16 December Vijay Diwas 2023 | विजय दिवस कब व क्यों मनाया जाता है? (महत्व, इतिहास, व थीम)

Vijay Diwas 16 December

Vijay Diwas:-पूरे भारत में 16 दिसंबर के दिन विजय दिवस मनाया जाता है। जैसे की आप लोग जानते हैं कि किसी भी दिवस को मनाने के पीछे एक उद्देश्य होता है। ऐसे ही 1971 में भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध हुआ था, जिसमें भारत ने पाकिस्तान को बुरी तरह से हराया था। इस युद्ध में पाकिस्तान के 93,000 सैनिकों ने भारत सेना के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था। भारत ने इस युद्ध में पाकिस्तान को पराजित करते हुए उसके दो टुकड़े कर दिए थे, जिसके परिणाम स्वरूप बांगलादेश के रूप में एक नए राष्ट्र का निर्माण हुआ था। इस प्रकार इस युद्ध में हुई जीत और शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए प्रत्येक वर्ष 16 दिसंबर को विजय दिवस मनाया जाता है। इस विजय दिवस को भिन्न-भिन्न प्रकार के कार्यक्रमों के साथ आयोजित किया जाता है जिसमें लोगों को 1971 कि युद्ध से संबंधित जानकारी दी जाती है, ताकि वह इस दिवस के महत्व को समझ सकें।

ऐसे में लोगों के मन में यह सवाल होगा कि विजय दिवस कब मनाया जाता है? विजय दिवस क्यों मनाया जाता है ? भारत में विजय दिवस कब मनाया जाएगा? एवं विजय दिवस का इस वर्ष थीम क्या है? संबंधी जानकारी विस्तार पूर्वक इस आर्टिकल में प्रदान की जाएगी, इसलिए आप लोग इस आर्टिकल में अंत तक बन रहे।

यह भी पढ़ें:-भारतीय सेना दिवस कब है, थल सेना दिवस

Vijay Diwas 16 December

विजय दिवस भारत में 16 दिसंबर को मनाया जाता है? इस दिन विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं और साथ में भारत के उन वीर जवानों को भी श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है जो 1971 के युद्ध में देश के लिए शहीद हो गए I

16 दिसम्बर विजय दिवस 2023

16 दिसंबर का दिन भारतीय इतिहास में काफी महत्वपूर्ण दिन है इस दिन 1971 में भारत ने पाकिस्तानी सेना आवाहन किया था जिस शायद ही आज तक इतिहास में किसी देश ने किसी दूसरे देश के सेना का किया है इस दिन भारतीय सेना के सामने पाकिस्तान के 93000 सेनाओं ने आत्मसमर्पण किया था I जिसके बाद युद्धविराम की घोषणा की गई I इस युद्ध के माध्यम से भारत ने पाकिस्तान के दो टुकड़े किए और बांग्लादेश जो पहले पूर्वी पाकिस्तान के नाम से जाना जाता था I उसका नाम बांग्लादेश पड़ा और इस प्रकार विश्व के नक्शे पर एक नए देश का उदय हुआ I हम कह सकते हैं कि अगर आज बांग्लादेश का अस्तित्वतो पीछे भारत का सबसे बड़ा योगदान है I

See also  Subhash Chandra Bose Jayanti 2024 | सुभाषचंद्र बोस जयंती कब और क्यों मनाई जाती है?

यह भी पढ़ें:-कारगिल विजय दिवस पर निबंध

विजय दिवस क्यों मनाया जाता है? Vijay Diwas Kyu Manaya Jata Hai

Vijay Diwas 2023

Vijay Diwas: विजय दिवस भारत का पाकिस्तान पर जीत हासिल करने उपलक्ष प्रत्येक साल 16 दिसंबर को मनाया जाता है जैसा कि आप लोगों को मालूम होगा कि 1971 में भारत और पाकिस्तान के बीच भीषण युद्ध हुआ था I इस युद्ध में भारत ने पाकिस्तान को बुरी तरह से हराया था I पूरे विश्व के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि किसी देश की सेना ने किसी दूसरे देश के सेना के सामने आत्मसमर्पण किया I दरअसल 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के 93000 सेना ने भारत के सामने आत्मसमर्पण किया I उसके बाद ही 1971 के युद्ध का युद्ध विराम घोषित किया गया I सबसे पहले हम आपको बता दें कि 1971 का युद्ध भारत और पाकिस्तान के बीच में क्यों हुआ था? 

बता दे पाकिस्तान पहले दो भागों में विभाजित था पूर्वी पाकिस्तान और पश्चिमी पाकिस्तान I1970 में पाकिस्तान में आम चुनाव है और इस चुनाव में पूर्वी पाकिस्तान के नेता शेख मुजिबुर रहमान को भारी बहुमत हासिल हुआ और उन्हें सरकार बनाने का दावा पेश किया, लेकिन उस समय जुल्फिकार भुट्टो ने इस बात का विरोध किया और उन्होंने सेना का इस्तेमाल कर शेख मुजीबुर रहमान को गिरफ्तार कर लिया है I जिसके बाद पूर्वी पाकिस्तान में हालात काफी बुरे हो गए और लोग वहां से भागने लगेI 10 लाख लोगों को भारत में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के द्वारा शरण दिया गया I जिसके कारण पाकिस्तान ने भारत के ऊपर हमला कर दिया और यहीं से 1971 युद्ध का शुभारंभ हुआ I

यह भी पढ़ें:-कारगिल विजय दिवस पर स्लोगन, नारे, पोस्टर, संदेश

विजय दिवस भारत में कहाँ मनाया जाता है?

विजय दिवस भारत उत्साह पूर्वक मनाया जाता है इस दिन भारत के अमर ज्योति स्मारक पर जाकर उन सभी वीर शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाती है जिन्होंने 1971 में देश की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व बलिदान दिया उन्हीं के कारण भारत को 1971 में जबरदस्त जीत हासिल हुईI इसके अलावा इस दिन भारत के प्रधानमंत्री राष्ट्रपति रक्षा मंत्री और सेना के प्रमुख अधिकारियों के द्वारा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं जिसमें भारत ने किस प्रकार 1971 में अपनी वीरता का परिचय देते हुए पाकिस्तान को हराया था |

See also  राष्ट्रीय बॉयफ्रेंड दिवस कब, क्यों और कैसें मनाया जाता है? National Boyfriend Day 2023 | जाने इतिहास, महत्व और शायरी व हार्दिक शुभकामनाएं सन्देश (Quotes Photos)

यह भी पढ़ें:-विजय दिवस (16 दिसम्बर) पर निबंध

विजय दिवस पर एक नजर

विजय दिवस भारत में 16 दिसंबर को मनाया जाता है भारतीय इतिहास 16 दिसंबर का दिन काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि इस दिन भारतीय सेना ने पूरी दुनिया को दिखा दिया कि भारतीय सेना कितनी सशक्त और मजबूत है क्योंकि इस युद्ध में पाकिस्तान को भारत ने बुरी तरह से हराया था जिसके फलस्वरूप भारतीय सेना का पूरे विश्व भर में डंका बज गया था इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ भारी संख्या में किस देश की सेना ने दूसरे देश के सामने आत्मसमर्पण किया

16 दिसंबर 1971 में भारतीय जनरल मानेकशॉ पाकिस्तानी लेफ्टिनेंट जनरल अब्बास नियाजी को 16 दिसम्बर की प्रातः 9 बजे तक अपनी फौजों के साथ आत्मसमर्पण करने का आदेश भेजा। जनरल नियाजी ने आत्मसमर्पण का प्रस्ताव मालिया उसके बाद भारतीय सैनिक अधिकारी पाकिस्तानी हेड क्वार्टर पहुंचे जहां पर लेफ्ट जनरल नियाजी बकर में छुपे थे 11:05 में नियाजी बाहर निकले और मेजर जनरल नागरा से गले मिले  इसके बाद 36वें पाक डिवीजन के जी.ओ.सी. मेजर जनरल जमशेद ने अपने नीचे काम करने वाले सैनिकों के साथ पूरी तरह आत्मसमर्पण कर दिया।

Vijay Diwas 16 December

1:00 बजे लेफ्टिनेंट जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल जैकब आत्मसमर्पण का मसौदा लेकर हेलीकॉप्टर से ढाका पहुंचे। ढाका के रेसकोर्स मे 4:31 बजे जनरल नियाजी ने 93,000 सैनिकों सहित आत्मसमर्पण के डॉक्यूमेंट पर हस्ताक्षर किये। जिसके बाद बांग्लादेश नाम का एक नया देश बना और उस देश में खुशी की लहर चारों तरफ था गई और सभी लोगों ने चैन की सांस ली किस प्रकार हम कह सकते हैं कि विजय दिवस भारतीय सेना के पराक्रम को दर्शाता है कि हमारी सेना दुनिया की सबसे सबसे चुनाव में से एक है और वह किसी भी परिस्थिति में दुश्मन देश को हराने में सक्षम है इसका सबसे बड़ा सबूत है, 1971 का भारत और पाक का युद्ध I इसलिए हम सबको अपनी सेना पर गर्व होना चाहिए I

See also  Kartik Purnima 2023 | कब मनाई जाएगी साल की सबसे बड़ी पूर्णिमा, जाने कार्तिक पूर्णिमा पूजन विधि

ये भी पढ़े : Army Day 2023 | थल सेना दिवस कब और कैसे मनाया जाता है?

विजय दिवस थीम 2023

विजय दिवस 2023 का थीम अभी तक प्रकाशित नहीं किया गया है जैसे ही विजय दिवस 2023 का थीम प्रकाशित होती है वैसे ही विजय दिवस 2023 के थीम पर अपडेट कर दी जाएगी।

FAQ’s Vijay Diwas 16 December

Q. 16 दिसंबर को विजय दिवस क्यों मनाया जाता है?

Ans. 16 दिसंबर को विजय दिवस मनाया जाता है इसके पीछे की वजह है कि 1971 में भारत ने पाकिस्तान को  16 दिसंबर 1971 में बुरी तरह हराया था था इसलिए भारत में 16 दिसंबर विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है I

Q. विजय दिवस कब मनाया जाता है?

Ans. विजय दिवस 16 दिसंबर को मनाया जाता है I

Q. भारत में विजय दिवस कैसे मनाया जाता है?

Ans भारत में विजय दिवस उत्साह पूर्वक मनाया जाता है इस दिन विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जिसमें भारतीय सेना के पराक्रम के बारे में लोगों को बताया जाता है इसके अलावा उन वीर जवानों को भी सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है जिन्होंने 1971 में भारत और पाक के युद्ध में अपनी जान गवा कर अपने देश की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व बलिदान दिए दिया I

Q.1971 के युद्ध के समय भारत का प्रधानमंत्री कौन था?

Ans.1971 के युद्ध के समय भारत का प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी थी।

Q.विजय दिवस 2023 का थीम क्या है?

Ans.विजय दिवस 2023 का थीम अभी तक प्रकाशित नहीं किया गया है जैसे ही प्रकाशित होता है अपडेट कर दिया जाएगा।

Q. विजय दिवस कहां मनाया जाता है?

Ans. विजय दिवस संपूर्ण भारत में मनाया जाता है।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja