपीएस अधिकारी मनोज कुमार शर्मा के जीवन को बहुत ही बारीक तरीके से दिखाया गया हैं। 

12वीं फेल आईपीएस (12th Fail IPS)

12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा में फेल होने वाले और आज एक भारतीय आईपीएस अधिकारी बन चुके आईपीएस मनोज कुमार शर्मा 12वीं कक्षा में केवल हिंदी विषय में ही उत्तीर्ण हो पाए थे और बाकी सभी विषयों में वे फेल हो गए थे। इस असफलता से उन्होंने कभी हार नहीं मानी और अपनी कड़ी मेहनत से यूपीएससी की परीक्षा पास कर आईपीएस अधिकारी का पद हासिल किया। मनोज कुमार का जन्म मध्य प्रदेश के मुरैना में एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था। उनके परिवार में उनके माता-पिता और एक बड़ा भाई है, इसके अलावा हमें उनके परिवार के सदस्यों के बारे में कोई जानकारी नहीं है।वह अपने स्कूल में एक औसत छात्र थे। उन्होंने 10वीं कक्षा की परीक्षा में तृतीय श्रेणी हासिल की थी। इसके बाद उन्होंने 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा दी, जिसमें वह हिंदी को छोड़कर सभी विषयों में फेल हो गए।

12वीं क्लास में फेल होने के बाद उन्होंने अपने भाई के साथ ऑटो चलाना शुरू कर दिया, जिसके बाद उन्हें कई कठिनाइयों से गुजरना पड़ा। ग्वालियर में रहने के लिए उन्होंने ऑटो चलाने के अलावा टेम्पो भी चलाया, उस समय उनकी आर्थिक स्थिति बहुत खराब थी।उनके पास रहने के लिए घर भी नहीं था और खाने के लिए भी पैसे नहीं थे, इसलिए उन्हें भिखारियों के साथ सोना पड़ता था। अपनी तमाम कठिनाइयों को पार करते हुए उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू की और पहले तीन प्रयासों में असफल रहे, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और चौथे प्रयास में 121वीं रैंक हासिल कर आईपीएस अधिकारी बन गये.

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा प्रारंभिक जीवन (IPS Manoj Kumar Sharma Early Life)

आईपीएस अधिकारी मनोज शर्मा का जन्म वर्ष 1970 में मध्य प्रदेश राज्य के मुरैना जिले के एक छोटे से गाँव बिलग्राम में हुआ था। उनके पिता का नाम श्री रामवीर शर्मा था। जो एक किसान थे। मनोज शर्मा की मां की उनके जीवन में अहम भूमिका रही है। उन्होंने जीवन के हर कदम पर उनका साथ दिया है।उनका जन्म एक गरीब परिवार में हुआ था, इसलिए उन्हें काफी संघर्ष करना पड़ा । मनोज शर्मा ने अपनी स्कूली शिक्षा अपने स्थानीय स्कूल से पूरी की और बिना किसी समस्या के 8वीं कक्षा उत्तीर्ण की। इसके बाद उन्होंने किसी तरह 9वीं और 10वीं की परीक्षा नकल करके पास कर ली. इसके बाद उन्होंने महारानी लक्ष्मी बाई शासकीय उत्कृष्टता महाविद्यालय, ग्वालियर, मध्य प्रदेश में प्रवेश लिया और किसी तरह 11वीं कक्षा की परीक्षा भी उत्तीर्ण की।

See also  क्रिकेटर मोहम्मद सिराज का जीवन परिचय | Mohammed Siraj Biography in Hindi (जीवन, शिक्षा, परिवार, क्रिकेट करियर, रिकॉर्ड, व संपत्ति)

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा का परिवार (IPS Manoj Kumar Sharma Family)

पिता का नाम रणवीर शर्मा (मप्र शासन कृषि विभाग)
माँ का नाम ______
भाई/बहन का नाम एक भाई और एक बहन 
पत्नी का नाम श्रद्धा जोशी शर्मा (आईआरएस अधिकारी)
बेटे का नाम मानस शर्मा 
बेटी का नामचिया शर्मा

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा की संघर्ष कहानी (IPS Manoj Kumar Sharma Struggle Story)

मनोज कुमार शर्मा मध्य प्रदेश के मुरैना जिले का रहने वाला है।मनोज कुमार शर्मा कक्षा 9 और कक्षा 10 में तृतीय श्रेणी से उत्तीर्ण हुए। 12वीं की बोर्ड परीक्षा में वे हिंदी को छोड़कर सभी विषयों में फेल हो गए। हालाँकि, बाद में मनोज के जीवन में एक घटना घटी और इसने उनकी दुनिया बदल दी। 12वीं क्लास में मनोज कुमार शर्मा को प्यार हो गया. लेकिन 12वीं क्लास में फेल होने के कारण मनोज लड़की को प्रपोज नहीं कर रहे थे लेकिन काफी सोचने के बाद मनोज शर्मा ने लड़की को प्रपोज किया और हैरानी की बात यह है कि लड़की ने उनका प्रपोजल स्वीकार कर लिया। लड़की को प्रपोज करते समय उसने कहा कि ”अगर तुम हां कहो तो मैं दुनिया पलट दूंगा,”  बाद में मनोज ने अपनी गर्लफ्रेंड श्रद्धा जोशी से शादी कर ली।  यूपीएससी की तैयारी के दौरान श्रद्धा ने मनोज का काफी सपोर्ट किया. श्रद्धा इस समय एक आईआरएस ऑफिसर भी हैं। आईपीएस बनने के लिए मनोज कुमार शर्मा को हर मोर्चे पर संघर्ष करना पड़ा था। मनोज शर्मा को पैसे कमाने के लिए उन्हें टेम्पो चलाना पड़ा और कभी-कभी रात में कई बार भिखारियों के साथ भी सोना पड़ता था।

उन्होंने दिल्ली में एक लाइब्रेरी में भी काम किया और यह उनके  जीवन का टर्निंग पॉइंट था।  लाइब्रेरी में उन्होंने गोर्की और अब्राहम लिंकन से लेकर मुक्तिबोध तक कई मशहूर लेखकों की किताबों और शख्सियतों के बारे में पढ़ा। इन सभी पुस्तकों को पढ़ने के बाद उन्हें जीवन का अर्थ और उद्देश्य समझ में आया। मनोज कुमार शर्मा ने  कुल मिलाकर चार बार यूपीएससी का एग्जाम दिया है तीन बार उन्हें असफलता का सामना करना पड़ा है’  लेकिन चौथे प्रयास में वह ऑल इंडिया 121 रैंक के साथ आईपीएस बनने में सफल रहे। वह वर्तमान में मुंबई पुलिस में अतिरिक्त आयुक्त के पद पर कार्यरत हैं।  आईपीएस मनोज कुमार शर्मा का अंदाज दबंग हैं। जिसकी वजह से कुछ लोग उन्हें सिंघम और सिम्बा भी कहते हैं।

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा की सफलता की कहानी (IPS Manoj Kumar Sharma Success Story)

मिलिए एक प्रेरक व्यक्ति मनोज कुमार शर्मा से, जिन्होंने आईपीएस अधिकारी बनने के अपने सपने को हासिल करने के लिए सभी बाधाओं को पार किया। मध्य प्रदेश के मुरैना के रहने वाले मनोज को सफलता की राह में कई बाधाओं का सामना करना पड़ा। 12वीं कक्षा में फेल होने और 9वीं और 10वीं कक्षा में थर्ड डिविजन प्राप्त करने के बावजूद, उन्होंने कभी भी अपनी क्षमताओं पर विश्वास नहीं खोया। अपने दृढ़ संकल्प से प्रेरित होकर, मनोज ने सिविल सेवाओं के लिए प्रसिद्ध राष्ट्रीय परीक्षा यूपीएससी की तैयारी करते हुए ग्वालियर में एक टेम्पो चालक के रूप में काम किया। उनकी आर्थिक स्थिति इतनी ख़राब थी कि उनके पास सिर पर छत तक नहीं थी। हालाँकि, वह अपने लक्ष्य की प्राप्ति में दृढ़ रहे।

दिल्ली में पुस्तकालय के चपरासी के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान, मनोज ने गोर्की, लिंकन और मुक्तिबोध जैसे उल्लेखनीय व्यक्तियों की जीवनियाँ बड़े चाव से पढ़ीं। इन पुस्तकों ने उन्हें जीवन की वास्तविकताओं की गहन समझ प्रदान की और उनके दृढ़ संकल्प को और अधिक बढ़ाया।

See also  लुई ब्रेल का जीवन परिचय | Louis Braille Biography in Hindi (लुई ब्रेल कहानी, आविष्कार, 10 पंक्तियाँ)

शुरुआती असफलताओं से विचलित हुए बिना, मनोज ने यूपीएससी में चार प्रयास किए। पहले तीन प्रयासों में उन्हें निराशा का सामना करना पड़ा, लेकिन चौथे प्रयास में वह विजयी हुए और उन्होंने 121 की प्रभावशाली अखिल भारतीय रैंक हासिल की। ​​आज, वह मुंबई पुलिस में अतिरिक्त आयुक्त के रूप में कार्यरत हैं। मनोज कुमार शर्मा के मजबूत व्यक्तित्व ने उन्हें दूसरों से “सिंघम” और “सिम्बा” उपनाम दिलाया है, जो उनकी आधिकारिक उपस्थिति को उजागर करता है।

12वीं कक्षा में फेल होने और आर्थिक तंगी से जूझने से लेकर एक सफल आईपीएस अधिकारी बनने तक का मनोज का सफर वाकई प्रेरणादायक है। यह लचीलेपन और कड़ी मेहनत की शक्ति के प्रमाण के रूप में कार्य करता है, जो महत्वाकांक्षी सिविल सेवकों को चुनौतियों से उबरने और अटूट दृढ़ संकल्प के साथ अपने सपनों को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित करता है।

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा लव स्टोरी (IPS Manoj Kumar Sharma Love Story)

जब मनोज शर्मा यूपीएससी की तैयारी कर रहे थे तभी दिल्ली के एक कोचिंग में उनकी मुलाकात श्रद्धा जोशी के साथ हुई  श्रद्धा जोशी को एक ऐसे दोस्त की जरूरत थी जो उनका हिंदी साहित्य मजबूत कर सके।  इसके बाद मनोज शर्मा और श्रद्धा जोशी में दोस्ती हो गई’ धीरे-धीरे दोस्ती प्यार में बदल गई  मनोज शर्मा के अनुसार, शुरू में मनोज शर्मा श्रद्धा को प्रपोज करने में झिझक रहे थे ‘क्योंकि वह 12वीं कक्षा में फेल हो गए थे’ हालाँकि, मनोज शर्मा ने श्रद्धा जोशी सामने प्रस्ताव रखा और कहा कि यदि वह उसका प्रस्ताव स्वीकार कर लेती है, तो “मैं दुनिया पलट दूंगा”  इसके बाद श्रद्धा जोशी.ने उनका  लव प्रपोजल स्वीकार कर लिया था। श्रद्धा जोशी मनोज शर्मा के लिए यूपीएससी एग्जाम के दौरान उनके लिए Notes भी बनाती थी।

मनोज शर्मा ने लल्लनटॉप के कार्यक्रम में एक इंटरव्यू के दौरान कहा था श्रद्धा ने उन्हें हमेशा यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी के लिए प्रेरित किया और अपने परिवार के कड़े विरोध के बावजूद हर कदम पर उनके साथ दिया हैं। 2005 में मनोज शर्मा ने अपनी गर्लफ्रेंड श्रद्धा जोशी से विवाह कर लिया था। 

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा की पत्नी (IPS Manoj Kumar Sharma  Wife)

UPSC Exam  के तैयारी के दौरान  मनोज शर्मा को श्रद्धा जोशी से प्यार  हो गया था। मनोज शर्मा ने एक इंटरव्यू में कहा था कि’ यूपीएससी एग्जाम की तैयारी के लिए उनकी गर्लफ्रेंड श्रद्धा ने हर कदम पर उनको प्रोत्साहित किया था।  उस दौरान श्रद्धा के परिवार वालों ने इस बात का घोर विरोध भी किया था  इसके बावजूद श्रद्धा  जोशी ने  हर कदम मेरा साथ दिया था।  मनोज शर्मा की पत्नी श्रद्धा एक आईआरएस ऑफिसर हैं। 5 दिसंबर 2005 को आईपीएस मनोज शर्मा ने श्रद्धा जोशी से शादी की थी। 

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा विवाद (IPS Manoj Kumar Sharma  Controversies)

आईपीएस मनोज कुमार शर्मा का चरित्र के काफी अच्छे व्यक्ति थे। इसी कारण इनके साथ कभी भी किसी भी कार्य को लेकर किसी व्यक्ति से विवाद नहीं होता था। इसलिए हम लोग कह सकते हैं कि उनके अच्छे स्वभाव के कारण कभी भी यह किसी प्रकार के विवाद सम्मिलित नहीं हुए। 

IPS Manoj Kumar Sharma Social Links:

Social AccountLink
Instagram:Link

Conclusion:

उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल ips Manoj Kumar Sharma : पढे 12th Fail IPS मनोज शर्मा की जीवन कहानी संबंधित जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान की गई है जो आप लोगों को काफी पसंद आया होगा ऐसे में आप हमारे आर्टिकल संबंधित कोई प्रश्न एवं सुझाव है तो आप लोग हमारे कमेंट बॉक्स में आकर अपने प्रश्नों को पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरूर देंगे।

FAQ’s: IPS Manoj Kumar Sharma

Q. मनोज कुमार शर्मा आईपीएस कौन हैं?

Ans.12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा में फेल हुए और आज एक भारतीय आईपीएस अधिकारी बन चुके मनोज कुमार शर्मा 12वीं कक्षा में केवल हिंदी विषय में ही उत्तीर्ण हो पाए थे और बाकी सभी विषयों में वे फेल हो गए थे।

Q. मनोज कुमार शर्मा आईपीएस की उम्र कितनी है?

Ans.आईपीएस मनोज कुमार शर्मा की उम्र 2023 के मुताबिक 46 साल हैं।

Q. . मनोज कुमार शर्मा आईपीएस की कुल संपत्ति कितनी है?

Ans.मनोज शर्मा की कुल संपत्ति INR 2-5 करोड़ (लगभग) बताई जा रही है |

Q. मनोज कुमार शर्मा आईपीएस की हाइट कितनी है?

Ans. मनोज कुमार शर्मा की हाइट 5′ 10” (180 सेमी)  है.

Q यूपीएससी परीक्षा में मनोज कुमार शर्मा को कौन सी रैंक मिली?

Ans.मनोज शर्मा को सिविल सेवा के एग्जाम में |

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja