Indian Navy Day 2023 | भारतीय नौसेना दिवस कब, क्यों कैसे मनाया जाता है?

Indian Navy Day

Indian Navy Day 2023: भारतीय नौसेना दिवस (Indian Navy Day 2023) प्रत्येक साल भारत में 4 दिसंबर को मनाया जाता है । भारतीय नौसेना दिवस भारत कि नौसेना बलों की उपलब्धियों को  याद करने के उद्देश्य से भी मनाया जाता है। किसी भी देश की अगर नौसेना मजबूत है’ तो उसे देश की समुद्री सीमाओं की रक्षा काफी चौकस के साथ होगी । ताकि कोई भी दुश्मन उसके सीमा के भीतर प्रवेश न कर सकें। 1971 के भारत पाकिस्तान के युद्ध में भारतीय नौसेना की भूमिका काफी अहम थी।  उनके द्वारा पाकिस्तान के कई नौसेना अड्डों को तबाह किया गया था। उनके इस योगदान को ही याद करने के लिए भारत में 4 दिसंबर Indian Navy Day 2023  के रूप में मनाया जाता है। भारतीय नौसेना 1612 में  स्थापित किया गया था। जब ईस्ट इंडिया कंपनी ने इसे रॉयल इंडिया नेवी के नाम से एक नौसेना बनाई थी ताकि वह अपने सभी व्यापारिक ठिकानों की रक्षा कर सकें।  स्वतंत्रता के बाद 1950 में इसे भारतीय नौसेना के तौर पर पुनर्गठित किया गया। इसलिए आज का आर्टिकल में Indian Navy Day 2023 के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी आपके साथ साझा करेंगे । आप आर्टिकल पर आखिर तक बने रहिएगा’  आईए जानते हैं- 

4 दिसंबर को ही क्यों मनाया जाता है भारतीय नौसेना दिवस

4 दिसंबर को भारतीय नौसेना दिवस मनाने का प्रमुख उद्देश्य नौसेना के क्षेत्र में काम करने वाले अधिकारियों को सम्मानित और साथ में नौसेना अधिकारियों को याद भी करना है। जिन्होंने भारतीय नौसेना के लिए अपने प्राण निछावर किए थे। 1971 के भारत-पाक युद्ध में भारतीय नौसेना की भूमिका उल्लेखनीय रही थी।  जिसके कारण भारत को 1971 में जीत हासिल हुई थी। पाकिस्तान ने 3 दिसंबर को भारतीय हवाई अड्डे पर हमला कर दिया। पाकिस्तानी नेवी के आक्रमण का मुंह तोड़ जवाब देते हुए भारतीय नौसेना ने 4 या 5 दिसंबर की रात हमले की योजना बनाते हुए सैकड़ो पाकिस्तानी नौसेना के जवानों को मार गिराया था।  इस मिशन का नेतृत्व कमोडोर कासरगोड पट्टणशेट्टी गोपाल राव ने किया था। उसके बाद ही 4 दिसंबर भारत में नौसेना दिवस के रूप में मनाया जाएगा इसकी आधिकारिक घोषणा की गई थी।

Also Read: पीएम ने दी महिलाओं को बड़ी सौगात, महिला ड्रोन केंद्र की हुई शुरुआत

भारतीय नौसेना दिवस क्या है? What is Indian Navy Day

भारतीय नौसेना दिवस (Indian Navy Day) राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय नौसेना में काम करने वाले अधिकारियों को सम्मानित करने के उद्देश्य से मनाया जाता है। जैसा कि आप लोग जानते हैं कि किसी भी देश के समुद्री रक्षा की जिम्मेदारी नौसेना के ऊपर होती है। उसके द्वारा ही देश के समुद्री सीमा की रक्षा होती है ताकि कोई भी दुश्मन देश समुद्री सीमा के माध्यम से हमारे देश में प्रवेश ना कर सकें। भारत कि नौसेना काफी तत्पर और तेज तर्रार मानी जाती है और भारतीय सीमाओं की रक्षा ईमानदारी और कर्तव्य निष्ठा के साथ करती है। 

See also  Diwali Shayari in Hindi | दिवाली पर अपने दोस्तों को WhatsApp, Instagram, Facebook के माध्यम से दिवाली पर बेहतरीन शायरी के जरिये ये शुभकामनाएं दे

Also Read: राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस कब व क्यों मनाया जाता है?

भारतीय नौसेना दिवस क्यों मनाया जाता है? Why Indian Navy Day Celebrated

भारत में  4 दिसंबर, 1971 को ऑपरेशन ट्राइडेंट के दौरान कराची सीमा पर हुए  पाकिस्तान नेवी के साथ लड़ाई करते हुए जिन जवानों ने अपने प्राणों कि आहुति दी थी, उनको याद और सम्मान करने के लिए नौसेना दिवस मनाया जाता है।  इस दिन भारतीय नौसेना के युद्धपोत और विमान आगंतुकों के लिए खुले रहते है। नौसेना महोत्सव में पत्रकार सैन्य फोटो प्रदर्शनी की मेजबानी करते हैं। पत्रकार नौसेना महोत्सव में सैन्य फोटो प्रदर्शनी की मेजबानी करते हैं। नौसेना दिवस समारोह के दौरान होने वाले सभी कार्यक्रमों और गतिविधियों की योजना विशाखापत्तनम में पूर्वी नौसेना कमान द्वारा बनाई गई है। युद्ध स्मारक (आरके बीच पर स्थित) पर एक आधिकारिक पुष्पांजलि समारोह आयोजित किया जाता है और इसके बाद नौसेना बलों की ताकत और कौशल का व्यावहारिक प्रदर्शन किया जाता है।

भारतीय नौसेना दिवस  कब मनाया जाता है | When Indian Navy Day is Celebrated

भारतीय नौसेना दिवस ( Indian Navy Day)  4 दिसंबर को भारत में मनाया जाता है। इस दिन कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं । जहां पर नौसेना के वीरता और योगदान को याद किया जाता है ।

भारतीय नौसेना दिवस कैसे मनाया जाता है? How Indian Navy Day is Celebrated

भारतीय नौसेना दिवस पर सभी भारतीय नौसेना के अधिकारी और कर्मचारी विशाखापट्टनम के पूर्वी कमान पर स्थित बेस पर इकट्ठा होते हैं और वहां पर सभी लोग मिलकर भारतीय नौसेना दिवस को मनाते हैं । इस दिन कई प्रकार के कार्यक्रम भी आयोजित होते हैं । जिसमें नौसेना के अधिकारी और साथ में भारत के रक्षा मंत्री भी शामिल होते हैं । यहां पर भारतीय नौसेना अधिकारियों के वीरता और उनके द्वारा दिए गए योगदान को याद किया जाता है। युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि समारोह से होती है और इसके बाद नौसेना की पनडुब्बियों, जहाजों, विमानों और अन्य बलों के कौशल को दिखाने के लिए एक प्रदर्शन किया जाता है। भारतीय नौसेना के दिन नौसेना के जहाज पर आम लोग और छात्र आसानी से जा सकते हैं ।

See also  धनतेरस स्टेटस हिंदी में | Dhanteras Status in Hindi | Dhanteras (Latest) Caption WhatsApp, Facebook Status

भारतीय नौसेना दिवस का इतिहास | Indian Navy Day History

भारतीय नौसेना की स्थापना 1612 में ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा की गई थी। 1971 में भारत-पाक युद्ध के दौरान पाकिस्तान ने 3 दिसंबर को भारतीय हवाई अड्डों पर हमला कर दिया था. उनके आक्रामक हमलों के जवाब में, भारतीय नौसेना ने 4 और 5 दिसंबर की रात को हमले की योजना बनाई, क्योंकि पाकिस्तान के पास बमबारी करने के लिए विमान नहीं थे। भारतीय नौसेना ने ऑपरेशन ट्राइडेंट के दौरान कराची के पाकिस्तानी नौसेना मुख्यालय को  टारगेट  बनाया। इसके लिए भारतीय नौसेना ने तीन मिसाइल नौकाओं, आईएनएस वीर, आईएनएस निपत और आईएनएस निर्घाट, और विद्युत-श्रेणी की नौकाओं को कराची की ओर लॉन्च किया और पीएनएस खैबर सहित तीन पाकिस्तानी नौसेना जहाजों को डुबो दिया। 

जिसके दौरान सैकड़ों पाकिस्तानी नौसेना कर्मी मारे गए थे। कमोडोर कासरगोड पट्टानशेट्टी गोपाल राव ने भारतीय नौसेना के पूरे ऑपरेशन का संचालन किया था।  जिसके कारण भारत को युद्ध में एक बहुत बड़ी सफलता प्राप्त हुई थी।  जिसके कारण भारत को 1971 का युद्ध जीतने में  आसानी हुई थी। भारत 1971 का युद्ध जीत गया था भारतीय नौसेना के सफलता का जशन बनाने के लिए पूरे देश में भारतीय नौसेना दिवस 4 दिसंबर को मनाई जाती है। इस दिन सभी लोग भारतीय नौसेना दिवस के दिन एक दूसरे को हार्दिक शुभकामनाएं भी भेजते हैं और साथ में अपने नौसेना अधिकारियों को सम्मानित भी किया जाता है ।  

यह भी पढ़ें:- यूट्यूब से गाना कैसे डाउनलोड करें

भारतीय नौसेना दिवस का महत्व | Indian Navy Day Significance

भारत के राष्ट्रपति भारतीय नौसेना के कमांडर-इन-चीफ के रूप में कार्य करते हैं। यह भारतीय सशस्त्र बलों की समुद्री शाखा है। 17वीं शताब्दी में शासन करने वाले मराठा सम्राट छत्रपति शिवाजी भोसले को “भारतीय नौसेना के जनक” के रूप में जाना जाता है। भारतीय नौसेना (Indian Navy) देश के समुद्री सीमाओं को सुरक्षित करने का काम करती है। इसके अलावा बंदरगाह यात्राओं, सहयोग, देशभक्ति मिशन, आपदा राहत और कई अन्य गतिविधियों जैसे विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से भारत के अंतरराष्ट्रीय संबंधों को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान देती है। हिंद महासागर क्षेत्र में नौसेना की स्थिति को मजबूत करने के लिए भारतीय नौसेना में कई प्रकार के आधुनिक बदलाव किए जा रहे हैं’ और उन्हें कई प्रकार के आधुनिक हथियारों से भी ली किया जा रहा है। ताकि भारत की नौसेना और भी ज्यादा उन्नत और आधुनिक बन सकें। 

भारतीय नौसेना दिवस 2023 थीम | Indian Navy Day Theme 2023

2023 में भारतीय नौसेना दिवस का थीम ‘Operational Efficiency, Readiness, and Mission Accomplishment in the Maritime Domain. निर्धारित किया गया है। इसके अंतर्गत ही 2023 में भारतीय नौसेना दिवस मनाया जाएगा

See also  चैत्र नवरात्रि 2023 घटस्थापना मुहूर्त | नवरात्रि मुहूर्त | Chaitra Navratri 2023 Ghatasthapana Muhurat

भारतीय नौसेना दिवस पर कोट्स | Indian Navy Day Quotes 

भारतीय नौसेना दिवस 2023 पर, हमारे नौसैनिक नायकों को निष्पक्ष हवाओं, शांत समुद्र और हमारे देश की समुद्री सीमाओं की सुरक्षा में निरंतर सफलता की शुभकामनाएं। 

नौसेना दिवस 2023 पर भारतीय नौसेना की अदम्य भावना और समर्पण को सलाम। आप गर्व के साथ नौकायन जारी रखें और हमारे तटों की रक्षा करें। 

भारतीय नौसेना दिवस 2023 पर हमारे समुद्र के संरक्षकों को हार्दिक शुभकामनाएं। आपकी बहादुरी और प्रतिबद्धता हम सभी को प्रेरित करती है। 

इस भारतीय नौसेना दिवस पर, हम भारतीय नौसेना के पुरुषों और महिलाओं को उनकी निस्वार्थ सेवा के लिए हार्दिक आभार व्यक्त करते हैं। आप अपने सभी प्रयासों में उत्कृष्टता प्राप्त करते रहें। 

जैसा कि हम भारतीय नौसेना दिवस 2023 मनाते हैं, यहां उन समुद्री रक्षकों को सलाम है जो समुद्र में हमारी सुरक्षा सुनिश्चित करते हैं। भारतीय नौसेना की निरंतर सफलता और समृद्धि की कामना करता हूं।

समरी 

आशा करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल भारतीय नौसेना दिवस आपको पसंद आया होगा आर्टिकल से जुड़ा आपका कोई भी अहम सुझाव या प्रश्न है तो कमेंट सेक्शन में आकर पूछे उसका उत्तर हम आपको जरूर देंगे तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल में..!!

FAQ’s: Indian Navy Day 2023

भारतीय नौसेना के जनक कौन हैं?

Ans. मराठा सम्राट छत्रपति शिवाजी महाराज को भारतीय नौसेना का जनक माना जाता है।

Q. नौसेना दिवस पर भारतीय नौसेना राष्ट्रीय सुरक्षा में कैसे योगदान देती है?

Ans.नौसेना राष्ट्र की रक्षा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत करते हुए समुद्री क्षेत्र में परिचालन दक्षता, निरंतर तत्परता और सफल मिशन उपलब्धि सुनिश्चित करती है।

Q. भारतीय नौसेना दिवस कब मनाया जाता है? 

Ans. भारतीय नौसेना दिवस प्रत्येक साल 4 दिसंबर को मनाया जाता है ।

Q.  भारतीय नौसेना की स्थापना कब की गई थी?

Ans . भारतीय नौसेना की स्थापना ईस्ट इंडिया कंपनी के द्वारा 1612 में किया गया था। देश आजादी के बाद 1952 में इसे भारतीय नौसेना के तौर पर पुनर्गठित किया गया।

Q. भारतीय नौसेना का  मुख्य मुख्यालय कहां है?

Ans भारत के मुंबई शहर में है ।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja