न्यू ईयर पर कविता हिंदी में | New Year Poem in Hindi (कक्षा-3 से कक्षा- 8 तक)

New Year Poem in Hindi

New Year Poem in Hindi: 2023 साल समाप्त होने में अब कुछ दिन ही बचे हैं। ऐसे में हर एक व्यक्ति नए साल 2024 का इंतजार कर रहा है। नया साल 2024 (New Years 2024) हम सबके लिए नए अवसर और खुशियां लेकर आता है। नए साल को काफी धूमधाम और उमंग के साथ हम सभी लोग मानते हैं। इस दिन हम अपने घरों में नए साल संबंधित पार्टी (New year Party) का  आयोजन करते हैं,जिसमें नाच गाना और कई प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजन बनाए जाते हैं। इसके अलावा कई लोग नया साल के अवसर पर बाहर घूमने के लिए जाते हैं। यदि आप एक छात्र हैं और नए साल पर कविता लिखना चाहते हैं, लेकिन आपको समझ में नहीं आ रहा है इसकी शुरुआत कैसे करें ? तो आज के आर्टिकल में हम आपको New Year Poem in Hindi से जुड़ी जानकारी प्रदान करेंगे आप हमारे साथ आर्टिकल पर बने रहे हैं:-

New Year Poem in Hindi 2023- Overview

Happy New year 2023Similar Content Link:
नव वर्ष हार्दिक शुभकामनाएं सन्देशक्लिक करें
Happy New Year Wishes for Family and Friendsक्लिक करें
हैप्पी न्यू ईयर व्हाट्सएप स्टेटसक्लिक करें
हैप्पी न्यू ईयर कोट्स हिंदी मेंक्लिक करें
हैप्पी न्यू ईयर शायरी हिंदीक्लिक करें
नव वर्ष सुविचार हिंदी मेंक्लिक करें
न्यू ईयर पर कविता हिंदी मेंक्लिक करें
31 दिसंबर पर शायरीक्लिक करें

New Year Poetry 2024

नए साल के ऊपर यदि New Year Poetry लिखना चाहते हैं लेकिन आपको समझ में नहीं आ रहा है  किस प्रकार नए साल पर कविता लिख सकते हैं तो नीचे  उसका विवरण प्रस्तुत कर रहे हैं:-

नए वर्ष में नई पहल हो
कठिन ज़िंदगी और सरल हो।

अनसुलझी जो रही पहेली
अब शायद उसका भी हल हो।

जो चलता है वक्त देखकर
आगे जाकर वही सफल हो।

नए वर्ष का उगता सूरज
सबके लिए सुनहरा पल हो।

समय हमारा साथ सदा दे
कुछ ऐसी आगे हलचल हो।

सुख के चौक पुरें हर द्वारे
सुखमय आँगन का हर पल हो
सभी के लिए ये नया साल मंगलमय हो।

Poems For the New Year

नए साल पर यदि आप अपने दोस्तों या परिवार वालों को नए साल की शुभकामनाएं कविता के माध्यम से देना चाहते हैं तो Poems for the New Year का कलेक्शन हम आपको नीचे उपलब्ध करवा रहे हैं:-

भूल के बीती बातों को,

एक नए मुकाम को पाना है,

नए साल में हमको एक,

नया इतिहास रचाना है।

ऊपर हमको उठना है अब,

उत्साह न ये गिर ने पाए,

छेड़ें ऐसा संगीत नया,

पूरी दुनिया ही जो गाये,

रुकना नहीं है अब हमको,

आगे कदम बढ़ाना है,

नए साल में हमको एक,

नया इतिहास रचाना हैं।

New Year Poems

नए साल के अवसर पर New Year Poems कलेक्शन आप लोगों के लिए लेकर आए हैं जिसका विवरण हम नीचे दे रहे हैं:-

नया साल है नई उमंग,

नई आस है जीवन में।

नई सोच है, नई तरंगे,

नई प्यास है जीवन में।

करना है कुछ नया नया अब,

नई बहार है जीवन में।

सपनों को सच करना है अब,

नई चाह है जीवन में।

करना है कुछ खुद से वादा,

आगे बढ़ना है जीवन में।

बीते पल में जो मिली निराशा,

भूलना है उसे जीवन में।

नया साल है नई उमंग,

नई आस है जीवन में।

Short New Year Poem

 Short New Year Poem 2024

नीचे हम आपको नए साल पर Short New Year Poem कैसे लिख सकते हैं उसका विवरण दे रहे हैं:-

नए साल की शुभकामनाएँ!
खेतों की मेड़ों पर धूल भरे पाँव को
कुहरे में लिपटे उस छोटे से गाँव को
नए साल की शुभकामनाएं!

जाँते के गीतों को बैलों की चाल को
करघे को कोल्हू को मछुओं के जाल को
नए साल की शुभकामनाएँ!

इस पकती रोटी को बच्चों के शोर को
चौंके की गुनगुन को चूल्हे की भोर को
नए साल की शुभकामनाएँ!

वीराने जंगल को तारों को रात को
ठंडी दो बंदूकों में घर की बात को
नए साल की शुभकामनाएँ!

इस चलती आँधी में हर बिखरे बाल को
सिगरेट की लाशों पर फूलों से ख़याल को
नए साल की शुभकामनाएँ!

कोट के गुलाब और जूड़े के फूल को
हर नन्ही याद को हर छोटी भूल को
नए साल की शुभकामनाएँ!

उनको जिनने चुन-चुनकर ग्रीटिंग कार्ड लिखे
उनको जो अपने गमले में चुपचाप दिखे
नए साल की शुभकामनाएँ!

Poetry New Year 2024

New Year के शुभ अवसर पर यदि आप Poetry लिखना या अपने दोस्तों के साथ साझा करना चाहते हैं तो उसका बेहतरीन कलेक्शन हम आपको नीचे देंगे आईए जानते हैं:-

अलविदा ओ पतझड़!

बाँध लिया है अपना डेरा-डफेरा

हाँक दिया है अपना रेवड़

हमने पथरीली फाटों पर

यह तुम्हारी आखिरी ठण्डी रात है

इसे जल्दी से बीत जाने दे

आज हम पहाड़ लाँघेंगे, उस पार की दुनिया देखेंगे!

विदा, ओ खामोश बूढ़े सराय!

तेरी केतलियाँ भरी हुई हैं लबालब हमारे गीतों से

हमारी जेबों में भरी हुई है ठसाठस तेरी कविताएँ

मिलकर समेट लें

भोर होने से पहले

अँधेरी रातों की तमाम यादें

आज हम पहाड़ लाँघेंगे, उस पार की हलचल सुनेंगे!

विदा, ओ गबरू जवान कारिन्दो!

हमारी पिट्ठुओं में

ठूँस दी है तुमने

अपनी संवेदनाओं के गीले रूमाल

सुलगा दिया है तुमने

हमारी छातियों में

अपनी अँगीठियों का दहकता जुनून

उमड़ने लगा है एक लाल बादल

आकाश के उस कोने में

आज हम पहाड़ लाँघेंगे, उस पार की हवाएँ सूँघेंगे!

सोई रहो बर्फ़ में

ओ, कमज़ोर नदियों

बीते मौसम घूँट-घूँट पिया है

तुम्हें बदले में कुछ भी नहीं दिया है

तैरती है हमारी देहों में तुम्हारी ही नमी

तुम्हारी ही लहरें मचलती हैं

हमारे पाँवों में

सूरज उतर आया है आधी ढलान तक

आज हम पहाड़ लाँघेंगे उस पार की धूप तापेंगे!

विदा, ओ अच्छी ब्यूँस की टहनियों

लहलहाते स्वप्न हैं हमारी आँखों में

तुम्हारी हरियाली के

मज़बूत लाठियाँ हैं हमारे हाथों में

तुम्हारे भरोसे की

तुम अपनी झरती पत्तियों के आँचल में

सहेज लेना चुपके से

थोड़ी-सी मिट्टी और कुछ नायाब बीज

अगले बसंत में हम फिर लौटेंगे!

New Year Poem in Hindi

नया साल 2024 आने वाला है  यदि आप एक छात्र हैं और नए साल के ऊपर कविता लिखना चाहते हैं तो नीचे हम आपको New Year Poem in Hindi का विवरण नीचे दे रहे हैं आईए जानते हैं:- 

नव वर्ष तुम्हारा स्वागत है,
खुशियों की बस इक चाहत है।

नया जोश, नया उल्लास,
खुशियाँ फैले, करे उजास।

नैतिकता के मूल्य गढ़ें,
अच्छी-अच्छी बातें पढें।

कोई भूखा पेट न सोए,
संपन्नता के बीज बोए।

ऐ नव वर्ष के प्रथम प्रभात,
दो सबको अच्छी सौगात।

नए साल में
प्यार लिखा है
तुम भी लिखना।

प्यार प्रकृति का शिल्प
काव्यमय ढाई आखर
प्यार सृष्टि पयार्य
सभी हम उसके चाकर।

प्यार शब्द की
मयार्दा हित
बिना मोल, मीरा-सी-बिकना।

प्यार समय का कल्प
मदिर-सा लोक व्याकरण
प्यार सहज संभाव्य
दृष्टि का मौन आचरण।प्यार अमल है ताल
कमल-सी,
उसमें दिखना।

New Year Poem

नए वर्ष में नई पहल हो।
कठिन ज़िंदगी और सरल हो।।
अनसुलझी जो रही पहेली।
अब शायद उसका भी हल हो।।
जो चलता है वक्त देखकर।
आगे जाकर वही सफल हो।।
नए वर्ष का उगता सूरज।
सबके लिए सुनहरा पल हो।।
समय हमारा साथ सदा दे।
कुछ ऐसी आगे हलचल हो।।
सुख के चौक पुरें हर द्वारे।
सुखमय आँगन का हर पल हो।।

आरंभ का अंत हो जाना नया साल है!
गिनती का नंबर बदल जाना नया साल है !
वर्तमान का इतिहास बन जाना नया साल है !
उदये होते हुये सूरज का ढल जाना नया साल है !
खिल के फूल का डाल से उतर जाना नया साल है !
दे के जनम मां का आंचल ममता से भर जाना नया साल है !
एक दर्द भूल कर सुख को पेहचान जाना नया साल है !

सुनहरे सपनों की झंकार, लाया है नववर्ष
खुशियों के अनमोल उपहार लाया है नववर्ष
आपकी राहों में फूलों को बिखराकर लाया है नववर्ष
महकी हुई बहारों की ख़ुशबू लाया है नववर्ष
अपने साथ नयेपन का तूफान लाया है नववर्ष
स्नेह और आत्मीयता से आया है नववर्ष
सबके दिलों पर छाया है नववर्ष
आपको मुबारक हो दिल की गराईयों से नववर्ष।

New Year Kavita in Hindi

सुनहरे पलों की झंकार,
ले कर आया नया साल।
रंग बिरंगे फूलों की खुशबू,
ले कर आया नया साल।
उमंगों का अनमोल उपहार,
ले कर आया नया साल।
उम्मीदों का नया सवेरा,
ले कर आया नया साल

नए साल में नई पहल हो,
कठिन जिंदगी और सरल हो,
जो चलता है वक्त देख कर,
आगे जा कर वही सफल ही,
नए वर्ष का उगता सूरज,
सबके लिए सुनहरा पल हो,
समय हमारा सदा साथ दे,
आगे कुछ ऐसी हलचल हो,
अनसुलझी रह गई जो पहेली,
उसका भी अब हल हो,
नए साल में नई पहल हो,
कठिन जिंदगी और सरल हो

New Year Poem in Hindi

अभिनंदन नववर्ष तुम्हारा
है उल्लासित फिर जग सारा
नई डगर है नया सवेरा, खुशियों से भरा नज़ारा
अभिनंदन नववर्ष तुम्हारा ….
ओस सुबह की है फिर चमकी, बिखरा करके छ्टा निराली
चेहरे दमके बगियाँ महकी, घर घर होली और दीवाली
फिर खिलकर फूल सतरंगे, हो प्रतिबिंबित तब सरिता में
प्रकृति को क्या खूब सँवारा…..
अभिनंदन नववर्ष तुम्हारा ….
हो उत्साहित गोरन्वित हम, लिए सोच में वही नयापन
निकल पड़े कुछ कर पाने को, नई दिशाएँ दर्शाने को
कर पाऊँ हर सपने को सच, जो तुम थामो हाथ हमारा ….
अभिनंदन नववर्ष तुम्हारा ….

नव वर्ष के आगमन पर
प्रेम गीत गाएं
सहज सरल मन से
सब को गले लगाए
उंच नीच भेद भाव के
अंतर को मिटाएं
नव वर्ष के आगमन पर
प्रेम गीत गाएं
शिक्षा का उजियारा हम
घर घर पहुंचाएं
पर्यावरण की चिंता करे
पेड़ फिर लगाए
नव वर्ष के आगमन पर
प्रेम गीत गाएं
स्वच्छता अभियान को
समझें समझाएं
योग प्राणायाम कर स्वस्थ
हम हो जाएं
नव वर्ष के आगमन पर
प्रेम गीत गाएं
देश प्रेम का जज्बा सभी
जन मन में लाएं
माँ भारती के चरणों में
शीश सब झुकाएं
नव वर्ष के आगमन पर
प्रेम गीत गाएं

Happy New Year Poem in Hindi

नए साल के नए अवसर पर
अपने मन से सारे भेदभाव मिटाएं,
रिश्तों में मिठास लाकर
थोड़े नए रिश्ते बनाएं,
दिल की कठोरता को दूर कर
कोमलता की चादर ओढाएं,
मन को चांद की भांति सुंदर बनाकर
हर जीव के प्रति दया भाव जगाएं।

नव वर्ष का नया अवसर है
मन की उदासियों को दूर कर
खुशियों के फूल खिलाएं,
असफलताओं को छोड़ पीछे
नए लक्ष्यों को अपने मन में जगाएं,
बीत गया जो बुरा वक्त
उसे भूल कर नहीं सपनों को सजाएं,
दुआ करता हूं भगवान से
इस नए साल पर आप अपने
हर लक्ष्य को पूरा कर पाएं।

असफलता की चुनौती को स्वीकार करो,
नींद चैन को त्याग कर खुद को
आगे बढ़ने के लिए तैयार करो,
आती है कोई मुश्किल तो
अपनी कड़ी मेहनत से वार करो,
संघर्ष का मैदान मत छोड़ो तुम
नये वर्ष में नई जय-जयकार करो।
कोशिशों की गाड़ी से कभी ना उतरो
सदा बने रहो अपनी मंजिल के मुसाफिर,
आपकी लगन और परिश्रम के आगे
हर मुश्किल हार जाएगी,
मेहनत को बनाओ अपना ब्रह्मास्त्र
हर सफलता आपकी झोली में आ जाएगी।
नए साल 2023 की मुबारक हो!

कड़ी मेहनत और लगन से
पूरा करो अपना हर काम,
सफलता के पथ पर
आपका भी होगा नाम।
नए वर्ष का नव अवसर है
लक्ष्य की तरफ उठाओ अपने कदम,
हार जीत की बाजी में
जी जान से लगाओ से लगाओ अपना दम,
मुश्किलों की जंजीरों को तोड़ कर
हौसलों से आगे बढ़ा हुआ हुआ अपने कदम।

Poem on New Year

नया साल है तो
नया बनाए अपना हर सवेरा,
रिश्तो को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाएं
इस दुनिया में कुछ नहीं है मेरा,
न ही कुछ है तेरा।
दिलों को एक-दूसरे से जोड़कर
बढ़ाएं अपनेपन का एहसास,
नई साल में नई सोच और
नई उमंग से रखें नया विश्वास,
इंसानियत का पाठ कभी ना भूलें
सदा मर्यादा को रखें अपने पास,
बिना शर्त और समर्पण के
दुनिया के हर बंधन को बनाएं खास।
चाहे कैसी भी आ जाए मजबूरी,
आधुनिकता की आंधी में
अपनों से ना बनाएं दूरी,
प्रेम की परिभाषा को रखें
सदा दिल के पास,
हर रिश्ता मधुर होगा
हर रिश्ता होगा खास,
नए साल के नए अवसर नए अवसर पर
बढ़ाएं अपनों से ही एहसास। Happy New Year 2023

अगर जीवन को बनाना है
खुशियों की झोपड़ी,
तो पहले सुधारनी होगी अपनी खोपड़ी,
नया साल है तो नया माइंडसेट बना कर
मन में बांधनी होगी लक्ष्यों की लड़ी,
जीवन की मुसीबतों को झेलना होगा
तभी सफलता होगी तेरे सामने खड़ी,
दुआ करता हूं भगवान से
नए वर्ष में में जीवन में हो
खुशियों की नई झड़ी।

मन में है कोई कमजोरी
तो दो उसे हौसलों का सहारा,
वाहनों को बनाना छोड़ दो वरना
जीवन बर्बाद हो जाएगा सारा,
नए साल में नए अवसरों की
नई उम्मीदों से बढ़ाओ अपना पारा,
कोशिशों का रंग दिखेगा एक दिन
संसार में मुकाम होगा आपका न्यारा,
मेहनत को फीकी मत रखना
नए जोश के साथ नए साल को
बनाना और ज्यादा प्यारा।

नए साल पर कविता

नन्हे नन्हे पांव से
आ रहा है
नव वर्ष
अतीत की स्मृतियां
वर्तमान का सुख
और
भविष्य की उज्जवल
कामनाओं के संग
सुनहरे अर्श का
सुनहरा स्पर्श करवा रहा है
नव वर्ष
हो हर्ष – सर्वत्र उत्कर्ष
नव तरंगों से नव उमंगों से
नव युग में नव आधार धर
नव श्रृंगार कर रहा है नव वर्ष

आया नया साल
झिलमिल सितारे ले के
आया नया साल
सुबह सवेरे स्वर्ण पथ पे
आया नया साल

उज्जवल भविष्य की
स्वर्णिम कामनाएं
सपने साकार करने
नए साल का, नया सवेरा,
जब, अंबर से धरती पर उतरे,
तब शांति, प्रेम की पंखुड़ियां,
धरती के कण-कण पर बिखरे,
चिड़ियों के कलरव गान के संग,
मानवता की शुरू कहानी हो,
फिर न किसी का लहू बहे,
ना किसी आंख में पानी हो,
शबनम की सतरंगी बूंदे,
बरसे घर-घर द्वार,
मिटे गरीबी भुखमरी,
नफरत की दीवार,
ठंडी-ठंडी पवन खोल दे,
समरसता के द्वार,
सत्य, अहिंसा और प्रेम,
सीखे सारा संसार,
नव वर्ष की मंगल कामनायें।

Conclusion:

आशा करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया New year Poem in Hindi | न्यू ईयर पर कविता हिंदी में आपको पसंद आएगा आर्टिकल से संबंधित कोई भी सुझाव या प्रश्न है तो कमेंट सेक्शन में आकर पूछे उसका उत्तर हम आपको जरूर देंगे तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल में..!!

See also  हैप्पी फादर्स डे पर शुभकामना संदेश | Father's Day Images, Quotes, Message, Wishes in Hindi 2023

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja