Navratri Colours 2023 | नवरात्रि पर नौ रंग का महत्व जाने

Navratri Colors

Navratri Colours 2023: नवरात्रि देवी कनक दुर्गा को समर्पित हिंदुओं का त्योहार है जो सितंबर से अक्टूबर में आता है। दुर्गा माता के भक्त दशहरे के लिए नवरात्रि के रंगों का सख्ती से पालन करते हैं। यह त्यौहार साल भर अलग-अलग तरीकों से मनाया जाता है। नवरात्रि शब्द का अर्थ है 9 रातें। हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, नवरात्रि साल में 2 या 4 बार आती है। एक सितंबर-अक्टूबर के दौरान शरद नवरात्रि और मार्च-अप्रैल के दौरान वसंत नवरात्रि है। मनाई जाने वाली अन्य दो नवरात्रि जनवरी-फरवरी के दौरान माघ नवरात्रि और जून-जुलाई के दौरान आषाढ़ नवरात्रि हैं। नौ दिवसीय त्योहार हिंदू चंद्र कैलेंडर के 9 शुभ दिनों पर पड़ता है। त्योहार का प्रत्येक दिन देवी के अवतार और उनसे संबंधित रंगों का प्रतिनिधित्व करता है। देवी दुर्गा के भक्त संबंधित अवतार पर संबंधित रंग के कपड़े जानना और पहनना पसंद करेंगे।

नवरात्रियों में रंग का भी बहुत महत्व होता है और पूरे नौ दिन के लिए एक ना एक रंग डेडिकेट होता हैं, जिसके बारे में हम आपको इस लेख को जरिए बताने जा रहे हैं। नवरात्रि के पावन त्योहार के अवसर पर अलग-अलग दिन अलग अलग रंगों के साथ माता रानी की पूजा की जाती है। आपको यह मालूम होना चाहिए कि नवरात्रि के पावन अवसर पर कौन से दिन कौन से रंग के साथ माता रानी की पूजा की जाती है और आपकी इसी सुविधा के लिए इस लेख को तैयार किया गया है। अगर आप Navratri Colors 2023 के बारे में जानकारी एकत्रित करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें और लेख को अंत तक पूरा पढ़े। 

Welcome writer

Navratri Colour 2023 – Overview

त्यौहार का नामNavratri Puja 2023
कब है?15 अक्टूबर 2023 से 24अक्टूबर 2023
क्यों मनाया जाता हैइस दिन अच्छाई की बुराई पर जीत हुई थी मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था और भगवान राम ने रावण का वध किया था।  
कैसे मनाया जाता है?नवरात्रि के 9 दिन मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूप की पूजा की जाती है और दसवें दिन रावण दहन किया जाता है। 
कहां मनाया जाता हैपूरे विश्व में हिंदू धर्म का पालन करने वाले लोगों के द्वारा मनाया जाता है। 

नवरात्रि का रंग | Navratri Colours

Navratri Colours: नवरात्रि का रंग बड़े हर्षोल्लास का होता है। मुख्य रूप से यह त्यौहार मां दुर्गा और मां काली के विषय के रूप में मनाया जाता है और दशमी के दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था। नवरात्रि का त्यौहार रंग ऊपर आधारित होता है हर दिन एक विशेष रंग के साथ पूजा की जाती है जिसके बारे में हर किसी को मालूम होना चाहिए। 

See also  Who is Sam Manekshaw | फील्ड मार्शल कौन है? जाने इनसे जुड़े कुछ दिलचस्प क़िस्से

नवरात्रि के पावन अवसर पर 9 दिन अलग-अलग रंगों के साथ पूजा की जाती है जिसमें नवरात्रि के खास देना उस खास रंग के वस्त्र पहन कर पूजा करना चाहिए नहीं है तो आप माता रानी को उस वस्त्र से पहली बार कर सकते है। वैसे तो नवरात्रि का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ और मस्ती मजे के साथ मनाया जाता है। इस वजह से स्त्रियां नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग रंगों के साथ तैयार होती है, सिंगार करती है और दुर्गा माता की पूजा। 

Navratri Festival Related Article:-

Navratri Festival 2023Similar Posts Links
नवरात्रि कब से शुरू होगी | स्थापना, मुहूर्त, नवरात्रि की महिमा जानेClick Here
नवरात्रि व्रत के नियम, व्रत विधि, कथा, व्रत पारण विधिClick Here
नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं सन्देशClick Here
नवरात्रि कोट्स (Navratri Quotes)Click Here
नवरात्रि स्टेटस (Navratri Status)Click Here
नवरात्रि शायरी (Navratri Shayari)Click Here
नवरात्री पूजा विधि, स्थापना मुहूर्त, पूजा मंत्र, आरतीClick Here
नवरात्रि पर नौ रंग का महत्व जानेClick Here

नवरात्रि कलर लिस्ट | Navratri Colors List 2023

नवरात्रि का त्यौहार अलग-अलग दिन अलग-अलग रंगों पर आधारित होता है और नवरात्रि का उपवास करने वाले भक्तों को हर दिन के सांग और उसके महत्व के बारे में जानकारी होनी चाहिए जिस वजह से नीचे Navratri Colour List दी गई है उसे ध्यानपूर्वक पढ़ें – 

नवरात्रा दिवस नवरात्रि रंग (Colour)
पहला दिन नारंगी
दूसरा दिन सफेद
तीसरा दिन लाल
चौथा दिन रॉयल ब्लू
पांचवां दिनपीला
छठवां दिन हरा
सातवां दिन भूरा
आठवां दिन बैंगनी
नौवां दिन पीकॉक ग्रीन

नवरात्रि के नौ रंगों का आध्यात्मिक महत्व एवं महत्ता

नौ रंग प्रतीकात्मक रूप से देवी दुर्गा के नौ रूपों का प्रतिनिधित्व करते हैं जिनकी पूजा नवरात्रि के दौरान की जाती है। यह रंग शांति और समृद्धि का प्रतिनिधित्व करता है। यह प्रत्येक देवी की किंवदंतियों से भी जुड़ा हुआ है।परंपरागत रूप से रंग साल-दर-साल बदलते रहते हैं। कुछ क्षेत्रों में नौ दिनों में देवी के स्वरूप और नाम की पूजा अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग होती है। महिलाएं, लड़कियां और बच्चे नवरात्रि के प्रत्येक दिन विशेष रंग की पोशाक (जैसे साड़ी, चूड़ीदार) पहनती हैं।अम्बा, तारा, शोरशी, भुवनेश्वरी, छिन्नमस्ता, भैरवी, धूमावती, बगला और मातंगी दुर्गा के रूप हैं जिनकी गुजरात में नवरात्रि के नौ दिनों के दौरान पूजा की जाती है।अंबा, चामुंडा, अष्टमुखी, भुवनेश्वरी, उपांग ललिता, महा काली, जगदंबा, नारायणी और रेणुका दुर्गा के रूप हैं जिनकी महाराष्ट्र और पड़ोसी क्षेत्रों में पूजा की जाती है।

रंग और उनसे संबंधित देवियां 

रंग (Colour)देवियां का नाम
तोता हरा देवी अम्बा की पूजा की जाती है।
नारंगी कुछ क्षेत्रों में देवी तारा, अन्य स्थानों में चामुंडा।
पीला देवी षोडशी या अष्टमुखी
आसमानी नीला – देवी भुवनेश्वरी
गुलाबीदेवी छिन्नमस्ता या उपंग ललिता
ग्रेदेवी भैरवी या महा काली
हरा देवी धूमावती या जगदम्बा
स्याही नीली देवी बगला या नारायणी
रॉयल ब्लू देवी मातंगी या रेणुका
लालपूजी जाने वाली देवी कमला या दुर्गा हैं |
  • तोता हरा – देवी अम्बा की पूजा की जाती है।
  • नारंगी – कुछ क्षेत्रों में देवी तारा, अन्य स्थानों में चामुंडा।
  • पीला – देवी षोडशी या अष्टमुखी
  • आसमानी नीला – देवी भुवनेश्वरी
  • गुलाबी – देवी छिन्नमस्ता या उपंग ललिता
  • ग्रे – देवी भैरवी या महा काली
  • हरा – देवी धूमावती या जगदम्बा
  • स्याही नीली – देवी बगला या नारायणी
  • रॉयल ब्लू – देवी मातंगी या रेणुका
  • लाल – पूजी जाने वाली देवी कमला या दुर्गा हैं
See also  यूट्यूब से गाना कैसे डाउनलोड करें | YouTube Se Video Download Kaise Kare | यूट्यूब से वीडियो डाउनलोड करने वाला ऐप्स, वेबसाइट (Direct Gallery में Save करें)

Today Navratri Colours

नवरात्रि का दिन अलग-अलग रंगों को समर्पित होता है जिस वजह से नवरात्रि की पूजा करने वाले व्यक्ति को यह मालूम होना चाहिए कि आज कौन से रंग के साथ पूजा करनी है। इसी के साथ हम आपको बता देना चाहते हैं कि नवरात्रि के पहले देना नारंगी रंग को महत्व दिया गया है जिस कारण वर्ष नवरात्रि के पहले दिन नारंगी रंग का वस्त्र पहनकर पूजा करना या माता को नारंगी रंग से सजाना महत्वपूर्ण माना गया है।

इसके बाद नवरात्रि के दूसरा दिन सफेद रंग को महत्व दिया गया है। अगर आप दूसरे दिन में सफेद रंग का वस्त्र पहनकर मां दुर्गा की पूजा करते हैं या इस रंग से माता को सजाते हैं तो दूसरा दिन अत्यंत लाभदायक हो सकता है। इसी के साथ नवरात्रि के तीसरे दिन को लाल रंग कहा गया है। सरल शब्दों में अगर आप नवरात्रि के तीसरे दिन माता को लाल रंग से सजाएंगे या खुद लाल रंग के वस्त्र और श्रृंगार करेंगे तो पूजा अत्यंत लाभदायक मानी जाएगी। 

नवरात्रि के चौथा दिन रॉयल ब्लू को महत्व दिया गया है जिस कारण बस आप नवरात्रि के चौथे दिन रॉयल ब्लू रंग के वस्त्र और श्रृंगार पर विशेष ध्यान दें और माता को भी हो सके तो इस रंग से सजाने का प्रयास करें। नवरात्रि के पांचवे दिन पीला रंग को महत्व दिया गया है उस दिन अगर आप पीले रंग के वस्त्र में माता की पूजा करेंगे तो माता का विशेष लाभ प्राप्त होगा। इसी के साथ छठे दिन हरा, सातवें दिन भूरा, और आठवे दिन बैगनी रंग, को महत्व दिया गया है। नवरात्रि के नौवें दिन पीकॉक ग्रीन रंग पहनना और दसवें देना आप कोई भी रंग पहन सकते है।

See also  Dhanteras 2023 | धनतेरस में क्या खरीदना चाहिए? क्या खरीदना शुभ होता हैं?

नवरात्रि पर रंगों का महत्व | Importance of Colors On Navratri

नवरात्रि बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाने वाला त्यौहार है। नवरात्रि के दिन रंगों का बहुत विशेष महत्व होता है। पौराणिक कथाओं और मान्यताओं के अनुसार अगर नवरात्रि के 9 दिन निर्देशित रंग के वस्त्र पहनकर माता की आरती उतारी जाए तो विशेष फल मिलता है। नवरात्रि के प्रत्येक दिन अलग-अलग देवी की पूजा होती है और हर देवी के लिए अलग रंग के कपड़े और श्रृंगार का महत्व दर्शाया गया है।

हालांकि अगर आप नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग रंगों में तैयार होकर पूजा नहीं कर सकते तो आप केवल माता को उस विशेष रंग से सजा कर भी विशेष लाभ प्राप्त कर सकते है। असल में अलग-अलग माता के लिए अलग-अलग रंगों का वस्त्र चढ़ाया जाता है और हर साल रंगों की स्थिति मुहूर्त और दिन के अनुसार बदल जाती है जिस वजह से हर नवरात्रि अलग-अलग रंग आते है और आपको नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग रंगों के वस्त्र और श्रृंगार के साथ सजना चाहिए ताकि माता रानी की तरफ से सुख शांति और सुहाग के आशीर्वाद की प्राप्ति हो। 

Navratri Status

नवरात्रि पर 9 रंगों के कपड़ों का महत्व | Importance of wearing 9 colors on Navratri

जैसा कि हम सब जानते है नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग देवी की पूजा की जाती है। इसी के साथ आपको यह भी मालूम होगा कि हर देवी को अलग रंग के वस्त्र और अलग तरीके की वस्तु चढ़ाई जाते है। इस वजह से नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग देवी को अलग-अलग प्रकार के वस्त्र अर्पित किए जाते हैं ऐसा माना जाता है कि आप खास खास वस्त्र को अगर पहनते हैं तो विशेष लाभ की प्राप्ति होती है।

इस साल नवरात्रि के 9 दिन कौन-कौन से रंग के कपड़े पहनने शुभ माने गए हैं इनके बारे में ऊपर जानकारी दी गई है आप उस सूची से नवरात्रि के हर दिन के वस्त्र और विशेष रंग की जानकारी प्राप्त कर सकते है। इसके साथ ही हम आपको यह बताना चाहते है कि नवरात्रि पर 9 रंगों के कपड़ों का महत्व केवल पौराणिक परंपरा के अनुसार आधारित है इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है।

इस नवरात्रि को कौन सा रंग पहनना चाहिए | Navratri Colours Cloth List 

जैसा कि हमने आपको बताया नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग देवी की पूजा होती है और उन्हें अलग-अलग रंग के वस्त्र अर्पित किए जाते हैं जिस वजह से नवरात्रि के अलग-अलग देना अलग-अलग वस्त्र पहनने की परंपरा कई सालों से चली आ रही है अगर आप विशेष दिन उस रंग के वस्त्र को धारण करते हैं तो माता रानी के विशेष लाभ की प्राप्ति होती है – 

नवरात्रि का प्रत्येक दिननवरात्रि दिवस रंग (Navratri Colors 2023)
नवरात्रि के पहले दिननारंगी रंग का वस्त्र पहनना चाहिए
नवरात्रि के दूसरे दिनसफेद पहनना चाहिए
नवरात्रि के तीसरे दिनलाल रंग का वस्त्र पहनना चाहिए
नवरात्रि के चौथे दिनरॉयल ब्लू पहनना चाहिए
नवरात्रि के पांचवे दिनपीले रंग का वस्त्र पहनना चाहिए
नवरात्रि के छठे दिनहरा रंग का वस्त्र पहनना चाहिए
नवरात्रि के सातवें दिनभूरे रंग का वस्त्र पहनना चाहिए
नवरात्रि के आठवें दिनबैगनी रंग का वस्त्र पहनना चाहिए
नवरात्रि के विशेष नवमी के दिनपीकॉक ग्रीन रंग का वस्त्र पहनना चाहिए
Navratri Wishes

FAQ’s:-Navratri Colours 2023

Q. नवरात्रि के 15 अक्टूबर को कौन सा रंग पहनना चाहिए?

नवरात्रि के 15 अक्टूबर 2023 को नवरात्रि का पहला दिन है इस दिन आपको पीले रंग के वस्त्र का कपड़ा पहनना चाहिए।

Q. नवरात्रि के दिन कौन से रंग को शुभ माना जाता है?

नवरात्रि का त्यौहार माता रानी का त्योहार है इस दिन कोई भी रंग पहनेंगे तो उसे शुभ माना जाएगा मगर विशेष रूप से नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग रंगों में विभाजित किए गए हैं जिस की सूची ऊपर बताई गई है।

Q. नवरात्रि के दिन अलग-अलग वस्त्र क्यों पहनना चाहिए?

नवरात्रि का त्यौहार मां दुर्गा का त्यौहार है और हर देवी को अलग-अलग रंग के वस्त्र अर्पित किए जाते हैं जिस वजह से नवरात्रि के अलग-अलग देना अलग अलग रंग का वस्त्र पहना जाता है।

निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने आपको Navratri Colours 2023 से जुड़ी कुछ खास जानकारी दी है। हमने आपको नवरात्रि के अलग-अलग दिन अलग-अलग रंगों के वस्त्र पहनने के महत्व के साथ-साथ यह भी बताया कि नवरात्रि के किस दिन कौन से रंग का वस्त्र पहनना चाहिए अगर हमारे द्वारा दी गई इस जानकारी से अप नवरात्रि के त्यौहार को ज्यादा बेहतर तरीके से समझ पाए है तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें और अपने सुझाव भी कमेंट में बताना ना भूलें। 

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja