नरेश गोयल जीवन परिचय | Naresh Goyal-Founder of Jet Airways Biography in Hindi (Family, Networth, Career, Age)

Naresh Goyal-Founder of Jet Airways Biography in Hindi

नरेश गोयल जीवन परिचय: Naresh Goyal (Founder of Jet Airways) Biography in Hindi: आज सुबह से ही नरेश गोयल हर न्यूज चैनल में छाएं हुए हैं। ऐसा कोई न्यूज माध्यम नहीं है जहां उनकी चर्चा नहीं हो रही हो। दरअसल बीती रात यानि की शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय ने देर रात जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल को केनरा बैंक में ₹538 करोड़ की कथित बैंक धोखाधड़ी से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया है। केंद्रीय एजेंसी के कार्यालय में लंबी पूछताछ के बाद उन्हें धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत हिरासत में ले लिया गया है। केनरा बैंक ने मई में एयरलाइन, गोयल, उनकी पत्नी और एक पूर्व एयरलाइन निदेशक के खिलाफ ऋणदाता को “गलत तरीके से नुकसान पहुंचाने” के लिए शिकायत दर्ज कराई थी। गौरतलब है कि जेट एयरवेज़ के पीछे नरेश गोयल का हाथ है। गोयल ने अपनी मां से कुछ पैसे उधार लेकर शुरुआत की और फिर भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी के मालिक बन गए। 

जेट एयरवेज के आईपीओ के बाद फोर्ब्स द्वारा नरेश गोयल की कुल संपत्ति 1.9 बिलियन डॉलर आंकी गई थी और उन्हें फोर्ब्स पत्रिका द्वारा 16वें सबसे अमीर भारतीय के रूप में भी घोषित किया गया था। इस लेख में हम आपके लिए नरेश गोयल जीवन परिचय लेकर आएं है, जिसमें हम आपको नरेश गोयल के बारे में डिटेल में जानकारी उपलब्ध कराएंगे। इस लेख में जिन पॉइन्ट्स को हमने जोड़ा है उसमें आपको नरेश गोयल के प्रारंभिक जीवन लेकर उनके विवादों तक कि जानकारी मिल  जाएगी। हमने कई पॉइन्ट इस लेख में एड किए है जैसे कि नरेश गोयल का प्रारंभिक जीवन,नरेश गोयल का परिवार,नरेश गोयल का करियर,नरेश गोयल को मिले पुरस्कार,नरेश गोयल क्यों हैं न्यूज में? नरेश गोयल और  विवाद जो आपको नरेश गोयल के बारे में सब कुछ जानने में मदद करेगा। इस लेख (Naresh Goyal Biography in Hindi) को पूरा पढ़े और नरेश गोयल के बारे में सभी जानकारी पाएं।

नरेश गोयल जीवन परिचय | Naresh Goyal Biography- Overview

टॉपिकनरेश गोयल जीवन परिचय
लेख प्रकारजीवनी
साल2023
नाम नरेश गोयल
जन्म29-07-1950
जन्म स्थानसंगरूर, पंजाब, भारत
माता पिता का नामअज्ञात
भाई-बहनएक भाई
भाई का नामसुरेंद्र गोयल
पढ़ाईबी कॉम
पेशाउद्यमी
शादी1988
पत्नी का नामअनीता गोयल
बच्चेंदो (एक बेटा और एक बेटी)
बच्चों के नामनिवान गोयल और नम्रता गोयल 

ये भी पढ़े: कौन हैं जगदीप धनखड़? (Jagdeep Dhankhar) सम्पूर्ण जीवन परिचय

नरेश गोयल का प्रारंभिक जीवन | Naresh Goyal Early Life

नरेश गोयल का जन्म 29 दिसंबर 1949 को हुआ था। उनका जन्म पंजाब के संगरूर में हुआ था। उनका जन्म आभूषण व्यापारी के घर में हुआ था फिर भी नरेश गोयल को बचपन से ही कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। यह सब उनके पिता के आकस्मिक निधन के साथ शुरू हुआ जब वह बच्चे थे। नरेश गोयल ने सरकारी स्कूली में पढ़ाई । जब वह सिर्फ 11 साल के थे तब वह अपने परिवार सहित एक बड़े वित्तीय संकट से गुज़रे। सरकार और बैंक की कार्रवाई में गोयल परिवार की लगभग सारी संपत्ति बर्बाद हो गई, जिसमें उनका अपना घर भी शामिल था। इस दौरान उनके मामा ने उनकी मदद की. उन्होंने अपनी स्नातक स्तर की पढ़ाई तक का खर्च उठाया। वह चार्टर्ड अकाउंटेंसी करना चाहते थे लेकिन उन्होंने बिक्रम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, पटियाला से बी.कॉम कर लिया। ।

See also  सीएम विष्णुदेव साय का जीवन परिचय | Vishnu Deo Sai [ CG CM ] Biography in Hindi (प्रारंभिक जीवन, परिवार, शिक्षा, उम्र, राजनीतिक करियर,नेटवर्थ)

नरेश गोयल का परिवार | Naresh Goyal Family

नरेश का जन्म एक पंजाबी हिंदू परिवार में हुआ था, जहाँ उनकी माँ एक गृहिणी थीं और उनके पिता एक आभूषण व्यापारी थे। जब वह बहुत छोटे थे तभी उनके पिता की मृत्यु हो गई। नरेश के साथ उनके एक बड़े भाई सुरिंदर कुमार गोयल भी थे, जो जेट एयरवेज के सह-संस्थापक थे। सुरिंदर पहले ट्रैवल एजेंसी जेट एयर के सह-संस्थापक थे, जिसकी स्थापना उन्होंने और नरेश ने 1974 में की थी। जेट एयरवेज के लॉन्च में नरेश के बड़े भाई की भी अहम भूमिका थी।वहीं सुरिंदर कुमार गोयल का 9 अगस्त 2015 को निधन हो गया। नरेश गोयल ने अनीता गोयल से शादी की और वह जेट एयरवेज की शुरुआत से ही उनके साथ हैं । नरेश और अनीता की एक बेटी और एक बेटा है, जिसका नाम नम्रता गोयल और निवान गोयल है। उनकी बेटी नम्रता गोयल फिल्मस्टॉक में फिल्म निर्माता हैं, जबकि उनके बेटे निवान गोयल जेट एयरवेज के निदेशक मंडल में थे।

Also Read: खान सर (फैजल खान) का सम्पूर्ण जीवन परिचय | यूट्यूब चैनल, शिक्षा, परिवार, निकाह, सम्पति

नरेश गोयल का करियर | Naresh Goyal Career

सन 1967 में नरेश गोयल ने स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद  लेबनानी इंटरनेशनल एयरलाइंस में अपने चाचा की एजेंसी के लिए कैशियर के रूप में काम करना शुरू किया और जहां उन्हें हम महीने 300 रुपए मिलते थे। इसके बाद साल 1969 में उन्हें इराकी एयरवेज के जनसंपर्क प्रबंधक के रूप में नियुक्त किया गया।

सन 1971-1974 में उन्होंने ALIA, रॉयल जॉर्डनियन एयरलाइंस के क्षेत्रीय प्रबंधक के रूप में कार्य किया। साथ ही उन्होंने मिडिल ईस्टर्न एयरलाइन के भारतीय कार्यालयों के साथ काम करके टिकटिंग, आरक्षण और बिक्री जैसे विभिन्न क्षेत्रों में भी अनुभव प्राप्त किया। इसके बाद उन्हें फिलीपीन एयरलाइंस का क्षेत्रीय प्रबंधक नियुक्त किया गया, जहां उन्होंने भारत में एयरलाइन के वाणिज्यिक संचालन को संभाला। 1974 में उन्होंने अपनी मां से 500 पाउंड लिए और एयर फ्रांस, ऑस्ट्रेलियन एयरलाइंस और कैथे पैसिफिक की तर्ज पर जेट एयर नाम से अपनी एजेंसी स्थापित की। उन्होंने जेट एयर प्राइवेट लिमिटेड के माध्यम से भारत में विदेशी एयरलाइनों को बिक्री और विपणन प्रतिनिधित्व प्रदान किया।1991 में भारतीय विमानन बाज़ार खुलना शुरू हुआ। सरकार ने निजी वाहकों को उड़ान भरने की अनुमति दी लेकिन उन्हें समय सारणी मुद्रित करने की अनुमति नहीं थी। ऐसे अवसर का लाभ उठाते हुए आखिरकार सन 1992 में उन्होंने गल्फ एयर और कुवैती एयर के समर्थन से अपनी खुद की एयरलाइन-जेट एयरवेज स्थापित करने का बड़ा कदम उठाया।

ललित मोदी का जीवन परिचय

नरेश गोयल को मिले पुरस्कार | Naresh Goyal Award And Achievement)

  • सितंबर 2010 में अर्न्स्ट एंड यंग की ओर से सेवाओं के लिए वर्ष का उद्यमी पुरस्कार मिला।
  • प्रतिष्ठित पूर्व छात्र पुरस्कार-2000 अक्टूबर 2000 में नरेश गोयल को दिया गया।
  • उत्कृष्ट एशियाई-भारतीय पुरस्कार उनको  नवंबर 2003 में दिया गया।
  • वाणिज्यिक हवाई परिवहन के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए एयरोस्पेस पुरस्कार अप्रैल 2000 और फरवरी 2004 अवार्ड मिला।
  • एनडीटीवी प्रॉफिट बिजनेस अवार्ड 2006 उन्हें 28 जुलाई 2006 में मिला।
  • 8 सितंबर 2007 को प्रतिष्ठित टाटा एआईजी – लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • 19वें वार्षिक टीटीजी (ट्रैवल ट्रेड गजट) ट्रैवल अवार्ड्स में ट्रैवल एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर पुरस्कार उनको 25 अक्टूबर 2007 में मिला।
  • एविएशन प्रेस क्लब (एपीसी) द्वारा मैन ऑफ द ईयर का पुरस्कार उन्हें 9 अप्रैल 2008 को मिला।
  • इंडिया बिजनेस अवार्ड्स 2008 में यूके ट्रेड एंड इन्वेस्टमेंट द्वारा बिजनेस पर्सन ऑफ द ईयर पुरस्कार उन्हें 9 सितंबर 2008 को दिया गयाय़
  • सीएनबीसी टीवी18 इंडिया बिजनेस लीडर अवार्ड्स उन्हें 22 जनवरी 2009 को मिला।
  • एशियन वॉयस के पाठकों द्वारा वर्ष के अंतर्राष्ट्रीय उद्यमी का अवार्ड उन्हें 27 फरवरी 2009 को मिला
  • ट्रैवल एजेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (टीएएआई) द्वारा अगस्त 2010 में वर्ष का लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार दिया गया।
  • होटल इन्वेस्टमेंट फोरम ऑफ इंडिया 2011 उनको जनवरी 2011 से हॉल ऑफ फेम सम्मान मिला।
  • बेल्जियम ने नवंबर 2011 में देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मानों में से एक, कमांडर ऑफ़ द ऑर्डर ऑफ़ लियोपोल्ड से सम्मानित किया गया।
  • व्यावसायिक उत्कृष्टता के लिए एमिटी लीडरशिप अवार्ड मिला।
See also  फील्ड मार्शल सैम मानेकशॉ का जीवन परिचय (बायोपिक फिल्म - सैम बहादुर), Sam Manekshaw Biography in Hindi (जन्म, शिक्षा, सैनिक जीवन, प्रमुख उपलब्धियां)

कौन हैं नूपुर शर्मा?

नरेश गोयल क्यों हैं न्यूज में?

Naresh Goyal Kyu Hai Newa Me: नरेश गोयल काफी सुर्खियां बटोर रहे है, दरअसल केनरा बैंक से ₹538 करोड़ की कथित धोखाधड़ी के मामले में जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मुंबई में कई घंटों से पूछताछ कर रही है। ईडी अधिकारी कथित खाता अनियमितताओं, ऋण राशि के एक हिस्से को कमीशन के रूप में संबंधित कंपनियों को हस्तांतरित करने और मनी लॉन्ड्रिंग के बारे में पूछताछ कर रहे हैं। वे फंड लेनदेन से संबंधित जब्त दस्तावेजों के बारे में भी पूछ रहे हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने ₹538 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग मामले के तहत जुलाई 2023 में मुंबई और दिल्ली में आठ स्थानों पर तलाशी ली। इस मामले में नरेश गोयल और अन्य शामिल हैं। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) पहले से ही गोयल के खिलाफ एक मामले की जांच कर चुकि है। ईडी का मनी लॉन्ड्रिंग मामला सीबीआई द्वारा दायर एक एफआईआर पर आधारित है, जिसमें गोयल और अन्य पर केनरा बैंक से 538 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया गया है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने केनरा बैंक के मुख्य महाप्रबंधक, वसूली और कानूनी अनुभाग की शिकायत पर गोयल के खिलाफ एफआईआर दर्ज की, जिसमें आपराधिक साजिश, आपराधिक विश्वासघात और आपराधिक कदाचार का आरोप लगाया गया, जिससे बैंक को ₹538.62 करोड़ का गलत नुकसान हुआ।

केनरा बैंक के मुताबिक उन्होंने जेट एयरवेज को क्रेडिट लिमिट सुविधा मंजूर की थी, लेकिन एयरलाइन ने बैंक को ₹538.62 करोड़ का चूना लगाया। बैंक का आरोप है कि उसने जेट एयरवेज को ₹848.86 करोड़ की क्रेडिट सीमा और ऋण प्रदान किया था, जबकि ₹538.62 करोड़ बकाया था। एयरलाइन ने ऋण का एक हिस्सा कमीशन के रूप में संबंधित कंपनियों को भेज दिया।कंपनी के एक फोरेंसिक ऑडिट में ऋण राशि से फंड डायवर्जन से जुड़े धोखाधड़ी वाले लेनदेन का खुलासा हुआ। संबंधित कंपनियों को भुगतान किए गए कमीशन के रूप में सूचीबद्ध खर्चों में वास्तव में गोयल परिवार और घोटाले में शामिल अन्य व्यक्तियों से संबंधित लागतें शामिल थीं। एयरलाइन ने पेशेवर और परामर्श व्यय पर ₹11,152.62 करोड़ खर्च करने की सूचना दी थी, 1 अप्रैल, 2011 से 30 जून, 2019 तक कंपनी के वित्तीय रिकॉर्ड की जांच के दौरान ₹197.57 करोड़ के लेनदेन को संदिग्ध माना गया था। इन संस्थाओं का टर्नओवर समान था प्रोफेशनल और कंसल्टेंसी खर्चों की आड़ में जेट एयरवेज द्वारा दर्ज की गई व्यय राशि।

See also  यशस्वी जायसवाल का जीवन परिचय | Yashasvi Jaiswal Indian cricketer Biography in Hindi | Yashasvi Jaiswal Family, Early Life, Education, Cricket Career

शिकायत के अनुसार,टेल विंड्स लिमिटेड द्वारा प्रवर्तित जेट एयरवेज (इंडिया) लिमिटेड (जेआईएल), जो गोयल और उनके सहयोगियों के स्वामित्व वाली एक विदेशी कंपनी है, 2005 से केनरा बैंक के साथ काम कर रही थी और अगस्त 2018 से तरलता और परिचालन संबंधी मुद्दों का दावा कर रही थी। 2019 में एनपीए हो गया।EY द्वारा किए गए एक फोरेंसिक ऑडिट से पता चला कि JIL ने संबंधित पक्षों को कुल कमीशन खर्च के लिए ₹1,410.41 करोड़ का भुगतान किया था। जेआईएल द्वारा सामान्य विक्रय एजेंटों (जीएसए) के खर्च का भुगतान ₹403.27 करोड़ किया गया, जो जीएसए समझौते के अनुरूप नहीं था।शिकायत में यह भी आरोप लगाया गया है कि जेट लाइट (इंडिया) लिमिटेड (जेएलएल), जो कि एक सहायक कंपनी है, के माध्यम से अग्रिम भुगतान और निवेश के माध्यम से और बाद में प्रावधान करके उसे बट्टे खाते में डालकर कथित तौर पर धन की हेराफेरी की गई।कथित तौर पर जेआईएल द्वारा जेएलएल को ऋण के रूप में ₹2,547.83 करोड़ की धनराशि हस्तांतरित की गई थी, लेकिन कभी वापस भुगतान नहीं किया गया। पेशेवर और परामर्श व्यय के लिए किए गए भुगतान के माध्यम से कथित तौर पर ₹400 करोड़ से अधिक की हेराफेरी की गई।

Also Read: भारत की महिला (इसरो वैज्ञानिक) नंदिनी हरिनाथ का जीवन परिचय | Chandrayaan-3

नरेश गोयल और विवाद (Naresh Goyal and Controversy)

Naresh Goyal Biography: 2000 के दशक में उनके खिलाफ एक जनहित याचिका दायर की गई थी, जिसमें उन पर अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के साथ संबंध रखने का आरोप लगाया गया था। ऐसा कहा गया था कि जेट एयरवेज की स्थापना दाऊद ने की थी लेकिन सुरक्षा मंजूरी के साथ सरकार ने उसे क्लीन चिट दे दी थी।उनके साथ जुड़ी 19 से ज्यादा निजी तौर पर आयोजित फर्मों से जुड़े संदिग्ध लेनदेन में शामिल होने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (फेमा) के तहत मनी लॉन्ड्रिंग का भी मामला दर्ज किया गया था और मार्च 2019 में टिकटिंग एजेंट से उद्यमी बने नरेश के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। गोयल ने अपनी पत्नी अनीता गोयल के साथ जेट एयरवेज के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया।नरेश और अनीता गोयल पर फरवरी 2020 में एमआरए मार्ग पुलिस द्वारा धोखाधड़ी और आपराधिक विश्वासघात के आरोप में मामला दर्ज किया गया था। 

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja