ads

होलिका दहन कब है 2023 | होलिका दहन का शुभ मुहूर्त, समय जाने

होलिका दहन का शुभ समय, शुभ काल तथा शुभ मुहूर्त देखना बहुत महत्वपूर्ण है | 2023 में 7 मार्च मंगवार को होलिका दहन समय शाम 6 बजकर 24 मिनट से 8 बजकर 51 मिनट तक रहेगा।
By | March 4, 2023
Follow Us: Google News

Holika Dahan Kab Hai 2023:- 8 मार्च को होली का त्योहार देश और दुनिया में मनाया जाएगा। लेकिन उससे एक दिन पहले होली दहन होता है जो कि शुभ मुहूर्त के अंतर्गत किया जाता है। होली दहन शुभ मुहूर्त 2023 ये सवाल सबके मन में है क्योंकि बिना मुहूर्त के होलिका दहन का कार्यक्रम असंभव है। हम इस लेख के जरिए आपको होली दहन शुभ मुहूर्त 2023 के बारे में जानकारी देंगे। इसके साथ ही हम आपको बताएंगे कि Holika dahan kab hai और ये किया जाएगा। क्योंकि होलिका दहन के बाद ही रंगों के साथ होली खेली जाती है। Holi dahan ka samay बहुत जरुरी होता है क्योंकि हर गली मोहल्ले में जो लोग होलिका दहन के लिए लकड़ियां इक्ट्ठा कर के होलिका तैयार करते है वह भी शुभ मुहूर्त के बगैर होलिका दहन नहीं करते है।

इस लेख में हम आपको ये भी बताएंगे कि साल 2023 में होली दहन कितने बजे है। होलिका दहन शुभ मुहूर्त के बिना होलिका दहन कहीं भी नहीं होता है इसलिए इस लेख में आपको उसके बारे में भी जानकारी मिलेगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि होलिका दहन उसी व्यक्ति को करना चाहिए या तो वह पुरोहित हो या फिर उसके माता पिता इस दुनिया में ना हो। बाकि हर क्षेत्र में इसको लेकर अलग अलग परांपरा है।

Holika Dahan Kab Hai

टॉपिकहोली दहन शुभ मुहूर्त 2023
लेख प्रकारआर्टिकल
साल2023
होली 20238 मार्च
होलिका दहन7 मार्च
वारमंगलवार
होलिका दहन मुहूर्तशाम 6 बजकर 24 मिनट से 8 बजकर 51 मिनट
होलिका दहन मुहूर्त कितने घंटे का है2 घंटे लगभग
होलिका दहन किसका प्रतीक हैबुराई पर अच्छाई का
अवर्तिहर साल
होलिका दहन का दूसरा नामछोटी होली

Holi Dahan ka Samay

होलिका दहन को छोटी होली के रूप में भी जाना जाता है। छोटी होली बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। होलीका दहन हर साल  पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है और उसके ठीक अगले दिन लोग इकट्ठा होते हैं और एक-दूसरे को रंग लगाकर होली खेलते हैं। इस साल होलिका दहन 2023 का शुभ मुहूर्त 2 घंटे 27 मिनट तक मनाया जाएगा। ये मुहूर्त 7 मार्च  2023 यानि की मंगलवार को शाम 6 बजकर 24 मिनट से शुरु होगा, जोकि रात 8 बजकर 51 बजे तक अनुष्ठान कर सकते हैं। गौरतलब है कि होलिका दहन लकड़ी की चिता को सफेद धागे या मौली (कच्चा सुत) से तीन या सात बार लपेटकर मनाया जाता है। फिर उस पर जल, कुमकुम और फूल छिड़क कर होलिका की पूजा की जाती है। एक बार जब पूजा पूरी हो जाती है तो होलिका को जलाया जाता है।लोगों द्वारा भक्त प्रह्लाद की भगवान विष्णु की भक्ति की जीत का जश्न मनाया जाता हैं। लोग होलिका पूजा भी करते हैं क्योंकि ऐसा माना जाता है कि यह सभी के घर में समृद्धि और धन लाती है। यह पूजा लोगों को अपने सभी डर से लड़ने की शक्ति भी देती है।

See also  Bhai Dooj 2023 | भाई दूज क्यों, कब और कैसे मनाई जाती हैं भाई दूज की कहानी
हैप्पी होली 2023होली पर्व से जुड़े अन्य लेख
होलिका दहन कब है 2023क्लिक करें
होली पर निबंध हिंदी मेंक्लिक करें
Happy Holi Wishes in Hindiक्लिक करें
होली पर कविता हिंदी मेंक्लिक करें
 हैप्पी होली कोट्स हिंदी मेंक्लिक करें
हैप्पी होली स्टेटस हिंदी मेंक्लिक करें
हैप्पी होली शायरी हिंदी मेंक्लिक करें
होली की हार्दिक शुभकामनाएं संदेशक्लिक करें

होली दहन कितने बजे हैं? 

इस साल 7 मार्च के दिन होली दहन किया जाएगा।होली दहन करने के लिए लोगों के पास लगभग दो घंटे का समय रहेगा। इस साल होलिका दहन का मुहूर्त 7 मार्च को शाम को ही शुरु हो जाएगा। मुहूर्त के हिसाब से अब सवाल ये आता है कि होली दहन कितने बजे हैं, तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार को शाम 6 बजकर 24 मिनट पर होलिका दहन का मुहूर्त शुरु होजाएगा, जोकि रात 8 बजकर 51 मिनट तक रहेगा। लोगों को चाहिए कि वह इस समय में होली दहन कर लें। गौरतलब है कि जिस तरह दशहरा को बुराई पर अच्छाई कि जीत माना जाता है, ठीक उसी तरह होलिका दहन भी है। होलिका दहन को बुराई पर अच्छाई का प्रतीक मनाया गया है। आपको बता दें कि होलिका दहन कि अग्नि में आहूति देने से जीवन की सारी नेगेटिविटी नष्ट होती है, वहीं घर परिवार में सुख शांति बनी रहती है। इसके साथ ही ऐसा कहा जाता है कि होलिका दहन के दिन होली पूजा करने से माता लक्ष्मी खुश होती है और वह पूजा करने वाले को सुख समृद्धी का आशीर्वाद देती है।

होलिका दहन शुभ मुहूर्त 

हम आपको बता दें कि हिंदूं पंचांग के हिसाब से फाल्गुन महीने की पूर्णिमा तिथि साल 2023 में शाम 4 बजकर 18 मिनट पर शुरु होगी वहीं ये 7 मार्च को शाम 6 बजकर 10 मिनट तक रहेगी। उदयतिथि के देखते हुए होलिका दहन 7 मार्च को किया जाएगा, जिसका शुभ मुहूर्त शाम 6 बजकर 24 मिनट पर शुरु होगा जो कि रात 8 बजकर 51 मिनट तक रहेगा। हम आपको यह बात भी बता दें कि हिंदू धर्म कि मान्यता के अनुसार भद्र काल में कोई भी पूजा नहीं कि जाती है, इसके साथ ही कोई भी शुभ काम भी इस काल में नहीं किए जाते है। वहीं अगर शास्त्रों कि माने तो होलिका दहन भद्रा रहिता पूर्णिमा में ही कि जाती है वहीं होलिका दहन का शुभ समय प्रदोष काल में ही होता है। इस बार 6 मार्च को भद्रा काल शाम 4 बजकर 48 मिनट पर शुरु होगा जो कि 7 मार्च को सुबह 5 बजकर 14 मिनट पर खत्म हो जाएगा। परिणामस्वरुप इस बार होलिका दहन के दिन भद्रा काल नहीं होगा।

FAQ’s Holika Dahan Kab Hai 

Q. साल 2023 में होलिका दहन कब होगा?

Ans. साल 2023 में होलिका दहन 7 मार्च को किया जाएगा।

See also  International Girl Child Day 2023 | अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस कब, क्यों व कैसे मनाया जाता हैं? (Signification, Theme, And History)

Q. 7 मार्च को होने वाला होलिका दहन का शुभ मुहूर्त कब शुरु होगा और कब तक चलेगा?

Ans. 7 मार्च को होने वाला होलिका दहन का शुभ मुहूर्त शाम 6 बजकर 24 मिनट पर शुरु होगा जो कि 8 बजकर 51 मिनट तक चलेगा।

Q. होलिका दहन किस काल में शुभ होता है ?

Ans. होलिका दहन भद्रा काल में करना अच्छा नहीं होता है, गौरतलब है कि भद्रा काल में हिंदू धर्म में कोई भी पूजा और शुभ कार्य नहीं किए जाते है। वहीं प्रदोष काल में होलिका दहन करना शुभ होता है।

Q. होलिका दहन को और किस नाम से जाना जाता है?

Ans. होलिका दहन को छोटी होली के नाम से भी जाना जाता है।

Q. होलिका दहन किसका प्रतीक है?

Ans. होलिका दहन बुराई पर अच्छाई का प्रतीक है।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *