स्वच्छ भारत अभियान पर भाषण | Swachh Bharat Abhiyan Speech in Hindi

Swachh Bharat Abhiyan Speech in Hindi

भारत को एक स्वच्छ संपूर्ण राष्ट्र बनाना महात्मा गांधी का सपना था। इसी सपने को याद करते हुए महात्मा गांधी के 145 वें जन्मदिन समारोह के अवसर पर देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2 अक्टूबर, 2014 को “स्वच्छ भारत अभियान” शुरू किया गया था। इस लेख के जरिए हम आपको स्वच्छ भारत अभियान से जुड़ी सभी जानकारी देंगे जिसके जरिए अगर आप इस अभियान पर किसी भी समारोह में भाषण प्रस्तुत करना चाहते है तो बहुत बेहतरीन तौर पर भाषण दे पाएंगे। इस लेख में हम आपको स्वच्छ भारत अभियान पर भाषण (Swachh Bharat Abhiyan Speech in Hindi) स्वच्छ भारत अभियान क्या है,स्वच्छ भारत मिशन के लाभ ,स्वच्छ भारत अभियान कब शुरू हुआ ,स्वच्छ भारत मिशन से आये परिणाम इस सभी टॉपिक पर आपको विस्तार से जानकारी देंगे , जिससे आपके ज्ञान में तो वृद्धी होगी ही इसके साथ ही आप एक बहुत अच्छा भाषण तैयार कर सकेंगे।

Swachh Bharat Speech in Hindi 

टाइटलस्वच्छ भारत अभियान पर भाषण
लेख प्रकारआर्टिकल
साल2023
स्वच्छ भारत अभियान शुरुआत2 अक्टूबर 2014
स्वच्छ भारत अभियान किसका मिशन हैकेंद्रीय सरकार
स्वच्छ भारत अभियान देश में किस स्तर पर हैराष्ट्रीय, शहरी, ग्रामीण
स्वच्छ भारत अभियान किसके द्वारा लॉंच किया गयाप्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी
स्वच्छ भारत अभियान शुरु करने वाले पीएम का नामनरेंद्र मोदी
देश का सबसे स्वच्छ शहरइंदौर

स्वच्छ भारत अभियान क्या है? | Swachh Bharat Abhiyan Speech in Hindi

स्वच्छ भारत अभियान भारत का अब तक का सबसे बड़ा मिशन है, क्योंकि लगभग 30 लाख की संख्या में सरकारी कर्मचारियों और स्कूलों और कॉलेजों के छात्रों ने इसमें भाग लिया था । ये मिशन 2 अक्टूबर, 2019 तक पूरा होने के लिए देश के प्रत्येक कोने में से सभी आयु वर्ग के लोगों के सहयोग की अपेक्षा करता है। यह अभियान गांधी जी के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने के लिए शुरू किया गया था । महात्मा गांधी ने स्वच्छ भारत का सपना देखा था और कहा था कि ‘’स्वच्छता स्वतंत्रता से भी ज्यादा महत्वपूर्ण है।“ 2011 की जनसंख्या के आंकड़ों के मुताबिक यह आंकलन किया गया कि कुल ग्रामीण जनसंख्या का केवल 32.70% लोगों की शौचालय तक पहुंच है। यू.एन. की रिपोर्ट के मुताबिक भारत वह देश है, जहां लोगों की बहुत बड़ी संख्या खुले में शौच का प्रयोग करती है । इस मिशन के सार में केंद्रीय विश्वास जुड़ा हुआ है कि स्वच्छता हर किसी का व्यवसाय है । इस जरूरी संदेश को पिछले कई वर्षों से लगातार पारंपरिक, डिजिटल, सोशल मीडिया और अंतर्वैयक्तिक माध्यम का उपयोग कर सभी नागरिकों के मन में इसके प्रति विश्वास को स्थापित करने के लिए किया गया है ।

See also  Essay on BR Ambedkar Jayanti in Hindi | डॉ भीमराव अम्बेडकर जयंती पर भाषण | Ambedkar Jayanti Speech in Hindi

नामी हस्तियों के लोग हुए शामिल

प्रधानमंत्री ने अपने आह्वान और काम के जरिए लोगों के बीच स्वच्छ भारत का संदेश फैलाया । उन्होंने वाराणसी में भी सफाई अभियान चलाया । उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत वाराणसी के अस्सी घाट में गंगा नदी के पास कुदालर से साफ-सफाई की । स्थानीय लोगों के एक बड़े दल ने स्वच्छ भारत अभियान में उनका साथ दिया । साफ-सफाई के महत्व को समझते हुए प्रधानमंत्री श्रीनरेंद्र मोदी ने भारतीय परिवारों की उन स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का भी जिक्र किया जो उन्हें घर में समुचित शौचालयों के अभाव की वजह से झेलनी पड़ी ।

समाज के कई वर्गों के लोग इस जन आंदोलन में शामिल होने सामने आए । सरकारी अधिकारियों से लेकर जवानों तक, बॉलीवुड अभिनेताओं से लेकर खिलाड़ियों तक, उद्योगपतियों से लेकर आध्यात्मिक गुरुओं तक, सभी इस पवित्र कार्य से जुड़े। देश भर में लाखों लोग दिन-प्रतिदिन सरकारी विभागों, एनजीओ और स्थानीय सामुदायिक केंद्रों के स्वच्छता प्रोग्राम से जुड़ रहे हैं। इस मिशन से लोगों में सफाई के प्रति जागरुकता आई । देश भर में नाटकों और संगीत के जरिए सफाई के प्रति लोगों को जागरुक किया जा रहा है ।

इन बॉलीवुड हस्तियों ने दिया अभियान में योगदान

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन, आमिर खान, कैलाश खेर, प्रियंका चोपड़ा जैसी फेमस हस्तियों और सब टीवी के शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ की पूरी टी्म ने स्वच्छ भारत अभियान में अपना योगदान दिया । खेल जगत से मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर, सानिया मिर्जा,साइना नेहवाल, और मैरी कॉम एवं अन्य कई खिलाड़ियों ने भी योगदान दिया है।आईसीआईसीआई बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, एक्सएलआरआई जमशेदपुर और आईआईएम-बैंगलुरू जैसे संगठनों ने बड़े पैमाने पर साफ- सफाई अभियान शुरू किया और आम जनों के लिए जागरुक किया । पीएम ने सभी की भागीदारी के लिए सोशल मीडिया के जरिए लोगों की खुलकर तारीफ की है। 

See also  अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस पर भाषण | Matrubhasha Divas Speech in Hindi

स्वच्छ भारत अभियान कब शुरू हुआ?

प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान को वाल्मिकी बस्ती नई दिल्ली में शुरू किया था । उन्होंने इस अभियान को 2 अक्टूबर 2014 में, शुरू होने के वक्त पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए देश के 125 अरब लोगों से इस अभियान से जुड़ने का निवेदन किया था । पीएम ने गांधी जी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को उनके जन्मदिन पर श्रध्दांजलि देने के बाद स्वयं वाल्मिकी बस्ती में रास्ते को साफ किया था। उन्होंने कहा था कि मंदिर, मस्जिद, गुरूद्वारों या किसी भी जगह हमें अपने आसपास साफ-सफाई रखने के प्रयास करना चाहिए। स्वच्छता केवल सफाई कर्मचारियों की जिम्मेदारी नहीं है, यह पूरे भारतवासियों की जिम्मेदारी है । स्वच्छ भारत अभियान के मुख्य उद्देश्य व्यक्तिगत शौचालयों का निर्माण करना, खुले में शौच को खत्म करना, स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरुक करना, व्यवहारिक बदलाव को बढ़ावा देना, गांवों को स्वच्छ रखना, ठोस और द्रव्य अपशिष्टों के निराकरण की उचित व्यवस्था करना, पानी की पूर्ति को सुनिश्चित करना आदि।

 स्वच्छ भारत मिशन के लाभ 

इस मिशन का एकमात्र उद्देश्य अपने देश को हमेशा के लिए स्वच्छ और खुश नागरिकों के साथ साफ और विकसित देश बनाना है । स्वच्छ भारत अभियान का उद्देश्य केवल आसपास की सफाई करना ही नहीं है, बल्कि नागरिकों की सहभागिता से ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाना, कचरा मुक्त वातावरण बनाना, शौचालय की सुविधा उपलब्ध कराकर एक स्वच्छ भारत का निर्माण करना है । देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्वच्छ भारत का निर्माण करना बहुत जरूरी है। अस्वच्छ भारत की तस्वीरें भारतीयों के लिए अक्सर शर्मिंदगी की वजह बन जाती है, इसलिए स्वच्छ भारत के निर्माण एवं देश की छवि सुधारने का यह सही समय एवं अवसर है । यह अभियान न केवल नागरिकों को स्वच्छता संबंदी आदतें अपनाने बल्कि हमारे देश की छवि स्वच्छता के लिए तत्परता से काम कर रहे देश के रूप में बनाने में भी मदद करेगा । 

See also  शिक्षा पर भाषण हिंदी में | Education Speech in Hindi

स्वच्छ भारत से आए परिणाम

स्वच्छ भारत अभियान के तहत 2 अक्टूबर 2014 से लेकर 2019 तक 10.24 करोड़ व्यक्तिगत घरेलू शौचालयों का निर्माण किया जा चुका है । वहीं सरकार ने 2020-21 से 2024-25 तक की अवधि के लिए स्वच्छ भारत अभियान के दूसरे चरण को मंजूरी दे दी है । देश के नए उभरते पात्र ग्रामीण परिवारों और गांवों में ठोस और तरह अपशिष्ट प्रबंधन के लिए शौचालय की सुविधा प्रदान किए जाएंगे । स्वच्छ भारत मिशन को शहरी और ग्रामीण मिशन के रूप में बांटा गया है। ये कार्ड ओडीएफ स्थिरता पर ध्यान देते हुए किया जाएगा । स्वच्छ परिवेश के अलावा, इस मिशन में शामिल लोगों को सशक्त बनाया है और सम्मान भी दिया गया है। 

FAQ’s Swachh Bharat Abhiyan Speech in Hindi

Q.स्वच्छ भारत अभियान कब से शुरू हुआ ?

Ans. 2014 से स्वच्छ भारत अभियान शुरू हुआ।

Q.स्वच्छ भारत अभियान किसने लॉंच किया था ? 

Ans. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान लॉंच किया था।

Q. स्वच्छ भारत अभियान किसकी पहल है ?

Ans. स्वच्छ भारत अभियान केंद्र सरकार की पहल है। 

Q. स्वच्छ भारत अभियान के तहत सबसे स्वच्छ शहर कौन सा है ?

Ans.  इंदौर स्वच्छ भारत अभियान के तहत सबसे स्वच्छ शहर  है।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja