National Tourism Day 2023 | राष्ट्रीय पर्यटन दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?

By | जनवरी 21, 2023
National Tourism Day

National Tourism Day:- घूमना, ये एक ऐसा शब्द है जिसको सुनकर या पढकर हर किसी का दिल उत्सुकता से भर जाता है। ऐसा बहुत कम ही लोग होंगे जिन्हें Traveling पसंद नहीं होगा। वहीं दुनिया में भी Travel के कई ऐसे स्थान है जहां हर इंसान अपनी जिंदगी में एक ना एक बार जरुर जाना चाहता है। दुनिया में कई जगह ऐसी हैं जहां लाखों की तादाद में लोग घूमने जाते है। आज कि इस भाग दौड़ वाली जिंदगी में घूमना फिरना बहुत जरुरी हो गया है। प्रकृति के करीब (Close to Nature) पहुंचकर हर इंसान अपनी सारी चिंता(Tensions) कुछ समय के लिए भूल जाता है।

वहीं जब बाहर से लोग घूमने आते है तो स्थाई लोगों के लिए भी Employment के अवसर पैदा होते है, जो कि देश की Economy के लिए बहुत जरुरी है,इन्ही सभी जरुरत को देखते हुए Government ने हर साल 25 जनवरी के दिन राष्ट्रीय पर्यटन दिवस (National Tourism Day) मनाने का फैसला किया है। आज इस लेख में हम आपको राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के बारे में सभी जरुरी जानकारी देंगे। इस लेख में हम आपसे राष्ट्रीय पर्यटन दिवस 2023,National Tourism Day 2023,राष्ट्रीय पर्यटन दिवस कब मनाया जाता है, Rashtriya Paryatan Divas क्यों मनाया जाता है,25 जनवरी की राष्ट्रीय पर्यटन क्यों मनाया जाता है,राष्ट्रीय पर्यटन दिवस 2023 की थीम के बारें में चर्चा करेंगे। देश में मनाएं जाने वाले राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के बारे में सब कुछ जानने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़े।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस कब और क्यों मनाया जाता हैं?

Rashtriya Paryatan Divas 2023

टॉपिकराष्ट्रीय पर्यटन दिवस
लेख प्रकारआर्टिकल
साल2023
राष्ट्रीय पर्यटन दिवस25 जनवरी
वारबुधवार
शुरुआतसाल 1948
पहलभारतीय सरकार
उद्देश्यपर्यटन को बढ़ावा देना
राष्ट्रीय पर्यटन दिवस 2023 थीमअघोषित
अवर्तिहर साल
राष्ट्रीय पर्यटन दिवस 2022 थीमग्रामीण और सामुदायिक केंद्रित पर्यटन

National Tourism Day | राष्ट्रीय पर्यटन दिवस कब मनाया जाता है?

National Tourism Day 25 जनवरी को हर साल India में National Tourism Day मनाया जाता है। Indian Government द्वारा 25 जनवरी को Tourism को प्रोत्साहित करने के लिए चुना गया है। इस दिन लोगों को पर्यटन के महत्व, India Economy और पर्यटन की भूमिका के बारे में लोगों को बताया और Educate किया जाता है। बताया जाता है कि 7.7 फीसदी से भी ज्यादा भारतीय श्रमिक पर्यटन उद्योग (Labour Tourism Industry) द्वारा कार्यरत हैं। हर साल लाखों विदेशी पर्यटक (Foreign Travellers) India  घूमने आते है, गौरतलब है कि साल 2014 में इनकी संख्या लगभग 7.42 मिलियन थी, वहीं साल 2019 में India यात्रा और Tourism के लिए विश्व प्रतिस्पर्धा सूचकांक में 34 वां स्थान पर आया था, जो कि साल 2018 से 6 स्थान ऊपर था।

READ  Sushan Diwas 2022 | सुशासन दिवस कब मनाया जाता है, इतिहास व महत्व जाने

देश में 25 जनवरी के दिन पर्यटन दिवस मनाने का पिछे का कारण लोगों को भारत की खूबसूरती और इसकी Culture से रूबारू करना है। वहीं हम दुनिया भर से लोगों को अपने देश के और आकर्षित करने के लिए अपनी संस्कृति की विविधता का यूज कर सकते है। हमारे देश के पास ना सिर्फ खूबसूरत जगह है बल्कि हमारे पास सांस्कृतिक और भौगोलिक विविधता है,वहीं हमारे हर राज्य की जहां संस्कृति अलग है वहीं यहां के भोजन भी एक राज्या का दूसरे राज्या से अलग है। वहीं इस दिवस को मनाने का कारण ये भी है कि देश के भीतर संचालित करने के लिए एक व्यवहार्य उद्योग भी बनाता है।

राष्ट्रीय पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है? | National Tourism Day Kyo Manaaya Jata Hai

देश में Tourism को बढ़ावा देने के लिए हर साल 25 जनवरी के दिन National Tourism Day  मनाया जाता है। पर्यटन देश की Economy के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि पर्यटन ते चलते जो Tourist आते है उनके कारण स्थानीय लोगों को Employment मिलता है। पर्यटन और इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में लोगों को बताने और शिक्षित करने के लिए Tourism Day मनाया जाता है। गौरतलब है कि पर्यटन उद्योग और पर्यटन मंत्रालय के कारण 7.7% से अधिक भारतीय कर्मचारियों को काम मिलता है।

वहीं कुछ आंकड़ों के अनुसार 2018 में लगभग 93,67,424 पर्यटकों ने India का दौरा किया था, जबकि 2017 में 88,67,963 से अधिक पर्यटक आए थे जो पर्यटन के लिहाज है बहुत अच्छा आंकड़ा है। World Tour और Tourism Board  के अनुसार, India Tour और पर्यटन के लिए दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था भी है। 2028 तक, भारत को यात्रा और पर्यटन बाजार में लगभग 10 मिलियन नौकरियां जोड़ने का अनुमान है। Uttar Pradesh, Jammu and Kashmir, Goa, Himachal Pradesh कुछ ऐसे स्थान हैं जहां पर्यटक आकर्षण हैं जहां देश और दुनिया से लोग घूमने के लिए आते है।

READ  30 जनवरी शहीद दिवस क्यों मनाया जाता है? | महात्मा गांधी पुण्यतिथि 2023

हमारा देश विभिन्न रीति-रिवाजों, अनुष्ठानों और त्योहारों के साथ एक समृद्ध संस्कृति है। यहां हर किलोमीटर पर परिदृश्य, भाषा और जीवन का तरीका बदल जाता है। इस तरह की विविधता India को एक शीर्ष पर्यटक आकर्षण बनाती है। वहीं कई Indian’s भी चौंक जाते हैं, क्योंकि देश का हर नुक्कड़ और कोना एक अलग तस्वीर पेश करता है।पर्यटन एक देश की अर्थव्यवस्था को भी एक बड़ा बढ़ावा प्रदान करता है। देश की Economy के लिए Tourism के महत्व के बारे में Awareness बढ़ाने के लिए Indian Government  द्वारा 25 जनवरी को राNational Tourism Day के रूप में नामित किया गया था।

25 जनवरी की राष्ट्रीय पर्यटन क्यों मनाया जाता है? | 25 January National Tourism Day Kyo Manaaya Jata Hai

India का Tourism Day हर साल 25 जनवरी को मनाया जाता है। इस दिन की शुरुआत सन 1948 में ही हो गई थी, जब देश आजाद होने के बाद भारत में Tourism को बढ़ावा देने के लिए एक tourism traffic committee का गठन किया गया था।इसी साल से लगातार India में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कार्य किए जा रहे है। वहीं Tourism Traffic Committee के office की स्थापना की Delhi और Mumbai में की गई थी, वहीं 3 साल बाद ही यानी कि 1951 में Kolkata और Chennai में भी Tourism Office बनाए गए थे। शुरुआती दशकों में India में पर्यटन इतना मजबूत नहीं और जितना आज के वक्त में है।

वहीं साल 1958 में Tourism को बढ़ावा देने के लिए  पर्यटन से संबंधित एक विभाग की भी स्थापना भी की गई थी जिसे देश के पर्यटन और संचार मंत्रालय(Ministry of Tourism and Communications) द्वारा की गई थी। जहां भारत देश का पर्यटन दिवस 25 जनवरी को मनाया जाता है, वहीं विश्व पर्यटन दिवस 27 सिंतबर को मनाया जाता है। ये दिवस पर्यटन के सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक महत्व और सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने में इस क्षेत्र के योगदान के बारे में वैश्विक पर्यटन समुदाय के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।

READ  विश्व विकलांग दिवस 2022 | विकलांग दिवस कब, कैसे मनाया जाता है?

राष्ट्रीय पर्यटन दिवस 2023 की थीम | National Tourism Day Theme 2023

हर साल National Tourism Day एक Theme के साथ मनाया जात है, जिसके इर्द गिर्ध पूरे समारोह घूमता है। वहीं साल 2023 का राष्ट्रीय पर्यटन दिवस भी थीम के साथ ही मनाया जाएगा पर अभी तक इस साल की थीम की घोषणा आधिकारिक तौर पर नहीं की गई है। वहीं साल 2022 का National Tourism Day आंध्र प्रदेश(Andhra Pradesh) में आजादी के अमृत महोत्सव के रुप में मनाया गया था, जहां इसकी थीम ग्रामीण और सामुदायिक केंद्रित पर्यटन थी। बता दें कि कोरोनी महामारी (Corona के चलते पर्यटन पर काफी प्रभाव पड़ा है। कोरोना महामारी के चलते ज्यादातर क्षेत्र बंध रहने के चलते पर्यटन क्षेत्र में काफी नुकसान हुआ था।वहीं बात करें  साल 2021 की तो उस साल राष्ट्रीय पर्यटन दिवस की थीम देखो अपना देश थी।गौरतलब है कि साल 2021 में घातक कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देश को लॉकडाउन पर घोषित किया गया था।

FAQ’s National Tourism Day

Q. भारत में राष्ट्रीय पर्यटन दिवस कब मनाया जाता है?

Ans. हर साल 25 जनवरी के दिन राष्ट्रीय पर्यटन दिवस मनाया जाता है।

Q. भारत में राष्ट्रीय पर्यटन दिवस मनाने की शुरुआत कब की गई?

Ans. साल 1948 में ही भारत में राष्ट्रीय पर्यटन दिवस मनाने की शुरुआत हो गई थी।

Q. साल 2023 में  राष्ट्रीय पर्यटन दिवस थीम क्या है?

Ans. राष्ट्रीय पर्यटन दिवस 2023 की थीम सरकार द्वारा अभी घोषित नहीं की गई है।

Q. मार्केटिंग श्रेणी में किस राज्य को छह राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार मिले?

Ans. केरल को मार्केटिंग श्रेणी में छह राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार मिले हैं।

Q. 2022 तक भारत में यूनेस्को के कितने विश्व धरोहर स्थल हैं?

Ans. साल 2022 तक भारत में यूनेस्को के 40 विश्व धरोहर स्थल हैं।

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easyhindi.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *