Lakshadweep : आखिर क्यों लक्षद्वीप बना हुआ है चर्चा का विषय? जानें विस्तार से लक्षद्वीप के बारे में

By | January 12, 2024
Follow Us: Google News

Lakshadweep: लक्षद्वीप एवं मालद्वीप विवाद:- बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लक्षद्वीप (Lakshadweep) दौरे को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद मालदीव के टूरिज्म सेक्टर को बड़ा झटका लगा है. यही वजह है कि भारतीयों ने मालदीव का बायकॉट करना शुरू कर दिया है.  मालदीव एक ऐसा देश है जिसकी अर्थव्यवस्था पर्यटन पर टिकी हुई है और पिछले साल 2 लाख भारतीय वहां छुट्टियां मनाने गए थे. ऐसे में भारतीयों के मालदीव (Maldives) नहीं जाने से उसकी अर्थव्यवस्था को झटका लगना  तो संभावित हैं, हालांकि, इन सबके बीच सबसे ज्यादा चर्चा लक्षद्वीप की हो रही है, क्योंकि लोग अब इसे मालदीव के संभावित विकल्प के तौर पर देख रहे हैं। आईए जानते हैं कि इसके बाद क्या खबरें सामने आई और कौन से नए बदलाव किए गए।

हम आपको इस लेख के जरिए अभी चल रहे विवाद से साथ साथ कई और जानकारियां उपलब्ध कराएंगे जैसे कि lakshadweep and Maldives| लक्षद्वीप और मालदीव विवाद,लक्षद्वीप कहां है | lakshadweep kahan sthit ha,लक्षद्वीप की राजधानी | lakshadweep ki rajdhani,क्या है लक्षद्वीप की राजधानी Lakshadweep ki Rajdhani kya ha,लक्षद्वीप शहर| Lakshadweep City,लक्षद्वीप द्वीप समूह | Lakshadweep Islands, लक्षद्वीप पर्यटन | lakshadweep Tourism, लक्षद्वीप टूर पैकेज | Lakshadweep Tour Package। अगर आप लक्षद्वीप से जुड़ी सभी जरुरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा पढ़ना ना भूले, तो चलिए शुरु करते हैं..!!!

Lakshadweep

Lakshadweep Overview

टॉपिकलक्षद्वीप एवं मालद्वीप विवाद
लेख प्रकारइनफॉर्मेटिव आर्टिकल
साल2024
भाषाहिंदी
लक्षद्वीप कहा हैलक्षद्वीप हिंद महासागर में भारत के दक्षिण-पश्चिमी तट पर स्थित है।
लक्षद्वीप की राजधानीकावारत्ती
लक्षद्वीप में कितने द्वीप है36 द्वीप हैं
लक्षद्वीप का नाम कहां से लिया गया हैसंस्कृत के शब्द “लक्ष” (एक लाख) और “द्वीप” (द्वीप) से मिलकर बना है।
लक्षद्वीप में कितने द्वीप पीआर लोग रहते हैं10
लक्षद्वीप की जनसंख्यालगभग 66,000 

लक्षद्वीप और मालदीव विवाद (Lakshadweep and Maldives)

बीते कुछ दिनों से लक्षद्वीप और मालदीप दोनों ही विवाद का विषय बने हुए हैं , सोशल मीडिया पर इस समय लक्षद्वीप बनाम मालदीव की एक जंग छिड़ी हुई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लक्षद्वीप की यात्रा के बाद ये बहस शुरू हुई है। पीएम मोदी की इस यात्रा से अटकलें लगाईं कि मालदीव के पेंच कसने के लिए भारत अपने द्वीपों में पर्यटन को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लक्षद्वीप कार्य के बाद गूगल सर्च इंजन पर सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाला कीवर्ड लक्षद्वीप रहा आपको बता दें कि शुक्रवार को 50000 से अधिक लोगों ने केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप को गूगल पर सर्च किया ।

See also  दीपावली पर निबंध हिंदी में | Diwali Par Nibandh | Diwali Essay in Hindi 2023

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लक्षद्वीप दौरे के बाद मालदीव की सत्ताधारी पार्टी के नेताओं ने सोशल मीडिया पर ट्वीट के जरिए आग भड़काने का काम भी किया और इन ट्वीट के जरिए पीएम मोदी का मजाक उड़ाया गया साथ ही भारतीय लोगों पर नक्सलीय टिप्पणी भी की गई । इसी का नतीजा था कि सोशल मीडिया पर रविवार को बायकॉट मालदीव ट्रेंड करने लगा।

खास बात तो यह है कि इसी विवाद के बीच कई भारतीयों ने अपने मालदीव जाने का प्लान कैंसिल कर दिया और तो और बॉलीवुड के कई फिल्में सितारों ने भी मालदीव के बजाय लक्षद्वीप जाने के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया । आपको बता दें कि दोनों देशों के बीच इस मुद्दे पर हम बातचीत हुई लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकल पाया है ।

यह भी पढ़ें:- भगवान श्री राम पर निबंध

लक्षद्वीप कहां है? (Where is Lakshadweep)

लक्षद्वीप हिंद महासागर में भारत के दक्षिण-पश्चिमी तट पर स्थित है। यह भारत का सबसे छोटा संघ राज्यक्षेत्र है। लक्षद्वीप में कुल 36 द्वीप हैं, जिनमें से 10 द्वीपों पर लोग रहते हैं।

लक्षद्वीप की राजधानी कावारत्ती है। लक्षद्वीप का क्षेत्रफल 32 वर्ग किलोमीटर है। लक्षद्वीप की जनसंख्या लगभग 64,000 है।

लक्षद्वीप की राजधानी (Lakshadweep Capital)

लक्षद्वीप की राजधानी कावारत्ती है। यह द्वीप समूह का सबसे बड़ा द्वीप है। कावारत्ती में कई सरकारी कार्यालय, शॉपिंग मॉल, होटल और रेस्तरां हैं।

लक्षद्वीप शहर (Lakshadweep City)

लक्षद्वीप द्वीप भारत के दक्षिणी तट के पास अरब सागर में स्थित एक द्वीप समूह है। यह भारत का सबसे छोटा संघ राज्य क्षेत्र है। लक्षद्वीप में 36 द्वीप हैं, जिनमें से केवल 10 ही बसे हुए हैं। लक्षद्वीप का नाम संस्कृत के शब्द “लक्ष” (एक लाख) और “द्वीप” (द्वीप) से मिलकर बना है। इसकी राजधानी कवरत्ती है। 

See also  लाला रामस्वरूप रामनारायण कैलेंडर 2024 | Lala Ramswaroop Panchang (PDF Download)

लक्षद्वीप अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है। यहां के रेतीले समुद्र तट, शांत नीला पानी और हरे-भरे वनस्पतियां पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। लक्षद्वीप में कई तरह के समुद्री जीव भी पाए जाते हैं।

लक्षद्वीप द्वीप समूह (Lakshadweep Islands)

लक्षद्वीप में 36 द्वीप हैं, जिनमें से केवल 10 ही बसे हुए हैं। लक्षद्वीप द्वीप समूह भारत के दक्षिण-पश्चिमी तट से 200 से 440 किमी (120 से 270 मील) दूर अरब सागर में स्थित है। लक्षद्वीप द्वीप समूह को तीन मुख्य भागों में बांटा जा सकता है:

लक्षद्वीप समूह: यह लक्षद्वीप का सबसे बड़ा भाग है और इसमें 12 एटोल शामिल हैं।

अमिनीदिवी समूह:यह लक्षद्वीप का दूसरा सबसे बड़ा भाग है और इसमें तीन एटोल शामिल हैं।

मिनिकाय द्वीप समूह: यह लक्षद्वीप का सबसे छोटा भाग है और इसमें एक एटोल शामिल है।

लक्षद्वीप पर्यटन (Lakshadweep Tourism)

लक्षद्वीप अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है। यहां के समुद्र तट, लैगून और कोरल रीफ्स बहुत ही सुंदर हैं। लक्षद्वीप एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

लक्षद्वीप में घूमने के लिए कई खूबसूरत जगहें हैं। इनमें शामिल हैं:

अगत्ती: लक्षद्वीप की राजधानी अगत्ती अपने खूबसूरत समुद्र तटों और शानदार प्रवाल भित्तियों के लिए प्रसिद्ध है।

कवरत्ती: कवरत्ती लक्षद्वीप का सबसे बड़ा द्वीप है। यह अपने ऐतिहासिक किलों और मंदिरों के लिए जाना जाता है।

मिनिकॉय: मिनिकॉय लक्षद्वीप का सबसे दक्षिणी द्वीप है। यह अपने सफेद रेतीले समुद्र तटों और नीले पानी के लिए प्रसिद्ध है।

कल्पनी: कल्पनी लक्षद्वीप का दूसरा सबसे बड़ा द्वीप है। यह अपने जैविक विविधता और शांत वातावरण के लिए जाना जाता है।

लक्षद्वीप टूर पैकेज (Lakshadweep Tour Package)

लक्षद्वीप जाने के लिए कई टूर पैकेज उपलब्ध हैं। इनमें से कुछ टूर पैकेज 3 दिन और 2 रात के हैं, जबकि कुछ 5 दिन और 4 रात के हैं।

See also  शिक्षक दिवस पर भाषण | Teachers Day Speech in Hindi | Teacher Day 10 Lines

टूर पैकेज में आमतौर पर निम्नलिखित शामिल हैं:

  • हवाई या समुद्री यात्रा
  • आवास
  • भोजन
  • स्थानीय परिवहन
  • पर्यटक स्थलों की यात्रा

लक्षद्वीप टूर पैकेज की कीमत लगभग ₹10,000 से ₹20,000 प्रति व्यक्ति है।

लक्षद्वीप एक खूबसूरत द्वीप समूह है। यहां की प्राकृतिक सुंदरता और सांस्कृतिक विरासत लोगों को आकर्षित करती है। यदि आप एक रोमांचक और सुखद छुट्टी की तलाश में हैं, तो लक्षद्वीप एक अच्छा विकल्प है।

FAQ’s: Lakshadweep 2024

Q. लक्षद्वीप कैसे जाये?

Ans. लक्षद्वीप जाने के दो तरीके हैं: हवाई मार्ग और समुद्र मार्ग।

  1. हवाई मार्ग

लक्षद्वीप में केवल एक हवाई अड्डा है, जो अगत्ती द्वीप पर स्थित है। कोच्चि से अगत्ती के लिए नियमित उड़ानें उपलब्ध हैं। उड़ान का समय लगभग एक घंटा और 30 मिनट है।

2. समुद्र मार्ग

कोच्चि से लक्षद्वीप के लिए कई यात्री जहाज संचालित हैं। यात्रा का समय 14 से 18 घंटे है।

Q. लक्षद्वीप जाने का खर्चा?

Ans. लक्षद्वीप जाने का खर्चा आपकी यात्रा की अवधि, यात्रा के समय और बजट पर निर्भर करता है।

यदि आप हवाई मार्ग से यात्रा करते हैं, तो आपको एक तरफ की उड़ान के लिए लगभग 5,000 रुपये से 10,000 रुपये खर्च करने की उम्मीद करनी चाहिए। यदि आप समुद्र मार्ग से यात्रा करते हैं, तो आपको एक तरफ की यात्रा के लिए लगभग 2,000 रुपये से 4,000 रुपये खर्च करने की उम्मीद करनी चाहिए।

Q. लक्षद्वीप में कितने द्वीप है?

Ans. लक्षद्वीप में कुल 36 द्वीप हैं, जिनमें से केवल 10 द्वीप बसे हुए हैं। इन द्वीपों को 12 एटोल, तीन रीफ और पांच जलमग्न बैंकों में विभाजित किया गया है।

Q. लक्षद्वीप की राजधानी क्या है?

Ans. लक्षद्वीप की राजधानी कवरत्ती है। यह अगत्ती द्वीप पर स्थित है। कवरत्ती लक्षद्वीप का सबसे बड़ा द्वीप भी है। यह अपने ऐतिहासिक मंदिरों के लिए जाना जाता है।

Q. लक्षद्वीप की जनसंख्या कितनी है?

लक्षद्वीप की जनसंख्या लगभग 66,000 है। इसकी जनसंख्या घनत्व प्रति वर्ग किलोमीटर लगभग 125 है।

Q. लक्षद्वीप में मुस्लिम जनसंख्या कितनी है?

भारत के सबसे छोटे केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप की कुल जनसंख्या 66,000 है, जिनमें से 63,743 मुस्लिम हैं। लक्षद्वीप की जनसंख्या का लगभग 96% हिस्सा मुसलमानों का है, जो इसे भारत के सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाले क्षेत्रों में से एक बनाता है।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *