ads

विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस पर निबंध 2023 | Essay on Telecommunication Day in Hindi

By | May 17, 2023
Follow Us: Google News

विश्व दूरसंचार दिवस को हर साल 17 मई को  मनाया जाता है इस दिवस को मनाने के पीछे लोगों को सूचना और टेक्नोलॉजी के प्रति जागरूक करना है जैसा कि आप लोग जानते हैं  दूरसंचार का हमारे जीवन में विशेष महत्व है क्योंकि इसके माध्यम से हम सभी प्रकार के काम घर बैठे कर सकते हैं जैसा कि आप जानते हैं कि आज की तारीख में आप लोग जो मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं वाह दूरसंचार की ही देन है तभी जाकर आप घर बैठे दुनिया के किसी भी कोने से व्यक्ति से वीडियो या ऑडियो कॉल के माध्यम बातचीत कर सकते हैं | जिसके कारण इसकी महत्वता लोगों के बीच ज्यादा बढ़ गई है।  इस बार 53वां विश्व दूरसंचार दिवस मनाया जाएगा। प्रत्येक साल विश्व दूरसंचार दिवस के लिए एक अलग टीम का निर्माण किया जाता है और उसके मुताबिक की दूरसंचार दिवस मनाया जाता है ऐसे में अगर आप एक छात्र रहे हैं और विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस पर निबंध लिखना चाहते हैं लेकिन आपको समझ में नहीं आ रहा है  आप निबंध की शुरुआत कैसे करें तो हम आपको इस आर्टिकल में Essay on Telecommunication Day in Hindi से संबंधित पूरी जानकारी आपके साथ साझा करेंगे इसलिए अनुरोध है कि आर्टिकल को पूरा पढ़ें

Essay on Telecommunication Day in Hindi (300 शब्द)

प्रस्तावना

दूरसंचार को अंग्रेजी में कहा जाता है Telecommunication  वास्तव में यह फ्रेंच भाषा से आया है. हमारे जीवन में दूरसंचार का विशेष महत्व है क्योंकि इसके माध्यम से ही आज हम लोग घर बैठे दुनिया के किसी भी कोने में रहने वाले व्यक्ति से संपर्क स्थापित कर सकते हैं | दूरसंचार में मानव जीवन के कई कामों को काफी सहज और आसान कर दिया है |

विश्व दूरसंचार और समाज विकास दिवस के प्रमुख लाभ

दूरसंचार मानव समाज के लिए वरदान है आज के समय में दुनिया में जिस प्रकार टेक्नोलॉजी का विस्तार हो रहा है उसमें दूरसंचार की अहम भूमिका है विशेष तौर पर युवाओं के लिए दूरसंचार किसी वरदान से कम नहीं है क्योंकि वह इसके माध्यम से घर बैठे दुनिया के किसी भी कोने से कोई भी आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं आज के समय आप लोग कंप्यूटर मोबाइल जैसी चीजों का इस्तेमाल करते हैं इन सभी चीजों संचालित करने के लिए दूरसंचार की आवश्यकता होती है |  मोबाइल के माध्यम से आप घर बैठे दुनिया के बारे में जान सकते हैं |  इसके अलावा अगर किसी व्यक्ति से अगर आपको कोई भी संपर्क स्थापित करना है तो आप  दूरसंचार प्रयोग कर सकते हैं | दूरसंचार का समाज के के ऊपर सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक प्रभाव आपको दिखाई पड़ेगा दूरसंचार ने लोगों को करीब लाने में अपनी अहम भूमिका निभाई है पहले के जमाने में अखबार के माध्यम से खबर पाने में काफी दिक्कत और परेशानी का सामना करना पड़ता था लेकिन आज पल भर की खबर आप चंद मिनटों के अंदर प्राप्त कर सकते हैं और उसके पीछे दूरसंचार की ही भूमिका महत्वपूर्ण है | इसके अलावा बाढ़ तूफान और भूकंप जैसी स्थिति का पता भी आप दूरसंचार के माध्यम से लगा सकते हैं |

See also  बैसाखी पर निबंध | Long & Short Essay on Baisakhi in Hindi | बैसाखी पर निबंध Download PDF

Also read: विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर निबंध 2023

विश्व दूरसंचार दिवस पर निबंध  (500 शब्द)

भारत में दूरसंचार

भारत के अधिकांश जनसंख्या ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है और वहां पर लोगों को बेहतर जानकारी मिल सके इसके लिए भारत के ग्रामीण क्षेत्र में भी दूरसंचार का जाल बिछाया जा रहा है ताकि ग्रामीण क्षेत्रों को भी देश और दुनिया के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके | यही वजह है कि ग्रामीण क्षेत्र में मोबाइल कंपनियां दूरसंचार संबंधित चीजें स्थापित करने का काम जोर-शोर से कर रही है |  ताकि ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी मोबाइल के इस्तेमाल से अपने आप को दूरसंचार से जोड़ सकें भारत में दूरसंचार तेजी के साथ बढ़ रहा है और आए दिन कोई न कोई नई कंपनी भारत में दूरसंचार के क्षेत्र में अपने कदम रख रही है | इसलिए भारत में, सेल फोन कंपनियां सार्वजनिक सेवा में लगी हुई हैं. Airtel, Reliance Jio, Vodafone और Bsnl के ग्राहकों की संख्या बढ़ रही है. सेवा प्रदाताओं को अब प्रतिस्पर्धी बाजार में बेहतर सेवाएं प्रदान करने के लिए काम करना चाहिए.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दूरसंचार

देसी देशों में दूरसंचार का ढांचा काफी मजबूत और सशक्त भारत के शहरी क्षेत्रों में टेली डेंसिटी 30% से अधिक है, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में यह बहुत कम है. अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में दूरसंचार का प्रतिशत 100 है   यही कारण है कि तेजी के साथ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का  देशों के साथ दूरसंचार संबंधित समझौता कर रहा है ताकि भारत दुनिया के सभी देशों के साथ अपने आप को दूरसंचार के माध्यम से जोड़ सकें |

Also Read: राष्ट्रीय भाई दिवस 2023

विश्व दूरसंचार दिवस – निबंध 4 (600 शब्द)

दूरसंचार क्या है?

दूरसंचार का मतलब होता है केबल, टेलीग्राफ या प्रसारण द्वारा किसी चीज को आम जनता के सामने प्रस्तुत करना उसे दूरसंचार कहते है. दूसरे शब्दों में हम कह सकते हैं कि यह सिग्नल, संदेश, शब्द, लेखन, छवियों और ध्वनियों या किसी भी प्रकार की जानकारी का संचरण है. दूरसंचार के बिना इन सभी चीजों का आदान प्रदान करना असंभव है

विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस क्यों मनाया जाता है?

विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य इंटरनेट, अन्य सूचना और संचार प्रौद्योगिकियों  का उपयोग करने के लिए लोगों के बीच जागरूकता लाना है ताकि लोग अधिक से अधिक दूरसंचार का इस्तेमाल करें ताकि उन्हें देश और दुनिया के बारे में घर बैठे जानकारी मिल सके |

See also  महावीर जयंती पर निबंध PDF | Mahavir Jayanti Essay in Hindi

कब मनाया जाता है विश्व दूरसंचार दिवस |

विश्व दूरसंचार दिवस हर साल 17 मई को मनाया जाता है।  विश्व दूरसंचार दिवस टेलीग्राम समझौता के कारण प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है 1973 मैलेगा-टोर्रीमोलिनोन्स सम्मेलन के दौरान मनाने की घोषणा की गई थी। इसको मनाने प्रमुख उद्देश्य लोगों इंटरनेट और प्रौधोगिकिरण के लिए लोगों को जागरूक करना।

Also Read: विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2023

विश्व दूरसंचार दिवस पर भाषण | Speech On Telecommunication Day In Hindi

मेरे माननीय प्रधानाचार्य, मेरे आदरणीय शिक्षकों और मेरे प्यारे दोस्तों को सुप्रभात।

मैं (आपका नाम) हूं और आज मुझे विश्व संचार दिवस पर भाषण देने का अवसर प्राप्त हुआ है।

साथियों जैसा कि हम सभी जानते हैं कि आज हम सब  विश्व संचार दिवस के उपलक्ष्य में यहां उपस्थित हुए हैं। हममें से अधिकतर लोग यह भी जानते होंगे कि  विश्व दूरसंचार दिवस हर साल 17 मई को मनाया जाता है।  विश्व का ऐसा कोई देश नहीं है जहां पर दूरसंचार का इस्तेमाल ना किया जाता है क्योंकि इसके बिना कोई भी दुनिया का देश दूसरे देश से संपर्क स्थापित नहीं कर सकता है हमारे जीवन में भी दूर संचार का विशेष महत्व है और उसके बिना जीवन की कल्पना आज के समय कर पाना सब लोगों के लिए असंभव है क्योंकि दूरसंचार माध्यम से ही हम किसी व्यक्ति से चंद मिनटों के अंदर फोन पर बातचीत कर सकते हैं | देश दुनिया की अगर आपको नवीनतम जानकारी प्राप्त करना है तो उसके लिए भी आपको दूरसंचार की जरूरत पड़ेगी | दुनिया का कोई ऐसा देश नहीं है जो दूरसंचार से अछूता रहा हो आज दुनिया में जितने भी बड़ी अर्थव्यवस्था है उनके पीछे दूरसंचार की भूमिका अहम है भारत में भी दूरसंचार का जाल तेजी के साथ भारत के सभी गांवों में विशाल जा रहा है यह हो जाए कि आज ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी मोबाइल फोन का इस्तेमाल अधिक मात्रा में करने लगे हैं |

मैं अपनी वाणी को यहीं विराम देती हूं। आप सभी की आभारी हूँ, जो आपने मुझे इतना धैर्यपूर्वक सुना।

धन्यवाद।।

Also Read: गुरु अर्जुन देव जी की जीवन परिचय 2023

विश्व दूरसंचार दिवस निबंध PDF

विश्व दूरसंचार दिवस निबंध का पीडीएफ फाइल अगर आप प्राप्त करना चाहते हैं तो आप इसका पीडीएफ फाइल आसानी से प्राप्त कर सकते हैं उसका लिंक हम आपको नीचे गिरे हैं जिस पर क्लिक कर आप इसके पीडीएफ फाइल को डाउनलोड कर सकते हैं |

Download Here:

See also  राष्ट्रीय बालिका दिवस पर निबंध हिंदी में | Balika Diwas Essay in Hindi

Long Essay on Telecommunication Day (800 शब्द)

विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस का इतिहास

साल 1959 में 17 मई को विश्व दूरसंचार दिवस की शुरुआत की गई इसके बाद 2005 में यूनाइटेड नेशंस जनरल असेंबली में 17 मई को पूरी दुनिया में विश्व दूरसंचार दिवस के रूप में मनाया जाएगा इसका प्रस्ताव पारित किया गया इसके अलावा 17 मई 1865 को अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार संघ (International Telecommunication Union) की स्थापना भी हुई थी।  यही वजह है कि 17 मई को पूरी दुनिया में विश्व संचार दिवस मनाया जाता है |

 विश्व दूरसंचार दिवस 2023 की थीम(Telecommunication Day 2023 Theme)

2023 में विश्व दूरसंचार दिवस की थीम क्या निर्धारित की गई है तो हम आपको बता दें कि अभी तक 2023 की टीम घोषित नहीं की गई है क्योंकि प्रत्येक वर्ष विश्व दूरसंचार दिवस की थीम अलग-अलग होती है उदाहरण के तौर पर 2022 में विश्व दूरसंचार दिवस की थीम Digital Technologies for older persons and Healthy Ageing” यानि “वृद्ध व्यक्तियों और स्वस्थ उम्र बढ़ने के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकी” है। जैसे ही 2023 में थीम जारी की जाती है हम आपको तुरंत अपडेट करेंगे

 विश्व दूरसंचार दिवस कैसे मनाया जाता है

विश्व दूरसंचार दिवस 17 मई को प्रत्येक वर्ष पूरी दुनिया में मनाया जाता है इस दिन दूरसंचार दिवस से संबंधित कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जहां पर दूरसंचार क्षेत्र से जुड़े हुए लोग लोगों के सामनेअपना वक्त प्रस्तुत करते हैं और साथ में लोगों को बताते हैं कि किस प्रकार दूरसंचार  ने हमारे जीवन में आमूलचूल परिवर्तन किया है जिसके कारण हमारे जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आया है और हम आज की तारीख में किसी भी व्यक्ति से सेकेंड के अंदर दूसरे व्यक्ति से बातचीत कर सकते हैं उससे एक कोई भी चीज दूर संचार के माध्यम से आदान-प्रदान भी कर सकते हैं इसलिए हम कह सकते हैं कि दूरसंचार का हमारे जीवन में काफी महत्वपूर्ण स्थान है |

Also Read: राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस पर निबंध 2023

Telecommunication Day Essay in Hindi (10 Lines)

1.  विश्व दूरसंचार दिवस 17 मई को मनाते हैं।

2. हमारे जीवन में दूरसंचार की बहुत आवश्यकता है।

3.  हमारा कोई भी काम दूरसंचार के बिना नहीं होता है

4. हमारे देश में सभी के पास दूरसंचार है।

5. हम कहीं भी जाते हैं तो हमें दूरसंचार की जरूरत पड़ती है।

6.जीवन में दूरसंचार के बिना कुछ काम नहीं होता है।

7. विश्व दूरसंचार दिवस  कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं

8. दूरसंचार का उपयोग सही कामों के लिए करते हैं।

9. विश्व दूरसंचार दिवस की स्थापना 17 मई 1865 में हुई।

10. भारत का पहला मोबाइल नोकिया है।  जो दूरसंचार के कारण ही संभव हुआ था |

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *