Swachh Bharat Abhiyan | स्वच्छ भारत अभियान के प्रभाव व परिणाम

Swachh Bharat Abhiyan

Swachh Bharat Abhiyan:- भारत को सुंदर साफ और स्वच्छ बनाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा स्वच्छ भारत मिशन यानी कि स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Abhiyan) की शुरुआत 2014 में की गई थी स्वच्छ भारत आज के समय में भारत देश का एक अभिन्न हिस्सा बन चुका है भारत को स्वच्छ रखने के लिए सरकार द्वारा कई सुविधाएं मुहैया कराई गई वही हर साल भारत सरकार द्वारा जो शहर सबसे ज्यादा सच रहता है जोहर साफ सफाई का ध्यान रखा जाता है उसे Swachh Bharat Abhiyan के तहत नंबर वन शहर का दर्जा दिया जाता है। इस लेख के जरिए हम आपको स्वच्छ भारत अभियान क्या है? (What is Swachh Bharat Abhiyan)

स्वच्छ भारत अभियान कब शुरू (When Swachh Bharat Abhiyan launched) हुआ स्वच्छ भारत अभियान के प्रभाव (Effects of Swachh Bharat Abhiyan) स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण (Swachh Bharat Mission Gramin) स्वच्छ भारत अभियान के परिणाम (Results of Swachh Bharat Abhiyan) इन सभी बंधुओं के बारे में विस्तार में बताएंगे। स्वच्छ भारत अभियान को और अच्छे से समझने के लिए लेख को आखिर तक पूरा पढ़ें

स्वच्छ भारत अभियान | Swachh Bharat Abhiyan

India में Swachh Bharat Abhiyan सबसे महत्वपूर्ण और लोकप्रिय मिशनों में से एक है। स्वच्छ भारत अभियान का मतलब Swachh Bharat Mission है। यह अभियान India के सभी शहरों और कस्बों को साफ करने के लिए तैयार किया गया था। यह अभियान भारत सरकार द्वारा प्रशासित किया गया था और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) द्वारा शुरू किया गया था। इसे महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के स्वच्छ भारत के दृष्टिकोण का सम्मान करने के लिए 2 अक्टूबर को लॉन्च किया गया था। स्वच्छ भारत अभियान का स्वच्छता अभियान राष्ट्रीय स्तर पर चलाया गया और इसमें ग्रामीण और शहरी सभी कस्बों को शामिल किया गया।

यह लोगों को स्वच्छता के महत्व के बारे में जागरूक करने में एक महान पहल के रूप में कार्य करता है। स्वच्छ भारत अभियान Mahatma Gandhi  के 145 वें जन्मदिवस के दिन शुरु किया गया था। स्वच्छ भारत अभियान को Central और State Government के बीच वित्तीय रूप से साझा किया गया था, जिसने परिणामों पर स्थानीय स्वामित्व बनाया, और प्रमुख विकास भागीदारों द्वारा समर्थित किया गया। राज्यों को यह तय करने की अनुमति दी गई थी कि वे घरेलू स्तर तक किस तरह से वित्त पोषण का विकेंद्रीकरण (decentralization of finance)करना चाहते हैं।

See also  Naya vivah kanoon pass | अब लड़कियों की होगी 21 वर्ष में शादी | Girl's marriage age was 18 years to 21 years | जानिए उम्र बढ़ाने के फायदे

Swachh Bharat Abhiyan in Hindi

टाइटलस्वच्छ भारत अभियान
लेख प्रकारआर्टिकल
साल2023
स्वच्छ भारत अभियान कब लॉंच किया गया2014
स्वच्छ भारत अभियान किस दिन लॉंच किया गया2 अक्टूबर 
स्वच्छ भारत अभियान किसका मिशन हैकेंद्रीय सरकार
स्वच्छ भारत अभियान शुरु करने वाले पीएम का नामनरेंद्र मोदी
स्वच्छ भारत अभियान देश में किस स्तर पर हैराष्ट्रीय, शहरी, ग्रामीण

स्वच्छ भारत अभियान क्या है?

India को स्वच्छ बनाने के उद्देश्य से 2 अक्टूबर, 2014 को Rajghat, New Delhi में Prime Miinister Narendra Modi द्वारा स्वच्छता अभियान शुरू किया गया था। इस अभियान का उद्देश्य 2 अक्टूबर 2019 तक प्रत्येक परिवार को शौचालय, ठोस और तरल अपशिष्ट निपटान प्रणाली, गाँव की सफाई और सुरक्षित और पर्याप्त पेयजल आपूर्ति सहित स्वच्छता सुविधाएँ प्रदान करना था। यह Father of the Nation Mahatma Gandhi के 150वीं जयंती पर एक उचित श्रद्धांजलि होगी। यह महत्वपूर्ण है कि Mission को सफल बनाने में खुद प्रधानमंत्री मोदी  बहुत सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। राजघाट पर उन्होंने स्वयं गली की सफाई कर अभियान की शुरुआत की थी। हालाँकि, यह स्पष्ट रूप से घोषित किया गया है कि अभियान केवल Government का कर्तव्य नहीं है, बल्कि देश को स्वच्छ या स्वच्छ रखने के लिए देश का प्रत्येक नागरिक समान रूप से जिम्मेदार है।

Swachh Bharat Abhiyan आज तक स्वच्छता अभियान के रूप में उठाया गया सबसे बड़ा कदम है। अभियान के शुभारंभ के दिन स्कूलों और कॉलेजों के छात्रों सहित लगभग 3 मिलियन सरकारी कर्मचारियों ने इसे विश्व स्तर पर लोकप्रिय बनाने और आम जनता को इसके बारे में Aware करने के लिए कार्यक्रम में भाग लिया था। यह कार्यक्रम 2 अक्टूबर 2014 को राष्ट्रपति भवन में 1500 लोगों की उपस्थिति में आयोजित किया गया था। इस अभियान को हरि झंडी पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Former President Pranab Mukherjee) द्वारा दिखाई गई थी।

स्वच्छ भारत अभियान कब शुरू हुआ?

Swachh Bharat Abhiyan 2014 में Indian Government द्वारा ठोस अपशिष्ट प्रबंधन में सुधार और खुले में शौच को खत्म करने के लिए शुरू किया गया एक राष्ट्रव्यापी अभियान है। 2 अक्टूबर 2014 को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा New Delhi में राजपथ पर Swachh Bharat Abhiyan की आधिकारिक शुरुआत की गई थी। जिस दिन आधिकारिक तौर पर अभियान शुरू किया गया था यानी 2 अक्टूबर 2014, महात्मा गांधी की 145वीं जयंती थी। Swachh Bharat Mission का उद्देश्य 2015 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा शुरू किए गए सतत विकास लक्ष्य संख्या 6 के लक्ष्य 6.2 को प्राप्त करना था।

See also  Kvs State Wise Selection List 2023 |  केंद्रीय विद्यालय क्लास 1 लॉटरी रिजल्ट 2023

अंग्रेजी में, अभियान “स्वच्छ भारत मिशन” का अनुवाद करता है। यह भारत का अब तक का सबसे बड़ा स्वच्छता अभियान है जिसमें देश के सभी हिस्सों से तीन मिलियन सरकारी कर्मचारियों और छात्रों ने भाग लिया है। अभियान का लक्ष्य 2 अक्टूबर 2019 तक, जो कि Mahatma Gandhi की 150वीं जयंती थी, एक ‘स्वच्छ भारत’ के दृष्टिकोण को प्राप्त करना था।

स्वच्छ भारत अभियान के प्रभाव 

साल 2014 में जब अभियान शुरू किया गया था तब लोग इस पहल पर विश्वास करने से झिझक रहे थे। लेकिन इस  अभियान का प्रभाव अब यानि की कुछ  साल बाद देखने को मिल रहा है। अब India खुले में शौच मुक्त है। लोगों के  घरों में Toilets हैं। इसके साथ ही लोगों के घरों में स्वच्छ और पीने योग्य पानी भी उपलब्ध है और हमारे शहर हर दिन स्वच्छ हो रहे हैं।Swachh Bharat Abhiyan के तहत बड़े पैमाने पर डोर-टू-डोर कचरा संग्रह और निपटान गतिविधियों की शुरुआत की गई। इससे कूड़ा निस्तारण की समस्या का समाधान करने में मदद मिली।

अक्टूबर 2021 में खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित महीने भर चलने वाले स्वच्छ भारत ड्राइव का उद्देश्य 75 लाख किलोग्राम प्लास्टिक (Plastic) और कचरा इकट्ठा करना था। अभियान के पहले 10 दिनों में, पूरे देश में 30 लाख किलोग्राम से अधिक कचरा एकत्र किया गया था। इसके अलावा, अपशिष्ट से धन की अवधारणा को बढ़ावा दिया जा रहा है।

स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण 

स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण (Swachh Bharat Mission-Gramin) ग्रामीण क्षेत्रों की स्वच्छता की दिशा में भारत सरकार की एक अच्छी पहल है जिसके लिए “पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय(Ministry of Drinking Water and Sanitation) द्वारा दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। मंत्रालय द्वारा  निर्देशों  के अनुसार स्वच्छ भारत मिशन के  चार प्राथमिक लक्ष्य हैं जिन पर स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) योजना काम करती है। Swachh Bharat Mission-Gramin(ग्रामीण) का प्राथमिक ध्यान गांवों से खुले में शौच को पूरी तरह से समाप्त करना है। पंचायती राज संस्थाएं और समुदाय गांव और उनके जीवन स्तर का प्रतिबिंब हैं, इसलिए सरकार ने स्वच्छता और उचित स्वच्छता को अपने नियमित अभ्यास में लाने का भी फैसला किया है ताकि इसे आसानी से गांव के लोगों तक पहुंचाया जा सके।

See also  DDA Salary Slip 2023 | डीडीए कर्मचारी ऑनलाइन वेतन पे-स्लिप रिकॉर्ड देखें | DDA Employee Salary Slip Download |@dda.org.in

सरकार  ने गाँवों को पर्याप्त प्रौद्योगिकियाँ प्रदान करने का निर्णय लिया है जो उनके लिए स्थायी स्वच्छता के साथ रहने में मदद करेगी।ग्रामीण क्षेत्रों में कचरे की भारी समस्या है। भारत के अधिकांश गाँवों में अपने ठोस और तरल कचरे के निपटान की उचित व्यवस्था नहीं है। यह एक अपरिहार्य समस्या है और सरकार ने इसे सामुदायिक प्रबंधित ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन प्रणाली विकसित (waste management system)  करने के लिए अपने प्राथमिक फोकस में से एक बना दिया है।

स्वच्छ भारत अभियान के परिणाम 

Swachh Bharat Abhiyan के तहत  2 अक्टूबर  2014 से  लेकर  2019 तक 10.24 करोड़ व्यक्तिगत घरेलू शौचालयों (household toilets) का निर्माण किया जा चुका है। वहीं  सरकार ने 2020-21 से 2024-25 तक की अवधि के लिए Swachh Bharat Abhiyan के चरण- II को मंजूरी दे दी है। देश के नए उभरते पात्र ग्रामीण परिवारों और गांवों में ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन के लिए शौचालय की सुविधा प्रदान किए जाएंगे ।

ये कार्य ओडीएफ स्थिरता पर ध्यान देते हुए किया जाएगा। स्वच्छ और स्वच्छ परिवेश के अलावा, इस मिशन में शामिल लोगों को सशक्त बनाया है और सम्मान भी दिया है। ओडिशा के पारादीप में ट्रांसजेंडर और कूड़ा बीनने वालों सक्रिय रूप से waste management system में शामिल किया गया है। चाहे प्रधानमंत्री सफाई कर्मचारियों के पैर धो रहे हों या कूड़ा बीनने वालों और Transgender को रोजगार मिल रहा हो, Swachh Bharat Abhiyan ने लोगों को नया सम्मान दिया है जो पहले नहीं था।

FAQ’s Swachh Bharat Abhiyan

Q. स्वच्छ भारत अभियान कब लॉंच किया गया  जाता है ?

Ans.साल 2014 में स्वच्छ भारत अभियान लॉंच किया गया।

Q.स्वच्छ भारत अभियान किसके द्वारा लॉंच किया गया ?

Ans.भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वच्छ भारत अभियान लॉंच किया गया।

Q.स्वच्छ भारत अभियानस किसकी पहल है ?

Ans.स्वच्छ भारत अभियान केंद्रीय सरकार की पहल है।

 

Q. स्वच्छ भारत अभियान के तहत सबसे सवच्छ सीटी कौन सी है?

Ans. स्वच्छ भारत अभियान के तहत देश की सबसे स्वच्छ सीटी इंदौर है।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja