National Milk Day 2023 | राष्ट्रीय दुग्ध दिवस कब व क्यों मनाया जाता है, जाने महत्व थीम और इतिहास (History, Significance, Theme)

National Milk Day history Significance and Theme

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस 2023 (National Milk Day 2023 ): राष्ट्रीय दुग्ध दिवस भारत में प्रत्येक साल 26 नवंबर को मनाया जाता हैं।  इससे पहली बार 2014 में मनाया गया था। राष्ट्रीय मिल्क डे मनाने का उद्देश्य देश में दूध के उत्पादन को बढ़ावा देना है और साथ में लोगों को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने का मूल मंत्र भी देना हैं।  जैसा कि आप लोग जानते हैं कि दूध पीने से हमे कैल्शियम की प्राप्ति होती है। कैल्सियम हमारे शरीर की हड्डियों को मजबूत करता हैं। नेशनल मिल्क डे श्वेत क्रांति के जनक डॉ. वर्गीज के योगदान को याद करने के लिए भी मनाया जाता है। दरअसल, भारत में दूध उत्पादन को बढ़ाने में उनकी भूमिका काफी अहम रही थी। वर्गीज कुरियन साल 1965 से लेकर 1998 तक National Dairy Development Board के अध्यक्ष भी थे।

उनका जन्म 26 नवंबर को हुआ था इसलिए उनके जन्मदिन को भारत में राष्ट्रीय दुग्ध दिवस के रूप में मनाया जाता हैं। इस दिन देश में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, जिनमें उनके जीवन के बारे में लोगों को बताया था कि किस प्रकार उन्होंने अपनी मेहनत के बल पर भारत को दूध के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाया था। इसलिए आज के आर्टिकल में हम आपको National Milk Day 2023 के बारे में पूरी जानकारी उपलब्ध करवाएंगे आर्टिकल पर आखिरी तक बने रहिएगा आईए जानते हैं:-

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस क्या है? What is National Milk Day

National Milk Day Kya Hai : राष्ट्रीय दुग्ध दिवस भारत में मनाया जाने वाला एक राष्ट्रीय दिवस है इस दिवस के माध्यम से हम लोग श्वेत क्रांति के जनक डॉ वर्गीज कुरियन को याद करते हैं जिन्होंने भारत में दूध उत्पादन बढ़ाने में अपनी भूमिका अहम निभाई थी। उनके द्वारा ही भारत दुनिया में अधिक दूध उत्पादन करने। 

See also  अभियंता दिवस (इंजीनियर्स-डे) की शुभकामनाएँ व संदेश | Engineers Day Messages, Shayari, Caption Quotes, Images, Whatsapp Status, And Wishes in Hindi

राष्ट्रीय दुग्द दिवस क्यों मनाया जाता है? Why National Milk Day  is Celebrated

National Milk Day Kyu Manaya Jata Hai:- 1970 के दशक में भारत में दूध उत्पादन काफी कम थी और जिस पैमाने पर भारत में जनसंख्या थी ऐसे में लोगों को प्राप्त मात्रा में दूध नहीं मिल पाता था । इस समस्या का निवारण डॉक्टर वर्गीज कुरियन के द्वारा किया गया था। उनके द्वारा इसके लिए देश में ऑपरेशन फ्लड शुरू किया गया।  ताकि दूध के उत्पादन में वृद्धि लाई जा सकें। जिसके फलस्वरुप भारत में तेजी के साथ दूध उत्पादन में वृद्धि देखी गई और देखते देखते भारत 1998 में दुनिया का सबसे अधिक दूध उत्पादन करने वाला देश बन गया। उनके इस योगदान को देश में याद करने के लिए 2014 में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा घोषित किया गया है कि’ 26 नवंबर देश में राष्ट्रीय दुग्ध दिवस (National Milk Day) के रूप में मनाया जाएगा |

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस कब मनाया जाता है? When National Milk Day is Celebrated

National Milk Day Kab Hai: 26 नवंबर भारत में राष्ट्रीय दुग्ध दिवस के रूप में मनाया जाता है भारत में प्रथम National Milk Day 2014 में मनाया गया था।

इन्हे भी पढ़ें :- विश्व दुग्ध दिवस पर निबंध

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस का इतिहास | National Milk Day History

सन 1970 के दशक में भारत में दूध की भारी कमी थी जिसके कारण लोगों को प्राप्त मात्रा में दूध नहीं मिल पा रहा था। इस समस्या को दूर करने के लिए देश में ग्रामीण स्तर पर कई प्रकार के दूध उत्पादन संबंधित योजनाएं चालू की गई थी। उनमें से ऑपरेशन फ्लड का नाम सबसे प्रमुख था। जिसे पूरा करने का दायित्व डॉक्टर वर्गीज कुरियन को दिया गया था। उन्होंने इस ऑपरेशन के माध्यम से देश में दूध उत्पादन को बढ़ाने का काम शुरू किया। इस दौरान देश में राष्ट्रीय दूध उत्पादन बोर्ड की स्थापना की गई जिसका चेयरपर्सन डॉक्टर वर्गीज कुरियन को बनाया गया था। 2012 में  मृत्यु के उपरांत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा इस बात की घोषणा की गई कि डॉक्टर वर्गीज कुरियन के जन्मदिन को भारत में नेशनल मिल्क डे के रूप में मनाया जाएगा |

See also  अखिल भारतीय हस्तशिल्प सप्ताह 2022 | हस्तशिल्प सप्ताह कब शुरू होता हैं?

साथ में यह भी पढ़ें :- विश्व दुग्ध दिवस 2023 | World Milk Day in Hindi | तिथि, थीम, इतिहास, महत्व

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस का महत्व | National Milk Day Significance

साल 1970 भारत में नेशनल डायरी डेवलपमेंट बोर्ड (NDB) ने ऑपरेशन फ्लड नाम की एक योजना संचालित की थी क्योंकि इसके माध्यम से देश भर में दूध ग्रिड विकसित करना था।  ताकि देश में दूध उत्पादन में वृद्धि की जा सके । डॉ वर्गीज कुरियन की तकनीक काफी काम कर गई और भारत में तेजी के साथ दूध का उत्पादन बढ़ गया 1998 में भारत अमेरिका को पछाड़कर दुनिया का सबसे बड़ा दूध उत्पादन करने वाला देश बन गया। उनके इस योगदान को याद करने के लिए भारत में नेशनल मिल्क डे 26 नवंबर को मनाया जाता हैं’ यदि आज भारत दूध के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन पाया है’ उसके पीछे डॉक्टर वर्गीज कुरियन सबसे बड़ा हाथ है उनके योगदान को देश कभी भी भूल नहीं पाएगा

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस 2023 थीम | National Milk Day Theme 2023

2023 में National Milk Day Theme अभी तक जारी नहीं की गई है।जैसे ही थीम जारी होगी उसके बारे में हम आपको जानकारी प्रदान करेंगे। गौरतलब है कि आप लोगों को मालूम है कि प्रत्येक साल नेशनल मिल्क-डे एक निर्धारित थीम के अंतर्गत मनाया जाता है।

निष्कर्ष (Conclusion)

उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल नेशनल मिल्क डे दिवस कब मनाया जाता है संबंधित जानकारी आपको पसंद आया होगा आर्टिकल से जुड़ा आपका कोई भी अहम सुझाव या प्रश्न है तो कमेंट सेक्शन में आकर आप दर्ज करें। उसका उत्तर हम आपको जरूर देंगे तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल में..!!

See also  Engineers Day 2023 | अभियन्ता दिवस (इंजीनियर्स-डे) कब व क्यों मनाया जाता है? डॉ मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया जयंती

FAQ’s: National Milk Day 2023

Q. राष्ट्रीय दुग्ध दिवस क्या है?

Ans.राष्ट्रीय दुग्ध दिवस दूध की खपत के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने और भारत में डेयरी उद्योग को बदलने वाले डॉ. वर्गीस कुरियन को  याद करने का दिन है।

Q. राष्ट्रीय दुग्ध दिवस कब मनाया जाता है?

Ans.भारत में हर साल 26 नवंबर को राष्ट्रीय दुग्ध दिवस मनाया जाता है। यह दिन डॉ. वर्गीस कुरियन की जयंती है, जिन्होंने अमूल ब्रांड की स्थापना की और भारत में दूध उद्योग में क्रांति ला दी।

Q. राष्ट्रीय दुग्ध दिवस क्यों मनाया जाता है?

Ans.राष्ट्रीय दुग्ध दिवस इसलिए मनाया जाता है क्योंकि उस दिन ‘ऑपरेशन फ्लड’ और श्वेत क्रांति की शुरुआत करने वाले डॉ. वर्गीस कुरियन का जन्म हुआ था।

Q. श्वेत क्रांति के जनक किसे कहा जाता है?

Ans. श्वेत क्रांति का जनक डॉक्टर वर्गीज कुरियन को कहा जाता है जाता है ।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja