National Press Day 2023 | राष्ट्रीय प्रेस दिवस कब व क्यों मनाया जाता है? जाने इतिहास, महत्व और थीम

National Press Day 2023

राष्ट्रीय प्रेस दिवस 2023: भारत में National Press Day 16 नवंबर को मनाया जाता है। इसी दिन भारत में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया (PCI) कि स्थापना की गई थी। जो एक वैधानिक और अर्ध-न्यायिक  संस्थान हैं। जिसका प्रमुख लक्ष्य देश में प्रेस के अधिकारों की रक्षा करना हैं। ताकि देश में पत्रकार किसी भी मुद्दे पर अपनी बात निष्पक्ष और स्वतंत्रता के साथ रख सकें। किसी भी देश में मीडिया और प्रेस की भूमिका महत्वपूर्ण होती हैं। Media लोकतंत्र का चौथा स्तंभ भी माना जाता हैं। इसलिए मीडिया का पारदर्शी और स्वतंत्र होना आवश्यक हैं। पत्रकार और प्रेस के सदस्य आईने के रूप में काम करते हैं। उनके द्वारा ही लोगों को देश दुनिया की खबरें मिलती हैं। पत्रकार किसी भी सरकारी एजेंसी या निजी संस्था के लिए या उसके खिलाफ कोई भी सच्चाई हैं, उसे लोगों के सामने लाता हैं। इसलिए राष्ट्रीय प्रेस दिवस का महत्व भारत में बहुत ज्यादा है। हम आज के लेख में National Press Day से जुड़ी जानकारी आपसे शेयर करेंगे आप हमारा आर्टिकल पूरा पढ़ें।

राष्ट्रीय प्रेस दिवस क्या है 2023 | What is National Press Day

राष्ट्रीय प्रेस दिवस (National Press Day) भारत में मनाया वाला एक महत्वपूर्ण दिवस हैं। इस दिवस के माध्यम से देश में मीडिया और पत्रकार का क्या महत्व है ? उसके बारे में आम लोगों को जागृत किया जाता हैं। जैसा कि आप लोग जानते हैं कि हमारे समाज में और दुनिया में जो भी घटनाएं घटित होती हैं। उसके बारे में हमें जानकारी मीडिया के माध्यम से मिलता हैं। इसलिए मीडिया का निष्पक्ष और स्वतंत्र होना आवश्यक हैं। देश और दुनिया में  होने वाले घटनाक्रम के बारे में अगर हमें घर बैठे जानकारी मिलती है तो उसके पीछे मीडिया का सबसे बड़ा हाथ हैं। राष्ट्रीय प्रेस दिवस (National Press Day) के माध्यम से देश में प्रेस की स्वतंत्रता को और भी मजबूती के साथ स्थापित किया जाता हैं। ताकि मीडिया देश के अंदर निष्पक्ष और निर्भय तरीके से कम कर सकें |

See also  महानवमी की शुभकामनाएं संदेश | MahaNavami Quotes, Status & Wishes In Hindi (महानवमी के हर्षोल्लास पर इन कोट्स के जरिए दे शुभकामनाएं)

राष्ट्रीय प्रेस दिवस क्यों मनाया जाता है | Why National Press Day

भारत दुनिया का सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश भारत में मीडिया को लोकतंत्र का चौथा  स्तंभ मान जाता है। भारत में मीडिया की भूमिका काफी हैं। मीडिया को समाज का आईना कहा जाता है। समाज में जो भी घटना घटती है उनके वास्तविक रूप को जनता के सामने प्रस्तुत करना मीडिया का सबसे पहला कर्तव्य हैं। इसके अलावा देश निर्माण में मीडिया की भूमिका सबसे अहम होती है’ क्योंकि इनके द्वारा देश के अंदर विकास के कौन-कौन से कम हो रहे हैं, उसके बारे में आम लोगों को बताना और साथ में अपनी बात निष्पक्ष और निर्भीक तरीके आम जनता के सामने प्रस्तुत करना है मीडिया का सबसे बड़ा कर्तव्य होता हैं। ताकि लोगों को सच और झूठ का पता चल सकें। खबरों की गुणवत्ता और निगरानी करने के उद्देश्य ही भारत में राष्ट्रीय प्रेस परिषद की स्थापना की गई थी। इसलिए भारत में 16 नवंबर  राष्ट्रीय प्रेस दिवस के रूप में मनाया जाता है |

कब मनाया जाता है राष्ट्रीय प्रेस दिवस | When National Press Day is Celebrated

राष्ट्रीय प्रेस दिवस 16 नवंबर को भारत में मनाया जाता है। इस दिन मीडिया संबंधित कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, जहां पर मीडिया के क्षेत्र में काम करने वाले मीडिया एक्सपर्ट और पत्रकार सम्मिलित होकर अपने विचार लोगों के सामने प्रस्तुत करते हैं। साथ में मीडिया को और भी ज्यादा निश्पक्ष और स्वतंत्र बनाया जा सके। उससे संबंधित अहम सुझाव यहां पर लिए जाते हैं। फिर उन सुझाव के आधार पर मीडिया को पारदर्शी और स्वतंत्र बनाने की दिशा में काम किया जाता है, ताकि भारतीय लोकतंत्र मजबूत हो सकें।

राष्ट्रीय प्रेस दिवस का इतिहास | National Press Day History

भारतीय प्रेस परिषद की स्थापना के उपलक्ष्य में पूरे देश में राष्ट्रीय प्रेस दिवस 16 नवंबर को मनाया जाता है। राष्ट्रीय प्रेस परिषद की स्थापना 1956 में प्रेस आयोग के पहले बैठक में की गई थी। इस बैठक में इस बात पर विचार विमर्श किया गया कि देश में एक स्वतंत्र मीडिया संस्थान होना चाहिए। जो सभी खबरों पर अपनी निगरानी बनाए रखे, ताकि लोगों तक सटीक खबर पहुंच सके | कई घंटे विचार और चर्चा के बाद 16 नवंबर 1966 को भारतीय प्रेस परिषद अस्तित्व में आया था। तब से परिषद भारतीय प्रेस द्वारा प्रदान की जाने वाली रिपोर्ट की गुणवत्ता की निगरानी का काम कर रहा हैं। भारत में प्रेस परिषद स्थापना के द्वारा भारतीय लोकतंत्र के मूल्य की रक्षा की जाएगी। इसके अलावा जो पत्रकार निष्पक्ष तरीके से  मीडिया के क्षेत्र में काम करेंगे उन्हें विश्व प्रेस दिवस के दिन पुरस्कार भी दिया जाएगा।

See also  Saraswati Puja Muhurat 2024 | सरस्वती पूजा शुभ मुहूर्त व विधि जाने

राष्ट्रीय प्रेस दिवस का महत्व | National Press Day Significance

राष्ट्रीय प्रेस दिवस मनाने का प्रमुख मकसद है लोगों में प्रेस के प्रति जागृति फैलाना, जिससे लोगों को नकली खबरों की पहचान हो सकें। राष्ट्रीय प्रेस दिवस मुख्य तौर पर प्रेस की अभिव्यक्ति स्वतंत्रता को बनाए रखने के उद्देश्य से मनाया जाता हैं। National Press Day को इसलिए मनाया जाता हैं, ताकि लोगों को आगाह किया जा सकें कि प्रेस लोकतंत्र के मूल्यों की बहाली में बहुत ही अहम भूमिका निभाती है एवं हमारे अधिकारों का हनन होने से बचाती है। भारत के मीडिया में काफी शक्ति हैं।  मीडिया गरीब और वंचित वर्ग के मामलों को लोगों की नजर में लाने का काम करती हैं।  ताकि सरकार को भी उन मामलों के बारे में जानकारी मिल सके जो कई बार सरकार तक पहुंच नहीं पाती हैं।  यही वजह है कि भारत में मीडिया को चौथा स्तंभ कहा जाता है’ और इसके बिना देश का विकास संभव नहीं है यही वजह है कि मीडिया को अधिक शक्ति और स्वतंत्रता मिल सके उसके उद्देश्य से ही राष्ट्रीय प्रेस परिषद की स्थापना की गई थी।

राष्ट्रीय प्रेस दिवस 2023 थीम |  National Press Day Theme 2023

राष्ट्रीय प्रेस दिवस एक निर्धारित थीम के अंतर्गत मनाया जाता हैं। ऐसे में 2023 में राष्ट्रीय प्रेस दिवस का थीम  क्या होगा उसके समझ में अभी तक कोई भी जानकारी उपलब्ध नहीं करवाई गई है जैसे ही जानकारी आती है हम आपको तुरंत अपडेट कर देंगे की 2023 में राष्ट्रीय प्रेस दिवस किस Theme के अनुसार मनाया जाएगा।

Conclusion:

उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल राष्ट्रीय प्रेस दिवस कब और क्यों मनाया जाता है आपको पसंद आया होगा ऐसे में आर्टिकल से जुड़ा आपका कोई भी सवाल या प्रश्न है तो आप हमारे कमेंट सेक्शन में आकर पूछे उसका उत्तर हम आपको जरूर देंगे और यदि आप महत्वपूर्ण दिवस से संबंधित आर्टिकल पढ़ना बहुत ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को बुक मार कर लीजिए क्योंकि हम रेगुलर महत्वपूर्ण दिवस से संबंधित आर्टिकल लेकर आते हैं तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल में..!!

See also  Indian Army Day 2024: कब और क्यों मनाया जाता है भारतीय सेना दिवस, जाने इसका इतिहास

FAQ’s: National Press Day 2023

Q. 16 नवंबर को कौन सा दिवस मनाया जाता है?

Ans. 16 नवंबर- राष्ट्रीय प्रेस दिवस के रूप में भारत में मनाया जाता हैं।

Q. भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई) के वर्तमान अध्यक्ष कौन हैं?

Ans भारतीय प्रेस परिषद के वर्तमान अध्यक्ष न्यायमूर्ति चंद्रमौली कुमार प्रसाद हैं, जिन्हें दूसरे कार्यकाल के लिए नियुक्त किया गया है।

Q. राष्ट्रीय प्रेस परिषद की स्थापना कब की गई?

Ans. 16 नवंबर 1966 में राष्ट्रीय प्रेस परिषद की स्थापना की गई थी।

Q. राष्ट्रीय प्रेस दिवस 2023 थीम क्या है?

Ans  राष्ट्रीय प्रेस दिवस 2023 का थीम अभी तक जारी नहीं किया गया हैं। जैसे ही जारी किया जाएगा हम आपको तुरंत अपडेट कर देंगे |

Q. राष्ट्रीय प्रेस परिषद का हेड क्वार्टर कहां है?

Ans. राष्ट्रीय प्रेस परिषद का हेड क्वार्टर नई दिल्ली में स्थित हैं।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja