Kisan Diwas 2022 | किसान दिवस कब और कैसे मनाया जाता है

By | नवम्बर 24, 2022
Kisan Diwas

kisan Diwas 2022:- जैसा कि आप लोग जानते हैं कि भारत एक कृषि प्रधान देश है और यहां की अधिकांश जनसंख्या कृषि के कार्य कर अपनी जीविका चलाते हैं I किसान दिवस 23 दिसंबर 2022 को भारत में हर्षोल्लास और धूमधाम के साथ मनाया जाएगा . इस दिन कृषि संबंधित कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे . जिसमें भारत के कोने-कोने से किसान सम्मिलित होकर अपने विचार कृषि के कामों पर रखेंगे और लोगों को और भी ज्यादा कृषि के कामों में जोड़ने का काम भी किसान दिवस के माध्यम से किया जाएगा I इसके अलावा सरकार भी कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित करेगी जिसमें किसानों के लिए सरकार किस प्रकार के और भी नए योजना का संचालन करेगी उसकी रूपरेखा का प्रस्तुतीकरण किया जाएगा I 

अब आप लोगों के मन में सवाल आएगा कि Kisan divas Kab ha? किसान दिवस क्यों मनाया जाता है ? भारत में किसानों का योगदान क्या है? भारतीय किसान की योजनाएं किसान दिवस आयोजन ऐसे तमाम सवाल आपके मन में आ रहे होंगे अगर आप उनके जवाब जाना चाहते हैं तो हमारे साथ आर्टिकल पर बने रहें चलिए शुरू करते हैं-

Kisan Diwas 2022

आर्टिकल का प्रकारमहत्वपूर्ण दिवस
आर्टिकल का नामकिसान दिवस
साल2022
कहां मनाया जाएगापूरे भारतवर्ष में
कब मनाया जाएगा23 दिसंबर को
क्यों मनाया जाएगाचौधरी चरण सिंह के जन्मदिन के उपलक्ष में

किसान दिवस कब हैं? National Farmers Day 2022

23 दिसंबर 2022 को भारत में राष्ट्रीय किसान दिवस धूमधाम के साथ मनाया जाएगा I

राष्ट्रीय किसान दिवस क्यों मनाया जाता हैं?

राष्ट्रीय किसान दिवस क्यों मनाया जाता है आपके मन में सवाल आ रहा होगा तो मैं आपको बता दें कि दरअसल 23 दिसंबर को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह का जन्मदिन है उनके जन्मदिन को ही किसान दिवस के रूप में मनाया जाता है चौधरी चरण सिंह ने किसानों के हित के लिए अनेकों प्रकार के लॉक हितकारी योजना का संचालन किया चौधरी चरण सिंह ऐसे प्रधानमंत्री थे जिन्होंने किसानों के उत्थान के लिए कई काम किए यही वजह है कि चौधरी चरण सिंह के जन्मदिन को किसान दिवस के रूप में भारत में मनाया जाता है और किसान दिवस मनाने की परंपरा 2001 से शुरू हुई जो आज तक हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है और भविष्य में भी परंपरा का अनुसरण किया जाएगा

READ  Navratri 2022 | नवरात्रि कब से शुरू होगी | स्थापना, मुहूर्त, नवरात्रि की महिमा जाने

भारत में किसानो का योगदान | Contribution Farmers In India

भारत में किसानों का योगदान अतुल्य और स्मरणीय है जिसे शब्दों में बयान कर पाना किसी भी व्यक्ति के लिए संभव नहीं है भारत दुनिया की आज की तारीख में पांचवी बड़ी अर्थव्यवस्था है और अर्थव्यवस्था में कृषि का सबसे अधिक योगदान होता है क्योंकि देश में जाने वाले जितने भी नागरिक हैं उन्हें भोजन की खाद्य सामग्री कृषि के कामों से ही प्राप्त होती है ऐसे में अगर किसी भी देश में किसान ना हो तो उस देश के नागरिकों का जीवन खतरे में पड़ जाएगा और साथ में देश की अर्थव्यवस्था भी काफी नीचे चली जाएगी भारत आज दुनिया का एक उभरता हुआ कृषि आधारित अर्थव्यवस्था है यहां पर 60% जनसंख्या कृषि के कामों में लगी हुई है

जिसके कारण भारत में पर्याप्त मात्रा में खाने की खाद सामग्री का उत्पादन होता है जिससे हमारे देश को भारी देशों से कोई भी खाने की सामग्री मंगाने की जरूरत नहीं होती है बल्कि हम अपने यहां से कई खाने की खाद सामग्री का निर्यात दूसरे देशों को करते हैं जिससे हमें विदेशी मुद्रा भंडार की प्राप्ति होती है यही वजह है कि भारत आज तेजी के साथ दुनिया का सबसे बड़ा अर्थव्यवस्था बनने की कतार में बढ़ रहा है और अगर भारत सरकार कृषि से जुड़े हुए कामों को और भी ज्यादा प्रोत्साहित करेगी और किसानों के आर्थिक स्तर को ऊंचा करने का निरंतर प्रयास करें तो यकीनन भारत एक दिन दुनिया का सबसे शक्तिशाली अर्थव्यवस्था वाला देश बन जाएगा

READ  Navratri Colours 2022 | नवरात्रि पर नौ रंग का महत्व जाने

National Farmers Day 2022

National Farmers Day इस दिसंबर 2022 को भारत में काफी धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा इस दिन कई प्रकार के कृषि संबंधित कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे जिसमें भारत के सभी राज्यों के बड़े और छोटे किसान सम्मिलित होकर किसान दिवस के महा उत्सव को काफी आनंद और उत्साह के साथ मनाएंगे

भारत सरकार की किसान योजनायें  Indian Farmers Govt. yojana

भारत सरकार की किसान संबंधित कई प्रकार की योजना का संचालन आज देश भर में किया जा रहा है उन सभी योजनाओं का विवरण हम आपको नीचे बिंदुसार दे रहे हैं आइए जानते हैं

किसान दिवस आयोजन National Farmers Day celebrate

Kisan Diwas 2022 का आयोजन देश भर में 23 दिसंबर को काफी धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ आयोजित किया जाता है जिसमें भारत के प्रत्येक राज्य के किसान सम्मिलित होकर किसान दिवस के संबंध में अपने विचार लोगों के सामने रखते हैं इसके अलावा कई जगह पर किसान जागरूकता रैली आयोजित की जाती है जिसमें लोगों को किसानों के भारत के आर्थिक विकास में क्या योगदान है उसके बारे में लोगों को जागृत किया जाता है इसके अलावा इस रैली में आम जनता भी बढ़-चढ़कर भाग लेती है ताकि हम उन किसानों को भी अपनी सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित कर सके जिन्होंने कृषि संबंधित कार्य में अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया

इस दिन भारत के पांचवें प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को भी सुमन अर्पित कर कर सच्ची श्रद्धांजलि दी जाती है क्योंकि चौधरी चरण सिंह को किसानों का नेता कहा जाता है उन्होंने किसानों के हित के लिए जितना काम किया शायद ही भारत के राजनीतिक में किसी प्रधानमंत्री ने किया होगा यही वजह है कि उनके जन्मदिन को भारत में किसान दिवस के रूप में मनाया जाता है I

READ  Vijayadashami 2022 | विजयादशमी कब है, पूजा व रावण दहन मुहूर्त

FAQ’s Kisan Diwas 2022

Q. किसान दिवस कब मनाया जाता है?

Ans. 23 दिसंबर 2022

Q. किसान दिवस क्यों मनाया जाता है?

Ans. किसान दिवस चौधरी चरण सिंह के जन्मदिन के उपलक्ष में मनाया जाता है I

Q. किसान दिवस भारत में सबसे पहले कब मनाया गया था?

Ans. किसान दिवस सबसे पहले 2001 में बनाया गया था उस समय के तत्कालीन सरकार ने इस बात की घोषणा की कि चौधरी चरण सिंह के जन्मदिन को अब से भारत में किसान दिवस के रुप में मनाया जाएगा I

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *