गणतंत्र दिवस पर भाषण हिंदी में | 26 January Speech in Hindi 2024 (टीचर्स के लिए भाषण)

26 January Speech

26 January Speech in Hindi:- हमारे देश भारत में तीन राष्ट्रीय पर्व मनाए जाते हैं। 26 जनवरी मतलब गणतंत्र दिवस, स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) और 2 अक्टूबर (गांधी जयंती) भारत के राष्ट्रीय पर्व हैं। यह तीनों ऐसे पर्व हैं, जो किसी जाति या समुदाय विशेष के न होकर हर देशवासी के लिए समान महत्व रखते हैं। हर भारतीय बड़े ही हर्षोल्लास के साथ इन राष्ट्रीय पर्व को मनाता है। यह लेख विशेषकर गणतंत्र दिवस पर भाषण (Speech on Republic Day) देने और इसे तैयार करने से संबंधित है। इस लेख से आपको गणतंत्र दिवस पर भाषण देने और निबंध लिखने में मदद मिलेगी।

इस लेख में हमने आपके लिए निबंध जो तैयार किया है वह 26 जनवरी पर भाषण 26 जनवरी पर भाषण हिंदी में ,26 January Speech in Hindi, Republic Day Speech Hindi 26 जनवरी पर टीचर्स के लिए भाषण, 26 जनवरी पर स्टूडेंट्स ले लिए भाषण इन सभी बिंदूओं पर आधारित है। इस लेख के जरिए आपको गणतंंत्र दिवस के लिए एक अच्छा भाषण तैयार करने में मदद मिलेगी।

 26 January Speech in Hindi-Overview

Republic Day Speech Hindi

(26 जनवरी पर भाषण हिंदी में) चूंकि गणतंत्र दिवस भारत के बेहद महत्वपूर्ण दिवसों में से एक है। ऐसे में गणतंत्र दिवस पर निबंध लिखने या गणतंत्र दिवस पर भाषण देने का चलन काफी आम है। भाषण देने से बच्चों और सुनने वालों को इस दिन के इतिहास के बारे में जानकारी मिलती है। इस दिन स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालयों में निबंध लिखने की प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। यह दिन हर भारतीय के जीवन में एक विशेष महत्व रखता है। ऐसे में विशेषकर विद्यालयों में छात्रों को इस दिवस को लेकर जागरुक करने के विचार से गणतंत्र दिवस पर निबंध लिखने का काम किया जाता है।

कई बार तो स्कूली परीक्षा में भी अच्छे अंक के लिए गणतंत्र दिवस पर भाषण या निबंध लिखने से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। वहीं कई बार विशेष कार्यक्रमों में छात्रों को गणतंत्र दिवस कपर भाषण देने के लिए भी कहा जाता है। कई छात्रों की हिंदी विषय पर पकड़ कमजोर होती है, ऐसे में गणतंत्र दिवस पर निबंध लिखना या किसी सभा में 26 जनवरी पर भाषण देना उनके लिए आसान काम नहीं होता है।

See also  नया साल 2023 मुबारक हो | नव वर्ष मुबारक शायरी हिंदी में

26 January Per Bhashan Hindi Me

टॉपिक26 जनवरी पर भाषण
लेख प्रकारभाषण (Speech)
साल2024
गणतंत्र दिवस कब है26 जनवरी
2024 गणतंत्र दिवस कौन से दिन हैशुक्रवार
पहला गणतंत्र दिवस कब मनाया गया 1950
साल 2024 में कौन सा गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा75वां
भारत का संविधान किसने बनायासांसद सभा
सांसद सभा के अध्यक्ष कौन थेडॉ. बी. आर. अंबडेकर

26 जनवरी पर भाषण हिंदी में | 26 January Speech In Hindi

आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई। यहां पर उपस्थित आदरणीय प्रिंसिपल महोदय सभी अध्यापकगण और प्यारे छात्रों आप सभी को मेरा नमस्कार। हम सब यहां अपना गणतंत्र दिवस मनाने इकट्ठा हुए हैं। आज हमारे संविधान को अस्तित्व में आए 75 साल पूरे हो गए हैं।

आज के इस पावन मौके पर, मैं उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को भाव-भीनी श्रध्दांजलि देती हूं, जिनकी वजह से हमें यह आजादी नसीब हुई है। साथ ही अपने सेना के महान सैनिकों को प्रणाम करता हूं, जो दिन-रात हमारे देश की बाहरी तत्वों से रक्षा करते हैं। उन्हीं के कारण हम अपने-अपने घरों में आराम से सो पाते हैं। मुझे इस बात की अपार खुशी हो रही है कि आज के इस शुभ मौके पर अपनी बात रखने का मौका मिला। मैं दिल से सभी का आभार व्यक्त करता हूं।

26 जनवरी पर टीचर्स के लिए भाषण | 26 January Speech For Teachers

26 जनवरी 1950 को हमारा देश स्वतंत्र लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित हुआ था। इस दिन भारत में संविधान लागू हुआ था। इससे पहले हमारे देश में भारत सरकार अधिनियम 1935 चलता था। संविधान ने भारत सरकार एक्ट का स्थान लिया था। इस दिन भारत में एक नए युग का शंखनाद हुआ था। इस दिन का इतिहास को स्वर्ण अक्षरों में अंकित किया गया है। इस दिन 1930 में लाहौर अधिवेशन में कांग्रेस की अध्यक्षता करते हुए पंडित जवाहर लाल नेहरू ने रावी नदी के तट पर पूर्ण आजादी की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था, “आज से हम स्वतंत्र हैं और देश की स्वतंत्रता प्राप्ति के लिए हम अपने प्राणों को स्वतंत्रता की बलिवेदी पर होम कर देंगे और हमारी स्वतंत्रता छीनने वाले शासकों को सात समंदर पार भेजकर ही सुख की सांस लेंगे”।

See also  विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस पर निबंध | World Consumer Day Essay in Hindi PDF

हमें 15 अगस्त 1947 को आजादी मिल गई थी, लेकिन हमारा संविधान 1946 से ही बनना शुरू हो गया था और इसे बनने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था। 26 नवंबर 1949 को अपने पूर्ण स्वरूप में बनकर भारत के वासियों को सौंप दिया गया और 26 जनवरी 1950 को पूरे देश में संविधान लागू कर दिया गया। तभी से हर साल हम बड़े जोश और उत्साह के साथ इस दिन को गणतंत्र दिवस के तौर पर मनाते हैं।

Also Read: 26 जनवरी पर निबंध हिंदी में

26 जनवरी पर स्टूडेंट्स ले लिए भाषण | 26 January Speech For Student

यह पर्व पूरे देश में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है।आज के दिन सभी सरकारी ऑफिसों में राष्ट्रीय ध्वज फहराकर अवकाश होता है। राजधानी दिल्ली में तो गणतंत्र दिवस की रौनक देकने लायक होती है। महीनों पहले से ही इसकी तैयारियां शुरू हो जाती है। बच्चे-बूढ़े, सभी को इस पर्व का इंतजार रहता है। सभी स्कूल-कॉलेजों में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

सुबह 8:00 बजे के करीब हमारे राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं। सभी सरकारी और निजी संस्थानों में हमारा तिरंगा लहराता है और पूरा देश एक स्वर में राष्ट्रगान गाता है। राष्ट्रगान खत्म होते ही इस शुभ दिन का आगाज हो जाता है। बहुतेरे इस क्षण का साक्षी बनने के लिेए सुबह-सुबह ही राजपथ पर पहुंच जाते हैं। दिल्ली की सर्दी के बारे में तो हम सभी जानते हैं, ठंड की परवाह किए बगैर ही भारी तादात में जनता जमा होती है। यह पल हम सभी भारतीय के लिए बहुत ही खास होता है।

Also Read: गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में

See also  विश्व विकलांग दिवस 2022 | विकलांग दिवस कब, कैसे मनाया जाता है?

26 January Par Bhashan Hindi PDF Download:

कमांडर इन चीफ होने के नाते राष्ट्रपति जल, थल और वायु तीनों सेनाओं की सलामी लेते हैं। इसके बाद राष्ट्रपति को 21 तोपों की सलामी दी जाती है। फिर परेड की शुरूआत होती है, जिसमें जल, थल और वायु तीनों सेनाओं के सैनिकों की टुकड़ियां होती है। इन टुकड़ियों में बैंड ग्रुप भी होते हैं, जो बाजा बजाते हुए परेड करते हैं। एक के पीछे एक टुकड़ियां क्रमबध्द तरीके से चलती हैं। बैकग्राउंड में सभी ग्रुप के बारे में हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में अनाउंसमेंट होती है। उनके पीछे अलग-अलग स्कूल्स के ग्रुप भी चलते हैं। बड़ा ही अद्भुत नजारा होता है।

इसके अलावा परेड में कई राज्यों की झांकी भी निकलती है। यह कारवां दिल्ली के सभी बाजारों से होते हुए इंडिया गेट पर रुकता है, जहां पीएम “श्री नरेंद्र मोदी” अमर जवान ज्योति पर हमारे वीर जवानों को याद करते हुए पुष्प-माला अर्पित करते हैं। इस मौके पर राष्ट्रपति आए हुए अतिथियों को प्रीतिभोज भी कराते हैं।

जय हिंद, जय भारत ।

26 January Par Bhashan Hindi PDF

FAQ’s 26 January Speech in Hindi

Q. गणतंत्र दिवस कब मनाया जाता है?

Ans. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है ।

Q. देश में गणतंत्र दिवस कब लागू हुआ था ?

Ans. 26 जनवरी 1950 को देश में गणतंत्र दिवस लागू किया हुआ था।

Q. भारत के राष्ट्रीय पर्व कौन-कौन से हैं ?

Ans. गणतंत्र दिवस, स्वतंत्रता दिवस और गांधी जयंती भारत के राष्ट्रीय पर्व है।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja