World Mental Day 2023 | मानसिक स्वास्थ्य क्या है? और यह क्यों महत्वपूर्ण है, जाने लक्षण, उपाय, महत्व व प्रकार

World Mental Day Kya Hai?

Mental Health in Hindi: जैसा कि आप लोग जानते हैं कि हर एक व्यक्ति को मानसिक रूप से स्वस्थ रहना आवश्यक है’ क्योंकि हम आपको बता दें कि दुनिया में 800 मिलियन से अधिक लोग मानसिक बीमारी से ग्रस्त हैं ।  ऐसे में हम आपको बता दें कि 10 अक्टूबर पूरी दुनिया में World Mental Day के रूप में मनाया जाता है | इसके माध्यम से पूरी दुनिया में मासिक स्वास्थ्य के प्रति लोगों में जागृति और चेतना लाई जाती है ताकि लोग अपने आप को मानसिक रूप से स्वस्थ रख सके। हम आपको बता दें कि हमारे जीवन में मानसिक स्वास्थ्य का विशेष महत्व है इसके माध्यम से हम अपने आप को कई दूसरे गंभीर बीमारियों से बचा सकते हैं ऐसे में लोगों के मन में सवाल आता है की मासिक स्वास्थ्य क्या है और यह क्यों जरूरी है अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं तो आज के आर्टिकल में Mental Health in Hindi, मानसिक स्वास्थ्य क्या है? और यह क्यों महत्वपूर्ण है | जुड़ी सभी चीजों के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी आपके साथ साझा करेंगे इसलिए अनुरोध है कि आर्टिकल पर आखिरी तक बन रहे हैं आईए जानते हैं:-

मानसिक स्वास्थ्य का अर्थ एवं परिभाषा | Mental Health Definition in Hindi

Manasik Svasthy Ka Arth Or Paribhasha: मानसिक स्वास्थ्य का मतलब होता है कि आपका मन स्थिर और संतुलित है यानी आप किसी भी परिस्थिति का सामना सहज तरीके से कर सकते हैं और साथ में जीवन में जो भी आपका कर्तव्य और दायित्व हैं उसका निर्भय आप अच्छी तरह से करने में योग्य हैं।

विभिन्न विद्वानों ने मानसिक स्वास्थ्य की परिभाषाएँ विभिन्न प्रकार से दी हैं। यहाँ हम इनमें से प्रमुख परिभाषाएँ दे रहे हैं

1. हेडफील्ड- “साधारण शब्दों में हम कह सकते हैं कि मानसिक स्वास्थ्य सम्पूर्ण व्यक्तित्व का पूर्ण सामंजस्य के साथ कार्य करना है।”

2. लैण्डेल- “मानसिक स्वास्थ्य का अर्थ है- वास्तविकता के धरातल पर वातावरण से पर्याप्त सामंजस्य स्थापित करने की योग्यता ।”

कुप्पूस्वामी- “मानसिक स्वास्थ्य का अर्थ है दैनिक जीवन में भावनाओं, इच्छाओं, महत्त्वाकांक्षाओं और आदर्शों में सन्तुलन रखने की योग्यता। इसका अर्थ है जीवन की वास्तविकताओं का सामना करने और उसको स्वीकार करने की योग्यता ।”

See also  अंतर्राष्ट्रीय गणित दिवस 2023 | 10 विश्व प्रसिद्ध गणितज्ञ | International Mathematics Day Theme

मानसिक स्वास्थ्य का महत्व | Importance of Mental Health

मासिक स्वास्थ्य हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा है मासिक स्वस्थ व्यक्ति के मन को स्थिर और संतुलित करने में अहम भूमिका निभाता है आसान शब्दों में कहे तो मासिक स्वास्थ्य के द्वारा ही आप अपने दिमाग को सकारात्मक ऊर्जा से परिपूर्ण कर सकते हैं जिसके फल स्वरुप आप अपने जीवन के सभी कर्तव्य निर्वाह अच्छी तरह से कर पाएंगे क्योंकि जब आपका मन स्थिर और स्वस्थ रहेगा तो आप अपने जीवन के सभी कामों को सुचारू रूप से पूर्ण कर पाएंगे लेकिन आज के समय असंतुलित दैनिक दिनचर्या के कारण लोगों को मानसिक स्वास्थ्य संबंधित कई गंभीर बीमारी हो जा रही है इसके कारण कई लोग तो आत्महत्या भी कर ले रहे हैं | मेंटल हेल्थ की समस्या विशेष तौर पर चिंता अवसाद और तनाव जैसी चीजों के कारण ही उत्पन्न होती हैं । मानसिक स्वास्थ्य की समस्या के कारण लोग अपने सगे संबंधित नौकरी जैसी चीजों से अलग हो जाते हैं और वह अकेले में रहना पसंद करते हैं जो उनके लिए काफी खतरनाक साबित होता है क्योंकि डिप्रेशन से पीड़ित व्यक्ति जब अकेले रहता है तो उसके अंदर आत्महत्या करने की भावना सबसे ज्यादा आती है और कई लोग तो आत्महत्या भी कर लेते हैं ।।

संतुलित मानसिक स्वास्थ्य व्यक्ति के जीवन में बहुत अधिक महत्व रखता है। संतुलित मानसिक स्वास्थ्य आपको सकारात्मक रहने की क्षमता प्रदान करता है  जिसके द्वारा आप अपने जीवन के सभी लक्ष्य को पूरा कर सकते हैं ।  मासिक स्वास्थ्य को संतुलित रखने के लिए आपको प्रतिदिन सकारात्मक सोच अभ्यास और आराम करने की जरूरत है और अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखें इसके अलावा अगर आप मासिक स्वास्थ्य की समस्या से पीड़ित है तो आप तुरंत किसी मनोरोग विशेषज्ञ बात करें ताकि आपकी डिप्रेशन समस्या से निजात पा सके एक स्वस्थ मानसिक स्वास्थ्य का होना आपकी जीवन गुणवत्ता और संवेदनशीलता को बढ़ाता है जिससे आपके संबंध दूसरों लोगों के साथ बेहतर होते हैं । हम आपको बता दें कि हमारे जीवन में मानसिक स्वास्थ्य का विशेष महत्व है इसके बिना हमारा जीवन अधूरा और बेजान  आपको प्रतीत होगा |

See also  बाबा रामदेव जी आरती | Baba Ramdev ji ki Aarti Lyrics MP3 Download PDF

मानसिक स्वास्थ्य की देखभाल कैसे करें? How to Take Care of Mental Health?

मानसिक स्वास्थ्य हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है इसके माध्यम से आप जीवन में हमेशा सकारात्मक रहेंगे और आपका समय दूसरों के साथ काफी अच्छे बनेंगे यदि आपके जीवन के सभी लक्ष्य की प्राप्ति करना है तो आपको मानसिक रूप से स्वस्थ रहना आवश्यक हैं। आज के समय में, मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित समस्याएं जैसे डिप्रेशन, अधिक तनाव, अनिद्रा, दुख, अल्ज़ाइमर रोग, भ्रम और अवसाद जैसी समस्याएं। तेजी के साथ दुनिया में प्रसारित हो रहे हैं इन समस्याओं से बच्चा हो या बड़ा, महिला हो या पुरुष, किसी भी जाति, धर्म का व्यक्ति हो वह डिप्रेशन का शिकार है  इन समस्याओं से निपटने के लिए समय पर उपचार और सही दिशा-निर्देश बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। मासिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए आपको अपने खान पान और अपने दैनिक दिनचर्या का विशेष ध्यान रखना होगा इसके अलावा, योग, ध्यान और अन्य धार्मिक व्यायाम भी मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। 

इन सब उपाय के माध्यम से आप अपने आप को मानसिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं यदि आप मानसिक बीमारी से पीड़ित हैं तो आपको मनोरोग डॉक्टर से जरूर जाकर परामर्श लेना चाहिए ताकि आप इस बीमारी से बच सके | हमें अपनी मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए बोलने का साहस दिखाना चाहिए  मानसिक स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं से निपटने के लिए समाज में मानसिक स्वास्थ्य संबंधित बीमारियों के प्रति जागृति लानी होगी इसके अलावा आपको हमेशा अपने जीवन में खुश रहना चाहिए क्योंकि आप जितना अधिक खुश रहेंगे आप जीवन में मानसिक रूप से स्वस्थ रह पाएंगे |

इन्हें भी पढ़ें:-विश्व खाद्य दिवस कब व क्यों मनाया जाता है? जानें थीम, इतिहास और महत्व

मानसिक स्वास्थ्य क्या है? What is Mental Health in Hindi

Mental Health Kya Hai: मानसिक  स्वास्थ्य क्या है तो हम आपको बता दे की मानसिक स्वास्थ्य का संबंध किसी भी व्यक्ति भावनात्मक (इमोशनल), मनोवैज्ञानिक (साइकोलॉजिकल) और सामाजिक (सोशल) स्थिति से जुड़ा होता है।  WHO संस्थान के अनुसार मानसिक स्वास्थ्य एक ऐसी अवस्था है जिसमें व्यक्ति को एहसास होता है कि वह किसी भी कठिनाई और विपरीत परिस्थिति का सामना डटकर कर सकता हैं।

See also  Swami Vivekananda Jayanti 2024 | स्वामी विवेकानंद जयंती कब मनाई जाती है?

मानसिक स्वास्थ्य के उपाय | मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं का निदान

व्यक्ति की मेडिकल हिस्ट्री –

मानसिक स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं के निदान करने के लिए डॉक्टर सबसे पहले व्यक्ति का मेडिकल हिस्ट्री चेक करेगा कि व्यक्ति को पहले कौन-कौन सी बीमारी थी और उसने उसके लिए क्या-क्या दवाइयां खाई थी उसके आधार पर ही उसका मानसिक स्वास्थ्य संबंधित समस्या का डायग्नोस्टिक होगा

शारीरिक परीक्षण और लैब टेस्ट –

मेडिकल हिस्ट्री के बारे में जो डॉक्टर को जानकारी लग जाती है तो उसके बाद डॉक्टर इस बात को जाना चाहता है कि आपको किस कारण से मानसिक संबंधित बीमारी हुई है उसके लिए आपका डॉक्टर कई प्रकार का मेडिकल चेकअप करेगा और उसके आधार पर आपको दवाइयां यहां पर दी जाएंगे

मनोवैज्ञानिक मूल्यांकन (साइकोलॉजिकल इवेलुएशन)

इसके अंतर्गत मनोरोग डॉक्टर के द्वारा आपका मनोवैज्ञानिक मूल्यांकन किया जाएगा जहां पर आपको कई प्रकार के सवाल किए जाएंगे अरुण सवालों के जवाब पर ही आपकी मानसिक समस्या बीमारी का इलाज डॉक्टर के द्वारा किया जाएगा ।

FAQ’s: Mental Health Kya Hai

Q. मानसिक बीमारी के 4 प्रकार कौन-कौन से हैं?

मानसिक स्वास्थ्य के प्रकार चार से ज्यादा हैं, जिसमें चिंता, डिप्रेशन, फोबिया और तनाव को शामिल किया गया हैं।

Q. बिगड़ते मानसिक स्वास्थ्य के पहले लक्षण क्या हैं?

Ans बिगड़ते मानसिक स्वास्थ्य के पहला लक्षण बेवजह खाने और सोने की आदतों में परिवर्तन होना हो सकता हैं।

Q. पागलपन किस तरह की बीमारी है?

पागलपन एक तरह की मानसिक बीमारी है, जिसमें  व्यक्ति की सोचने और समझने की शक्ति बिल्कुल कम हो जाती हैं।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja