नीरज चोपड़ा जीवन परिचय | Neeraj Chopra Biography in Hindi (शिक्षा, जॉब, रिकॉर्ड, अथिलीट करियर) | विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर रचा इतिहास

Neeraj Chopra Biography

Neeraj Chopra Biography in Hindi: – टोक्यो ओलंपिक 2020 में भारत को जैवलिन थ्रो या भाला फेंक के खेल में गोल्ड मेडल जितवाने वाले खिलाड़ी का नाम नीरज चोपड़ा है। नीरज चोपड़ा का जन्म 24 दिसंबर 1997 को भारत के हरियाणा राज्य के पानीपत जिले में हुआ। वर्तमान समय में नीरज चोपड़ा सूबेदार के पद पर भारतीय सेना में कार्य कर रहे है। अभिनव बिंद्रा के बाद नीरज चोपड़ा दूसरे भारतीय बने है, जिन्होंने वैश्विक स्तर पर एथलेटिक में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता है। बीते समय में उन्होंने विश्व एथेलीट चैंपियनशिप में भारत के लिए पदक जीतकर एक नया इतिहास रच दिया है। भारत के इस बेहतरीन एथलीट के बारे में प्रत्येक व्यक्ति को मालूम होना चाहिए जिस वजह से नीरज चोपड़ा जीवन परिचय को सरल शब्दों में आपके समक्ष प्रस्तुत किया जा रहा है।

जुलाई 2022 में भारत के खेल और युवा मंत्री अनुराग ठाकुर ने ट्वीट करके बताया कि नीरज चोपड़ा ने विश्व चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठा भला थ्रो के साथ रजत पदक जीता है। इसीके साथ विश्व चैंपियनशिप में भारत की तरफ से जीतने वाले वे दूसरे एथलीट और पुरुष केटेगरी में पहले एथलीट बने है। टोक्यो ओलंपिक के बाद नीरज चोपड़ा के भाले ने लगातार दुसरा इतिहास रचा है। नीरज चोपड़ा जीवन परिचय में आज हम जानेंगे कि नीरज चोपड़ा का जन्म कहां हुआ, किस प्रकार इनकी रूचि भाला फेंकने के खेल में बड़ी, और कैसे भारत के इस सर्वश्रेष्ठ एथलीट ने अपने खेल में इतिहास रच कर दिखाया।

नीरज चोपड़ा | Neeraj Chopra Short Bio Profile [wiki]

नामनीरज चोपड़ा
जन्मस्थानपानीपथ, हरियाणा
जन्मतिथि24 दिसंबर 1997
कार्यइंडियन आर्मी में सूबेदार 
प्रचलित होने का कारणभाला के खेल में ओलंपिक गोल्ड मेडल
पदकविश्व स्तर पर, अंतर्राष्ट्रीय खेलों मेंGold Medal – 6Silver Medal – 2
खेलJavelin Throw (भाला फेक)
वर्ल्ड रैंकिंग4
कोचUwe Hohn
पर्सनल बेस्ट88.1 मीटर

ये भी पढ़ें:- ISRO Chief डॉ एस सोमनाथ का जीवन परिचय

नीरज चोपड़ा कौन है? | Niraj Chopra Biography in Hindi

नीरज चोपड़ा भारतीय थल सेना में सूबेदार के पद पर कार्य करने वाले एक सैनिक है। इन्होंने गत वर्ष ओलंपिक 2020 में भारत को जेवलिन थ्रो या भाला फेंक के खेल में स्वर्ण पदक जितवाया है। इसके अलावा जुलाई 2022 में उन्होंने विश्व एथलीट चैंपियनशिप में 88 मीटर भाला फेंककर इस प्रतियोगिता में जीतने वाले दूसरे भारतीय और पहले पुरुष भारतीय बनकर एक और इतिहास रचा है।

नीरज चोपड़ा अभिनव बिंद्रा के बाद दूसरे भारतीय है जिन्होंने विश्व स्तर की एथेलेट प्रतियोगिता में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता है। हालांकि उन्हें सरकार की तरफ से वशिष्ठ सेवा पदक से सम्मानित भी किया गया है।

Neeraj Chopra Jivan Parichay

नीरज चोपड़ा का जन्म 24 दिसंबर 1997 को भारत के हरियाणा राज्य के जिला पानीपत के समीप बसे एक छोटे से गांव खद्ररा में हुआ। नीरज के परिवार में उनके पिता सतीश एक छोटे किसान है और उनकी माता सरोज एक ग्रहणी है। नीरज चोपड़ा बचपन से ही गांव के माहौल में रहने के वजह से खेलकूद के प्रति ज्यादा आकर्षित थे। वे हर तरह के खेल खेला करते थे मगर 11 वर्ष की उम्र में जब पानीपथ स्टेडियम में उन्होंने जय चौधरी को जेवलिन थ्रू की प्रेक्टिस करते हुए देखा तो उनकी रुचि खासा इस खेल में बढ़ गई।

खेल के प्रति रुचि होने के साथ-साथ उन्होंने 2016 में भारतीय थल सेना की नौकरी ज्वाइन की, वर्तमान में उन्हें सरकार के तरफ से पदोन्नति देते हुए थल सेना के राजपूताना राइफल्स में सूबेदार के पद पर तैनात किया गया है। इसके अलावा एथलीट में लगातार इतिहास रचने के वजह से उन्हें सेना के विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित भी किया गया है।

नीरज चोपड़ा की शिक्षा | Neeraj Chopra Education

खेल में रुचि होने के साथ-साथ नीरज चोपड़ा पढ़ाई में भी काफी अच्छे थे उन्होंने हरियाणा में अपने गांव से ही अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी की है। विभिन्न सूत्रों के अनुसार नीरज ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद पानीपत के बीबीए कॉलेज से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की है।

आर्मी में नौकरी लगने और खेल के प्रति अधिक आकर्षण होने के वजह से उन्होंने ग्रेजुएशन की डिग्री के आगे पढ़ाई नहीं की है।

ये भी पढ़ें:- करण सांगवान (Unacademy) जीवन परिचय

नीरज चोपड़ा का परिवार | Neeraj Chopra Family

नीरज चोपड़ा का परिवार वर्तमान समय में हरियाणा के पानीपत जिले के पास एक छोटे से गांव खद्रा में रहता है। उनके पिता सतीश चोपड़ा गांव के एक छोटे किसान हैं उनकी माता सरोज चोपड़ा एक गृहणी है। नीरज पिक बहुत ही साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं जिनका पूरा बचपन हरियाणा के गांव में बीता है।

इनके परिवार में कुल पांच भाई बहन है जिनमें नीरज सबसे बड़े है। इनकी दो बहने भी है अपने छोटे भाई बहनों के अलावा गांव के कुछ अन्य लड़कों को अपने गांव में नीरज अक्सर जैवलिन थ्रो की ट्रेनिंग देते हैं।

नीरज चोपड़ा का वर्ल्ड रिकॉर्ड क्या है?

Neeraj Chopra World Kya Hai: नीरज चोपड़ा का वर्ल्ड रिकॉर्ड क्या है तो हम आपको बता दे की हंगरी के बुडापेस्ट में चल रही World Athletic Championship 2023 के भाला फेंक Events में भारत के  पॉपुलर एथलीट नीरज चोपड़ा ने .  88.17 मीटर तक भाला फेंका गोल्ड मेडल अपने नाम पर दर्ज कर लिया है |

See also  भगवंत मान का सम्पूर्ण जीवन परिचय | शिक्षा, राजनीति, शादी, परिवार, नेट वर्थ | Bhagwant Mann Biography Hindi

नीरज चोपड़ा वर्ल्ड रैंकिंग – Javelin Throw World Ranking

Neeraj Chopra World Ranking: स्वर्ण पदक जीतने के बाद नीरज चोपड़ा की Javelin Throw World Ranking में काफी जबरदस्त उछाल आया है नीरज चोपड़ा 1455 अंकों के साथ  नंबर-1 पर पहुंच गए हैं जो हर एक भारतीयों के लिए गौरव की बात है |

ये भी पढ़ें:- हॉकी के जादूगर ध्यान चंद जीवन परिचय

नीरज चोपड़ा के कोच कौन है? | Niraj Chopra’s Coach

नीरज चोपड़ा के कोच का नाम उवे है। वे जर्मनी देश के एक पेशेवर जैवलिन थ्रो खिलाड़ी रह चुके है। जब नीरज चोपड़ा ने नेशनल लेवल पर जीत हासिल की तब मलेटरी के तरफ से उन्हें उवे के साथ ट्रेनिंग करने का मौका मिला। नीरज अपने एक इंटरव्यू में बताते है कि उवे एक बेहतरीन कोच है जिन्होंने इनकी गलतियों के बारे में इन्हें बताया और भाला फेंकने की कला में और बेहतर बनाने में मदद किया। 

हम आपको यह भी बता देना चाहते हैं कि जर्मनी के Uwe Hohn ने नीरज चोपड़ा को 2017 से 2018 तक कड़ी ट्रेनिंग दी है। Uwe वर्तमान समय में विश्व के एकमात्र ऐसे भाला फेंक खिलाड़ी हैं जिन्होंने 1984 में बीजिंग के एक खेल में 104.8 मीटर दूर भाला फेंककर विश्व रिकार्ड कायम किया था, जिसे आज तक किसी ने नहीं तोड़ा है। उवे होन का कहना है कि अगर उनके शिष्य नीरज चोपड़ा इस रिकॉर्ड को तोड़ते है तो उन्हें काफी खुशी होगी।

वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2023 में भाला फेंक स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता

World Athletics Championships 2023 Javelin Throw Gold Medal:- नीरज चोपड़ा भारत के एक मशहूर एथलेटिक्स खिलाड़ी हैं  हाल के दिनों में उन्होंने भाला फेंक इवेंट में गोल्ड मेडल जीत कर भारत का नाम रोशन किया है और हम सभी को उनके ऊपर गर्व है  हम आपको बता दे कि नीरज चोपड़ा भारत के पहले ऐसे एथलीट खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने भाला फेंक स्पर्धा चैंपियनशिप  Javelin Throw Final Result World Athletics Championships 2023) जीतकर भारत का नाम रोशन कर दिया है |

नीरज चोपड़ा का अथिलीट करियर | Neeraj Chopra’s Athlete Career

नीरज चोपड़ा का कैरियर 16 साल की उम्र से ही बेहतरीन तरीके से फल-फूल रहा है। जब नीरज चोपड़ा ने 2012 में अपने एथलीट करियर की शुरुआत की तब से लेकर अब तक उन्होंने लगातार इतिहास पर इतिहास रचा है।

नीरज चोपड़ा का एथलीट करियर साल 2012 में 16 साल की उम्र में शुरू होता है जब उन्होंने लखनऊ में आयोजित अंडर 16 नेशनल जैवलिन थ्रो प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीता। यह पहला राष्ट्रीय गोल्ड मेडल था जिसके बाद उन्होंने लगातार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खेलों में हिस्सा लिया। इसके बाद उन्होंने 2013 में नेशनल यूथ चैंपियनशिप में दूसरा स्थान हासिल किया और साल 2016 में पोलैंड में आयोजित आईएएस प्रतियोगिता में अपना स्थान बनाया। यह उनका पहला अंतरराष्ट्रीय खेल था जो अंडर 20 पर आधारित था। वहां उन्होंने विश्व जूनियर रिकॉर्ड स्थापित किया।

इसके बाद नीरज चोपड़ा ने लगातार एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लिया। विश्व के अलग-अलग जगहों पर होने वाले अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में खुद का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिया और हर बार भारत का सर गर्व से ऊंचा किया। नीरज चोपड़ा 2018 में भारत के पहले एथलीट बने जिन्होंने एक ही साल में कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल हासिल किया। इसके अलावा उनका करियर 2020 के ओलंपिक को जीतने के बाद और भी बेहतरीन हो गया।

प्रसिद्ध जीवनियाँ पढ़ें
कौन है द्रौपदी मुर्मू? जन्म, शिक्षा, उपलब्धियां, राष्ट्रपति बनने तक का सफर
कौन हैं पी टी उषा? (PT Usha) सम्पूर्ण जीवन परिचय
कौन है ऋषि सुनक? (Rishi Sunak) जन्म, शिक्षा, राजनीति कॅरियर, ब्रिटिश में मंत्री बनने तक का सफर
कौन हैं सिनी शेट्टी? (Sini Shetty) सिनी शेट्टी की मिस इंडिया 
Eknath Shinde Biography in Hindi | एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय

नीरज चोपड़ा का रिकॉर्ड | Neeraj Chopra’s record

नीरज चोपड़ा का अथिलीट कैरियर भाला फेंक के खेल में साल 2012 में शुरू होता है। तब से लेकर अब तक जितने भी मेडल्स और खिताब जीते हैं उनकी सूची नीचे दी गई है – 

  • नीरज चोपड़ा ने अपना पहला मेडल 2012 में लखनऊ में आयोजित अंडर 16 नेशनल जैवलिन थ्रो चैंपियनशिप में हासिल किया था।
  • इसके बाद 2013 में नेशनल यूथ चैंपियनशिप में दूसरा स्थान पाने के साथ उन्होंने आईएएएफ वर्ल्ड चैंपियनशिप में अपना स्थान बनाया।
  • 2015 में इंटर यूनिवर्सिटी जैवलिन थ्रो कंपटीशन में 80 मीटर भाला फेंक कर यूनिवर्सिटी का रिकॉर्ड अपने नाम किया।
  • इसके बाद 2016 में जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में 86 मीटर भाला फेंककर उन्होंने जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में एक नया रिकॉर्ड कायम किया और गोल्ड मेडल हासिल किया।
  • इसके बाद 2016 में ही साउथ एशियन गेम्स में उन्होंने गोल्ड मेडल हासिल किया।
  • साल 2018 में नीरज चोपड़ा ने गोल्ड कोस्ट में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में 86.4 मीटर भाला फेंक कर गोल्ड मेडल हासिल किया।
  • इसके बाद साल 2018 में जकार्ता एशियन गेम्स में 88 मीटर भाला फेंक कर फिर एक गोल्ड मेडल हासिल किया।
  • नीरज चोपड़ा एक ही साल में कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले भारत के दूसरे खिलाड़ी बने इससे पहले यह काम केवल मिल्खा सिंह ने 1958 में किया था।
  • इसके बाद साल 2020 में टोक्यो ओलंपिक आयोजित किया गया जहां नीरज चोपड़ा ने 87.5 मीटर भाला फेंककर ओलंपिक गोल्ड मेडल अपने नाम किया।
  • इसके बाद जुलाई 2022 में उन्होंने वर्ल्ड एथलीट चैंपियनशिप में रजत पदक हासिल किया।
See also  नरेश गोयल जीवन परिचय | Naresh Goyal-Founder of Jet Airways Biography in Hindi (Family, Networth, Career, Age)

नीरज चोपड़ा की उपलब्धियां | Achievements of Neeraj Chopra

नीरज भारत के एक बेहतरीन एथलीट हैं जिन्होंने हर बार एक नई उपलब्धियों को जन्म दिया है। मगर उनके सर्वश्रेष्ठ उपलब्धियों की सूची को नीचे प्रस्तुत किया गया है – 

  • नीरज चोपड़ा ने 2018 में एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स दोनों में एक ही साल गोल्ड मेडल जीता ऐसा करने वाले मिल्खा सिंह के बाद वह दूसरे भारतीय बने।
  • 2020 में नीरज चोपड़ा ने भारत के लिए सालों बाद ओलंपिक में गोल्ड मेडल हासिल किया। ऐसा करने वाले अभिनव बिंद्रा के बाद वे दूसरे भारतीय बने।
  • 2016 में अंडर-20 प्रतियोगिता के तहत उन्होंने जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में जैवलिन थ्रो के खेल में रिकॉर्ड स्थापित किया।
  • जुलाई 2022 में वर्ल्ड एथलीट चैंपियनशिप में रजत पदक जीतकर इस प्रतियोगिता में पदक जीतने वाले दूसरे भारतीय बने।
  • उनके अथिलीट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को देखते हुए भारतीय सरकार के तरफ से उन्हें वशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया गया है।
  • इन सबके अलावा नीरज चोपड़ा को 2018 में अर्जुन अवार्ड से भी सम्मानित किया गया है।

साक्षी मलिक का जीवन परिचय

नीरज चोपड़ा के बारे में रोचक जानकारी

नीरज चोपड़ा के जीवन को करीब से जानने के लिए उनके कुछ रोचक तथ्यों को समझना आवश्यक है जिसकी सूची सरल शब्दों में नीचे प्रस्तुत की गई है – 

  • नीरज चोपड़ा का परिवार एक किसान परिवार है और इनके पिता एक साधारण किसान हैं।
  • नीरज ओलंपिक में हिस्सा लेने से पहले भारतीय सेना के साथ जुड़ चुके थे।
  • नीरज चोपड़ा को थल सेना में सूबेदार का पद ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने की वजह से पदोन्नति के रूप में मिला है।
  • सेना का सर्वोच्च सम्मान वशिष्ट सेवा मेडल से नीरज चोपड़ा को सम्मानित किया गया है।
  • नीरज चोपड़ा ने अपने लव स्टोरी के बारे में कभी भी किसी भी तरह का खुलासा नहीं किया है।
  • नीरज चोपड़ा जय चौधरी को देखकर भाला फेंक के खेल के लिए आकर्षित हुए थे।
  • भाला फेंकने के खेल में नीरज चोपड़ा के गुरु का विश्व रिकॉर्ड 104 मीटर का है, जिसे आज तक पूरी दुनिया में किसी ने नहीं तोड़ा।
  • नीरज चोपड़ा मिल्खा सिंह के बाद दूसरे ऐसे भारतीय हैं जिन्होंने एक ही साल में कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीता है यह कारनामा उन्होंने 2018 में किया था।

नीरज चोपड़ा वेतन & सम्पति | Neeraj Chopra Salary & net worth

नीरज चोपड़ा वर्तमान समय में ब्रांड एंडोर्समेंट से पैसा कमा रहे है। हालांकि अगर हुआ है इस तरह खेल में मेडल जीतते रहेंगे तो ब्रांड इंडोर्समेंट से पैसा कमाते रहेंगे वर्तमान समय में वह ₹30,00,000 रूपए ब्रांड इंडोर्समेंट के लिए लेते है।

मगर जैसा कि हम जानते हैं नौकरी के रूप में वह एक सूबेदार के पद पर काम करते हैं और सूबेदार की तनख्वाह सरकार के तरफ से दी जाती है जो प्रति माह ₹40000 है।

इसके अलावा ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने के वजह से उन्हें कुछ धनराशि भारतीय सरकार के तरफ से दी गई है जिसकी सूची प्रस्तुत की गई है – 

  • हरियाणा गवर्नमेंट की तरफ से 6 करोड़।
  • ओलंपिक एसोसिएशन की तरफ से 1 करोड़।
  • पंजाब गवर्नमेंट की तरफ से 2 करोड़।
  • भारतीय रेलवे की तरफ से 3 करोड़।
  • क्रिकेट एसोसिएशन बीसीसीआई के तरफ से 1 करोड़।
  • भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन की तरफ से 75 लाख।
  • मणिपुर गवर्नमेंट की तरफ से 1 करोड़।

इस तरह नीरज में ओलंपिक खेल में स्वर्ण पदक जीतकर भारतीय सरकार के तरफ से लगभग 15 करोड़ की धनराशि का इनाम जीता। इसके अलावा इंडिगो एयरलाइन के तरफ से नीरज चोपड़ा को 1 साल के लिए मुफ्त हवाई जहाज का टिकट, और महिंद्रा के मालिक के तरफ से XUV 700 इनाम में दिया गया।

इन सब के अनुसार नीरज चोपड़ा का वर्तमान नेटवर्क 30 करोड़ का है। ब्रांड एंडोर्समेंट से वर्तमान तनख्वाह ₹30 लाख रूपए है। इसके अलावा सरकार के तरफ से दी गई सूबेदार की नौकरी में उन्हें ₹40000 प्रतिमाह मिलता है।

नीरज चोपड़ा वर्ल्ड रैंकिंग | Neeraj Chopra World Ranking

वर्तमान समय में पूरे विश्व में जितने भी भाला फेंकने वाले खिलाड़ी मौजूद है, इन सब के परफॉर्मेंस के अनुसार उनकी रैंकिंग में बनाई गई है जिसमें नीरज चोपड़ा की वर्ल्ड रैंकिंग 4 है। 

11 अगस्त 2020 को इनकी वर्ल्ड रैंकिंग 2 हो गई थी। मगर वर्तमान समय में वर्ल्ड के सबसे बेस्ट जैवलिन थ्रोवर एक जर्नेडियन एंडरसन पीटर् है। बीते वर्ल्ड अथिलीट चैंपियनशिप में एंडरसन पीटर्स ने गोल्ड मेडल जीता है जिसमें नीरज चोपड़ा ने सिल्वर मेडल जीता है। इन दोनों का मुकाबला एक कांटे का टक्कर था।

हालांकि सभी खेले गए मैचों को मिलाकर एंडरसन पीटर का स्कोर 1413 है। जो वर्तमान समय में जैवलिन थ्रो के खेल का सबसे अधिक स्कोर है और इस वजह से वह विश्व के सर्वश्रेष्ठ जैवलिन थ्रो खिलाड़ी है। वर्तमान समय में नीरज चोपड़ा का स्कोर 1383 है, और इस स्कोर के साथ वर्ल्ड लेवल पर नीरज चोपड़ा चौथे स्थान पर हैं।

See also  (Wipro) अजीम प्रेमजी का जीवन परिचय | Azim Premji Biography in Hindi, Foundation, Education, Family, Net Worth

नीरज चोपड़ा बेस्ट थ्रो | Neeraj Chopra Best Throw

नीरज चोपड़ा ने अब तक जितने भी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खेलों में प्रदर्शन दिखाया है वह सभी दांतो तले उंगली दबाने के बराबर है। मगर जुलाई 2022 में वर्ल्ड चैंपियनशिप के दौरान उन्होंने 88.13 मीटर की दूरी तक भाला फेंक कर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिखाया है।

हालांकि इस सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के बावजूद उन्होंने रजत पदक हासिल किया। मगर भारतीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने सब को बताया कि वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेडल जीतने वाले वह दूसरे भारतीय और पहले पुरुष भारतीय हैं। नीरज चोपड़ा ने इस ग्लोबल इवेंट में अपना सबसे बेहतरीन प्रदर्शन दिखाया उन्होंने अब तक किसी भी प्रतियोगिता में 88.13 मीटर की दूरी तक भला नहीं फेंका था।

नीरज चोपड़ा को मिले हुए मैडल व पुरस्कार (Neeraj Chopra Medal and Award)

 नीरज चोपड़ा को मिलने वाले मेडल और पुरस्कार का विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं

 मेडल | Medals

Year (सन्न) मेडल का नाम
2023विश्व एथलेटिक चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक
2022डायमंड लीग चैंपियन जीतने वाले पहले भारतीय
2022दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक
2022विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में रजत पदक
2020 टोक्यो ओलंपिक स्वर्ण पदक जीता
2018एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जकार्ता
2016 विश्व U20 चैंपियनशिप स्वर्ण पदक

●  विश्व U20 चैंपियनशिप 2016 स्वर्ण पदक

●  एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जकार्ता 2018

●  टोक्यो ओलंपिक 2020 स्वर्ण पदक जीता

●  विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में रजत पदक  2022

●  दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक 2022

●  डायमंड लीग चैंपियन जीतने वाले पहले भारतीय 2022

●  विश्व एथलेटिक चैंपियनशिप 2023 में स्वर्ण पदक

पुरस्कार : Awards

Year (सन्न)पुरस्कार का नाम
2022पद्म श्री पुरस्कार
2021मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार
2018एथलेटिक्स के लिए अर्जुन पुरस्कार

नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक 2020 में किए गए प्रदर्शन 

नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक 2020 में एक बहुत ही बेहतरीन प्रदर्शन दिखाते है। टोक्यो ओलंपिक में जैवलिन थ्रो के खेल का फाइनल राउंड आयोजित करने से पहले विभिन्न देशों से आए खिलाड़ियों को ग्रुप ए और ग्रुप बी में विभाजित किया गया। दोनों ग्रुप के सभी खिलाड़ियों को 83.5 मीटर की दूरी को भाला फेक कर तय करना था। ग्रुप ए और ग्रुप बी को मिलाकर कुल 12 खिलाड़ी क्वालीफाई होते हैं। 

इसके बाद टोक्यो ओलंपिक 2020 के फाइनल को 7 अगस्त 2020 को शाम 4:30 बजे सेट किया गया था। इस मैच में नीरज चोपड़ा ने पहले ही राउंड में 86 मीटर दूरी तक अपना भला फेंक कर एक रिकॉर्ड सेट कर दिया जिसे पूरे राउंड में किसी भी खिलाड़ी ने नहीं तोड़ा। इसके बाद दूसरे राउंड में 87.5 मीटर की दूरी तक अपना भाला फेंककर एक ऐसा रिकॉर्ड कायम किया जिसे अगले चार राउंड तक किसी भी खिलाड़ी ने नहीं तोड़ा और नीरज चोपड़ा ओलंपिक के गोल्ड मेडल चुने गए।

नीरज चोपड़ा ने शुरु के दो राउंड में इतना अधिक डिस्टेंस रिकॉर्ड सेट कर दिया कि पहले राउंड से आखरी राऊंड तक वह पहले स्थान पर ही बनी रहे। और ओलंपिक में भाला फेक के खेल में स्वर्ण पदक हासिल किया।

नीरज चोपड़ा सोशल मीडिया लिंक | Neeraj Chopra’s Social Media Links

Social Media PlatformLink
FacebookClick Here
InstagramClick Here
TwitterClick Here

FAQ’s Neeraj Chopra biography Hindi

Q. नीरज चोपड़ा कौन है?

Ans. भारतीय थल सेना के साथ सूबेदार की नौकरी करते हुए वर्तमान समय में यह एक भाला फेंक खेल के अंतरराष्ट्रीय एथलीट है।

Q. नीरज चोपड़ा क्यों प्रचलित है?

Ans. नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में भारत को भाला फेंक के खेल में गोल्ड मेडल जितवाया है। इसके अलावा नीरज ने world athlete championship में भारत को पदक दिलवाने वाले दूसरे भारतीय बने हैं।

Q. नीरज चोपड़ा का क्या धर्म है?

Ans. नीरज हरियाणा के एक हिंदू परिवार से ताल्लुक रखते है।

Q. नीरज चोपड़ा का ओलंपिक 2020 का बेस्ट थ्रो क्या था?

Ans. नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में दूसरे ही राउंड में 87.5 मीटर की दूरी तक भाला फेंका जो उनका अगले 4 राउंड तक बेस्ट थ्रो रहा।

Q. अब तक नीरज चोपड़ा का बेस्ट थ्रो कितना रहा है?

Ans. जुलाई 2022 में वर्ल्ड एथलीट चैंपियनशिप के दौरान नीरज चोपड़ा ने 88.1 मीटर की दूरी तक भाला फेंका है, जो उनका अब तक का सबसे बेस्ट थ्रो रहा है।

Q. जैवलिन थ्रो वर्ल्ड रिकॉर्ड किसके नाम है?

Ans. Javelin throw या भाला फेंक खेल का वर्ल्ड रिकॉर्ड नीरज चोपड़ा के गुरु जर्मनी के Uwe Hohn का है। जिन्होंने 1984 में 104.8 मीटर की दूरी तक भाला फेंका था जिस रिकॉर्ड को आज तक किसी ने नहीं तोड़ा है।

Q. जैवलिन थ्रो का ओलंपिक रिकॉर्ड कितने का है?

Ans. ओलंपिक में अब तक का सबसे बेस्ट जैवलिन थ्रो 90.5 मीटर का रहा है।

Q. नीरज चोपड़ा किस समाज से है ?

Ans. नीरज चोपड़ा  किसान रोड़ समुदाय समाज से हैं

Q. नीरज चोपड़ा की जाति क्या है?

Ans. नीरज चोपड़ा हिन्दू रोर, पानीपत जाति से नीरज चोपड़ा का संबंध है |

Q. नीरज चोपड़ा के भाले का वजन कितना है?

Ans. नीरज चोपड़ा के भाले वजन  800 ग्राम है |

Q. नीरज चोपड़ा कहां के रहने वाले हैं?

Ans. नीरज चोपड़ा हरियाणा के पानीपत के रहने वाले हैं

निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने आपको नीरज चोपड़ा जीवन परिचय के बारे में बताया। हमने इस लेख के माध्यम से आपको भारत के दिग्गज एथलीट नीरज चोपड़ा के जीवन को एक नए नजरिए से दिखाने की कोसिस है। हमने आपको बताया कि टोक्यो ओलंपिक में नीरज चोपड़ा का प्रदर्शन कैसा था, कैसे उन्होंने भारत को विश्व स्तर के दो प्रतियोगिताओं में पदक दिलाया।

अगर इस लेख में बताई गई जानकारियों के आधार पर आप नीरज चोपड़ा के जीवन और उनके खेल प्रदर्शन के बारे में विस्तार पूर्वक समझ पाए हैं तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें साथ ही अपने सुझाव विचार या किसी भी प्रकार के प्रश्न को कमेंट में पूछना ना भूले।

People Also Search:- neeraj chopra biography in hindi | biography of neeraj chopra | neeraj chopra biography in english | neeraj chopra cast biography | neeraj chopra cast hindi biography | neeraj chopra biography hindi | biography of neeraj chopra in hindi | neeraj chopra | neeraj chopra olympics | neeraj chopra match | neeraj chopra age | neeraj chopra height | neeraj chopra instagram | neeraj chopra gold medal | neeraj chopra coach | neeraj chopra army | neeraj chopra wife | neeraj chopra net worth | neeraj chopra match time | neeraj chopra salary | neeraj chopra wikipedia | neeraj chopra girlfriend | neeraj chopra gold medals | नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय | नीरज चोपड़ा | नीरज चोपड़ा ओलम्पिक | नीरज चोपड़ा ओलंपिक्स | नीरज चोपड़ा मैच | नीरज चोपड़ा की जाती | नीरज चोपड़ा जाट | नीरज चोपड़ा की जाती क्या है | नीरज चोपड़ा के भाले का वजन | नीरज चोपड़ा के मेडल | नीरज चोपड़ा जैवलिन थ्रो | क्या नीरज चोपड़ा जाट है | नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक्स |

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं

One thought on “नीरज चोपड़ा जीवन परिचय | Neeraj Chopra Biography in Hindi (शिक्षा, जॉब, रिकॉर्ड, अथिलीट करियर) | विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर रचा इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized with PageSpeed Ninja